BREAKING NEWS गणेश शंकर विद्यार्थी की 125वीं जयंती के अवसर पर गणेश शंकर विद्यार्थी प्रेस क्लब प्रदेश अध्यक्ष संतोष गंगेले के प्रयास से भोपाल के गांधी भवन में लोकतंत्र में मीडिया की भूमिका विषय पर गोष्ठी आयोजित की गई जिसमें मध्यप्रदेश के सभी जिलो के वरिष्ठ एवं युवा पत्रकारों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।
 
Madhya Pradesh
नाले में बहे युवक की जान नहीं बच पाई ?

दमोह / आखिरकार नाले में बहे युवक की जान नहीं बचा पाई एक नाले में हुए हादसे के बाद जहाँ हड़कम्प फैला वहीँ जान गवाने वाले युवक की अब भी पहचान नहीं हो पाई ? तीन गुल्ली इलाके में एक नाले में हलकी बारिश के दौरान एक युवक बाह गया / कुछ लोगों ने इस युवक को नाले में बहते देखा तो कोशिश की लेकिन जब वो नहीं बचा पाये तो उन्होंने फ़ौरन पुलिस को सूचना की, और रेस्क्यू आपरेशन शुरू हुआ छोटी जगह बने नाले और लगातार हो रही बारिश के कारण पुलिस और बचाव अमले को आपरेशन को अंजाम देने में काफी दिक़्क़तों का सामना करना पड़ा तो जिला प्रशासन का पूरा अमला यहाँ पहुँच गया , पूरे चार घंटे बाद आखिरकार अमले को सफलता मिल गई लेकिन ये आपरेशन नाले में बहे युवक को बचा नहीं पाया /वहीँ ये युवक कौन है इस बारे में भी अब तक मालूम नहीं चल पाया है , जिसका पता लगाना अभी पुलिस की बड़ी चुनौती है , दूसरे तरफ अचानक घाटी इस वारदात ने इलाके में आपदा प्रबंधन की कलाई जरूर खोल दी है जिला मुख्यालय और शहरी क्षेत्र में एक इंसान की जान बचाने जिस तरह की आपदा से निपटने के इंतज़ाम होने चाहिए वो नाकाफी दिखाई दिए . महज पुलिस के जवानो और नगर पालिका की दो जे सी बी मशीनो ने इस आपरेशन को अंजाम दिया वहीँ प्रशासनिक अफसर इन प्रबंधो को पर्याप्त बता रहे है और अब देखना ये है की फिर ऐसा कोई हादसा ना हो स्थानीय प्रशासन कितना सतर्क होता है /

Top

परिचय पत्र लगाकर ही कार्यालय आयें

दमोह/कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री स्वतंत्र कुमार सिंह ने विधानसभा निर्वाचन 2013 के मद्देनजर जिले के सभी कार्यालय प्रमुखों को निर्देशित किया है कि वे स्वयं व समस्त अधीनस्थ अधिकारी-कर्मचारी अनिवार्यतः कलेक्टर/कार्यालय प्रमुख द्वारा जारी परिचय पत्र लगाकर ही कलेक्ट्रेट कार्यालय आयें। यदि किसी शासकीय कर्मचारी को परिचय पत्र जारी नहीं हुआ है तो वे परिचय पत्र तैयार करने के लिये कलेक्टर के हस्ताक्षर हेतु अधीक्षक कलेक्ट्रेट को दे दें। उन्होंने यह भी कहा है कि विधानसभा निर्वाचन की प्रक्रिया पूरी होने तक कोई भी शासकीय सेवक बिना परिचय पत्र के संयुक्त जिला कार्यालय भवन में प्रवेश कदापि नहीं कर सकेगा।

Top

प्रदेश शिक्षा का हब बनेगा

भोपाल : प्रदेश उच्च शिक्षा एवं तकनीकी शिक्षा का हब बनेगा। उच्च शिक्षा एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने यह बात सतना जिले के मझगवाँ में शासकीय स्नातक महाविद्यालय का शुभारंभ करते हुए कही। श्री शर्मा ने कहा कि महाविद्यालय भवन के लिये 3 करोड़ रुपये स्वीकृत किये जायेंगे। तकनीकी शिक्षा मंत्री ने कहा कि अगले शैक्षणिक सत्र से मझगवाँ में पॉलीटेक्निक कॉलेज भी खोला जायेगा। उन्होंने कहा कि नवीन महाविद्यालय में आगामी शैक्षणिक सत्र से कॉमर्स एवं विज्ञान संकाय की कक्षाएँ भी प्रारंभ की जायेंगी। श्री शर्मा ने कहा कि प्रदेश के दूरस्थ अंचलों में 90 से अधिक महाविद्यालय प्रारंभ किये गये हैं। प्रदेश में 12 विश्वविद्यालय भी प्रारंभ किये गये हैं। उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि जहाँ वर्ष 1993 में 8-10 गाँव के बीच एक प्राथमिक स्कूल हुआ करता था, वहाँ आज एक महाविद्यालय प्रारंभ करने के प्रयास किये जा रहे हैं। बिरसिंहपुर में आईटीआई का शुभारंभ तकनीकी शिक्षा मंत्री श्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने सतना जिले के बिरसिंहपुर में नवीन आईटीआई का शुभारंभ किया। उन्होंने संस्थान का नाम स्व. मोतीलाल अग्रवाल के नाम पर करने की भी घोषणा की। श्री शर्मा ने कहा कि आगामी शिक्षा सत्र से बिरसिंहपुर में नवीन शासकीय महाविद्यालय प्रारंभ किया जायेगा। इस मौके पर विधायक श्री सुरेन्द्र सिंह गहरवार ने भी विचार व्यक्त किये।

Top

नियुक्तियों में पात्रता संबंधी निर्देश जारी

स्कूल शिक्षा विभाग ने नवम्बर, 2013 के पूर्व डी.एड. और बी.एड. परीक्षा उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को भी संविदा शाला शिक्षक श्रेणी-2 और 3 के पद पर नियुक्ति के लिये मान्य किये जाने का आदेश जारी किया है। आदेश में कहा गया है कि राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद के प्रभावशील नियमों के अलावा अन्य सभी डी.एड. और बी.एड. योग्यताधारी अभ्यर्थी हायर सेकेंडरी और स्नातक में 50 प्रतिशत अंक धारण करने पर संविदा शाला शिक्षक श्रेणी-3 और 2 के लिये मान्य किये जायेंगे।

Top

सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता संपन्न

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री भार्गव भी हुए शामिल रहली स्वामी विवेकानंद जयंती के अवसर पर आज सागर जिले के रहली क्षेत्र में एक अनूठे नवाचार की शुरूआत की गई। नवाचार के अंतर्गत 13 वर्ष से 70 वर्ष आयु वर्ग के लोगों के लिये सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता हुई। प्रतियोगिता में पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव सहित कुल 39 हजार 740 परीक्षार्थी शामिल हुए। श्री भार्गव गढ़ाकोटा स्टेडियम स्थित परीक्षा केन्द्र पर शामिल हुए। उनका रोल नम्बर 2014460 रहा। सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता गढ़ाकोटा, रहली एवं ग्रामीण क्षेत्र सहित कुल 75 परीक्षा केन्द्र पर हुई। प्रतियोगियों में 12 हजार 748 महिला एवं 26 हजार 992 पुरूष शामिल थे। इनमें छात्र-छात्रा 13 हजार 663 थे। परीक्षा में 17 डॉक्टर, 13 व्यापारी, मंत्री श्री गोपाल भार्गव सहित 642 राजनेता शामिल हुए। वर्तमान नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती यशोदा कोरी एवं नगर पालिका की पूर्व अध्यक्ष श्रीमती इन्दु खटीक ने भी सामान्य ज्ञान परीक्षा दी। प्रश्न-पत्र में कुल 100 प्रश्न पूछे गये। परीक्षा काल दो घन्टे का दोपहर एक बजे से तीन बजे तक रखा गया। इस दौरान एक परीक्षार्थी को नियमों का उल्लंघन कर मोबाइल पर बात करने पर नकल प्रकरण बनाया गया। आयोजन समिति स्वामी विवेकानंद सामान्य ज्ञान एवं शिक्षा प्रसार समिति द्वारा प्रतिभागियों के लिये पुरस्कार भी घोषित किये गये। प्रथम पुरस्कार - आल्टो कार, द्वितीय पुरस्कार - सुजुकी हयाते (लड़के को), स्कूटी (लड़की को), तृतीय पुरस्कार - दो लड़कों व तीन लड़कियों को एम.बी.ए. एवं बी.ई. की मुफ्त शिक्षा, चौथा पुरस्कार - पाँच देश की विदेश यात्रा, पाँचवां पुरस्कार - पाँच लेपटाप, छठवाँ पुरस्कार - पाँच एल.सी.डी. टी.व्ही., सातवाँ पुरस्कार - 10 टेबलेट, आठवाँ पुरस्कार - 10 लोगों को वैष्णो देवी की यात्रा, नौवाँ पुरस्कार - 10 साईकिल, दसवाँ पुरस्कार - 25 रंगीन मोबाइल, ग्यारहवाँ पुरस्कार - 10 कूलर, बारहवाँ पुरस्कार - 25 टाइटन हाथ घड़ी और तेरहवाँ पुरस्कार - 500 टी शर्ट।

Top

वर्ष 2013 के स्थानीय अवकाश घोषित

भोपाल -कैलेंडर वर्ष 2013 के लिए भोपाल स्थित समस्त शासकीय कार्यालयों और संस्थाओं के लिए चार दिन का स्थानीय अवकाश रहेगा। सामान्य प्रशासन विभाग के आज जारी आदेश में भोपाल के लिए घोषित अवकाशों में सोमवार 14 जनवरी 2013 को मकर संक्रांति, सोमवार 9 सितंबर 2013 को गणेश चतुर्थी, सोमवार 4 नवंबर 2013 को दीपावली का दूसरा दिन एवं भोपाल गैस त्रासदी स्मृति दिवस मंगलवार 3 दिसंबर को शामिल किया गया है।

Top

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी निलम्बित

सागर-संभागायुक्त श्री आर.के.माथुर ने सागर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा.सी.एल.गोस्वामी को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है । निलम्बन अवधि में इनका मुख्यालय कार्यालय संयुक्त संचालक स्वास्थ्य सेवाएं सागर निर्धारित किया गया है । संभागायुक्त श्री माथुर द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्वाचित जनप्रतिनिधि एवं वरिष्ठ अधिकारियों के साथ सार्वजनिक रूप से अभ्रद एवं अशोभनीय व्यवहार करने तथा स्वास्थ्य विभाग की महत्वपूर्ण जनकल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही वरतने व रूचि नहीं लेने के कारण निलम्बित किया गया है ।

Top

आबकारी टास्क फोर्स की छापामार कार्रवाई

रायसेन - आबकारी टास्क फोर्स द्वारा कलेक्टर श्री मोहनलाल के निर्देश पर अवैध शराब विक्रेताओं के विरूद्ध जिले भर में छापामार कार्रवाई की गई जिसमें 40 क्विंटल महुआ तथा भारी तादात में शराब एवं गांजा जब्त किया गया। आबकारी टास्क फोर्स द्वारा औबेदुल्लागंज में 25 लीटर कच्ची शराब तथा 175 ग्राम अवैध गांजा जब्त कर आरोपियों को जेल भेजा गया। आबकारी दल द्वारा मंडीदीप में भी कार्रवाई की गई जिसमें आरोपियों के रिहायसी मकान से 20 पेटी अवैध शराब जब्त कर आबकारी एक्ट के तहत कार्रवाई की गई। आबकारी अमले द्वारा सरई एवं तामोट क्षेत्र में दबिश देकर 40 क्विंटल महुआ लाहन एवं 110 लीटर कच्ची शराब जब्त कर दोषियों के विरूद्ध प्रकरण दर्ज किया गया। आबकारी अमले की इस पूरी कार्रवाई के दौरान दल प्रभारी आरपी मिश्रा, उप निरीक्षण अतुल दुबे, प्रीति उईके, श्रीमति पूजा वर्मा सहित अन्य कर्मचारी शामिल थे।

Top

भोपाल - मुख्यमंत्री निवास पर स्वामी अवधेशानंद जी गिरी महाराज के आगमन पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान एंव श्रीमती साधना सिंह चौहान ने स्वागत किया।

Top

98 रिक्त पदों के लिए काउसिलिंग

दमोह/ - अध्यापक से बरिष्ठ आध्यापक पद हेतु 98 रिक्त पदों के लिए काउसिलिंग स्थानीय जिला पंचायत के सभा कक्ष के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री जे.एस. जटिया एवं जिला शिक्षा अधिकारी श्री एस.के. नेमा की उपस्थिति में सम्पन्न हुई । जिला शिक्षा अधिकारी श्री एस.के नेमा ने बताया कि अध्यापक से वरिष्ठ अध्यापक पद हेतु पात्र 60 मे से 57 अध्यापकों की काउसिलिंग सम्पन्न हुई जिसमें गणित , जीवविज्ञान ,अंग्रेजी संस्कृत ,हिन्दी,रसायन,भैतिक,अर्थशास्त्र,भूगोल,राजनीति,इतिहास विषयों पर पात्र अध्यापकों ने नवीन स्थान के चयन में हिस्सा लिया । जिसमे जीवविज्ञान के 12 में से 04, गणित के 12 में से 8 , अंग्रेजी के 11 मे से 8 ,संस्कृत के 2 मे से 2 ,हिन्दी के 12में से 12 ,रसायन शास्त्र के 12 में से 2 ,अर्थशास्त्र के 5 मे से 3 ,भूगोल के 8 में से 7 ,राजनीति में 10 मे से 7 ,इतिहास के 2 मे से 2 ,भैतिक शास्त्र के 12 मे से 2 स्थानों पर काउसिलिंग प्रक्रिया को सम्पन्न हुईं 3 अभ्यार्थी अनुपस्थित रहे । अध्यापक संयुक्त मोर्चा के अध्यक्ष अभय भटट ने सफलता पूर्ण काउसलिंग सम्पन्न होने पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री जे.एस. जटिया एवं जिला शिक्षा अधिकारी श्री एस.के. नेमा का आभार माना एवं सहायक अध्यापक से अध्यापक की पदोन्नति हेतु शेष बचे 137 पदों पर शीध्र काउसिलिंग प्रक्रिया की घोषित करनें की मांग की है।

Top

पुलिस बल के लिए बनेंगे 400 मकान

भोपाल अब पुलिस बल के लिए प्रतिवर्ष 400 मकान बनाये जाएंगे। गृह मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने मध्यप्रदेश पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन के कार्यों की समीक्षा के दौरान यह बात कही। अभी 200 से 250 मकान प्रतिवर्ष बनाये जा रहे हैं। श्री गुप्ता ने कहा कि प्रत्येक पुलिस कालोनी में समुदायिक भवन जरूर बनाये। गृह मंत्री ने कहा कि अनुसूचित जनजाति और अनुसूचित जाति बहुल जिलों में आदिम-जाति कल्याण विभाग के माध्यम से मकान बनवाने के लिए भी प्रस्ताव तैयार करवाये। बैठक में बताया गया कि आदिम-जाति कल्याण विभाग इन जिलों में लगभग 25 हजार मकान बनवाने पर विचार कर रहा है। वर्तमान में पुलिस बल के लिए 56 हजार मकान की कमी है। गृह मंत्री ने कहा कि वरिष्ठ अधिकारी बड़े शहरों का स्वयं भ्रमण कर वहाँ पी.पी.पी. मोड में मकान बनाने के लिए उपलब्ध जमीन का मुआयना करें। उन्होंने कहा कि जमीन देखने के बाद अतिशीघ्र पी.पी.पी. मोड में पुलिस बल के लिए मकान बनाने की योजना बनाये। प्रत्येक जिले में पुलिस लाइन और कंट्रोल रूम गृह मंत्री श्री गुप्ता ने कहा कि प्रत्येक जिले में पुलिस लाइन और पुलिस कंट्रोल रूम अनिवार्यत: बनाये जाये। पुलिस लाइन बनाने के लिए जहाँ जमीन नहीं उपलब्ध है, वहाँ कलेक्टर से चर्चा कर निजी जमीन अधिगृहीत करने की कार्यवाही करें। बैठक में पुलिस महानिदेशक श्री नंदन दुबे, अध्यक्ष मध्यप्रदेश पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन श्री एस.एस.लाल, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्री संजय राणा एवं श्री पवन जैन, अपर सचिव श्री केदार शर्मा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Top

संयुक्त मोर्चा ने धरना देकर ज्ञापन सौंपा

दमोह-अध्यापक संविदा द्गिाक्षक संयुक्त मोर्चा के प्रांतीय आव्हान पर दमोह जिले के समस्त अध्यापकों, संविदा द्गिाक्षकों, गुरूजियों ने स्थानीय द्गिाक्षक सदन में प्रांतीय संयोजक मनोहर दुबे, ब्रजेद्गा शर्मा, जिला अध्यक्ष अभय भट्‌ट, जिला संयोजक आरिफ अंजुम, गगन कनौजे, देवेन्द्र ठाकुर के नेतृत्व में धरना दिया। जिसमें जिले के समस्त कर्मचारी संगठनों के अध्यक्षों ने उपस्थित होकर अध्यापक एवं संविदा द्गिाक्षकों की समस्त मांगों का समर्थन करते हुए अपने-अपने विचार व्यक्त किये। सभी अध्यक्षों ने प्रांत स्तर पर भी एकजुट होकर आंदोलन करने का आव्हान किया। धरना के बाद दोपहर २ बजे सभी अध्यापकों, संविदा द्गिाक्षकों गुरूजियों ने रेली निकालकर द्गिाक्षक सदन से बस स्टैंड घंटाघर, अंबेडकर चौक, होते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचकर माननीय कलेक्टर महोदय को ज्ञापन दिया। सभी द्गिाक्षकों ने घंटाघर पहुंचकर गांधी जी की मूर्ति पर माल्यार्पण किया एवं अपनी समस्याओं से आमजनमानस को भी अवगत कराया। रैली में द्गिाक्षकों/द्गिाक्षिकाओं की अत्याधिक संखया एवं भीषण गर्मी को देखते हुए श्रमजीवी पत्रकार संघ एवं सत्यनारायण तिवारी व रवि उपाध्याय सहित अन्य संघोंने रास्ते में पानी की व्यवस्था की तथा स्वागत किया। कलेक्ट्रेट पहुंचकर प्रांतीय संयोजक ब्रजेद्गा शर्मा एवं मनोहर दुबे ने अपने विचार व्यक्त कर आगामी समय में सभी से सहयोग का आव्हान किया। अंत में समानकार्य समान वेतन, द्गिाक्षा विभाग में संविलियन स्वैच्छिक स्थानांतरण नीति एवं छठवें वेतनमान की मांग को लेकर मुखयमंत्री के नाम कलेक्टर महोदय के प्रतिनिधि तहसीलदार रूपेद्गा सिंघई को ज्ञापन सौंपा। रैली में श्रीमती किरण उपाध्याय के नेतृत्व में सैकड़ों महिला द्गिाक्षकों की उपस्थिति रही। रेली एवं कार्यक्र्रम का संचालन विपिन चौबे व ताहिर खान ने किया। रैली को सफल बनाने में राजीव गांगरा राममिलन उपाध्याय, महेन्द्र दीक्षित, नवनीत स्वामी, अजेन्द्र सिंह, जितेन्द्र सिंह, देवेन्द्र मिश्रा, कम्मू पटैल, संतोष गौतम, आद्गाीष भट्‌ट, गुड्‌डा सींग, गजेन्द्रसींग, रीतेद्गा दुबे, दिलीप जोद्गाी, सुरजीत सिंह, संजय बाजपेयी मंगलेद्गा पांडे, राकेद्गा उपाध्याय, मोहन आदर्द्गा, उमेद्गा पाठक, राजुल तिवारी, सुदामा पाठक, लक्ष्मी शुक्ला, दुरग सींग, बलराज मांझी, सदन नेमा, नरेन्द्र सिंह, रतन सिंह मंहदेला, संतोष गौतम, अमित पांडे, राजेद्गा मिश्रा, राजेन्द्र सोनी, अतुल अग्रवाल, विनीता जैन, स्वेता चौबे, रामवती यादव, धमेन्द्र यादव, मोहन राय, सुरेन्द्र कटहरे, किद्गाोर दुबे, श्रद्धा उरमलिया, दीपक चौधरी, रानूबाला श्रीवास्तव सहित हजारों अध्यापकों का रैली में विद्गोष सहयोग रहा।

Top

15 करोड़ का गेहूं हुआ गायब ?

५ करोड़ का गेहूं हुआ गायब होशंगाबाद- जिले में समर्थन मूल्य पर गेहॅू खरीदी करने वाले १३९ केन्द्रों ने ३० मई तक ९५ लाख ०१ हजार ५८६.१७ क्विवंटल की रिकार्ड खरीदी की किन्तु समाचार लिखे जाने तक सितम्बर माह में गोदामों तक १२ करोड ९० लाख ६३ हजार रूपये कीमत का गेहॅू कम मात्रा में जमा हुआ है और ९३ हजार १८६ क्विंटल गेहॅू बीच में ही गायब हो गया है, जबकि २ करोड ८१ लाख का गेहॅू खरीदी केन्द्रों पर होना बताया गया है। जब पड़ताल की तो गेहॅू खरीदी में कई चौकाने वाले पैच दिखे जिसमें अधिकारी मलाई खाकर ऑकड़ों में गुमराह करने में लगे है और दोनों ही स्थिति में जनता की कमाई से की जाने वाली खरीदी में भारी घालमेल किया जा रहा है। इस वर्ष शासन ने गेहॅू खरीदी में पारदर्शिता के लिये हर खरीदी केन्द्र पर कम्प्यूटर रखे ताकि वहॉ का पूरा डाटा जिले के अधिकारियों सहित प्रदेश के अधिकारियों तक पहुॅच सके और खरीदी केन्द्रों से गेहॅू के परिवहन आदि की व्यवस्था की जा सके। जिले के इन १३९ खरीदी केन्द्रों पर जिला प्रशासन की ओर से सतत निगरानी रखी गयी और प्रत्येक केन्द्र के लिये सेक्टर अधिकारी नियुक्त किये। यह पहला अवसर है जब हर विभाग का अधिकारी गेहॅू खरीदी में दिखा बावजूद इतना बड़ा चौकाने वाला काण्ड हो गया जिसमें १५करोड़ के गेहॅू का पता नहीं चल सका । सिविल सप्लाई द्वारा ९५ लाख ०१ हजार ५८६.१७ क्विवंटल गेहॅू की कीमत १३१५ करोड ९६ लाख ९६ हजार ६१० रूपये का भुगतान किया जा चुका है। जिले में पिपरिया, सोहागपुर, सेमरीहरचन्द, इटारसी, होशंगाबाद, बाबई एवं बनापुरा के गोदामों में ६९, लाख ४९ हजार ५४६.७४ क्विंटल का भण्डारण किया गया और भारतीय खाद्य निगम के केपों में २१ लाख ३५ हजार ८०६ क्विंटल एवं अन्य जिलों में ३ लाख २३ हजार ०४६ क्विंटल गेहॅू रखा गया जिसमें कुल खरीदी का ९३ हजार १८६ क्विंटल गेहॅू अब तक किसी भी गोदाम में नहीं पहुॅचा है। सिविल सप्लाई द्वारा खरीदी केन्द्रों पर १४ हजार ९५५ क्विंटल गेहॅू बताया गया जबकि जिले की किसी भी खरीदी केन्द्र पर एक भी बोरी गेहॅू नहीं है, आखिर यह गेहॅू कहॉ चला गया, इसका जबाव किसी के पास नहीं है। उक्त सम्बन्ध में सिविल सप्लाई के मैनेजर बीएल बडोने से चर्चा की गयी तो उन्होंने कहा कि गेहॅू का मिलान किया जा रहा है, जनवरी तक मिलान चलता है, ज्यादा खरीदी के कारण मिलान में दिक्कत होती है। लेकिन वे इसका उचित जबाव नहीं दे सके कि आखिर यह गेहॅू कहॉ गया है। इस सम्बन्ध में कलेक्टर चर्चा को उपलब्ध नहीं हो सके । (आत्माराम यादव )

Top

गरीबों के केरोसिन में घालमेल

किसानों को नही बॅटा १५ ट्रक खाद- अवैध नियुक्ति पर कार्यवाही की मॉग होशंगाबाद- जिले की बाबई तहसील के अर्न्तगत गनेरा सहकारी समिति के प्रबंधक ने चालू माह के ८२०० लीटर घासलेट का वितरण न कर उसे कालाबाजारी में बेच दिया और जहॉ २ कर्मचारियों की अवैध नियुक्ति कर डाली वही १५ ट्रक यूरिया खाद किसानों को नही पहुॅचायी है, जिसपर नागरिक अधिकार जनसमस्या निराकरण समिति के अध्यक्ष ए.आर.यादव ने कार्यवाही की मॉग की है। समिति के अध्यक्ष ए.आर.यादव के अनुसार बाबई तहसील में आने वाली वृहत्ताकार सेवा सहकारी समिति की ५ ग्राम पंचायतें गनेरा,नसीराबाद,खरगावली, तमचरू एवं गोंदलवाडा एवं उनमें आने वाले ग्राम खिडिया,डांगीवाडा,ढीमरढाना,भटवाडी,,जमुनिया, नगवाडा,गनेरा, नसीराबाद एवं पांजरा के गरीब तबके के लोगों को माह अगस्त एवं सितम्बर २०१२ में सार्वजनिेक वितरण प्रणाली के तहत ८२०० लीटर केरोसिन का वितरण नहीं किया गया है, । उक्त गॉवों में रातों को बिजली नही होती है तब गरीबों का एकमात्र सहारा केरोसिन होता है लेकिन बिजली संकट से जूझ रहे इन गरीब ग्रामीणों को इस माह केरोसिन नही दिया गया जिससे विवश होकर उन्हें डीजल से अपने घरों में चिमनिया-लालटेन से रोशनी करने को मजबूर होना पड रहा है। उक्त गनेरा समिति के प्रबन्धक एवं अध्यक्ष की मिलीभगत से ग्रामीणें का केरोसिन की कालाबाजारी की गयी है। री यादव के अनुसार गनेरा सहकारी समिति संस्था के ४०० नियमित खातेदार किसानों एवं ४०० नगदी खरीदी करने वाले इस क्षैत्र के किसानों को १० ट्रक यूरिया एवं ५ ट्रक डीएपी खाद का वितरण नहीं किया गया जिससे किसानों को यूनिया व खाद के संकट को झेलना पडा वहीं उक्त व्यवसाय से गनेरा समिति को गंभीर आर्थिक क्षति उठानी पड़ी है; जिसके लिये संस्था प्रबन्धक एवं सुपरवाईजर पूर्ण रूपेण दायित्वाधीन है, जिन पर आपराधिक मामला दर्ज करने कलेक्टर, सहित जिला आपूर्ति अधिकारी, उपायुक्त सहकारिता एवं महाप्रबन्धक जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक से मॉग की गयी है। कलेक्टर को लिखी शिकायत में श्री यादव ने कहा कि जहॉ एक ओर प्रदेश में सहकारिता के चुनाव की घोषणा के बाद अधिसूचना जारी हो चुकी है, चुनाव की तैयारी के अर्न्तगत वोटरलिस्ट आदि की तैयारी चल रही है तब न तो किसी भी कर्मचारी को लाभान्वित किया जा सकता है और न ही किसी भी तरह कोई नई नियुक्ति ही की जा सकती है; लेकिन बावजूद सब कुछ जानते हुये वृहत्ताकार सेवा सहकारी समिति गनेरा के प्रबन्धक व पर्यवेक्षक मोहनदास चौधरी एवं अध्यक्ष रविशंकर पाठक ने वरिष्ठालय से उक्त नियुक्ति बाबत कोई अनुमति प्राप्त नही की है और बिना कानूनी प्रक्रियाओं का पालन किये बिना एजेन्डा जारी किया फर्जी तरीके से प्रोसिडिंग तैयार कर उक्त संस्था के संचालक जगदीश सिंह के पुत्र महेन्द्रसिंह निवासी डॉगीबाडा सहित एक अन्य गनेरा निवासी चैनसिंह माझी,आत्मज लक्ष्मी मॉझी , दोनों को वृहत्ताकार सेवा सहकारी समिति गनेरा में दिनॉंक- १३ सितम्बर २०१२ को सहायक प्रबन्धक के पद पर नियुक्ति दे दीगयी। श्री यादव ने गनेरा समिति का रिकार्ड जब्त कर २ सहायकों की अवैध नियुक्ति शून्य घोषित करने एवं समिति प्रबन्धक को हटाकर समिति के संचालक मण्डल को भंग किया किये जाने की मॉग की है; श्री यादव के अनुसार समिति प्रबनधक मोहनदास चौधरी पर पूर्व भी कार्य में गंभीर अनियमिततायें एवं भ्रष्टाचार के कारण वहॉ से हटाकर यहॉ पदस्थ किया है, अब यहॉ किसान एवं गरीब लोग परेशान हो रहे है (आत्माराम यादव )

Top

जिला उपभोक्ता फोरम का अहम फैसला

बिल्डर को देना होगा परिवादी को मकान का कब्जा होशंगाबाद/ एक घर हो कुछ यही सपना देखकर हर ादमी पने पने कार्यक्षेत्र में उम्दा कार्य कर पनी ामदनी में से ज्यादा से ज्यादा बचत करता है ौर नगर में फलीभूत हो रही कालोनियो में बिल्डरो के माध्यम से एक छत की तलाश करता है ौर पनी जमा पूँजी इस सपने को साकार करने में ाहूत कर देता है। कुछ इस तरह का सपना हर खास ौर ाम पनी ाय के नुरूप देखता है। यदि कोई पने जीवन में जोड़ी एकएक पाई पने सपने के घरोदें में लगाए ौर उसका सपना पूरा न ऐसी घटना की कल्पना ापहम नही कर सकते। लेकिन कुछ इसी तरह की के एक प्रकरण में उपभोक्ता फोरम के निर्णय ने कालोनाईजरो को सचेत किया है, ौर मेरा पना घर हो का सपना देखने वालो का सपना साकार करने में एक ाशा का संचार किया है कि ब मकान का सपना देखने वाले किसी बात की चिन्ता नही करे, यदि कोई कालोनाईजर पने वादे से मुकरेगा तो उसे उपयुक्त सजा दी जाएगी। यदि कुछ इस तरह की स्थिति ापके साथ घटित हो तो बेझिझक उपभोक्ता फोरम से संपर्क करे। ापको पने हको के लिए न्याय सुलभ होगा।जी हाँ उपरोक्त बात कल्पना नही है यह सच साबित किया है उपभोक्ता फोरम ने हाल ही में एक कालोनाईजर के विरूद्घ मकान के प्रकरण में आदेश पारित करके। होशंगाबाद में मंगलम बिल्डर्स एवं डेव्हलपर्स शिशिर खरे, कमलेश तिवारी के विरूद्घ डॉ.शरद गुप्ता ौर उनकी पुत्री श्र्वेता गुप्ता ने जिला उपभोक्ता फोरम विवाद प्रतितोषण कार्यालय होशंगाबाद में पना परिवाद धिवक्ता विनोद तोमर के माध्यम से प्रस्तुत किया। प्रकरण में बताया गया कि परिवादी ने उक्त कालोनाईजर को कालोनाईजर -ारा निर्धारित शर्तो के नुरूप सभी शर्तो की पूर्ति की कालोनाईजर को लगभग १९ लाख रूपए का भुगतान निर्धारित शर्तो के नुसार समयसमय पर किया गया, उसके बावजूद कालोनाईजर -ारा समय पर मकान का निर्माण कर परिवादी को नही सौंपा। वर्ष २०१० में हुए नुबंध के नुसार ६ से ९ माह के ंदर उक्त मकान बनाकर परिवादी को सौंपा जाना था किन्तु कालोनाईजर -ारा स्वयं पनी शर्तो का उल्लंघन किया गया ौर परिवादी को ार्थिक, मानसिक कष्ट देता रहा।परिवादी डॉ.शरद गुप्ता के प्रकरण में जिला उपभोक्ता फोरम के अध्यक्ष श्री जे.पी.राव, सदस्य श्रीमती ंजली मिश्रा ने पने निर्णय में परिवादीगण का वादग्रस्त भवन में वैधानिक ाधिपत्य निर्धारित करते हुए नावेदक मंगलम बिल्डर्स को निर्देशित किया गया है कि परिवादी को उसके -ारा तिरिक्त निर्माण कार्य में व्यय की गई राशि ३ लाख ७४ हजार ८३१ रूपए का भुगतान ादेश पारित दिनाँक १९.९.१२ से एक माह के ंदर करे, साथ ही सेवा में कमी पाए जाने के परिणाम स्वरूप परिवादी को नावेदकगण १५००० रूपए की राशि का भुगतान करे। (आत्माराम यादव )

Top

सहभागिता से ग्राम विकास संभव

बटियागढ़।म.प्र.जन अभियान परिषद विकासखण्ड बटियागढ द्वारा समृद्धि योजना अंतर्गत प्रस्फुटन समितियों की क्षमता वृद्धि हेतु प्रद्गिाक्षण कार्यद्गााला के तृतीय दिवस में मो.सगीर खान, लेखापाल विकासखण्ड द्गिाक्षा अधिकारी कार्यालय द्वारा परियोजना प्रस्ताव निर्माण पर प्रतिभागियों को प्रद्गिाक्षण दिया गया। इसी क्रम में द्गाद्गिाकांत अहिरवार कम्प्यूटर आपरेटर सर्व द्गिाक्षा अभियान द्वारा सूचना संचार सम्प्रेषण श्री बिहारी सिंह ठाकुर, द्वारा व्यक्त्वि विकास, श्रीमति पुष्पा सूर्यवंद्गाी, मेनेजर रोजगार गांरटी द्वारा सूचना की आवद्गयकता लोक सेवा गांरटी, श्रीमति कविता जैन, जनपद सदस्य बटियाग, मानव संसाधन प्रबंधन, श्री मोहन मेंडे, द्वारा सूचना का अधिकार श्री अतुल सिंघई द्वारा दस्तावेजी कारण एवं जवाहलाल नेहरू कृषि विज्ञान केन्द्र दमोह से पधारे डॉ. यू.एस.धाकड, डॉ. पी.एस.ठाकुर, द्वारा बीज उत्पादन तकनीकी एवं कीट प्रबंधन पर प्रतिभागियों को प्रद्गिाक्षण प्रदान किया। अतं में डॉ. तेज सिंह केद्गावाल, जिला समन्वयक, म.प्र.जन अभियान परिषद्‌ दमोह के द्वारा समिति सदस्यों को समय प्रबंधन का महत्व बताया गया। प्रद्गिाक्षण में दस समितियों एवं पन्द्रह स्पंदन समितियों के सदस्यों ने भाग लिया(अंकित पाण्डेय )

Top

ज्ञापन एवं धरना कार्यक्रम

दमोह । अध्यापक संविदा संयुक्त मोर्चा के प्रांतीय आव्हान पर ब्लाक स्तर में ज्ञापन एवं धरना कार्यक्रम रखा गया इसी के तहत दमोह ब्लाक के अध्यापकों ने ब्लाक अध्यक्ष कम्मू पटेल के नेत्‌त्व में अपनी मांगो संबंधी ज्ञापन मुखयमंत्री के नाम तहसील कार्यालय में दिया । ज्ञापन देने के पद्गचात मोर्चा के जिला अध्यक्ष अभय भट्‌ट ने आगामी २ अक्टूबर को जिला स्तरीय धरना एवं ज्ञापन कार्यक्रम के संबंध में जानकारी देते हुए स्थानीय समस्याओं पर चर्चा की तथा मोर्चा के संयोजक आरिफ अंजुम, गगन कनौजे, देवेन्द्र ठाकुर ने भी अपने विचार रखें श्री विष्णु शर्मा ने एकजुट होने की बात कही । धरने का संचालन विपिन चौबे ने किया आभार प्रदर्द्गान ब्लाक अध्यक्ष कम्मू पटेल ने माना अंत में आर.एस.एस. के सरसंघ संचालक श्री के.सी.सुदर्द्गान एवं अध्यापक राजेद्गा खरे के ब्रम्हलीन होने पर सभी ने श्रद्धांजलि अर्पित की । इस अवसर पर मोहन राय, आद्गाीष भटट, राजुल तिवारी, रामबिहारी विद्गवकर्मा, मनीष भारद्वाज, मंगलेद्गा पाण्डे, राजू गांगरा, प्रमेन्द्र वैद्य राममिलन उपाध्याय, नवनीत स्वामी, अमित पाण्डे, प्रेमसिंह ठाकुर , बलराज मांझी, राजेद्गा पाठक, रवि पाठक, ओमपाल सिंह राजपूत राजेद्गा सोनी, प्रवीण चौहान, महेन्द्र पाण्डे, चंद्रभान पटेल, संतोष गौतम,, प्रवेन्द्र जैन, धर्मेन्द्र यादव, राकेद्गा उपाध्याय, सामंत सिंह,केर सिंह, उत्तम पटेल निर्भय कोरी आदि उपस्थित रहें ।

Top

अभय भट्‌ट संयुक्त मोर्चा के जिलाध्यक्ष

दमोह/ अध्यापक संविदा संयुक्त मोर्चा की महत्वपूर्ण बैठक स्थानीय बी.आर.सी. कार्यालय में सम्पन्न हुई जिसमें संयुक्त मोर्चा के आगामी आन्दोलन जो ब्लाक स्तर से प्रारंभ होने जा रहे है को अधिक सक्रिय एवं मजबूत बनाने के उद्‌देद्गय से महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया। जिसमें सक्रिय अध्यापक अभय भट्‌ट को संयुक्त मोर्चे का जिलाध्यक्ष बनाया गया। साथ ही श्री आरिफ अंजुम, गगन कनौजे एवं देवेन्द्र सिंह ठाकुर मोर्चे के जिला संयोजक का दायित्व निभायेंगे। श्री भट्‌ट के नाम का प्रस्ताव संयोजक देवेन्द्र सिंह ठाकुर ने रखा जिसका समर्थन गगन कनौजे के साथ सभी उपस्थित अध्यापक संविदा द्गिाक्षकों ने किया। अभय भट्‌ट को जिलाध्यक्ष बनाये जाने पर सभी ने बधाईयाँ दी जिनमें विष्णु शर्मा,महेन्द्र दीक्षित, मंगलेद्गा पाण्डे, राजू गांगरा, आद्गाीष भट्‌ट विपिन चौबे, राममिलन उपाध्याय, नवनीत स्वामी, दिलीप उपाध्याय, चंद्रभान पटेल, प्रेमसिंह ठाकुर,, राजुल तिवारी, भगवानदास रैकवार, पंकज श्रीवास्तव, नवीन अहिरवाल, फहीम खान, अजय जैन, कमलेद्गा अहिरवाल, उमेद्गा पाठक, ओमपाल सिंह राजपूत, अमित पाण्डे, जद्गारथ राय, डी. पी. शुक्ला, हरिद्गाचंद्र सोनी, दौलत सिंह ठाकुर, शम्भू दयाल. डेहरिया, नरेन्द्र अहिरवाल, प्रमोद अहिरवाल, धर्मेद्गा राय, विजय साहू, प्रदीप सिंह राजपूत, संतोष गौतम, अल्पेद्गा गोंड, हिमांद्गाु पाण्डे, विवेक दत्त शर्मा, जगविजय पटेल, मनीष शर्मा, अभिषेक जैन, प्रवीण चौहान, लखन पटेल, भरत ठाकुर, अखिलेद्गा तिवारी, इंदरसिंह, सुरेन्द्र कटहरे, दीपेन्द्र रत्ले, राजेद्गा जैन, ब्रजेद्गा चतुर्वेदी, एन.एस. ठाकुर, सहित कई लोग उपस्थित थे।

Top

एक दशक से बंद है कारखाना

होशंगाबाद। देश में बहुॅराष्ट्रीय कम्पनियों के पैर पसारने से उसका असर प्रदेश के होशंगाबाद जिले के सिवनीमालवा में भी देखने को मिल रहा है जहॉ स्वदेशी कुटीर और उद्योग माली हालत में है तथा करोड़ों की लागत से बना सोयावीन कारखाने जो हजारों परिवारों का पालन पोषण करता था पिछले एक दसक से बंद है और अरबों रूपये की मद्गाीनें जंग खा रही हैए यही कारण है कि राज्य सरकार की लापरवाही एवं सुध नही लेने से डोलरिया में स्टील प्लांट के लिये जमीन तय होने तथा केन्द्र की मंजूरी के बाद भी यह नया कारखाना जिले के लोगों के लिये शेखचिल्ली का खवाहगाह बनकर रह गया है। जिले में नये उद्योगों की संभावनायें नस्ट हो गयी है,अलबत्ता मुखयमं त्री द्गिावराजसिंह चौहान अपने विधानसभा क्षै त्र बुदनी में इन उद्योगों को अब भी आमत्रित कर विकास की दौड में लगे है। जिले की सिवनीमालवा तहसील में कई एकड जमीन पर बना सोया प्लाट में करोड ों रूप्ये की मद्गाीनें १० साल से अधिक समय से जंग खा रही है । इस जिले के हजारों परिवारों की गुजर बसर इस कारखाने से होती थी तथा किसानों को भी सोयाबीन हेतु प्रोत्साहन मिलता था लेकिन यह सोया प्लांट पिछले एक दशक से बंद पड ा है और मशीने जंग खा रही है। बिजली -पानी की समस्या जैसी अनेक प्राथमिक दिक्कतें झेलते हुये पिपरिया, सिवनीमलवा, इटारसी व होशंगाबाद में सरकारी और निजी क्षैत्र के अनेक उपक्रम बंद हो चुके है, बावजूद इसके डोलरिया में १६० करोड़ रूपये का स्टील प्रोसेसिंग प्लाट की आधारशिला रखी जाने बाद भी उस दिशा में कोई काम न होने से बेरोजगारों को सब्जबाग दिखाने वाले सपने धुंधले होने लगे है। दो वर्ष पूर्व तत्कालीन केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान व प्रदेश के मुखयमंत्री शिवराजसिंह चौहान एवं कॉग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सुरेश पचौरी की उपस्थिति में डोलरिया क्षैत्र में स्टील प्रोसेसिंग प्लाट का सपना दिखायागया था और उसे लोग मील का पत्थर मान रहे थे किन्तु इस हेतु जमीन अधिग्रहण सहित प्लांट के विषय में जिले के किसी भी प्रशासनिक अधिकारी के पास कोई जबाव नहीं है और विधानसभा का नेतृत्व करने वाले नेतागण भी अपनी जुबान खोलने से बच रहे है। नगर में ३५ से अधिक उद्योग लगाये गये किन्तु आज ५-५ को छोड शेष सभी बंद पड े है। इसी प्रकार इटारसी में १५० उद्योगों में से ७५ के लगभग बंद पड े है शेष उद्योग कई लोगों को रोजगार दिये हुये है। दो दशक पूर्व होशंगाबाद के नागरिकों को सुगर मिल का खवाह दिखाये जाने के बाद अनेक किसानों को उसका सदस्य बनाने की प्रक्रिया चली जिसमें लाखों रूपये चंदा आया किन्तु न तो शुगर मिल बन सकी और न ही किसानों से इकत्र किये अंश राशि का ही पता लग सका है। अधिकांश उद्योंगों के बंद होने के पीछे बिजली की कमी व पानी की दिक्कतें रही है जिससे यह क्षैत्र पिछड रहा है। (आत्माराम यादव )

Top

विवेकानंद सन्देश यात्रा पहुची बटियागढ़

बटियागढ । प्रदेद्गा मे चलाई जा रही स्वामी विवेका नंद सन्देश यात्रा पथरिया विधानसभा से होते हुये बटियागढ पहुची जहां सैकडो भाजपा युवा मोर्चा के कार्य कर्ताओ द्वारा अपने दो पहिया बाहनो मे समेचू ग्राम मे एक विशाल रैली निकाल कर सन्देशयात्रा का महत्व बताया जिसमे भायुमो के जिलाध्याक्ष मनीष तिवारी एवं प्रदेद्गाउपाध्यक्ष अलोक अहिरवार और सिद्वार्थ मलैया प्रदेद्गाकार्यकारणरी की उपस्थिती मे एक विद्गााला आम सभा को संबोधित किया मनीष तिवारी ने बताया विवेकानंद संदेद्गा यात्रा के द्वारान प्रदेद्गा मे चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओ की जानकारी सभी युवाओ को घर घर तक पहुचाना सिद्वार्थ मलैया ने बताया युवा देद्गा का भविष्य है जो कभी भी उभर कर सामने आ सकता है एवं देद्गा आर्थिक व्यवस्था को बढाने मे युवाओ की जरूरत आज भी जिनके एवं सैकडो युवा कार्यकर्ताओ को सपथ दिलाइ्र जिसमे बताया कि जी जान से देद्गा के लिये कार्य करे और अपने भविष्य को सवांरे एवं आम सभा को संवोधित करते हुये युवराज कुसमरिया ने सभी युवा मोर्चा के कार्यकतो को सही दिद्गाा और सही मार्ग पर चलने की सलाह दी भायुमो के ब्लाक अध्यक्ष कपिल शुक्ला ने कहा स्वामी विवेकानंद संदेद्गा यात्रा की जरूरत इस लिये पडी क्योकी देद्गा मे स्वामी विवेकानंद जैसे महान कर्त्यव्य कर्मठ एवं लगनद्गाील व्यक्तिव्व के धनि ने अपने अथक प्रयासो से देद्गा की कायाकल्प मे जो परिवर्तन किया था उससे आज हर युवा को सीख लीनी चाहीये (अंकित पाण्डेय )

Top

प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया

होशंगाबाद-सामाजिक एकता को मजबूत कर समाज में व्याप्त कुरीतियों एवं बुराईयों को दूर किये जाने हेतु कुर्मी क्षत्रिय समाज ने अपनी ताकत दिखाई जिसमें लोह पुरूष सरदार ब्वभभाई पटेल को स्मरण करते हुये प्रतिभाशाली बच्चों को सम्मानित किया गया। समाज के युवा संगठन के प्रदेश अध्यक्ष हेमन्त चौधरी ने इस अवसर पर समाज के आर्थिक रूप से कमजोर छात्र छात्राओं को ५ हजार रूपये ५ वर्षो तक प्रतिवर्ष मदद किये जाने की बात कही। कार्यक्रम में १५० से अधिक प्रतिभाभान छात्र छात्राओं को सम्मानित किया गया । पूर्व जिला पंचायत सदस्या एवं स्वासथ्य समिति अध्यक्ष रहे श्री चन्द्रगोपाल मलैया ने अपने उदबोधन में समाज को राजनैतिक सोच से उठकर समाज की भलाई के लिये काम कर समाज के विकास की बात कही। कुर्मी समाज के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व कॉग्रेस जिलाध्यक्ष संतोष गौर ने इस अवसर पर समाज से एकता और संगठन को मजबूती दिये जाने की बात कही तथा बताया कि अभी यह कार्यक्रम जिला स्तर पर है आने वाले समय में यह राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित हो और इसमें समाज के हित व्यापक निर्णय लेकर समाज को लाभान्वित किया जाये। जनपद अध्यक्ष भगवती चौरे ने समाजितक एकता पर बल देते हुये कहा कि समाज के विकास और उत्थान के लिये समाज में व्याप्त कुरीतियों एवं बुराईयों को दूर करके ही समाज को मजबूती प्रदान की जा सकेगी। कार्यक्रम का संचालन राजेश चौरे एवं आभार हेमन्त चौधरी ने व्यक्त किया। कार्यक्रम में सम्माज के वरिष्ठ एवं प्रतिभावान हस्तियों ने भाग लिया। (आत्माराम यादव )

Top

कॉग्रेस का भाजपा सरकार पर हमला

राहुल को जिंदा जलाने पर कॉग्रेस का भाजपा सरकार पर हमला वे बुढ़ापे का सहारा छीन रहे है और ये शिवराज श्रवणकुमार बन रहे है होशंगाबाद । भाजपा की छात्र इकाई विद्यार्थी परिषद व बजरंग दल के निरकुंश कार्यकर्ताओं द्वारा बैतूल जिले के शाहपुर निवासी २४ वर्षीय एन.एस.यू.आई कार्यकर्ता राहुल जोशी को जिन्दा जलाकर मारने के दिल दहलाने वाले भीभत्स एवं अमानवीय घटना पर होशंगाबाद के कॉग्रेसजनों ने गहरा आक्रोश व्यक्त किया तथा उसके परिजनों को ५० लाख रूपये की आर्थिक सहायता की मॉग की । इस अवसर पर अनोखीलाल राजोरिया ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान श्रवणकुमार बनकर बूढों को तीर्थ यात्रा करा रहे है जबकि उनके ही लोग प्रदेश के बूढ़ों से उनका सहारा छीन रहे है जिससे पूरा प्रदेश स्तब्ध रह गया है। कॉग्रेस के चन्द्रगोपाल मलैया ने शिवराजसिंह की सरकार के आड़े हाथों लेते हुये कहा कि आज प्रदेश में भाजपा के साथ साथ उनके सहयोगी विद्यार्थी परिषद, बजरंग दल, विश्च हिन्दू परिषद जैसे कटटरपंथियों को प्रदेश के कीमती खनिजों, जंगलों, खदानों को लूटने की पूरी छूट मिली है और वे सारे अपराधों को अंजमा देने में लगे है जिन्हें सरकार और प्रशासन का पूरा संरक्षण मिला है। श्री मलैया ने कहा कि राहुल जोशी अपने माता पिता के लिये श्रवणकुमार था लेकिन आज उक्त बूढे माता पिता से उसका सहारा छीन लिया, ऐसे में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह का श्रवण कुमार बनना एक नोटंकी है। वरिष्ठ कॉग्रेसी शरीफ राईन ने राहुल को जिंदा जलाये जाने पर इसे अमानवीय एवं निरकुंशता बतलाकर कर प्रदेश में फासिस्ट एवं कटटरपंथ का अखाड़ा बनाये जाने की बात कही। इस मौके पर घनश्याम जमनानी,पूर्व जिलाध्यक्ष संतोष गौर, जनपद अध्यक्ष भगवती चौरे, धर्मेन्द्र तिवारी, संतोष तोमर, कुलदीप राठौर, अजय सैनी, निसार खान, दीपक सिसौदिया, पूर्व नपाध्यक्ष मीना वर्मा, सोनू गख्खर, हिना खान, लता माधव, महेश बाबरिया आदि ने भी अपने विचार रखे। भारी सॅख्या में उपस्थित कॉग्रेसियों में इनके अलावा इरफान खान, महेश बारिया, गुलाम हैदर, मोहम्मद खलिस साहब, फैजान उल हक, मेहमूद फाजिली,रमेश सोनेला, कपिल श्रोती, शेखपप्पू, रोहित शर्मा, गोपाल चौरे आदि उपस्थित थे। धरना आन्दोलन के बाद सभी ने महामहिम राज्यपाल के नाम एक ज्ञापन जिला प्रशासन के अधिकारियों को सौंपकर राहुल जोशी के परिवार जनों को ५० लाख रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान कर दोषीयों पर आवश्यक कार्यवाही के साथ अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, विश्च हिन्दू परिषद एवं बजरंग दल पर प्रतिबन्ध लगाने की मॉग की है (आत्माराम यादव )

Top

शिक्षक एक मोमबत्ती की तरह

शिक्षक एक मोमबत्ती की तरह दमोह- रामकुमार विद्यालय दमोह में च्चिक्षक दिवस के अवसर पर शिक्षक सम्मान समारोह आयोजित हुआ। समारोह के मुखय अतिथि जल संसाधन मंत्री जयंत मलैया, नगर पालिका अध्यक्ष मनु मिश्रा, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष अजय टण्डन, लखन पटैल एवं पी.डब्ल्यू.डी. के ई.ई. अनिल सिंह विच्चिद्गठ अतिथि के रुप में उपस्थित हुए। कार्यक्रम के प्रथम चरण में स्वागत गीत च्चिक्षकों के सम्मान में गाया गया। इसके उपरान्त जिले से आये सेवानिवृत्त च्चिक्षक एवं च्चिक्षा के क्षेत्र में उत्कृद्गट कार्य करने वाले च्चिक्षकों का द्रााल एवं श्रीफल द्वारा सम्मान किया गया। कार्यक्रम के चलते बड़ी संखया में गणमान्य नागरिक एवं च्चिक्षकों की उपस्थिति रही। इस अवसर पर आयोजन समिति द्वारा श्री मलैया जी को अभिनंदन पत्र भेट किया जिसका वाचन दिनेच्च असाटी ने किया साथ ही श्री हनुमान गढ ी च्चिक्षण समिति के अध्यक्ष डॉ. रघुनंदन चिले ने समिति की ओर से आभार अभिनंदन पत्र वाचन कर समिति सदस्यों के साथ भेंट किया। शिक्षक दिवस पर जारी महामहिम राद्गट्रपति जी एवं प्रधानमंत्री जी के संदेच्च का वाचन वरिद्गठ पत्रकार ठाकुर नारायण सिंह द्वारा किया गया। संयुक्त रुप से आयोजित किये गये च्चिक्षक सम्मान समारोह की श्री मलैया जी ने और सभी अतिथियों ने सराहना की। नगर पालिका अध्यक्ष श्री मनु मिश्रा द्वारा च्चिक्षक सम्मान के उपलक्ष्य में च्चिक्षकों के सम्मान में कहा कि च्चिक्षक एक मोमबत्ती की तरह है जो स्वयं जलकर दूसरों का अंधकार दूर करता है। कार्यक्रम में आयोजन समिति की ओर से जिला च्चिक्षा अधिकारी एस.के.नेमा, जिला परियोजना समन्वयक सुधीर उपाध्याय, स्वामी अच्चोक तिवारी, च्चिक्षक कांग्रेस अध्यक्ष महेच्च यादव, दिनेच्च असाटी, एच.एन. श्रीवास्तव, ललित नायक, श्री हनुमान गढ़ी च्चिक्षण समिति का विच्चेद्गा योगदान रहा। कार्यक्रम का संचालन विपिन चौबे ने किया एवं कार्यक्रम को सफल बनाने में सत्य नारायण तिवारी, नवनीत स्वामी, राममिलन उपाध्याय, दिलीप उपाध्याय, विद्गणु द्रार्मा, राजू गांगरा, डी.एन.सोनी, पंकज श्रीवास्तव, मोहन आदर्च्च, पदम सिंह ठाकुर, मनीद्गा भारद्वाज, उमेच्च पाठक, नवीन अहिरवार, रवि उपाध्याय, चंद्रभान पटैल, हीरा सिंह आदि का सहयोग रहा। समारोह में सभी मान्य अतिथियों को आयोजन समिति की ओर से स्मृति चिन्ह भेंट किये। अंत में स्वामी अशोक तिवारी ने आयोजन समिति की ओर से सभी का आभार माना।

Top

शिक्षा का अधिकार- (नई पहल)

शिक्षा का अधिकार अधिनियम एवं हमारे कर्तव्य'' विषयक कार्यशाला (नई पहल) बालाकोट । जनशिक्षा केन्द्र बालाकोट में ''शिक्षा का अधिकार अधिनियम एवं हमारे कर्तव्य'' विषयक कार्यशाला का आयोजन श्री लखन लाल जी चौरसिया सदस्य राज्य शिक्षा केन्द्र के मुखय आतिथ्य एवं श्री सिद्धार्थ मलैया की अध्यक्षता में संपन्न हुआ । कार्यशाला में अन्य विशिष्ट अतिथियों के रूप में समाजसेवक श्री बहादुर सिंह जी, पूर्व प्राचार्य, पी.जी.कालेज डा. एन.आर.राठौर, पूर्व जिला शिक्षा अधिकारी डा.पी.एल.शर्मा एवं पत्रकार महेन्द्र दुबे की उपस्थिति रही । कार्यशाला के प्रारंभिक चरण में सरस्वती पूजन उपरांत जनशिक्षक ने कार्यशाला की विषयवस्तु से अतिथियों को अवगत कराया तत्पश्चात अतिथियों में सर्वप्रथम श्री बहादुर सिंह जी ने अपने उदबोधन में शिक्षा में राष्ट्रप्रेम को समाहित करने पर जोर दिया और शिक्षकों को आदर्श आचरण पर बल दिया । डा.पी.एल.शर्मा ने अपने उदबोधन में सर्व शिक्षा अभियान के मूल उद्‌देच्च्यों से अवगत कराते हुए प्राथमिकताओं को पूर्ण करने पर बल दिया । महेन्द्र दुबे ने अपने उदबोधन में शिक्षक पद की गरिमा पर प्रकाश डालते हुए बताया कि छात्र अपने शिक्षकों का अनुसरण करते हैं अतः शिक्षक छात्रों के समक्ष ऐसा आचरण करें जो छात्रों को अच्छा नागरिक बनने में मदद करें । अध्यक्षीय भाषण में श्री सिद्धार्थ मलैया ने कहा कि हम धर्म से दूर हो रहे हैं इसलिये हमारा नैतिक पतन हो रहा हैं यदि हम धार्मिक होकर ईश्वर से डरेंगे तो निश्चित ही हम अपने कर्तव्यों का अपनी पूरी क्षमता से पालन करेंगे । राज्य शिक्षा केन्द्र के सदस्य श्री लखन लाल जी चौरसिया ने अपने उदबोधन में शिक्षकों से शालाओं में नियमित उपस्थित होकर बच्चों को गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराने का आव्हान किया । कार्यशाला के अंत में समस्त उपस्थित शिक्षकों ने व्यसनों से मुक्ति एवं अपने कर्तव्यों का पूर्ण निष्ठा से पालन करने का संकल्प लिया । कार्यशाला के सफल आयोजन पर अतिथियों ने बी.आर.सी. राजेन्द्र पटेल, प्राचार्य हेमेन्द्र सिंह ठाकुर, जनशिक्षक राम मिलन उपाध्याय, दिलीप उपाध्याय के प्रयास की सराहना करते हुए अन्य ग्रामों में भी ऐसी कार्यच्चालाओं के आयोजन पर बल दिया । कार्यशाला में जनशिक्षा केन्द्र के समस्त शिक्षक, सरपंच, पंच, शाला प्रबंध समितियों के अध्यक्ष एवं सदस्यों तथा ग्रामीण जन एवं छात्रछात्राओं की उपस्थिति रही । कार्यक्रम संचालन विपिन चौबे ने किया एवं आभार प्रदर्शन सरपंच श्री लक्ष्मीप्रसाद चौबे ने किया । कार्यशाला के आयोजन में सत्यनारायण तिवारी, नवनीत स्वामी, मोहन आदर्च्च, मनीष भारद्वाज, उमेश पाठक, राजू गांगरा, देवेन्द्र सिंह, पंकज श्रीवास्तव, नवीन अहिरवाल, विपिन चौबे, समीर मिश्र, प्रेमलाल टिकटिक आदि ने विशेष सहयोग प्रदान किया ।

Top

भंडारण के लिए लायसेंस लेना अनिवार्य

होशंगाबाद/ म.प्र.खनिज ( वैध उत्खनन, वैध परिवहन एवं वैध भंडारण का निवारण) नियम २००६ के नुसार कोई भी व्यक्ति, फर्म, कंपनी बिना भंडारण लायसेंस प्राप्त किये बिना मुख्य खनिजों या गौण खनिजों का भंडारण नही कर सकेगा। मुख्य खनिजो या गौण खनिजों के भंडारण के लिए लायसेंस लेना निवार्य है। लायसेंस प्राप्त किये बिना खनिजों का भंडारण करना वैध है जिसके विरूद्घ कार्यवाही की जाएगी। जिला खनिज धिकारी ने जो भी व्यक्ति खनिजो का व्यापार करने के उद्देश्य से खनिजो का भंडारण करना चाहते हैं वो कलेक्टर कार्यालय खनिज शाखा में निर्धारित प्रारूप में ावेदन पत्र प्रस्तुत कर भंडारण नुज्ञप्त्िा प्राप्त कर सकते हैं। इसके उपरांत ही खनिज का भंडारण किया जा सकता है। बिना भंडारण नुज्ञप्त्िा के खनिजो का भंडारण करने पर कार्यवाही की जा सकेगी। खनिज रेत का भंडारण नुज्ञप्त्िा उन्ही व्यक्ति, फर्म, कंपनी को प्रदान की जाएगी जिनके नाम पर खनिज रेत की खदाने स्वीकृत हैं। भंडारण हेतु प्रस्तावित स्थल स्वीकृत खदान से ०४ कि.मी. की परिधि में होना चाहिए। भंडारण की वधि खदान वधि तक के लिए प्रदाय की जावेगी। शासकीय निर्माण कार्यो एवं गैरशासकीय बिल्डर्स, कालोनाईजर को उनके -ारा बनाये जाने वाले प्रत्येक प्रोजेक्ट के लिए पृथकपृथक भंडारण नुज्ञप्त्िा प्राप्त करना निवार्य है। भंडारण नुज्ञप्त्िा प्राप्त किये बिना गौण खनिजों का उपयोग निर्माण कार्यो में नही किया जावेगा(आत्माराम यादव )

Top

फीडिंग न होने पर होगी कार्यवाही

होशंगाबाद - मनरेगा अंतर्गत किये गये व्यय की एंट्री एमआईएस सॉफ्टवेयर में की जाती है। सॉफ्टवेयर में कुल उपलब्ध राशि के विरूद्ध ६० प्रतिशत एमआईएस एंट्री होने पर ही जिले को मनरेगा परिषद, भोपाल द्वारा राशि प्रदाय की जाती है। जिले की एमआईएस सॉफ्टवेयर में एंट्री की प्रगति बढ़ाने सी.ई.ओ जिला पंचायत श्री के. जी. तिवारी ने समस्त जनपद पंचायत के सी.ई.ओ को निर्देश दिये है कि अभियान चलाकर ३० अगस्त तक समस्त जनपद पंचायत कुल उपलब्ध राशि के विरूद्ध ६० प्रतिशत एमआईएस सॉफ्टवेयर में एंट्री करना सुनिश्चित करें, अन्यथा संबंधित अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी, मनरेगा एवं संबंधित के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जावेगी।

Top

इंस्पायर अवार्ड योजनांतर्गत विज्ञान प्रदर्शन

७ से ९ सितम्बर तक होशंगाबाद : - विद्यार्थियों में विज्ञाान के प्रति रूचि जगाने तथा वैज्ञानिक दृष्टिकोण विकसित करने के लिए इंस्पायर अवार्ड के तहत जिला स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन ७ सितंबर सें ९ सितंबर तक शासकीय उत्कृष्ट उमा विद्यालय होशंगाबाद में किया जायेगा। उक्त प्रदर्शनी के आयोजन हेतु जिले के २३७ विद्यालयों से चयनित कुल ३११ बच्चे प्रतिभागी होंगे। विज्ञान प्रदर्शनी के लिए हुई बैठक सी.ई.ओ जिला पंचायत के. जी. तिवारी ने जिला पंचायत सभाकक्ष में प्रदर्शनी के सफल आयोजन हेतु तैयारियों एवं व्यवस्थाओं के सिलसिलें में संबंधित अधिकारियों को दिशा निर्देश दिये। बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी श्री बी. के. पटेल, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्री पी. के. पाण्डेय, जिला कोषालय अधिकारी, प्राचार्य उत्कृष्ट विद्यालय आदि उपस्थित रहे। सी.ई.ओ जिला पंचायत श्री तिवारी ने कहा कि प्रदर्शनी से चयनित ५ प्रतिशत प्रोजेक्ट मॉडल बनाने वाले विद्यार्थियों को राज्य स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी में भाग लेने का अवसर मिलेगा। उन्होंने निर्देश दिये कि प्रत्येक चयनित अवार्डी छात्र-छात्राओं को प्रोजेक्ट/मॉडल निर्माण में मार्गदर्शन हेतु संबंधित संस्था से एक-एक विज्ञान शिक्षक/व्याखयाता को मार्गदर्शी शिक्षक का दायित्व सौपा जाये साथ ही प्रतिभागी छात्रों एवं मार्गदर्शी शिक्षकों के आवास हेतु बुनियादी सुविधाओं से युक्त उचित आवास स्थल का चयन किया जाए। छात्राओं तथा महिला शिक्षिकाओं के लिए आवास व्यवस्था पृथक से की जाएं। यह भी देखे कि आवास स्थल प्रदर्शनी स्थल से दूर न हो। प्रदर्शनी अवलोकन के लिए जनप्रतिनिधियों को भी आमंत्रित किया जाए। श्री तिवारी ने बताया कि इंस्पायर अवार्ड योजनांतर्गत अवार्डी छात्र को ५००० रू. दिये जायेगें। जिसमें से २५०० रू. प्रोजेक्ट मॉडल निर्माण एवं शेष २५०० रू. का व्यय प्रदर्शनी में भाग लेने हेतु यात्रा व्यय आदि पर व्यय किये जायेगें।

Top

कार्यकर्ता प्रशीक्षण वर्ग का हुआ उद्‌घाटन

दमोह/ श्रेष्ठ संगठन श्रेष्ठ नेता एवं अच्छा कार्यकर्ता भाजपा को तीसरी बार सत्ता में लाने का कारण बनेंगा । हमनें दो बार पूर्व में भी यह सफलता प्राप्त की है। पहली बार कांग्रेस नीत प्रदेद्गा सरकार की दुर्दद्गाा के कारण हमें यह सफलता प्राप्त हुई थी । वहीं दूसरी बार हम भाजपा के प्रति बडे जनाधार जनता के विद्गवास एवं भरोसे पर खरे उतरने के कारण विकास को पहचान बनाकर म.प्र. में सरकार बनाने में सफल हुए थे। निद्गिचत ही विकास की आधार द्गिाला को मूर्त रूप देने के परिणाम से द्गिावराज जी जैसे सामाजिक व्यक्तित्व के प्रभाव एवं कार्यकर्ताओं के समपर्ण के परिणाम से हम मिद्गान २०१३ पर विजय प्राप्त करेंगे। एक बात हमेंद्गाा ध्यान रखने योग्य है। सरकार बनाने वाला और कोई नहीं कार्यकर्ता ही होता है। जो कार्यकर्ताओं के सहयोग से सरकार बनाता है और गर्व से कहता है हमनें कार्यकर्ताओं की सरकार बनाई है और इस लिहाज से हम कह सकतें है कि कार्यकर्ता सरकार की मां के समान है और कोई भी मां अपनी संतान का बुरा नहीं सोचती दोस्तो मिद्गान २०१३ आपकी परीक्षा का समय है। द्गिावराज जी चौहान हमारे लोक प्रिय नेता है वह जन आकांक्षाओं पर खरे उतरक संकीर्णता नहीं उदारता की राजनीति करते हुए जननायक की भूमिका में है। भाजपा प्रदेद्गा अध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं से आव्हान करते हुए कहां कि मिद्गान २०१३ खुद्गााहाल मध्यप्रदेद्गा की आवद्गयकता है। उक्त उद्‌गार भाजपा कार्यकर्ता वर्ग के उद्‌घाटन कार्यक्रम में पधारे प्रदेद्गााध्यक्ष श्री प्रभात झा ने व्यक्त किये भाजपा प्रदेद्गा अध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं से आव्हान करते हुए कहां कि मिद्गान २०१३ खुद्गााहाल मध्यप्रदेद्गा की आवद्गयकता है। इस अवसर पर भाजपा के संभागीय संगठन मंत्री श्री दिनेद्गा शर्मा जी, जिलाध्यक्ष श्री विजय सिंह राजपूत जी, जिला संगठन मंत्री बृज मोहन पांडे जी सहित सभी मंडलो से पधारे भाजपा के कार्यकर्ता उपस्थित थे ।

Top

स्कूल विल्डिग में गुणवत्ता की अनदेखी

स्कूल विल्डिग में गुणवत्ता की अनदेखी मड़ियादो स्थानीय मिडिल स्कूल में ९ अतिरिक्त कक्षों का निर्माण सर्व शिक्षा विभाग द्वारा कराया जा रहा है। राशी का किस तरह दुयुर्पयोग हो रहा है यह कार्य देख कर ही अंदाजा लगाया जा सकता है। ऐज्यूकेद्गान पोर्टल से प्राप्त जानकारी के अनुसार वर्ष ०१०.०११ में १२लांख ७० हजार से ५ एंव वर्च्च ०११.०१२ में १० लांख १६ हजार रूपए की लागत से ४ अतिरिक्त कक्ष का निर्माण कराया जाना स्वीक्रत है। कार्य कि गति धीमी होने से यंहा अध्यनरत ६८६ बिद्‌यार्थी बैठने की पर्याप्त जगह ना होने से परेद्गाान है। गुणवत्ता में अनदेखी स्थानीय लोगो के अलावा संकुल प्राचार्य बीएस राजपूत का आरोप है कि स्कूल निर्माण कार्य में मापदंण के अनुसार रेत, सीमेंट नहीं लगाया गया जिस से जो अतिरिक्त कक्ष छत लेवल तक बन चुके वह बारिस में लींक हो रहे है हलाकी अभी छपाई कार्य वाकी है। इनका आरोप है स्टीमेंट में जो रेत उपयोग होना है वह नही लगाई गई लाल पतली रेत का उपयोग किया गया जिस से स्कूल की छत से पानी टपक रहा है। स्कूल मैदान बना स्टाक रूम स्थानीय लोगो का आरोप है सरंपच सचिव के द्वारा स्कूल मैदान में गिट्‌टी और रेत का स्टाक बना लिया है जबकि स्कूल भवन निर्माण का कार्य बंद है पंचायत में हो रहे अन्य कार्यो में यहा से रेत गिट्‌टी उठा कर उपयोग कर रहे है और यंहा स्टाक बना कर रखा जाता है । स्कूल के मैदान में गिट्‌टी रेत का स्टाक होने से बिद्‌यार्थी खेल मैदान की कमी से पेरद्गाान है। चिंता की बात नहीं लोग बेवजह आरोप लगा रहे है कार्य ठीक हो रहा है कही से यदि लेंटर से पानी का रिसाव हो रहा है तो चिंता की बात नहीं है उसे ठीक करा देगे। दिनेद्गा तिवारी उपयंत्री सर्व शिक्षा विभाग (युसूफ पठान )

Top

गुणवत्ता विहीन कार्य करने वाले - ब्लैक लिस्टेड?

होशंगाबाद : विभिन्न विभागों के निर्माण कार्यो की समीक्षा बैठक रेवा सभाकक्ष में कलेक्टर राहुल जैन की अध्यक्षता में आयोजित की गई। बैठक में उन्होंने समस्त निर्माण एजेंसियों को हिदायत दी कि वे संबंद्ध ठेकेदारों से कार्य समय-सीमा एवं गुणवत्तापूर्ण करावें जो भी ठेकेदार लेटलतीफी एवं गुणवत्ता विहीन कार्य करेगें उन्हें ब्लैक लिस्टेड किया जायेगा एवं उनके विरूद्ध अन्य अनुशासनात्मक कार्यवाहियॉं भी की जावेगी। कलेक्टर ने वर्ष २००७-०८ के स्वीकृत केसला के ५० शैया आदिवासी कन्या आश्रम एवं आदिवासी कन्या छात्रावास के कार्य अपूर्ण रहने पर ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के एस.डी.ओ को हिदायत दी कि वे यह कार्य ठेकेदारों के माध्यम से गुणवत्तापूर्ण एवं तत्काल करवायें। मुखयमंत्री ग्राम संपर्क सड़क योजना की प्रगति की समीक्षा करने पर एवं योजना अंतर्गत धीमी प्रगति पर उन्होंने ग्रामीण यांत्रिकी सेवा को कारण बताओ सूचना पत्र जारी करने के निर्देश दिये उन्होंने कहा कि स्वीकृति के विरूद्ध २५ प्रतिशत से कम व्यय करने वाले कार्यो पर उनसे जबाव मांगा जाये। कलेक्टर ने विभागों को कहा कि वे कार्यो के निर्माण के समय सतत निगरानी करे साथ ही गुणवत्ता से समझौता न करें। इस अवसर पर जिला पंचायत सी.ई.ओ. श्री के. जी. तिवारी, मनरेगा, लोक निर्माण विभाग, गा्रामीण यांत्रिकी सेवा, आदिवासी विकास, नर्मदा निर्मित केन्द्र, नगरपालिका आदि विभागों के अधिकारी उपस्थित रहें।

Top

ऑनलाइन भुगतान में चाँदी सिक्का जीता

होशंगाबाद : मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण के वेब पोर्टल के माध्यम से ॉनलाइन भुगतान करोचाँदी का सिक्का जीतो का माह जुलाई का ड्रॉ खुला जिसमें निम्न दाब उपभोक्ता ों के लिये लागू प्रोत्साहन योजना के ंतर्गत लकी ड्रॉ के २० विजेता उपभोक्ता ों को १० ग्राम का चाँदी का सिक्का इनाम में दिया जाता है। ईनाम जीतने वाले उपभोक्ता ों में नर्मदापुरम्‌ संभाग के होशंगाबाद एवं बैतूल जिले के भी दो उपभोक्ता शामिल है इनमें श्री पवन कुमार पटेल होशंगाबाद तथा श्री गौवर्धन बैतूल के नाम लकी ड्रा खुले हैं। इनमें लावा श्री प्रभाकर शर्मा, श्री महेश चन्द्र, श्रीमती कुसुम प्रधान, श्रीमती सगुना देवी, श्री रुण गुप्ता, श्री पंकज शर्मा ग्वालियर, मैसर्स हरदेव इलेक्ट्रॉनिक कम्पनी भोपाल, श्री एच.के. पाठक, श्री ताराकांत झा, श्री निल कुमार, श्री जयंत हिरवानी, श्री व्ही.के. जैन, श्री वेदव्रत रमेशचन्द्र चौहान, श्रीमती देवकी, श्री राजेश सक्सेना, श्रीमती चन्द्रकला साकरे, श्री सुरेश मुरलिया, श्री राम वतार बारी भोपाल शामिल हैं। लकी ड्रॉ के लिये गठित कमेटी में कम्पनी की ोर से ति. निदेशक वित्त श्री पी.के. कमठान, महाप्रबंधक वाणिज्य॥ श्री राजीव ग्रवाल, उप महाप्रबंधक ाई.टी. श्री ानंद श्रीवास्तव, उप महाप्रबंधक श्री रामेह्णार चतुर्वेदी, उप महाप्रबंधक वाणिज्य । श्रीमती रीता हालदर तथा बाह्य प्रतिनिधि के रूप में जन संपर्क संचालनालय भोपाल के पर संचालक श्री सुरेश ावतरामानी मौजूद थे। (पत्रकारआत्माराम यादव )

Top

औपचारिकता कर फहरा दिया तिरंगा

हिन्डोरिया- एक ओर जहां आजादी की छैयाषठ वी वर्षगांठ सारे देश में बडे ही हर्सोउल्लास केसाथ मनाई गई एवं चौदह अगस्त की शाम से ही शासकीय एंव अर्धशासकीय भवनों को रोशनी कर दुल्हन की तरह सजाया गया। मगर अफसोस की बात है कि इतने बडे पर्व पर नगर के उपतहसील कार्यालय में रंगरोगन पुताई तक नही कराई गई।हमारे संवाददाता नें जब उपतहसील कार्यालय में जाकर देखा तो नजारा कुछ और ही नजर आया जिस जगह पर ध्वाजा रोहण किया गया था वहां पर साफ सफाई नहीं थी झंडे के डंडे को एक दीवार के सहारे बांध दिया गया था जबकि वहां ध्वाजा स्तंभ नही था वहीं एक कमरें में गांधी जी की एक फटी फोटो टगाीं थी जो वयां कर रही थी कि कई वर्षोंसे नही बदली गई है सबसे अहंम बात कि इस भवन को बनें करीब दस बर्ष हो चुके है लेकिन इन दस बर्षों में एक भी वार इस भवन पर कोई रंगरोगन पुताई नहीं की गई है सारा भवन काला हो चुका है।कार्यालय के पास रहनेंवालें नारायण सिंह ने बताया कि केसे यह अधिकारी लोग है जो राष्टीय पर्वों को ऐसे ही मना लेते है और सिर्फ पर्वों पर ही इनका आना होता है गणमान्य लोगों को नही बुलाया जाता- इन पर्वों को विभाग के एक दो लोगों को बुला लिया जाता है और औपचारिकतायें पूरी कर ली जातीं है ।जबकि नगर के बुद्धी जीवी एवं गणमान्य लोगों कोआमंत्रित तक नही किया जाता ।जब बिग न्यूज़ २४ नें यहां पदस्थ आर आई धनीराम सींग से इस बारें में पूछा तो उन्होने कहा की एक पुरानी लिस्ट रखी है उसी को भेज कर लोगों को बुलवा लेता हूं ओर भवन की पुताई अभी छै माह पहले कराई थी। यहां अंदाजा लगाया जा सकता है कि इन अधिकारियों को ये तक नहीं लगा कि हम क्या कह रहे है जबकि भवन के हालात खुद अपनीह कहानीं वयां कर रहा है।इस संबंध मेंअनुविभागीय अधिकारी श्री मनोज कुमार ठाकुर नें कहा कि रंग रोगन का काम पी डव्लू डी का है इन्हे गांधी जी की फटी फोटो नहीं रखनी चाहिए एवं जांच कर कार्यवाही की जायगी(पत्रकार डा० लतीफ खान )

Top

पत्रकार डा० लतीफ खान हुये सम्मानित

हिंडोरिया। आजादी की ६६वी वर्षगांठ पर नगर के युवा पत्रकार हाजी डा० लतीफ खान को मुखय समारोह स्थल रघुराज चौक पर इस वर्ष समाज सेवा के क्षेत्र में उकृष्ठ कार्य एवं नगर में विद्युत व्यवस्था सुचारु रुप से संचालित करवानें में विशेष योगदान के लिए व्यापारी संघ द्धारा शाल एवं श्रीफल देकर सम्मानित किया गया। ज्ञात हो कि श्री खान को पिछले वर्ष पत्रकारिता के क्षेत्र में उतकृष्ठ कार्य के लिए सम्मानित किया गया था। इस अवसर पर नपाध्यक्ष रामेश्वर ठेकेदार, इंका नेता राहुल सिंह, सांसद प्रतिनिधी जगदीश अग्रवाल, पार्षद सादिक कुरैशी,सुजात खान,शिवराम सोनी,डा०कैयुम मिर्जा,अहसान मोदी,बाबासाहू, पत्रकारगण, व हजारों की संक्ष्या में स्कूली छात्र छात्राऐं मौजूद थे सभी लोगों नें श्री खान को बधाइयां दीं।

Top

कलेक्टर ने सुना बाढ़ पीड़ितों का दुखड़ा

होशंगाबाद/कलेक्टर राहुल जैन ने ाज होशंगाबाद जिले के सर्वाधिक बाढ़ प्रभावित बाबई के नेक ग्रामों का सघन भ्रमण कर बाढ़ पीड़ितो के हालात जाने। इस मौके पर बाढ़ प्रभावितों ने कलेक्टर को पना दुखड़ा सुनाते हुए मदद की गुहार लगाई। इस मौके पर कलेक्टर ने बाढ़ पीड़ितो को ाश्र्वस्त कर उन्हें शासन -ारा हरसंभव मदद का ाश्र्वासन दिया। इस वसर पर ापके साथ जिला पंचायत सीई ो के.जी.तिवारी, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी के कार्यपालन यंत्री वीरेन्द्र वार्न्स, तहसीलदार निल सोनी, जनपद पंचायत सीई ो सुरेश झारिया सहित न्य विभाग के धिकारी उपस्थित थे। कलेक्टर ने सर्वप्रथम बाबई के वार्ड क्रमांक ८ में बाढ़ से हुए नुक्सान का वलोकन किया मौके पर उपस्थित महेश नन्हेलाल का मकान बाढ़ के कारण पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो जाने से उन्होंने कलेक्टर से गुहार लगाकर मदद के लिए निवेदन किया। इस मौके पर कलेक्टर ने धिकारी को निर्देश दिए कि उनका प्रकरण तैयार कर एक सप्ताह के भीतर भेजे। इसी प्रकार बाबई नगर के कई व्यक्तियों के मकान क्षतिग्रस्त हुए तथा तिवृष्टि के कारण काजलखेड़ी की नहर फूटने के कारण नगर पंचायत के वार्ड एक में हुए नुक्सान का सर्वे के निर्देश दिए। वार्ड ८ में बिजली के खम्वे क्षतिग्रस्त हो गये है उन्हें ठीक करने के लिए म.प्र.विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारियों को निर्देशित किया। इसी प्रकार बाबई राजौन सड़क से पानी निकासी नही हो पाने के कारण ग्राम में बाढ़ के पानी से सड़क क्षतिग्रस्त हुई है। सड़क से पानी निकासी के लिए तथा बाबईबागड़ा सड़क पर निर्मित पुल पर पानी निकासी के व्यवस्था बनाने के लिए कहा। कलेक्टर ने मौके पर उपस्थित लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के धिकारियों को निर्देश दिए कि वे कूपो तथा हैंडपंपो में जल शुद्घिकरण के कार्य को प्राथमिकता से पूर्ण कराए। इसी प्रकार स्वास्थ्य विभाग -ारा बाढ़ प्रभावितों क्षेत्रो में नागरिको के लिए स्वास्थ्य परीक्षण शिविर ायोजन के निर्देश दिए। कलेक्टर पने भ्रमण के दौरान राजौन भी गए जहाँ उन्होंने ग्रामीण से चर्चा की। ग्रामीणो ने पनी समस्याए बताई। इस मौके पर मन्नू कीर के बच्चे की ाँख खराव होने पर उन्हें शीघ्र जिला चिकित्सालय भेजकर जाँच कराने के लिए कहा। इसी प्रकार ग्रामीण विजय रामभरोस विकलांग को ट्रायसाकिल दिलाने तथा किराना दुकान के लिए ऋण प्रकरण बनाने के लिए कहा। राजौन ग्राम के कमल मनीराम का मकान पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो जाने पर उन्हें ावास मिशन के प्रकण तैयार करने के लिए कहा। इस मौके पर कलेक्टर ने तहसीलदार को निर्देश दिए कि वे बाढ़ प्रभावित क्षेत्रो में सर्वे का कार्य यथाशीघ्र प्रारंभ करे ताकि वास्तविक बाढ़ प्रभावितों को शासन के नियमानुसार राहत मिल सके(आत्माराम यादव )

Top

होशंगाबाद सेना के जॅवान मोटरवोट से लोगों को सुरक्षित ले जाते हुये। सेठानीघाट पर खतरे के निशान से ऊॅपर नर्मदा बह रही है। होशंगाबाद नगर के नारायणनगर में लोगों को नाव से बचाते हुये। नर्मदाबिहार कालोनी में पानी में कई मकान डूबे(आत्माराम यादव )

Top

होशंगाबाद सेना के जॅवान मोटरवोट से लोगों को सुरक्षित ले जाते हुये। सेठानीघाट पर खतरे के निशान से ऊॅपर नर्मदा बह रही है। होशंगाबाद नगर के नारायणनगर में लोगों को नाव से बचाते हुये। नर्मदाबिहार कालोनी में पानी में कई मकान डूबे(आत्माराम यादव )

Top

होशंगाबाद सेना के जॅवान मोटरवोट से लोगों को सुरक्षित ले जाते हुये। सेठानीघाट पर खतरे के निशान से ऊॅपर नर्मदा बह रही है। होशंगाबाद नगर के नारायणनगर में लोगों को नाव से बचाते हुये। नर्मदाबिहार कालोनी में पानी में कई मकान डूबे(आत्माराम यादव )

Top

होशंगाबाद सेना के जॅवान मोटरवोट से लोगों को सुरक्षित ले जाते हुये। सेठानीघाट पर खतरे के निशान से ३ फिट ऊॅपर नर्मदा बह रही है। होशंगाबाद नगर के नारायणनगर में लोगों को नाव से बचाते हुये। नर्मदाबिहार कालोनी में पानी में कई मकान डूबे(आत्माराम यादव )

Top

होशंगाबाद सेना के जॅवान मोटरवोट से लोगों को सुरक्षित ले जाते हुये। सेठानीघाट पर खतरे के निशान से ३ फिट ऊॅपर नर्मदा बह रही है। होशंगाबाद नगर के नारायणनगर में लोगों को नाव से बचाते हुये। नर्मदाबिहार कालोनी में पानी में कई मकान डूबे(आत्माराम यादव )

Top

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा

होशंगाबाद/ कलेक्टर श्री राहुल जैन ने होशंगाबाद तहसील के नेक बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का भ्रमण कर बाढ़ प्रभावितों से मिलकर उन्हें हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने का ाश्र्वासन दिया। उन्होंने मौके पर उपस्थित धिकारियों को तत्काल सर्वे के निर्देश दिए ताकि बाढ़ प्रभावितों को यथाशीघ्र राहत मिल सके। कलेक्टर श्री राहुल जैन ने बांद्राभान, बरखेड़ी, घानाबड़ तथा मालाखेड़ी तथा व्यावरा सहित नेक बाढ़ प्रभावित क्षेत्रो का भ्रमण कर बाढ़ प्रभावितों से मिले तथा उनके क्षतिग्रस्त मकानो तथा किसानो की फसलो का मौके पर वलोकन किया। उन्होंने बाढ़ प्रभावितों को ाश्र्वस्त किया कि उन्हें शासन के नियमानुसार राहत उपलब्ध कराई जाएगी। उन्होंने राजस्व विभाग के धिकारियों को निर्देश दिए कि वे शीघ्र सर्वे का कार्य प्रारंभ करें। इस मौके पर उन्होंने लोक निर्माण विभाग के धिकारियों को निर्देश दिए कि वे पुलपुलिया तथा पहुँच मार्ग तथा जो मार्ग क्षतिग्रस्त हो गए हैं उनकी तत्काल मरम्मत करवाए। संबंधित विभाग के धिकारी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रो में व्लीचिंग पावडर डलवाए। कलेक्टर ने मौके पर उपस्थित स्वास्थ्य विभाग के धिकारियों से कहा कि वे बाढ़ प्रभावित क्षेत्रो से स्वास्थ्य परीक्षण शिविर ायोजित करे तथा जो व्यक्ति बीमारी से ग्रस्त है उन्हें स्वास्थ्य सुविधा शीघ्र उपलब्ध कराए। कलेक्टर ने पने भ्रमण के दौरान ब्यावरा भी गए जहाँ उन्होंने बाढ़ प्रभावित लोगो से मिलकर उन्हें शीघ्र राहत का ाश्र्वासन दिया। इस वसर पर ापके साथ तहसीलदार वीरेन्द्रसिंह दांगी सहित न्य विभाग के धिकारी भी साथ थे(आत्माराम यादव )

Top

कुपोषण मुक्ति के हर संभव प्रयास हो

होशंगाबाद/ कलेक्टर श्री राहुल जैन ने महिला बाल विकास विभाग की समीक्षा बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि कार्यकर्ता कुपोषण मुक्ति के लिए हरसंभव प्रयास कर अति कम वजन के बच्चो कीसंख्या में कमी लाए तथा तिकम वजन के बच्चो को बेहतर से बेहतर ाहर दें ताकि बच्चे कुपोषण से मुक्त हो सकें। उन्होंने यह भी कहा कि ाँगनबाड़ी केन्द्रों पर बच्चो को दिए जाने वाले नाश्ता तथा खाने की जानकारी एसएमएस के जरिए दी जाए ताकि किसी भी ाँगनबाड़ी केन्द्र पर बच्चो को दिया जाने वाला नाश्ता, भोजन की जानकारी नियमित रूप से मिलती रहे। {आत्माराम यादव }

Top

अनियमितता बरतने बाला सचिव निलम्बित

होशंगाबाद/ जिला पंचायत के सीई ो के.जी.तिवारी ने जनपद पंचायत बाबई के ग्राम पंचायत कढैया के पंचायत सचिव ानंद गौर को कई गंभीर नियमितता बरतने के कारण तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है। निलम्बन वधि में ानंद गौर को नियमानुसार जीवननिर्वाह भत्ते की पात्रता रहेगी। निलम्बन वधि में सचिव सांगाखेड़ाकलां -ारा ग्राम पंचायत कढैया का कार्य सम्पादन करेंगे। यह उल्लेखनीय है कि ग्राम पंचायत कढैया में विभिन्न योजना ों के ंतर्गत निर्माण काय स्वीकृत होने के पश्चात पंचायत -ारा कार्य प्रारंभ नही कराया गया तथा हितग्राही मूलक पेंशन योजना की राशि का आहरण किये जाने के पश्चात हितग्राहियों को भुगतान नही किया गया। इन सभी नियमितता के कारण सचिव को निलम्बित किया गया है। {आत्माराम यादव }

Top

होशंगाबाद जिले में गत वर्ष से अधिक वर्षा

होशंगाबाद/ होशंगाबाद जिले में जारी मानसून के दौरान भी तक ौसतन ७२० मिलीमीटर वर्षा हो चुकी है जो गत वर्ष से १२१ मि.मी. धिक है। जिले में गत वर्ष इसी वधि में ५९९ मि.मी. ही वर्षा हुई थी। जिले के इटारसी में भी तक सर्वाधिक ९७३ मि.मी.वर्षा दर्ज की गई है। भू भिलेख कार्यालय से प्राप्त जानकारी के नुसार इनमें होशंगाबाद तहसील में ९०७ मिलीमीटर, सिवनीमालवा में ८९४, इटारसी में ९७३, बाबई में ७६३, सोहागपुर में ४९५, पिपरिया में ४९०, बनखेड़ी में ३८८ ौर पचमढ़ी में ८५० मिलीमीटर वर्षा हुई है। स्थानीय सेठानीघाट का नर्मदाजी का जल स्तर ४ गस्त को प्रातः ८ बजे ९३६.९० फीट रहा। इसी के साथ ही तवा जलाशय का जलस्तर ११६०.०५ फीट दर्ज किया गया है। जिले में कई स्थानो पर रूकरूक कर वर्षा होने के समाचार प्राप्त हुए हैं। गंभीर नियमितता बरतने बाला सचिव निलम्बित होशंगाबाद/ जिला पंचायत के सीई ो के.जी.तिवारी ने जनपद पंचायत बाबई के ग्राम पंचायत कढैया के पंचायत सचिव ानंद गौर को कई गंभीर नियमितता बरतने के कारण तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है। निलम्बन वधि में ानंद गौर को नियमानुसार जीवननिर्वाह भत्ते की पात्रता रहेगी। निलम्बन वधि में सचिव सांगाखेड़ाकलां -ारा ग्राम पंचायत कढैया का कार्य सम्पादन करेंगे। यह उल्लेखनीय है कि ग्राम पंचायत कढैया में विभिन्न योजना ों के ंतर्गत निर्माण कार्य स्वीकृत होने के पश्चात पंचायत -ारा कार्य प्रारंभ नही कराया गया तथा हितग्राही मूलक पेंशन योजना की राशि का ाहरण किये जाने के पश्चात हितग्राहियों को भुगतान नही किया गया। इन सभी नियमितता के कारण सचिव को निलम्बित किया गया है। {आत्माराम यादव }

Top

दलदल में तब्दील हुआ वार्ड

हिंडोंरिया। परिवर्तन ही विकास है का नारा देकर नगर परिषद के चुनाव में कांग्रेश ने नगर पर अपना कब्जा जमाया और खूब जंनता से नगर के विकास की बात कही लेकिन आज तीन साल हो जाने के बाद भी नगर का हाल जस के तस हैंलोग आज भी विकास की आस लगाये बैठे है।जंनता आज विकास के नाम पर अपने आप को ठगा सा महसूस कर रही है जिन वार्डों में दबंग किस्म के पार्षद है उन वार्डों में कुछ कुछ काम हुआ है।मगर वार्ड न०६ जिसमें कांग्रेश का पार्षद है आज उसी का वार्ड उपेक्षा का शिकार है।इसी वार्ड में मुस्लिमसमाज के ज्यादातर लोग रहते है आज पवि़त्र माह रमजान को शुरु हुए करीब चौदह दिन यानी आधा माह हो चुका है ।मगर नगर परिषद ने इस वार्ड की सुध तक नहीं ली वार्ड में कहीं भी सी सी सडक नहीं है जगह जगह से नालियों के पानी और वारिस के पानी के कारण सडको पर पानी भरा हुआ है हाजी नवाव खान से लेकर उपतहसील कार्यालय तक दलदल मचा हुआ हैजिसमें राहगीरों का पैदल चलना दुश्वार हो गया है सबसे ज्यादा स्कूली बच्चों और नमाजियों को परेशानियों का सामना करना पड रहा हैबडे तालाब पर बने कन्या स्कूल व शिव मंदिर जाने में रपट रहे राहगीर वहीं इसी वार्ड में बने शिव मंदिर ,कन्या हाई स्कूल, व सरस्वती स्कूल के करीब एक हजार छात्र छात्रायें स्कूल को जानेमें इस सडक पर ऐसे चलते हैं जैसे सांप रेंग कर चलता है स्कूल की छात्रा कु नेहा ने बताया कि हमे स्कूल जाते समय बेहद परेशानीं होती है सडक चिकनी होने के कारण कभी कभी तो हम लोग गिर भी जाते है और स्कूल की यूनीफार्म खराब हो जाती है और हमें वापस घर आना पडता है। स्कूल के टीचर रफीक खान ने कहा की कई बार इस बारें में नगर परिषद के कार्यालय में इसकी शिकायत की लेकिन संबंधित लोगों ने कोई कदम नही उठाया ।सरस्वती स्कूल के प्रचार्य श्री पटेल साब ने भी बाताया की इस ओर नगर परिषद का कोई ध्यान नहीं जाता और वहां कोई सुनाई नही होती है।हैरानी की बात तो यह हे कि इन लोगों की शिकायत पर परिषद नें कोई कदम नही उठाया अगर परिषद चाहती तो कहीं से भी इस पर मुरम या बजरा डलवा सकती थी।परिषद की इस लचर प्रणाली से जनता में आक्रोष है।इस संबंध में नपा के अघ्यक्ष रामेंश्वर ठेकेदार का कहना हैकि हमें इसकी जानकारी नहीं थी आप के द्धारा अवगत कराया गया है मैं स्वयं ही कल इन सडकों पर मुरम डलवा दूंगा (डॉ लतीफ़ खान )

Top

Top

Top

स्वारांजलि में दिखाया कलाकारों ने हुनर

स्वारांजलि में दिखाया कलाकारों ने हुनर मानस भवन में आयोजित हुई एक शाम सितारों के नाम रफि व राजेश खन्ना का किया स्मरण दमोह. गायन के क्षेत्र में रुचि रखने वाले शहर के तमाम कलाकारों ने स्वारांजलि में जब सुरों का जलवा बिखेरा तो सुनने वाले जमकर बैठे रहे देखते ही देखते कब सुबह होने लगी किसी को भी खबर न थी। अस्पताल चौक स्थित मानस भवन में कला के क्षेत्र में देश का नाम पूरी दुनियां में रोशन करने वाले आवाज के जादूगर रफी साहब व लंबे समय तक फिल्मी दुनियां में रहकर पहले सुपर स्टार का खिताब प्राप्त करने वाले आनंद के नाम से मशहूर रहे राजेश खन्ना की याद में कार्यक्रम स्वारांजलि का आयोजन किया गया। सोमवार की शाम सात बजे से प्रारंभ हुआ कार्यक्रम स्वारांजलि देर रात तक चलता रहा। गायन के क्षेत्र में रुचि रखने वाले जिले के सभी कलाकारों को एक मंच पर लाकर स्वारांजलि का कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में जिले के सभी कलाकारों के साथ गीत संगीत से रुचि रखने वाले कलाप्रेमियों की अपार भीड़ रही। दो सीडियों का हुआ विमोचन स्वर सम्राट रफि व सुपर स्टार राजेश खन्ना के जीवन पर आधारित दो अलग-अलग टेलीफिल्म रवि की पुण्यतिथि की पूर्व संध्या पर विमोचित की गईं। एमके फिल्मस्‌ के बैनर तले बनी रफी साहब पर केंद्रित फिल्म तुम मुझे यूं भुला न पाओगे व राजेश खन्ना पर द फस्ट सुपर स्टार का संपादन मधुरकांत गार्डिया ने किया है। दोनों ही फिल्मों की स्क्रिप्ट व स्वर महेंद्र दुबे ने दिए। सीडी विमोचन समारोह में अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष एड. विपिन टंडन, पूर्व विधायक आनंद श्रीवास्त, डॉ. जेके हेनरी, डॉ. केके तिवारी, वरिष्ठ पत्रकार नरेंद्र दुबे, डॉ. संजय त्रिवेदी, डॉ. आरडी लाल, बुंदेली दमोह महोत्सव के सचिव प्रभात सेठ, सलिल राम, अनिल मिश्रा व संगीताचार्य रवि वर्मन सहित तमाम कला प्रेमी उपस्थित रहे। कार्यक्रम में शहर के सभी कलाप्रमियों की उपस्थिति में करीब ३० से अधिक कलाकारों ने गीतों की प्रस्तुतियां दीं। कार्यक्रम का संचालन महेंद्र दुबे व आभार लक्ष्मीकांत तिवारी ने माना।

Top

थाना प्रभारी को दी भावविहीन विदाई

बटियागढ़। तीन बर्ष से थाना मे पदस्थ रहे सुमन सिंह धुर्वे के जवेरा पुलिस थाना स्थानांतरण होने परे स्थानीय पुलिस थाना के स्टाफ एवं जनप्रतिनिधीयो ने विदाई समारोह मनाकर इनके कार्य काल की प्रसंस्सा की इसके अलावा पुलिस थाने मे दो प्रधान आरक्षको तीन पुलिस आरक्षको के स्थानंतरण होने पर सभी ने इनके कार्यकाल को बडे सरल एवं स्वाभाव पर प्रकाद्गा डाला थाना प्रभारी द्वारा अपने कार्यकाल मे लूट हत्या डकैति जैसे संगीन अपराधो मे अंकुद्गा एवं पर्दापास करने मे अमह भूमिका निभाई विदाइ्र समारोह मे प. नरेन्द्र व्यास,आर पी पटैल,कृष्णा तिवारी,अंकित पाण्डेय,बद्री लुहार,नीलेद्गा राय,अहमद खान,योगेन्द्र पाठक,रामेद्गवर विद्गवकर्मा,गोविंद ठाकुुर के अलावा ए एस आई शुक्ला,सिंग साब,एवं गोयल द्वारा थाना प्रभारी को साल और श्रीफल भेट कर इनको विदाई दी{अंकित पाण्डेय }

Top

पन्ना टाईगर रिजर्व में निरीक्षण

पन्ना/ पन्ना टाईगर रिजर्व के पन्ना परिक्षेत्र के अंतर्गत रिजर्व के द्वारा किये गये निरीक्षण के समय पन्ना परिक्षेत्र में कान्हा से लाई गई टी-२ के प्रथम लिटर की चौथी सन्तान पन्ना-२१४ (मादा अर्ध वयस्क) मृत अवस्था में पाई गई। इसके ऊपर किसी प्रकार की चोट आदि के निशान मौके पर नहीं मिले हैं। पोस्टमार्टम के उपरान्त मृत्यु के कारणों की वास्तविक स्थिति ज्ञात हो सकेगी। मौके पर खोज-बीन जारी है। आंकलन के मुताविक उसकी मृत्यु का समय रात्रि ३ बजे के आस-पास आंका गया है। पन्ना टाईगर रिजर्व संचालक श्रीमूर्ति ने घटना पर अफसोस जताते हुये कहा कि हमारे लिये यह बहुत बड़ी क्षति है क्योंकि पन्ना टाईगर रिजर्व में अभी तक जितने भी बाघ के बच्चे हुये हैं उनमें मादा कम हैं इसलिये यह हमारे लिये बहुत दुखदाई स्थिति है कि एक बाघिन का असमय मर जाना। ज्ञात हो कि एक समय पन्ना टाईगर रिजर्व में एक समय ३७ बाघ थे लेकिन सब के सब अवैध च्चिकार की भेंट चढ गये और पन्ना टाईगर रिजर्व बाघ विहीन हो गया। इसके बाद मार्च २००९ में पन्ना टाईगर रिजर्व में बांधवगढ से एक बाघिन और कान्हा नेच्चनल पार्क से एक बाघिन को पन्ना टाइ्रगर रिजर्व में लाकर बाघ पुनर्स्थापन किया गया जिसके परिणाम स्वरूप पन्ना के जंगलों में फिर बाघों की गर्जना सुनाई देने लगी। बाघ पुनर्स्थापना कार्यक्रम में पन्ना टाईगर रिजर्व संचालक श्री आर. श्रीनिवासन की कड ी मेहनत और निद्गठा रंग लाई और समय - समय पर उन्हें उत्कृद्गठ कार्य के लिये सम्मानित भी किया गय।{एम.एस. खान }

Top

भ्रष्टाचार की सीबीआई जॉच को लेकर दिया धरना

होशंगाबाद। स्थानीय सतरास्ते पर आज प्रदेश कॉग्रेस कमेटी के सदस्य एवं जिले के पर्यवेक्षक अशोक जैन भाभा ने भाजपा सरकार के कार्यकाल में भाई-भतीजावाद को बढावा देकर समूचे प्रदेश में अवैध उत्खनन ,दवा ठेकों में हुये भ्रष्टाचार सहित अन्य योजनाओं में गडबडियों को लेकर राज्यपाल के सम्बोधित ज्ञापन द्वारा सीबीआई जॉच की मॉग कर अनुविभागीय दण्डाधिकारी राजेश शाही को ज्ञापन सौपा। इस अवसर पर कॉग्रेस ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा प्रदेश को ८० हजार करोड़ के कर्ज में धकेले जाने के कारण इस्तीफा देने को कहा। श्री जैन ने प्रदेश के बड़े व्यापारी एवं भाजपा के पद पर रहते हुये दिलीप सूर्यवंशी एवं सुधीर शर्मा के ६० से अधिक ठिकानों पर करोड़ों रूपये की सम्पत्ति मिलने एवं जब्त दस्तावेजों की जॉच जारी होने सहित स्वास्थ्य संचालक डाक्टर मित्तल के यहॉ पड़े छापे में स्वास्थ्य मंत्री का नाम आने एवं उक्त व्यापारियों के भाजपा सरकार के मंत्रियों से संबंध होने पर कार्यवाही में शिवराजसिंह को अक्षम बताया। इस मौके पर पूर्व मंत्री विजयदुबे काकू भाई ने प्रदेश के मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा एवं भाजपाध्यक्ष प्रभात झा के करीबी उक्त कारोबारियों को सरकार द्वारा संरक्षण देने की बात कही।कॉग्रेस के जिलाध्यक्ष सुरेश अग्रवाल ने होशंगाबाद में गेहॅू में करोड़ों रूपये के भ्रष्टाचार का मामला उठाया तथा बताया कि हाल ही में सोहागपुर के निभौरा खरीदी केन्द्र में फर्जी बिल्टी से गेहॅू चोरी कर ले जाने वाले भाजपाईयों को पुलिस द्वारा छोडे जाने की तैयारी की थी जिसकी भनक कॉग्रेस को लगी और उन्होंने पुलिस थाने के सामने धरना देकर अपराध दर्ज होने के बाद ही वहॉ से निकले। श्री के ऊपर अग्रवाल ने स्थानीय विधायक गिरिजाशंकर शर्मा को कटघरे में खड़ा किया कि उनके विधानसभा क्षैत्र में इटारसी और होशंगाबाद नगरपालिकायें आती है लेकिन वे इटारसी नगरपालिका के भ्रष्टाचार की थोथी बात कर वहॉ के कॉग्रेसी अध्यक्ष को बदनाम कर रहे है जबकि होशंगाबाद उनका गृह नगर है जहॉ की नगरपालिका में करोड़ों रूपये का भ्रष्टाचार जगजाहिर है लेकिन वह स्थानीय विधायक श्री शर्मा को नहीं दिखता है। श्री अग्रवाल ने सोहागपुर विधायक विजयपाल पर भी फब्ती कसी की सोहागपुर एवं बाबई के थाना प्रभारियों को वे खुद लेकर आये थे लेकिन जैसे ही उन्होंने गेहॅू खरीदी में रिपोर्ट दर्ज की वैसे ही विधायक महोदय ने उनके ट्रांसफर की मॉग कर साबित कर दिया कि वे अच्छे अधिकारी नहीं बल्कि भाजपाईयों के ईशारे पर नाचने वाले अधिकारियों को पसंद करते है।पूर्व विधायक अम्बिकाशुक्ला ने जिले में अवैध रेत उत्खनन एव चिकित्सालय में आर्थिक अनियमितताओं का मामला उठाया। इस अवसर पर पियूष शर्मा, अजीत विष्ठ, जिजी जोसफ,अनोखीलाल राजोरिया,दीपसिंह सिसौदिया,मनोज सौलंकी,मोहन जोशी बाबई, प्रदीपशर्मा बाबई, कुलदीप गौर, अजय सैनी,हीरालाल यादव बाबई सहित अनेक कॉग्रेसी थे। कार्यक्रम का संचालनक बीनू बुधोलिया ने किया(आत्माराम यादव)

Top

अपेक्स व जिला बैंक की तकरार

होशंगाबाद। जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक होशंगाबाद के संचालकमण्डल ने ७ जुलाई को बैठक बुलाकर पूर्व सेवा से हटाये एवं विवादित सीईओ आर.के.दुबे को रात ८ बजे कुर्सी पर बिठाकर अपेक्स बैंक के सवंर्ग अधिकारी के.के.रायकवार को एकतरफा रिलीफ कर दिया, जिस पर अपेक्स बैंक ने जिला बैंक अध्यक्ष को पत्र लिखकर श्री रायकवार को हो सीईओ माना है, उनके स्थान पर सेवा से हटाये सीईओ आर.के.्र दुबे के रहने पर जिला बैंक का लेनदेन बंद करने की चेतावनी देते हुये अपेक्स द्वारा दी गयी १९८ करोड़ रूपये वापसी की बात की है। इधर अपेक्स बैंक के संवर्ग अधिकारी आर.के.दुबे को जिला बैंक होशंगाबाद में पदस्थी के दरम्यान गंभीर रूप से घपले-घोटालों में दोषी पाकर नियोक्ता अपेक्स बैंक ने ३१ मार्च को नौकरी से हटा दिया और के.के.रायकवार को सीईओ बनाकर भेजा । इस दरमयान आर.के.दुबे १६ मार्च को २ माह के अवकाश का आवेदन देकर चले गये । सेवा से पृथक किये आदेश को प्राप्त करने के बाद दुबे ने उच्च न्यायालय जबलपुर की शरण ली जहॉ उन्हें सहकारी अभिकरण में मामला ले जाने के आदेश हुये जिसपर ३१ मार्च २०१३ तक निर्णय लिया जाना था कि ७ जुलाई को जिला बैंक के संचालक मण्डल की बैठक आहूत कर दुबे को जिला बैंक के सीईओ की कुर्सी पर बिठाकर पूर्व पदस्थ अपेक्स बैंक के संवर्ग अधिकारी श्री रायकवार को एकतरफा रिलीव कर दिया गया है।अपेक्स और जिला बैंक की तकरार का प्रमुख कारण विवादित आर.के.दुबे है जिन्होने अपेक्स के संवर्ग अधिकारी रहते हुये अपनी नियोक्ता बैंक अपेक्स से बिना अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त किये जिला बैंक में २ मई ११ को स्वयं का संविलियन करा लिया जबकि उस समय तक वे उच्च न्यायालय से अपने स्थानान्तरण आदेश पर स्थगन पर थे। उच्च न्यायालय ने श्री दुबे के स्थानान्तरण आदेश को ३ मई को स्थगित कर दिया जिससे वे अपेक्स के संवर्ग अधिकारी रह गये। अपेक्स ने उच्च न्यायालयीन आदेश के पश्चात ७ मई ११ को श्री दुबे को निलम्बित कर दिया लेकिन सीईओ दुबे ने अपेक्स के उक्त आदेश को मानने से इंकारकर स्वयं को जिला बैंक का संवलियन अधिकारी ही माना। इस सम्बन्ध में लम्बित एक न्यायालयीन प्रकरण में संयुक्त आयुक्त सहकारिता भी दुबे को अपेक्स का संवर्ग अधिकारी होने का आदेश जारी कर उनके संवलियन पर प्रश्र्रचिन्ह खड़ा कर चुके है। दूसरे पहलू को देखे तो दुबे को लेकर दो बार विधानसभा का बर्हिगमन हो चुका है तथा सहकारिता मंत्री गौरीशंकर विधानसभा में दोनों ही बार एक सप्ताह में हटाने की घोषणा कर चुके है तथा होशंगाबाद में एक सार्वजनिक मंच से भी दुबे को दो दिन में हटने की बात कह गये लेकिन उक्त अधिकारी अब फिर से जम गया है। होशंगाबाद जिले के उक्त जिला बैंक के विवादित सीईओ का मामला जमकर तूल पकड चुका है और इस बार इस विषय को लेकर विधानसभा में भी जमकर हंगामा होने की संभावना सेइंकार नहीं किया जा सकता है। जिला बैंक के संचालक मण्डल की हठधर्मिता से यदि आर.के.दुबे सीईओ का काम सॅभालेगे तो अपेक्स बैंक उनसे किसी भी प्रकार का लेनदेन नहीं करेगी ऐसी स्थिति में जिले के किसानों को शासन की योजनाओं के तहत मिलने वाले कृषि ऋण आदि पर संकट के काले बादल छाये दिख रहे है। देखना है यह मामला कहा जाकर शांत होता है, जबकि पूर्व कलेक्टर निशांत बरबडे को उक्त सीईओ आर.के.दुबे फूटी नजर भी नहीं सुहाता था इसलिये श्री बरबडे शासन के उक्त अधिकारी की अनियमितताओं को लेकर अपराधिक प्रकरण दर्ज करने की कई बार मॉग कर चुके थे, उनके जाते ही सीईओ आर.के.दुबे को जिला प्रशासन के मुखिया से बना रहने वाला भय चला गया है। यदि उक्त मामला जल्दी नहीं सुलझा तो इसके गंभीर परिणाम बैंक ग्राहकों को भुगतने पड़ सकते है।(आत्माराम यादव)

Top

विधान सभा का घेराव

बटियागढ़।स्थानीय विश्राम ग्रह में लोकसभा युवक कांग्रेस अध्यक्ष राजेद्गा तिवारी की अध्यक्षता मे एक बैठक संम्पन्न हुई जिसमे विधानसंभा युवक कांगेस अध्यक्ष राव ब्रजेन्द्र साव केरबना द्वारा अगामी २० जुलाई को विधान सभा को घेरने की रूप रेखा को बताया वर्तामन समय मे किसानो को बीज एवं खाद्य की समस्या से जूझना पड रहा है जिसके विरोध मे १८ जुलाई को तहसील पर धरना एवं राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौपने की बात कही गई बैठक मे विपीन तिवारी,विजय सिंह,कदीर खांन,अरविंद अवस्थि,हनीफ खांन,दीपक दुबे,अंजार खांन इन्द्रप्रकाद्गा व्यास की उपस्थिती रही एवं राजेद्गा तिवारी द्वारा सभी युवक कांग्रेस के पदाधिकारी एवं सदस्यो को भोपाल जाने का आग्रह किया (अंकित पाण्डेय )

Top

बाढ़ आपदा से निपटने की तैयारी

होशंगाबाद/ लम्बित मामलों की समीक्षा के दौरान जहॉ बर्षाकाल में बाढ़ ापदा को लेकर कलेक्टर श्री राहुल जैन ने गंभीरता से निपटने की बात कही वही पचमढ़ी के नाग-ारी मेला के सुव्यवस्थित संचालन के लिए विभिन्न धिकारियो को जबावदेही सौंपी है। जिले के धिकारियों के समक्ष कलेक्टर श्री जैन ने बाढ़ ापदा की स्थिति के लिए तैयार कार्ययोजना का पूर्वाभ्यास किये जाने को कहा वही सेठानीघाट पर तैनात होमगार्ड के जवान, राहतदल लिखितयुक्त जैकेट पहनकर वहाँ मौजूद रहने के निर्देश देते हुये गोताखोरो की तैनाती करने एवं प्राइवेट गोताखोरो के संपर्क की सूची तैयार कर विभिन्न स्थलो पर प्रदर्शित करने के लिए कहा। वर्षाकाल के दौरान पेयजल स्त्रोत दूषित ना हो उनपर कड़ी नजर रखने एवं न्य पेयजलो का शुद्घीकरण करने के निर्देश दिये ौर विगत वर्षो में जिले के जिन ग्रामों के पेयजल स्त्रोत दूषित हुए थे उन कारणो की पुनरावृत्त्िा ना होने की हिदायत दी। उन्होंने वर्षाजनित बीमारियो की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग का ग्रामीण मला सतत नजर रखे की भी समझाईशदी । कलेक्टर श्री जैन ने छात्रवृत्त्िा, पेंशन एवं मृत्यु उपरांत योजना ों के तहत देय राशि की भी जानकारी सार्वजनिक स्थलो पर प्रदर्शित किये जाने को कहा। की जाए। उन्होंने कहा कि मुख्य मंत्री -ारा जिले में की गई घोषणा ो के क्रियान्वयन समयसीमा में कराया जाना सुनिश्च्िात हो।(आत्माराम यादव )

Top

जल विद्युत उत्पादन केन्द्रों का आदर्श अनुपात

मध्यप्रदेश में ताप तथा जल-विद्युत उत्पादन केन्द्रों का अनुपात 60:40 है, जो एक आदर्श है। ऐसा अन्य प्रदेशों में नहीं है। वर्षा को देखते हुए करीब सभी जल-विद्युतगृह के टरबाईन वार्षिक रख-रखाव पूरा कर विद्युत उत्पादन के लिये तैयार हैं। सिर्फ पेंच जल-विद्युतगृह की केवल एक इकाई खराबी के कारण बंद है। इस वर्ष वर्षा में हो रही देरी के कारण जल-विद्युतगृह का जल-स्तर गत वर्ष इसी अवधि में कम चल रहा है। हाल ही में हुई वर्षा से इन जलाशयों में जल-स्तर बढ़ना शुरू हुआ है। गाँधी सागर जल-विद्युतगृह में उज्जैन तथा इंदौर संभाग के क्षेत्र में वर्षा होने पर जल-स्तर में वृद्धि होती है। इसी प्रकार टोंस जल-विद्युतगृह पूर्वी मध्यप्रदेश में स्थित है। इस क्षेत्र में वर्षा होने की स्थिति में जल-स्तर में वृद्धि होती है। मध्यप्रदेश की जीवन-रेखा नर्मदा नदी है। इस नदी पर बरगी, सागर, ओंकारेश्वर, सरदार सरोवर बाँध का निर्माण हुआ है। इसके कछार (जबलपुर, होशंगाबाद, इंदौर संभाग) में वर्षा होने के कारण जल-स्तर में वृद्धि होती है। उल्लेखनीय है कि यदि कम वर्षा होती है तो जल-विद्युतगृहों का जल-स्तर कम रहेगा। इसी के अनुपात में मैदानी क्षेत्रों में कम वर्षा के कारण विद्युत पम्प कम चलेंगे, जिससे रबी मौसम में बिजली की माँग में कमी आती है। इसी प्रकार यदि अधिक वर्षा होती है तो रबी की फसलों की बोनी अधिक क्षेत्र में होती है, जिससे बिजली की माँग भी इसी प्रकार बढ़ जाती है। मध्यप्रदेश के जल-विद्युतगृहों के जलाशयों का जल-स्तर क्र. जल-विद्युतगृह क्षमता मेगावॉट जल-स्तर मीटर में गत वर्ष इसी समय जल-स्तर मी. में अधिकतम जल-स्तर मी. में न्यूनतम जल-स्तर, जहाँ तक विद्युत उत्पादन किया जा सके मी. में 1. गाँधी सागर 115 1209.54 1245.30 1312 1250 2. पेंच 180 473.77 476.83 490 454 3. बरगी 90 408.2 413.05 422.75 403.50 4. टोंस 315 277.80 280.10 422.75 403.50 5. राजघाट 45 356.40 367.50 371 361 6. मणिखेड़ा 60 333.55 339.6 348.25 320 7. इंदिरा सागर 1000 343.81* 344.24 262.13 343.29 8. ओंकारेश्वर 520 188.98* 188.71 196.60 193.30 9. सरदार सरोवर 826.5 113.86* 115.28 138.69 110.64 * इन जलाशयों का जल-स्तर उच्च न्यायालय द्वारा सीमित रखा गया है।

Top

उप निरीक्षक पर बलात्कार का मामला दर्ज

दमोह में एक शिक्षिका ने आबकारी बिभाग में पदस्थ उप निरीक्षक पर शादी का झांसा देकर तीन साल तक देहिक शोषण करने का आरोप लगाया है !कोतवाली पुलिस ने महिला की शिकायत के बाद बलात्कार का मामला दर्ज किया है ! दमोह पुलिस कोतवाली में शिकायत दर्ज करा रही ये महिला पेशे से शिक्षिका है जिसे आबकारी बिभाग में पदस्त एक सब इंस्पेक्टर सुयश फौजदार तीन सालो शादी का झांसा देकर देहिक शोषण करता रहा इतना ही नहीं इस रसूखदार अधिकारी ने इसका गर्भ पात भी कराया और अब इससे बात तक करना बंद कर दिया है !महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज करायी है ! शिक्षिका से पहले तो इसने बात करना बंद किया फिर जब इसने अपने ऊपर हुए ज़ुल्म के खिलाफ शिकायत करनी चाहि तो इसने शराब ठेकेदारों से धमकी दिलानी शुरू कर दी ! अपने साथ हुई घटना की शिकायत युवती ने आला पुलिस अधिकारियों को दे जिनके निर्देश पर आबकारी उपनिरीक्षक के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज किया गया है ! तीन सालो तक इस विधवा महिला के साथ जहा एक रसूखदार वर्दी धारी देहिक शोषण करता रहा वही अब मामला सबके सामने आने पर अपने आबकारी ठेकेदारों से महिला को धमकी दिला रहा है !पर पूरे मामले में एक बात ये भी चोकाने वाली है की एक पड़ी लिखी शिक्षिका ये ज़ुल्म तीन सालो तक भला क्यों सहती रही अब सारा मामला पुलिस में है और अधिकारी पुलिस गरफ्त से बाहर है !!अब देखने लायक है के मामले का अंजाम क्या होता है

Top

मुआबजा राशि भुगतान करे-मुख्य सचिव

होशंगाबाद/ समाधान ॉन लाईन के तहत प्राप्त ावेदनो की समीक्षा मुख्य सचिव श्री ार.परशुराम -ारा विडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से की गई। होशंगाबाद जिले के एक प्रकरण में उन्होंने ावेदक से चर्चा कर कलेक्टर को एक सप्ताह में ावार्ड पारित राशि का भुगतान कराने के निर्देश दिए। ज्ञातव्य हो कि तवा डेम की मायनर नहर के निर्माण के दौरान ावेदिका श्रीमति जयंति बाई पति किशोरीलाल -ारा दर्ज कराए गये ावेदन पर मुख्य सचिव -ारा समीक्षा की गई। जिसमें धिग्रहण की गई भूमि की पारित वार्ड राशि का भुगतान एक सप्ताह में संबंधितो को कराने के निर्देश दिए। ावेदक किशोरीलाल ने बताया कि इटारसी तहसील के ग्राम कूकड़ी में मेरी जमीन मायनर नहर निर्माण के दौरान धिग्रहण की गई थी किन्तु भी तक मु ावजा राशि प्राप्त नही हुई। शासन के दिशानिर्देशानुसार ावेदक को वर्ष २००८०९ की तय दर पर एक लाख ५१ हजार रूपए की मु ाबजा राशि उपलब्ध कराने का वार्ड पारित किया गया है। कलेक्टर श्री राहुल जैन ने जल संसाधन विभाग के धिकारियों को निर्देशित किया कि पारित वार्ड की राशि ावेदक के बैंक खाते में समयसीमा में जमा कराया जाना सुनिश्च्िात करे ौर की गई कार्यवाही से वगत कराए। एन ाईसी के विडियो कांफ्रेसिंग कक्ष में इस वसर पर जिला पंचायत सीई ो श्री कृष्णगोपाल तिवारी, पर कलेक्टर श्री प्रकाश रैबाल, उपायुक्त विकास श्री एम.एल.वर्मा, डिप्टी कलेक्टर श्री किशोर बल्लभदास समेत विभिन्न विभागो के धिकारी मौजूद थे(आत्माराम यादव )

Top

एक करोड ३० लाख के गेहॅू का अधर में

डेढ़ करोड़ रूपये के गेहॅू का परिवहन नह सिविल सप्लाई की लापरवाही हुई उजागर होशंगाबाद-जिले में कलेक्टर के आदेश से १३९ संस्थाओं ने गेहॅू की खरीदी की किन्तु सिविल सप्लाई की लापरवाही से शोभापुर के ५ खरीदी केन्द्रों पर ११ हजार क्विंटल गेहॅू पानी में भीग कर खराब हो रहा है जबकि अनुबन्ध के अनुसार ३ दिन के अन्दर गेहूॅ का परिवहन हो जाना चाहिये था लेकिन एक करोड ३० लाख के गेहॅू का भविष्य अधर में लटका है और उन संस्थाओं का भविष्य चौपट होने को है जिन्होंने इसे खरीदा है। नागरिक अधिकार जनसमस्या निराकरण समिति के अध्यक्ष ए.आर.यादव ने होशंगाबाद संभाग के कमिश्र्रर एवं कलेक्टर से मॉग की है कि शोभापुर खरीदी केन्द्र के माछा केन्द्र पर ६०० क्विंटल गेहॅू कीमत ८ लाख ३१ हजार रूपये , शोभापुर केन्द्र में २००० क्विंटल गेहॅू कीमत २७ लाख ७० हजार रूपये, भौखेडी खरीदी केन्द्र में १२७७ क्विंटल गेहॅू कीमत-१७ लाख ६८ हजार ६४५ रूपये, ठीकरी केन्द्र पर ७०० क्विंटल कीमत ९ लाख६९ हजार ५ सौ रूपये तथा सौंसरखेड़ा खरीदी केन्द्र पर ६५०० क्विंटल कीमत ९० लाख २ हजार पॉच सोै कुल १ करोड़ ३० लाख रूपये का ११००० क्विंटल गेहॅू के उपार्जन के बाद परिवहन न होने से वह खरीदी केन्द्रों पर आसमान के नीचे खुले में रखे होने से खराब होने व सड़ने की स्थिति में है। श्री यादव के अनुसार होशंगाबाद सिविल सप्लाई कार्पोरेशन द्वाराइस बावत सभी खरीदी केन्द्रों से अनुबन्ध किया गया था कि उक्त उपार्जित गेहॅू के लिये सभी व्यवस्थायें हर हालत में समय पर पूर्ण कर खरीदी के तीसरे दिन परिवहन करा लेंगे लेकिन १५ मार्च २०१२ से ३० मई २०१२में खरीदे गये इस गेहॅू का परिवहन अभी तक नहीं किया गया है। खरीदी के समय बरसात हेाने से अनेक स्थानों पर गेहॅू भीगा जिसे परिदान किया जा चुका है लेकिन यहॉ ११ हजार क्विंटल की मात्रा का परिदान समय पर न किये जाने के लिये ३ दिन में गेहॅू परिवहन कराने का विधिवत अनुबन्ध करने वाली एजेन्सी सिविलि सप्लाई की घोर लापरवाही बर्तने के कारण इस नुकसानी के लिये वह पूर्ण रूप से जिम्मेदार है तथा गेहॅू खरीदी के दरम्यान जिला प्रशासन के मुखिया के दायित्वाधीन कलेक्टर द्वारा सतत निगरानी किये जाने हेतु सेक्टर अधिकारियों को दायित्व दिया था किन्तु उन्होंने दूर दराज ग्रामीण क्षैत्र की उक्त संस्थाओं से समय पर उक्त उपार्जित गेहॅू का परिवहन न कराने की व्यवस्था कर अपने दायित्व का निर्वहन नहीं किया है। नागरिक अधिकार जनसमस्या निराकरण समिति के अनुसार गेहॅू खरीदी के दरम्यान ही अचानक बरसात में उक्त गेहॅू पानी में गीला होकर नुकसान हो गया है जिसके लिये खुले आसमान के नीचे तेज हवाओं ने उक्त गेहॅू को सुरक्षित किये जाने के उपायों पालीथीन से ढकने को विफल किया है जिसके लिये खरीदी करने वाली संस्थाओं को नुकसानी के लिये जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है। सिविल सप्लाई भण्डारित गेहॅू की गोदाम प्रमाणपत्र के पश्चात अंतिम भुगतान अंकेक्षित बिल प्राप्त होने पर ही खरीदी संस्थाओं को उपार्जित गेहॅू का भुगतान करती है, लेकिन परिवहन की जबावदेही समझे बिना उक्त ११ हजार क्विंटल गेहॅू का जब तक परिवहन एवं गोदाम प्रमाणपत्र नही प्राप्त होगा तब तक वे भुगतान से वंचित रहेगी और उक्त नुकसान उनके सिर पर थोपा जाकर संस्थाओं को गर्त में ठकेला जावेगा, जिससे उन्हें बचाने हेतु तत्काल ही सुरक्षित बचे गेहॅू का परिवहन कराना आवश्यक ठहराते हुये उक्त नुकसानी हेतु सिविल सप्लाई को जिम्मेदार बताया है(आत्माराम यादव )

Top

नगर पालिका में बीजेपी ने की तोड़फोड

पन्ना/ नगर में इन दिनो भीषण जल संकट व्याप्त है लोगों को पीने के पानी के भारी जद्‌दोजहद करनी पड रही है। मानसून भी अपने तय समय पर नहीं आया इससे जलसंकट और गहरा गया है। इसके बावजूद नगरपालिका अध्यक्ष द्याारदा पाठक द्वारा आम द्याहरियों के लिये पानी की समुचित व्यवस्था नहीं की जा रही थी। जिसके फलस्वरूप भारतीय जनता पार्टी द्वारा नगरपालिका में जोरदार प्रदर्द्गान किया गया। भारी संखया में मौजूद भाजपाईयों ने नगरपालिका में खाली मटकों को तोड ा और नपा अध्यक्ष द्याारदा पाठक के केबिन को तहस नहस कर जमकर तोड फोड की। इसके बाद नौ सूत्री मांगों को लेकर कलेक्टर पन्ना के नाम ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें उल्लेख किया गया है कि नगर में पानी के संकट को देखते हुये नगर को जल आपातकाल घोच्चित कर पेयजल व्यवस्था जिला प्रद्गाासन अपने हाथ ले ताकि आमजन को पेयजल उपलब्ध हो सके और सार्वजनिक जल टेंकरों को व्यक्तिग रूप से कांग्रसियों के घरों पर पहुचाया जा रहा है उसपर तत्काल रोक लगाई जाये। भारतीय जनता पार्टी की पूर्व मंत्री कुसुम सिंह महदेले ने नपा की कार्यप्रणाली पर सवालिया निद्गाान लगाते हुये कहा कि पन्ना नगरपालिका में भ्रच्च्टाचार अपनी चरम सीमा पर है जिसका खामियाजा जनता भुगत रही है। अगर द्याीघ्र ही नपा द्वारा भ्रच्च्टाचार नहीं रोका गया तो हम धारा ४० के अंतर्गत कार्रवाई करवाकर नपा को भंग कर देंगे। मीडिया को आड़े हाथों लेते हुये उन्होंने कहा कि यहां की इलैक्ट्रोनिक मीडिया और कुछ प्रिंट मीडिया के लोग नगर पालिका द्वारा बिके हुये हैं और मीडिया जनता की समस्याओं को प्राथमिकता नहीं दे रहा है। ज्ञापन सौपने वालों में मुखयरूप से पुर्वमंत्री महिला बाल विकास कुसुम सिंह महदेले बुंदेलखंड विकास प्राधिकरण अध्यक्ष एवं पूर्व नपा अध्यक्ष बाबू लाल यादव भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष महेंद्र सिंह यादव पूर्व नपा अध्यक्ष बृजेन्द्र सिंह बुंदेला नपा उपाध्यक्ष ज्योति जडि या सहित सैकड ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे। वहीं दूसरी ओर नगरपालिका के अंदर तोड फोड करने वालों के विरूद्‌ध पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच द्याुरू कर दी है। ज्ञात हो कि पन्ना नगर पालिका में भ्रच्च्टाचार अपनी चरमसीमा के पार पहुंच गया है। चाहे पानी की समस्या हो अथवा नपा द्वारा कराये जा रहे निर्माणकार्य देखकर सहजता से अंदाजा लगाया जा सकता है {एम एस खान }

Top

आमजनों के विश्र्वास पर खरे उतरे

होशंगाबाद/कलेक्टर राहुल जैन ने सोमवार को जिले के राजस्व धिकारियों की प्रथम बैठक आहूत कर उनसे कहा कि ामजनों के विश्र्वास पर राजस्व मला खरे उतरे। ामजनों से प्राप्त होने वाले ावेदनों पर समयसीमा में कार्यवाही कर उनका विश्र्वास र्जित करें। जिससे प्रशासन की छवि में ौर निखार ाए। उन्होंने कहा कि ग्रामीण स्तरीय राजस्व मला खासकर पटवारी किस दिन किन ग्रामों का भ्रमण करेगा की जानकारी ामजनो को हो। उन्होंने भ्रमण कार्यक्रम की जानकारी ग्रामो के शासकीय भवनो पर ंकित कराने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर श्री जैन ने समय पर नामांतरण, विवादित बंटवारा, सीमांकन की कार्यवाही संबंधितो को करने की समझाईश दी। उन्होंने कहा कि भ्रमण के दौरान इस प्रकार के लंबित ावेदन मेरी जानकारी में लाए जाते हैं तो संबंधित के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। ऐसी निर्माण एजेसिंया जिनके -ारा समयसीमा में शासकीय निर्माण कार्यो को पूरा नही कराया गया है उनके खिलाफ ार्थिक वसूली के ार ारसी के तहत प्रकरण दर्ज कराए जाए। जिला पंचायत के सीई ो श्री तिवारी ने पंच परमेश्वर योजना की वधारण को रेखाकिंत करते हुए कहा कि संबंधित क्षेत्र की कार्ययोजना का नुमोदन वहाँ के राजस्व धिकारी को करना है। योजना के तहत हर पंचायत में कम से कम एक निर्माण कार्य स्वीकृत करना निवार्य है।कलेक्टर श्री जैन ने ने भू अर्जन की कार्यवाही के तहत भूमि प्रदाय की गई है ौर उसका वार्ड जारी होने के उपरांत उक्त भूमि पर संबंधित विभाग के धिपत्य का उल्लेख तहसीलदार -ारा कराया जाना सुनिश्च्िात हो। उन्होंने राजस्व न्यायालयों में लंबित प्रकरणो की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि तिक्रमण से ग्राम को विमुक्त कराए। पटवारियों को प्रदाय किये गये ईबस्ता की समीक्षा भी उन्होंने की। उन्होंने कहा कि जिले में पुरानी ऋण पुस्तकाए (वही) ३० जुलाई तक मान्य की जाएगी। इसके पश्चात समुचित कार्यवाही नवीन एकीकृत ऋण पुस्तिका ों के ाधार पर की जाएगी। कलेक्ट्रेट के रेवासभाकक्ष में संपन्न हुई उक्त बैठक में जिला पंचायत सीई ो श्री कृष्णगोपाल तिवारी, एडीएम श्री प्रकाश रेबाल, समस्त एसडीएम, तहसीलदार, नायव तहसीलदार, एसएल ार सहत न्य विभागो के धिकारी मौजूद थे।(आत्माराम यादव )

Top

स्कूल चलें हम एक कार्यशाला संपन्न

दमोह/- जनपद द्गिाक्षा केन्द्र दमोह में '' शिक्षा का अधिकार अधिनियम एवं स्कूल चलें हम अभियान २०१२ आधारित ''एक दिवसीय कार्यद्गााला संपन्न हुई कार्यद्गााला के प्रारंभ में श्री मुकेद्गा यादव, अध्यक्ष जनपद पंचायत दमोह एवं श्री मनु मिश्रा, अध्यक्ष नगरपालिका ने सरस्वती पूजन किया । तत्पद्गचात द्गिाक्षा के अधिकार अधिनियम से संबंधित प्रमुख नियमों पर आधारित प्रजेन्टेद्गान का प्रदर्द्गान किया गया । कार्यद्गााला को संबोधित करते हुए वरिष्ठ पत्रकार श्री नरेन्द्र दुबे ने द्गिाक्षक के सामाजिक महत्व पर प्रकाद्गा डालते हुए द्गिाक्षकों को अपना उत्तरदायित्व पूरी जिम्मेदारी से करने का आव्हान किया, राज्य द्गिाक्षा केन्द्र सदस्य श्री लखनलाल जी चौरसिया ने सर्व द्गिाक्षा अभियान की गतिविधियों एवं द्गिाक्षा के अधिकार अधिनियम पर प्रकाद्गा डालते हुए द्गिाक्षको एवं स्थानीय निकायों से अपनी भूमिका के सर्वोत्तम निर्वाहन हेतु अपील की, वरिष्ठ द्गिाक्षक एवं चिंतक श्री बहादुर सिंह जी ने अपने उदबोधन में द्गिाक्षा के गिरते स्तर पर चिंता व्यक्त करते हुए द्गिाक्षक पद की महत्वता पुर्नस्थापित करने हेतु द्गिाक्षको से प्रयास करने को कहा । अध्यक्षीय भाषण में श्री मनु मिश्रा अध्यक्ष नगरपालिका ने गुणवत्ता युक्त द्गिाक्षा हेतु द्गिाक्षकों से अपनी पूरी ऊर्जा से कार्य करने की अपील की । कार्यद्गााला आयोजन हेतु जनपद द्गिाक्षा केन्द्र दमोह की सराहना करते श्री मनु मिश्रा ने भविष्य में भी इस तरह की कार्यद्गाालायें कर द्गिाक्षकों को उत्प्रेरित किये जाने की आवद्गयकता पर बल दिया ।कार्यद्गााला का संचालन श्री पदम सिंह ठाकुर ने किया आभार प्रदर्द्गान बी.आर.सी. श्री राजेन्द्र पटेल ने किया । कार्यद्गााला में शाला प्रबंधन समितियों के अध्यक्ष एवं सदस्य, सरपंच ग्राम पंचायत, पार्षद, जनद्गिाक्षक, द्गिाक्षक एवं पत्रकार गणमान्य नागरिक उपस्थित रहें । कार्यद्गााला के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु श्रीमती किरण उपाध्याय, जिनेन्द्र जैन, आद्गाीष भट्‌ट, नवनीत स्वामी, राममिलन उपाध्याय, सत्यनारायण तिवारी, राजू गांगरा, उमेद्गा पाठक, अजय जैन, रवि उपाध्याय, चंद्रभान पटेल, गणेद्गा प्रसाद दुबे, रामचरण पाराद्गार, प्रेमसिंह ठाकुर, दिलीप उपाध्याय, नवीन अहिरवार, बैजनाथ डेहरिया प्रेमलाल अठया का सराहनीय सहयोग रहा ।

Top

जंगल में बेखौफ कटाई से लाखों ठूंठ

बेशकीमती सागौन के पेड़ों का बेरहमी से कत्ल जंगल में बेखौफ कटाई से लाखों ठूंठ विभागीय अधिकारियों की मिली भगत से जंगल तबाह पन्ना/पन्ना जिले का ५६ फीसदी क्षेत्रफल वनों से ढका है। यहां के जंगलों से बहूमूल्य सागौन के वृक्षों को बेरहमी से काटा जा रहा है। वृक्षों की बेहिसाब कटाई का ही परिणाम है कि देच्च में एक नंबर की गुणवत्ता वाले सागौन वृक्ष यहां के जंगलों से उजड ते जा रहे हैं। जंगल में बेद्गाकीमती सागौन के वृक्षों के गायब होने की तादाद को देखकर ऐसा लगता है कि आगामी एक दसक में यहां के जंगल रेगिस्तान में बदल जाएंगे।पन्ना में लंबे अर्से से दोनो वन मंडल क्रमद्गाः उत्तर वन मंडल दक्षिण वन मंडल एवं पन्ना राष्टीय उद्‌यान में लग ेसागौन के पेड ों की अवैध कटाई तस्करों द्वारा बेखौफ जारी है। एक अनुमान के मुताबिक यहां के वनों से हर माह तकरीबन ३५ से ४० लाख रूपये की सागौन वन विभाग की मिली भगत से तस्करो की भेंट चढ जाता है। जहां पर्यावरण की रक्षा के लिये वनो ंकी सुरक्षा पर पूरा देद्गा चिंतित होने के साथ भारत की सर्वोच्च न्यायालय ने समय समय पर कड े प्रावधान बनाकर देद्गा व जनहित में कई निर्णय दिये हैं।लेकिन पन्ना जिले में उन नियमों को कतिपय वन अधिकारियों ने वन माफियाओं से मिलकर इन नियमों को अपनी काली कमाई का जरिया बना लिया है। जिन अधिकारियों को स्वयं वनों की रक्षा करना चाहिये और वन अपराध पर अंकुद्गा लगाना चाहिये। लेकिन वे स्वयं चोरों के साथ मिलकर चोरी का माल हजम कर समस्त अधिकारी वर्ग का अपमान कर रहे है। पन्ना जिले के इस सुनियोजित वन अपराधी व अधिकारी सांठ गांठ पर यदि द्गाीध्र कठोर कार्रवाही नहीं की जाती है तो वह दिन दूर नही ं जब रत्नगर्भा नगरी में प्रदूद्गाण का ऐसा कहर बरपेगा कि यहां का स्वच्छ वातावरण कहानी बनकर रह जाएगा। इन भ्रष्ट अधिकारियों के चलते बेद्गाकीमती सागौन के पेड़ों की अवैध कटाई दुर्लभ जंगली जानवरों का द्गिाकार और उनके खालों की तस्करी हो रही है। इन तथ्यों से स्पष्ट है कि भारत सरकार व मध्यप्रदेद्गा द्गाासन जिन वृक्षों व जानवरों को संरक्षित प्रजाति में द्राामिल पर उनकी रक्षा के प्रति चिंतित है उसे ही ये भ्रष्ट अधिकारी मिटाने पर तुले हुये है। इन सारे तमाद्गाों को देखकर यह दावे के साथ कहा जा सकता है कि वन विभाग के उच्च अधिकारियों की स्वार्थपरक नीति के कारण ही वन आज सिकुड ते जा रहे हैं । इस अनैतिक तथा अपराधिक कृत्यों के करोबार से भले ही कुछ वन माफियाओं के साथ वन विभाग के तथाकथित आला अफसर मालामाल हो रहे हैं। किन्तु सरकार समाज और पर्यापरण की सेहत पर जो कुप्रभाव पड रहा है। उसकी चिंता भी अवद्गय की जानी चाहिये। आखिर जंगल किसका- जंगल में मौजूद हालातों को देखकर एक स्वाभाविक सा सवाल उछता है कि आखिर जंगल किसका है। सरकार का वन विभाग के निरंकुद्गा अधिकारियों का या फिर ग्रामीणों का जिनके पास परिवार का पेट पालने का स्थायी विकल्प नहीं है। जिस तरह यहां के रेंजर और डी.एफ.ओ. सहित द्गाीर्ष वन अधिकारी जंगल के दुद्गमनों से मिले हुये है उससे तो यही लगता है कि वे इस बेद्गाकीमती जंगल को अपनी निजी संपत्ति मानते है। उधर सरकार वनों को बचाये रखने के लिये कई योजनायें चला पही है जिसके लिये हर वर्ष भारी भरकम राद्गिा विभाग को आवंटित की जाती है। लेकिन अधिकारी सरकार की रकम और जंगल दोनो को हजम कर रहे है। वन विभाग के डी.एफ.ओ. रेंजर व संबंधित अधिकारियों को सागौन चोरी में परोक्ष रूप से लिप्त होने का संदेह इसलिये भी यकीन की द्राक्ल अखितयार करता है कि उन्हें लकड़ी चोरी होने की खबर मिल भी जाये तो वे कान आंख बंद कर उसे अनदेखी करने में जरा भी नहीं झिझकते हैं। एक पेड बनने में वर्षों लगते हैं तो जंगल बनने में सदियां बीत जाती हैं। जंगल में जहां मनुष्य वन्य प्राणी पद्गाु पक्षियों का जीवन निर्भर है वहीं वन से हमें जल अन्न फल फूल एवं जीविकापार्जन के साधन उपलब्ध होते हैं लेकिन द्राायद यह बात जंगल विभाग के उन भ्रष्ट अधिकारियों और कर्मचारियों को समझ में नहीं आती जो वनों को उजाड ने में लगे हुये हैं। उदाहरण के तौर पर विगत माह में वन चौकी रहुनियां क्ष्ोत्रांतर्गत पाली में वन विभाग की मिली भगत से करोड़ों रूपये की लकड ी काट डाली और जगल को बुरी तरह से बर्बाद कर डाला । काबिलेगौर बात यह है कि जंगल के इतने भारी विनाद्गा के बाद महकमें ने महज खाना पूर्ति करके इतिश्री कर ली। यह तो हो गई दूर दराज जंगल की बात आईये अब जरा जिला मुखयालय से महज पांच किमी दूर ग्राम पंचायत कुड ार की सड क के इर्द गिर्द लगे कीमती सागौन के पेड ों को चंद दिन पहले ही तस्करों ने काटकर किसी के डाईंगरूम की द्याोभा बना डाला । सड क के किनारों के जंगल का यह हाल है तो जंगल के अंदर क्या हालात होंगे इसका अंदाजा सहजता से लगाया जा सकता है।(एम एस खान )

Top

प्रदेश में अवैध उत्खनन जारी

माईनिंग नही करायेगा रेत उत्खनन-राजेन्द्र शुक्ल होशंगाबाद । प्रदेश के खनिज एवं ऊर्जा मंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने एक कार्यक्रम में स्वीकारा कि इस समय खनिज माफियाओं द्वारा अवैध उत्खनन कर सरकार को नुकसान पहुॅचाया जा रहा है जिसे रोकने के लिये सरकार ने कठोर कदम उठाने का निर्णय लिया है और रेत खदानों का काम माईनिंग विभाग से वापिस लिया जाकर अन्य विभाग को देने का प्रस्ताव भेजा गया है। मंत्री श्री शुक्ल यहॉ निमसाडि्या ग्राम में ३३-११ केवी बिजली सब स्टेशन का लोकापर्ण तथा ग्राम चीलाचोन में बिजली उपकेन्द्र का भूमि पूजन करने आये हुये थे तब उन्होंने कहा कि पूर्व में जहॉ खनिज से प्रदेश को ६ हजार करोड़ रूपये की आमदनी होती थी अब बढ़कर वह ३१ृ हजार करोड़ पहुॅच गयी है। प्रदेश की नदियों के किनारें रेत के अवैध उत्खनन पर चिंता व्यक्त करते हुये मंत्री श्री शुक्ल ने कहा कि हमारा प्रयास रहता है कि अवैध उत्खनन न हो लेकिन माईनिंग विभाग उस पर अंकुश लगाने में नाकामयाब रहा है। इसी के रहते अब सरकार ने रेत के उत्खनन का काम माईनिंग विभाग से वापिस लेकर अन्य को सौंपे जाने हेतु प्रस्ताव भेजा है ताकि अवैध रेत उत्खनन रोका जा सके , इसके लिये दल भी गठित किये जाकर सॅख्त कार्यवाही को कहा गया है।बाबई के ग्राम चीलाचोन में सब स्टेशन उपकेन्द्र के भूमिपूजन के समय श्री शुक्ल ने कहा कि वर्ष २०१्र३से ग्रामीण घरेलू उपभोक्ताओं को २४ घन्टे बिजली उपलब्ध कराये जाने का प्रयास किया जायेगा तथा जहॉ भी खराब ट्रान्सफारमर है उसे बदला जाकर बढ़ते लोड को ध्यान में रखकर अतिरिक्त ट्रान्सफारमर लगाये जायेंगे। इस अवसर पर होशंगाबाद विधायक गिरिजाशंकर शर्मा, सोहागपुर विधायक विजयपालसिंह, पिपरिया विधायक ठाकुरदास नागवंशी,हरदाविधायक कमल पटेल,टिमरनी विधायक संजय शाह तथा विद्युत वितरण कम्पनी के प्रबन्ध संचालक नीतेश व्यास भी मौजूद थे।(आत्माराम यादव )

Top

करोड़ों की कमाई गायब - जॉच के आदेश

होशंगाबाद- जिले में समर्थन मूल्य पर गेहॅू खरीदी में १३९ संस्थाओं ने तीन वर्षो में १५० करोड़ रूपये का कमीशन लिया लेकिन इन संस्थाओं के खाते में उक्त कमीशन को अन्य खर्चो के मदों में दर्शाकर उक्त राशि को हड़प लिया गया है जिसकी जॉच होशंगाबाद कलेक्टर द्वारा अनुविभागीय अधिकारी सहित अन्य अधिकारियों से कराई जाकर संस्थाओं को लाभ में लाये जाने की तैयारी की है। नागरिक अधिकार जनसमस्या निराकरण समिति के अध्यक्ष ए.आर.यादव द्वारा जिले में समर्थन मूल्य पर गेहॅू खरीदी में मिलने वाले १५० करोड़ के इस लाभ की जॉच के साथ उक्त सभी सहकारी संस्थायें जिनके द्वारा सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दूकान संचालित कर लाभांश कमाया जाता है एवं जिले के किसानों को रासायनिक खाद-बीज उपलब्ध कराये जाने के साथ बैंकिंग का कारोबार चलाने तथा समर्थन मूल्य केश क्रेडिट खाते में १०० करोड़ रूपये की राशि का गबन,अनियमिततायें की जाकर भ्रष्टाचार किये जाने के आरोप लगे है एवं इस हेतु उक्त समर्थन मूल्य गेहॅू के कमीशन की जॉच में उक्त जॉच शामिल किये जाने की मॉग की है। संस्था अध्यक्ष श्री यादव के अनुसार होशंगाबाद एवं हरदा जिले में कार्यरत जिला सहकारी बैंक के अधीनस्थ सभी सहकारी संस्थाओं में उक्त मदों से होने वाली आय को अनाधिक्त व्यय दर्शाकर अनियमिततायें करने वालों के ख्लिाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज करने और संस्थाओं को आत्मनिर्भर बनाने की मॉग की है। चॅूकि इस सम्बन्ध में होशंगाबाद कलेक्टर ने जॉच के आदेश कर अनुविभागीय अधिकारी की अध्यक्षता में तहसीलदार, सहकारिता के निरीक्षक, संबंधित क्षैत्र की सहकारी बैंक शाखा के प्रबन्धक एवं समर्थन मूल्य गेहॅू खरीदी के जोनल अधिकारी की ५ सदस्यीय टीम से जॉच कराने के आदेश जारी कर दिये है ताकि होशंगाबाद जिले में २५० करोड़ रूपये की आमदनी खाते से गायब होने की जॉच और उक्त राशि को हडपने वालों पर कार्यवाही हो सके। इस सम्बन्ध में नागरिक अधिकार जनसमस्या निराकरण समिति की ओर से नर्मदापुरम संभाग के आयुक्त अनिल तिवारी, होशंगाबाद एवं हरदा कलेक्टर से जॉच की मॉग के साथ तत्काल आपराधिक प्रकरण दर्ज किये जाने को लिखा है(आत्माराम यादव )

Top

स्कूलो में मनया गया प्रवोत्सव

स्कूल चले हम की शुरुआत बटियागढ़। स्कूली द्गिाक्षण सत्र की शुरूवात शासकीय प्राथमिक बालक/कन्या एवं माध्यमिक बालक/कन्या शाला मे प्रवेद्गाोत्सव मनाया गया जिसमे स्थानीय जनप्रतिनिधीयो एवं पालक द्गिाक्षक संघ के अध्यक्षो की उपस्थिती रही इसके अलावा स्कूलो मे विद्गोष भोज का कार्यक्रम आयोजित किया गया एवं छात्र छात्राओ को निद्गाुल्क पाठ्‌पुस्तको के अलावा अनेक छात्रो को डेस एवं साईकिल खरीदी के लिये चैको का वितरण किया गया माध्यमिक कन्या शाला मे सरपंच प्रतिनिधी करन सिंह द्वारा पाठ्‌पुस्तको का वितरण किया एवं प्रार्चाया मणि जैन द्वारा छात्राओ को गुलाल लगाकर नये सत्र की शुभकामनांए दी संकुल प्रार्चाय बी एस रावत द्वारा अनेक स्कूलो का निरिक्षण किया प्रवेद्गाोत्सव मे स्थानीय प्राथमिक एवं माध्यमिक स्कूल के छात्र छात्राओ की उपस्थिती रही कार्यक्रम मे पी एल चौरसिया,हरिचरण चौरसिया,एस पी पटैरिया,भरत मिश्रा,ओकार पाण्डेय,अतुल जैन,इमाम बखस,खरे जी की उपस्थिती रही (अंकित पाण्डेय )

Top

कारण बताओ नोटिस जारी

होशंगाबाद / पर कलेक्टर श्री प्रकाश रेवाल ने लंबित सीमांकन के प्रकरणों को समय सीमा के भीतर निराकरण नहीं करने के कारण जिले के ४ तहसीलदारों को कारण बता ो सूचना पत्र जारी किये । इनमें तहसीलदार बाबई श्री निल सोनी, तहसीलदार बनखेडी श्री ए ार खान, तहसीलदार पिपरिया श्री रवि कुमार, तथा तहसीलदार सोहागपुर श्री एम पी पाठक शामिल है पर कलेक्टर श्री प्रकाश रेवाल ने बताया कि कलेक्टर ने समस्त तहसीलदारों को सीमांकन के प्रकरणों का निराकरण वर्षा के पूर्व करने के लिए निर्देश जारी किये थे । निर्देश में कहा गया था कि तहसीलदार पने क्षेत्र में राजस्व निरीक्षक तथा पटवारी के दल बना कर धिक से धिक सीमांकन के प्रकरणों का निराकरण कराए परन्तु सिवनी मालवा को छोडकर न्य तहसील में इसकी पेक्षाकृत कम प्रगति रही । मात्र सिवनी मालवा तहसील में ही सीमांकन के प्रकरणों का निराकरण हु ा तथा न्य तहसील में सीमांकन प्रकरणों का निराकरण नहीं हु ा । इस संबंध में संबंधित तहसीलदारों को सूचना पत्र जारी कर सीमांकन नहीं होने की स्थिति की जानकारी चाही गई तथा लक्ष्य के नुरुप कार्य नहीं होने की जानकारी चाही गई। सभी तहसीलदारों से तीन दिनों के भीतर कारण बता ो सूचना पत्र का जबाब चाहा गया है । समय पर उत्तर नहीं दिये जाने पर म प्र सिविल सेवा बर्गीकरण नियम के तहत कार्यवाही की जायेगी। साथ ही सभी तहसीलदारों को निर्देश दिए है कि वे पने तहसील के सीमांकन के लंबित प्रकरणों का निराकरण कराए। (आत्माराम यादव )

Top

शादी का प्रकरण निरस्त

होशंगाबाद / अपर कलेक्टर एवं विवाह धिकारी के यहॉ विशेष विवाह धिनियम के तहत दर्ज एक प्रकरण को तमाम वांछित जानकारियों के भाव में निरस्त किया गया है । पर कलेक्टर श्री प्रकाश रेवाल ने उक्त प्रकरण के संबंध में बताया है कि ावेदक श्री यशपाल सिंह वर्मा निवासी वार्ड नं. २६ पंजाबी मोहल्ला,इटारसी -ारा ावेदन पत्र एवं शपथ पत्र में दिए गए ब्यौरा ौर पर कलेक्टर न्यायालय में ावेदक के कथन ंकित किए गए । ावेदक -ारा ावेदन पत्र में वर्णित पता एवं कथन में व्यक्त पता में ंतर पाये जाने एवं तथ्यों को छिपाये जाने के कारण ौर विशेष विवाह धिनियम की धारा ६ (३) की प्रतिपूर्ति नहीं होने के कारण ावेदक के प्रकरण को उनके -ारा निरस्त करने की कार्यवाही करते हुए प्रकरण को नस्तीब- कर दिया है (आत्माराम यादव )

Top

मधुर व्यवहार आवश्यक है-उमाशंकर गुप्ता

गृहमंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता ने पुलिस धिकारियों की बैठक लेकर दिए ावश्यक निर्देश होशंगाबाद / पुलिस का ाम जनता से मधुर व्यवहार ावश्यक है। थाने में ानेवाले ाम नागरिकों को बहुत विनम्रता पूर्वक सुना जाए। यह बात प्रदेश के गृह मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता ने ाज यहॉ इटारसी के पावर ग्रिड में ायोजित पुलिस धिकारियों की बैठक में कही। इस वसर पर पुलिस महानिरीक्षक श्री विजय कटारिया, पुलिस महानिरीक्षक रैल श्री ार के गुप्ता,पुलिस धीक्षक ाई पी रजरिया, नुविभागीय धिकारी राजस्व श्री एस धनराजू तथा तिरिक्त पुलिस धीक्षक श्री मृलाल मीणा भी उपस्थित थे। गृहमंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता ने पुलिस धिकारियों से कहा कि वे पने क्षेत्रों में नियमित रुप से भ्रमण कर स्थिति पर नजर रखने तथा ासामाजिक तत्वों के विरु- सख्ती से कार्यवाही करें। पराधो पर ंकुश लगाने के लिए पुलिस धिकारी पूरी मुस्तैदी से कार्यवाही सुनिश्च्िात करें। उन्होने कहा कि थाने स्तर पर हर दो माह में ायोजित होने वाली जन प्रतिनिधियों तथा गणमान्य नागरिकों तथा धर्म स्वावलम्बी तथा मिडिया की बैठक में ाम लोगों से चर्चाकर सुझाव लिए जाए। उन्होने ाम नागरिकों के बीच मधुर जन सम्वाद नियमित रुप से करने के निर्देश दिए। उन्होने यह भी कहा कि ऐसे पुलिस कर्मियों जो संदिग्ध कार्य में लिप्त पाये जाने पर उन पर नजर रखे जिससे पुलिसविभाग की छवि खराब न हो सके। उन्होने पुलिस विभाग कहा की ठोस कार्यवाही के तहत अपराधों में कमी ाई है, परन्तु भी इसमें बहुत कुछ प्रभावी कार्यवाही करने की जरुरत है। उन्होने पुलिस विभाग के धिकारियों से कहा कि वे सनसनीखेज पराधों पर विशेष ध्यान दें ताकि जहॉ कहीं ऐसे पराध की जानकारी मिले त्वरित कार्यवाही सुनिश्च्िात करे। इस मौके पर उन्होने बताया कि शासन पुलिस विभाग के धिकारियों तथा पुलिस कर्मियों के कल्याण के प्रति गंभीर है । उनके कल्याण के लिए भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है। विशेष कर पुलिस कर्मी के हितो का पूरा ध्यान रखा जायेगा। इस मौके पर पुलिस महानिरीक्षक श्री विजय कटारिया तथा पुलिस धीक्षक श्री ाई पी रजरिया ने जिले में कानून एवं व्यवस्था की जानकारी दी। इस वसर पर पुलिस विभाग के धिकारी तथा थाना प्रभारी उपस्थित थे (आत्माराम यादव )

Top

पर्याप्त खाद्यान्न भंडारण करेसंभागायुक्त

होशंगाबाद / नर्मदापुरम संभाग में क्रियान्वित योजनाओं एवं विकास कार्यो की द्यतन प्रगति का जायजा लेने के उद्देश्य से संभागायु- श्री रुण तिवारी ने ाज समीक्षा बैठक ली । कमिश्नर कार्यालय के सभाकक्ष में हुई इस बैठक में होशंगाबाद कलेक्टर श्री निशांत बरवडे, बैतूल कलेक्टर श्री बी चन्द्रशेखर हरदा, जिला पंचायत सीई ो श्री मदन कुमार एवं बैतूल के श्री एस एन सिंह चौहान, उपायुक्त विकास श्री एम एल वर्मा सहित विभिन्न विभागों के जिला धिकारी मौजूद थे। संभागायुक्त श्री तिवारी ने समस्त धिकारियों से पेक्षा व्यक्त करते हुए कहा कि बारिश के पूर्व की जाने वाली तमाम तैयारियॉ विभागों के जिला धिकारी करना सुनिश्च्िात करे ।खास कर ऐसे गॉव जो वर्षाकाल के दौरान पहुॅच विहीन हो जाते है। ऐसे ग्रामो को चिन्हित कर पर्याप्त मात्रा में खाद्यानों का भण्डारण कराया जाए। इसी प्रकार इन क्षेत्रों के डिपो होल्डरों के पास वर्षाकाल में होने वाली बीमारियों के रोकथाम के उपयोग में लाई जाने वाली तमाम दवाईयॉ, क्लोरिन की गोलियॉ एवं ब्लिचिंग पाउडर इत्यादि का भंडारण कराया जाए । बैठक में संभागायुक्त ने खरीफ फसलों के लिए संभाग में की गई तैयारियों का जिलेवार जानकारी प्राप्त की। किसान कल्याण एवं कृषि विभाग के संयुक्त संचालक श्री बी एम सहारे ने बताया कि संभाग में खरीफ फसलों के लिए खाद, बीज की ग्रिम उपलब्धता सुनिश्च्िात की गई है। बीज उत्पादन कार्यक्रम के तहत बीज प्रतिस्थापन दर ३० प्रतिशत बढाये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होने सोयाबीन फसल का रिज एण्ड फरो का प्रस्तावित कार्यक्रम से भी भी अवगत कराया। इस मौके पर संभागायुक्त ने निर्देश देते हुए कहा कि संभाग के किसानों की मांगों के नुरुप खाद बीज समयावधि में उपलब्ध कराया जाना सुनिश्च्िात करें। किसानों को प्रेरित करे कि वे खाद का ग्रिम उठाव करें ताकि खाद की कमी की समस्या जैसी परिस्थितियॉ निर्मित न हो सके। उन्होने नुसूचित जाति, जनजाति वर्गो के किसानों को दी जाने वाली सहूलियतों का समय सीमा में क्रियान्वयन कर इन वर्गो के किसानों को योजना ों का लाभ दिलाये जाने के निर्देश दिए। स्वास्थ्य विभाग के कार्यो की समीक्षा के दौरान ायुक्त ने कहा कि वर्षा जनित बीमारियों की रोकथाम के लिए कारगर उपाय किये जाए। विभाग का मला भी से जनजाग्रति कार्यक्रमों का ायोजन कर ामजनों को संदेश दे। उन्होने पेयजल शु-किरण, खाद्य पदार्थो की ाकस्मिक जॉच निरंतर करने की भी हिदायत दी। उन्होने ग्रामीण क्षेत्रों के मले को पर्याप्त मात्रा में दवाईयॉ का ग्रिम भंडारण कराने ौर उनके -ारा भ्रमण कर संबंधितों को समय पर दवाईयो की उपलब्धता सुनिश्च्िात करने के निर्देश दिए। जिले के शासकीय चिकित्सालयो, उप स्वास्थ्य केन्द्रों में भी तमाम दवाईयॉ का ग्रिम भंडारण करने के निर्देश दिए। ागामी भियान स्कूल चले हम के तहत क्रियान्वित गतिविधियों की भी उन्होने जानकारी प्राप्त की। खासकर गणवेश, साइकिल एवं पाठय पुस्तकों के वितरण के लावा मातृत्व मेलो का ायोजन, प्रवेश उत्सव के संबंध में जानकारी प्राप्त की । इसके साथ साथ आम जनों तक स्कूल चले हम भियान के उद्देशो को पहुँचाने हेतु तय की गई प्रचार प्रसार गतिविधियों के ायोजन के संबंध में जानकारी ली गई। उन्होने कहा कि विभाग के जिन धिकारियों, कर्मचारियों को उक्त जबाबदेही सौपी गई है। उनके -ारा समय सीमा में कार्यो का क्रियान्वयन किया जा रहा है कि नहीं इत्यादि की जॉच वरिष्ठ धिकारी समय समय पर करें । टल बाल ारोग्य एवं पोषण मिशन के कार्यो की भी उनके -ारा समीक्षा की गई। ायुक्त श्री तिवारी ने कहा कि ऐसे परिवार जिनके बच्चे कम, तिकम वजन के पाये जाते है,उन बच्चों की माता ों को मिशन ंतर्गत स्वरोजगार से जोडने की कार्यवाही की जाए। उन्होने चिन्हित कम, तिकम वजन के बच्चों को दिये जाने वाले तिरिक्त पोषण ाहार में घी का उपयोग करने की सलाह दी। उन्होने कहा कि ऐसे सभी बच्चे जो कम, तिकम वजन क पाये जाते है उन पर सतत नजर रखी जाए । इनके लिए स्वास्थ्य परीक्षण की भी व्यवस्थाए स्थानीय स्तर पर कराई जाए। उन्होने कम वजन के बच्चों का माह में एक बार तथा तिकम वजन के बच्चों का माह में दो बार स्वास्थ्य परिक्षण कराने ौर उन्हे ावश्यक दवाइयॉ त्वरित उपलब्ध कराने के निर्देश संबंधित विभागों के धिकारियों को दिए। इस वसर पर ायुक्त -ारा लोक निर्माण विभाग, खाद्य विभाग,पीएचई, महात्मा गॉधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना की उप योजना कपिल धारा, मुख्यमंत्री ग्राम सडक योजना ौर मुख्यमंत्री ावास योजना के कार्यो की भी समीक्षा की (आत्माराम यादव )

Top

विश्राम गृह पर्यटन विभाग को हस्तांतरित

होशंगाबाद/राज्य शासन -ारा लोक निर्माण विभाग के पचमढ़ी में स्थित विश्राम गृहो एवं उससे लगी भूमि को पर्यटन संबंधी गतिविधयों के लिए आरक्षित करते हुए पर्यटन विभाग को सौपने के लिए गये निर्णय के परिपालन में कलेक्टर -ारा उक्त कार्यवाही की गई है।जारी ादेश में उल्लेख है कि लोक निर्माण विभाग के विद्या मंदिर बंगला, कार्णिका बंगलाट, वायसन एवं देवदारू बंगला (विश्राम गृह) एवं इनसे लगी हुई भूमि पर्यटन विभाग को हस्तांतरित करने की कार्यवाही की गई है। तत्संबंध में कलेक्टर -ारा लोक निर्माण विभाग के धिकारी को निर्देशित किया गया है कि उक्त विश्राम भवनो एवं उससे लगी भूमि के हस्तांतरण की कार्यवाही कर जिला कार्यालय को शीघ्र वगत कराए।.(आत्माराम यादव )

Top

कुछ लोग पागल ना हो जाएं ?

पागल बकरे का मांस खाने के बाद लगभग ७५ से अधिक ग्रामिण दहशत में गोकुल ग्राम श्यामपुरा में हुई घटना ग्रामिण ले रहे है झाड फुंक व टोने टोटके का सहारा राजस्थान व मध्यप्रदेश की सीमा पर बसे शाजापुर जिले के गोकुल ग्राम श्यामपुरा के रहवासी इन दिनो अजीब दहशत से गुजर रहे है। दरअसल कुछ दिनो पहले ग्राम श्यामपुरा के रहवासियो के साथ अजीबो गरीब वाकया हो गया, जिसके कारण अधिकांश ग्रामिणो में एक अजीब दहशत का माहौल है कि कहीं ग्राम के कुछ लोग पागल ना हो जाएं और पागल होकर ना मर जाएं.....! आखिर क्यों है उनके मन में दहच्चत ! शाजापुर जिले के ग्राम द्रयामपुरा की गलियो में आखिर क्यों फैला हुआ है सन्नाटा ! क्यों लगा हुआ है कुछ घरो में ताला ! जानने के लिए हमारी टीम पहुंची ग्राम द्रयामपुरा । वहां जाने के बाद हमारी टीम ग्रामिण की मदद से इन तंग सुनसान गलियो में पहुंचे। वहां पहुंचने के बाद हमने हकीकत जानने की कौच्चिद्गा की। हमें पता चला कि ग्राम के कई ग्रामिणो को इन दिनो भय सता रहा है कि कहीं वो पागल ना हो जाएं। आखिर क्यों सता रहा है उन्हे डर ।दरसअल कुछ दिनो पहले गांव के कई निवासीयो द्वारा उनके ही ग्राम के एक व्यक्ति से बकरे का मांस खरीदा था. जिसे ग्रामीणो के अनुसार लगभग ७५ लोगो ने उसे पकाकर खा लिया था जिसे खाने के अगले दिन ही ग्रामिणो को पता चला कि उनके द्वारा जिस बकरे का मांस खरीदा गया था वह बकरा पागल था. जैसे ही उस बकरे के पागल होने की जानकारी मिलने के बाद ग्रामिणजन खोफजदा हो गए कि कहीं उन्हे भी पागलपन की बिमारी ना हो जाए. ग्रामिणो ने हमारी टीम को हकीकत बयां की कि कैसे यह घटनाक्रम घटा । ग्रामिणो के अनुसार कुछ समय पुर्व ग्राम श्यामपुरा के ग्रामिण की एक बकरी को एक पागल कुत्ते ने काट लिया था, काटने के कुछ समय बाद ही बकरी के द्वारा एक बच्चे को जन्म दिया गया था. बच्चे के जन्म के कुछ माह बाद वह बकरा अपने आप पागल हो गया. ग्रामिणो के अनुसार यह पागल बकरा जमीन व दीवारो पर अपने दांते से काट रहा था. त्था उसके मुंह से लार भी टपक रही थी. जिसके कारण उस बकरे के मालिक द्वारा उस बकरे को कुछ समय तक एक कमरे में बंद भी करके रखा गया. इस बकरे को एक अन्य ग्रामिण ने खरीद लिया व उसे मारकर ग्राम के कई लोगो को उसका मांस बेच दिया. गांव के ही राधेश्याम, गोकुल सिंह, रोड सिंह, करण सिंह, गुमान सिंह, युनुस, शबाना सहित कई बच्चो व ग्रामवासियो ने इस मांस को पका कर खा लिया. जिसके बाद उन्हे पता चला कि जिस मांस को पकाकर उन्होने खाया है वह पागल बकरे का मांस है. बकरे की हकीकत पता चलने के बाद यह तमाम रामिण एक भय के दौर से गुजर रहे है इनमें से कई ग्रामिणो द्वारा डाक्टरी ईलाज से बचकर अंधविश्र्वास व मान्यतओ के चलते उज्जैन में कहीं झाडफुंक करवा रहे है। आखिर क्यों भयभीत है ग्रामिण - ग्राम श्यामपुरा में जो घटना घटी है उसके बाद ग्रामिणो को एक डर सत रहा है कि जिस प्रकार पागल कुत्ते के कई महिनो व साल के बाद भी व्यक्ति रेबिस का शिकार होकर पागल हो सकत है साथ ही जिस तरह बकरी को पागल कुत्ते के काटने के बाद जन्मा बच्चा भी जब कुछ माह बाद पागल हो गया ते कहीं उस तरह का असर ग्रामिणो के शरीर पर तो नहीं हो जाएगा. एक्सपर्ट व्यु - पागल बकरे के मांस को काटने व उस कच्चे मांस के संपर्क में आने वाले व्यक्तियों को टीकाकरण आवश्यक है क्योंकि कहीं ना कहीं कच्चे मांस में या खुन में भी रेबिस के वायरस हो सकते है. यदि मांस को उचित तपमान पर पकाया गया है ते उसमें रेबिस के वायरस के नष्ट होने की पुरी संभावना रहती है.(रजनीश सेठी जिला शाजापुर मप्र)

Top

गेहूँ परिवहन युद्घस्तर पर कराने के निर्देश

होशंगाबाद/ गेहूँ परिवहन का कार्य युद्घस्तर पर कराए इसमें किसी भी प्रकार की कोताई न बरती जाए कम से कम २५ हजार मेट्रिक टन गेहूँ परिवहन कराया जाना सुनिश्च्िात करे। यह निर्देश कलेक्टर श्री निशांत वरवडे ने आज यहाँ कलेक्टोरेट में गेहूँ उपार्जन की समीक्षा कर संबंधित धिकारियों को दिए। बैठक में संयुक्त कलेक्टर श्रीमती सपना शिवाले सहित सभी सेक्टर धिकारी तथा संबंधित धिकारी उपस्थित थे। कलेक्टर ने सेक्टर धिकारियों से कहा कि वे परिवहनकर्ता से सतत संपर्क में रहकर परिवहन का कार्य तेजी से कराए। समर्थन मूल्य पर गेहूँ खरीदी के लिए प्राप्त बारदाना ावश्यकतानुसार सभी समर्थन मूल्य खरीदी केन्द्रों पर भेज दिए है। भेजे गये बारदाना का समुचित उपयोग किया जाए। इसी के साथ किसानो को खरीदी केन्द्रो पर गेहूँ लाने के लिए किये गये एसएमएस की जानकारी प्राप्त कर यह सुनिश्च्िात करले कि सभी पंजीकृत किसानो को एसएमएस पहुँच चुका है। उन्होंने सेक्टर धिकारियों को निर्देश दिये कि वे भ्रमण कर खरीदी केन्द्र पर बोरे में रखे गये गेहूँ का तत्काल परिवहन कराए। किसी भी स्थिति में भरे गये गेहूँ के बोरे खरीदी केन्द्र पर न रहे। सभी भरे बोरो का परिवहन सुनिश्च्िात हो। किसानो को एसएमएस तथा प्रचारप्रसार के जरिये टोकन प्राप्त करने के लिए कहा जाए ताकि किसान निर्धारित तिथि तक टोकन प्राप्त कर सके। प्रयास यह हों कि २८ मई तक गेहूँ की खरीदी हो सके। गेहूँ के परिवहन के लिए इटारसी, पिपरिया में रैक लगाने पर चर्चा की गई(आत्माराम यादव )

Top

सायलो बैग में गेहूं भंडारण का जायजा

शंगाबाद- प्रदेश के मुख्य सचिव श्री आर.परशुराम ने होशंगाबाद जिले के बाबई में समर्थन मूल्य पर खरीदे गये गेहूं को सायलो बैग में किये जा रहे गेहूं भंडारण व्यवस्था का जायजा लिया तथा यहाँ किये जा रहे सायलो में गेहूं के भंडारण पर संतोष व्यक्त किया। इस वसर पर ापके साथ तिरिक्त मुख्य सचिव खाद्य एन्टोनी डिसा, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री प्रवीरकृष्ण, वेयर हाउसिंग कारर्पोरेशन के प्रबंध संचालक श्री शिवशेखर शुक्ला, प्रबंध संचालक सिविल सप्लाई श्री चन्द्रहास दुबे, नर्मदापुरम्‌ संभाग के संभागायुक्त श्री रूण तिवारी, पुलिस महानिरीक्षक श्री विजय कटारिया, कलेक्टर श्री निशांत वरवडे,उप पुलिस महानिरीक्षक श्री ए.के.गुप्ता, पुलिस धीक्षक श्री ाई.पी. रजरिया भी उपस्थित थे। मुख्य सचिव श्री ार.परशुराम ने सर्व प्रथम यहाँ पर तौल कांटे पर गेहूं तुलाई की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने किसान से चर्चा कर तुलने वाले गेहूं के बारे में जानकारी प्राप्त कर यहाँ पर प्रदेश में सर्वप्रथम सायलो बैग में हो रहे गेहूं भंडारण की जानकारी प्राप्त की। इस मौके पर सायलो कंपनी के पदाधिकारी ने बताया कि यहाँ पर सायलो बैग में २५ हजार मेट्रिक टन गेहूं का भंडारण किया जाएगा। करीब २५ एकड़ क्षेत्र के सायलो बैग में भंडारण की व्यवस्था की जा रही है। प्रत्येक बैग में २०० टन गेहूं भरा जा रहा है। इस मौके पर उन्होंने सायलो बैग में हो रहे भंडारण को देखा तथा विश्र्वास व्यक्त किया कि यहाँ किसान का गेहूं सुरक्षित तथा व्यवस्थित रह सकेगा।

Top

चार साल में नहीं बदला ट्रांसफारमर

किसानों ने पैसा भी जमा किए फिर नहीं मिला ट्रासंफारमर विधायक एवं मंत्री के पत्रों को नहीं मिली कोई तबज्जों हटा बिजली विभाग के हिनौता परिक्षेत्र में आने वाले देवरागढी के किसानों द्वारा चार साल पहले अस्थाई कनेक्द्गान के लिए बिजली विभाग में पैसा जमा किया था, लेकिन आज तक बिजली खेतों तक नहीं पहुंची। देवरागढी निवासी कमलेद्गा मिश्रा ने बताया कि वर्ष २००५ से २००७ तक बिजली विभाग से स्थाई कनेक्द्गान की मांग की जा रही है। सारी औपचारिकता पूरी करने के बाबजूद भी स्थाई कनेक्द्गान नहीं दिया जा रहा है। मिश्रा के खेत में जो ट्रांसफारमर लगा था उसपर करीब आधा दर्जन किसान अस्थाजनप्रतिनिधियों के पत्रों पर कोई न तो ध्यान दिया गया न ही कार्यवाही से अवगत कराया गया। देवरागढी के कमलेद्गा मिश्रा, सुखदेव दुबे, रामेद्गवर पटेल, सुंदर पटेल, विजय दुबे के द्वारा अस्थाई कनेक्द्गान के पैसा वर्ष २००९ में जमा किए गए थे। किसानों के द्वारा बिजली मिलने की उम्मीद से खेतों में बोनी कर दी गई, लेकिन समय पर सिंचाई न होने के कारण सारी फसल चौपट हो गई। किसान कमलेद्गा मिश्रा ने बताया कि बिजली न मिलने के कारण सारे खेत में अरहर की बोनी की थी। जिसमें तुषार लगई कनेक्द्गान लिए थे। २३ दिसम्बर २००८ को खेत का ट्रांसफारमर जल गया। बिजली वालों ने कहा जल्दी सुधर जाएगा तो किसानों ने रबी की सिंचाई के लिए अस्थाई कनेक्द्गान के लिए पैसा जमा कर दिए। लेकिन आज तक किसानों को बिजली नहीं मिल रही है। किसानों ने इस संबंध में विधायक उमादेवी खटीक से निवेदन किया तो उन्होने बिजली विभाग के ईई को २० सितम्बर २०११ को पत्र लिखकर कार्यवाही से अवगत कराने को कहा। तत्कालीन प्रभारी मंत्री गोपाल भार्गव ने भी १५ अक्टूबर को दमोह डीई को पत्र लिखा लेकिन बिजली विभाग के अधिकारियों के द्वारा जाने से लागत भी नहीं निकली।अब असिंचित खेती की जा रही है। किसानों के द्वारा अस्थाई कनेक्द्गान का जो पैसा जमा है उसे नए कनेक्द्गान में समायोजित करने की मांग की जा रही है। साथ ही बिजली के आभाव में किसानों का जो नुकसान हुआ उसकी मांग भी की जा रही है। विधायक उमादेवी खटीक ने बताया कि जनप्रतिनिधियों के पत्रों का जबाब न देना, कार्यवाही से अवगत न कराना, अधिकारियों की वर्तमान में जो लालफीताद्गााही चल रही है। उससे विभाग के मंत्री एवं मुखयमंत्री को अवगत कराया जाएगा। ऐसे लोगों को क्षेत्र से हटाया जाएगा। बिजली विभाग के प्रभारी एई डीआर देद्गामुख ने बताया मामला हिनौता मंडल का है। वहां के जेई से संपर्क कर ही कुछ कहा जा सकता है(संजय जैन )

Top

२००७ की पुस्तकें वर्ष २०१२ में होगी वितरित

बीआरसी में रखी दो ट्रक पुस्तकें हटा सरकार के द्वारा सबको द्गिाक्षित करने के लिए द्गिाक्षा का अधिकार जैसा कानून बना रहा है। वही इस कानून को लागू करने वाले लोग इसका किस तरह मजाक उड़ा रहे यह बीआरसी में रखी पुस्तकों के ढेर को देखकर लगाया जा सकता है। वर्ष २००७ में द्गिाक्षा विभाग से स्कूलों में वितरित होने पुस्तकें आई थी, वो सरकार के द्वारा इतनी अधिक मात्रा में खरीद ली गई थी, वितरण होने के बाबजूद भी कई बंडल पुस्तकें द्गिाक्षा विभाग के कार्यालयों में पड ी रही। अपनों को उपकृत करने सरकार का पैसा इस तरह उड ाया कि हटा जैसे छोटे से बीआरसी कार्यालय में आज भी करीब दो ट्रक पुस्तकें पड ी हुई है। जिनकी कीमत लाखों में है। पूरे प्रदेद्गा में कितनी ऐसी पुस्तकें पड ी होगी इसका कोई अनुमान नहीं है। अब इन पुस्तकों का पाठय्‌क्रम भी बदल चुका है। ये सारी पुस्तकें केवल रद्‌दी बनकर रह गई है। पहले इन पुस्तकों को कहीं ठिकानें लगानें का प्रयास किया गया था। लेकिन जब सफलता नहीं मिली तो अब इन पुस्तकों को पुनः वितरित करने की योजना है। बीआरसी टीकाराम कारपेंटर ने बताया कि सारी पुस्तकें जिला कार्यालय से १० दिन पहले ही प्राप्त हुई है। जो इस वर्ष नई पुस्तकों के साथ वितरित की जाएगी। इन पुस्तकों का पाठय्‌क्रम तो अब चलन में नहीं है। लेकिन इन पुस्तकों को छात्र ले जाकर उसमें जो कविता, पाठ, लेख आदि है, उनको पढकर अपना सामान्य ज्ञान बढायेंगें। (संजय जैन )

Top

गेहू खरीदी मे किसानो को परेशानी

एक किसान ने दी आत्महत्या की चुनौति बटियागढ़।सेवा सहकारी समिती बकायन म ेचल रही गेंहू खरीदी मे समीति प्रवधंक की लापरवाही एवं अनिमित्तांए सामने आई है जिसमे अनेक किसानो ने स्थानीय तहसीलदार एसएस गौर को आपबीती सुनाई एवं जिसमे ग्राम फुटेरा कंला के प्रकाद्गा राय ने एक दिन पूर्व जिला के आलाधिकारीयो को पूरी घटना को बताया था एवं स्वंय समीति के बाहर आत्मदाह करने की चुनौति भी दी जिस पर तहसीलदार एवं टी आई सुमन धुर्वे पूरे दल के साथ समीति बकायन मे मौजूद रहे बाद किसान प्रकाद्गा राय को मनाने के लिये उसका समीति मे रखा गेंहू तुलवाया गया एवं अनेक किसानो ने समिती प्रबंधक की मनमनी की द्गिाकायत भी की जिसमे किसानो ने बताया कि गेंहु खरीदी मे किसान बारदाना एवं गेंहू तुलवाई के पैसे स्वंय किसानो को देना पडता है एवं तुलवायी भी देनी पडती है एएवं किसानो का समीति के बाहर रखा हजारो क्विटंल गेहू सडने लगा है जिससे किसानो को काफी परेद्गाानी का सामना करना पड रहा है जिसमे हेमराज सिंह,अंगद सिंह,रूप् किद्गाोर ,ने गेंहू खरीदी मे हो रही मनमानी का विरोध किया है इनका कहना है - किसान प्रकाद्गा राय का समीति द्वारा गेहू खरीद लिया है चूंकी समीति मे बारदाने की कमी होने के कारण किसानो को परेद्गाानी उठानी पडी है एवं वहां के किसानो द्वारा बताया गया की समीति प्रवंधक किसानो से तुलाई भरवाई एवं सिलाई के पैसे ले रहा है जिसकी जॉच करवा कर कार्यवाही करूगां एवं बरिष्ठ अधिकारीयो को अवगत कराउंगा - एस एस गौर तहसीलदार बटियागढ (अंकित पाण्डेय )

Top

वकील पंचायत होगी

सागर *मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने सागर में जिला अधिवक्ता संघ द्वारा आयोजित सम्मान समारोह में कहा कि वकीलों की समस्याओं के समुचित समाधान के लिये पंचायत आयोजित की जायेगी। उन्होंने कहा कि अधिवक्ता समाज के सम्मानित वर्ग का प्रतिनिधित्व करते हैं और लोगों को न्याय दिलाने में उनकी अह्म भूमिका है। श्री चौहान ने न्यायालय भवन की मरम्मत, वकीलों के लिये सर्विस रूम, रहली तथा खुरई की कोर्ट बिल्डिंग पुनः बनाने तथा न्यायालय की पुरानी बिल्डिंग की मरम्मत कराकर उसे और उपयोगी बनाने का आश्वासन दिया। समाज उपयोगी मुद्दों पर बहस प्रारंभ हो श्री चौहान ने कहा कि लोकसभा एवं विधानसभा के चुनावों में काफी समय एवं धन तथा मेन-पावर लगता है, इस पर बहस होनी चािहए। उन्होंने कहा कि इसका कोई सर्वमान्य हल निकाला जाना चाहिए जिससे पाँच वर्ष में एक ही बार चुनाव हों तथा धन, समय और मेन-पावर के अपव्यय को रोका जा सके। श्री चौहान ने कहा कि विज्ञापनों में नारी के आपत्तिजनक प्रदर्शन पर भी रोक के लिये सार्थक बहस जरूरी है। उन्होंने क्रिकेट के बिगड़े स्वरूप की चर्चा करते हुए समाज के प्रबुद्ध वर्ग से इस दिशा में बहस शुरू करने की अपील की, जिससे समाज को सही दिशा मिल सके। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव, राज्य महिला वित्त एवं विकास निगम की अध्यक्ष श्रीमती सुधा जैन, सांसद श्री भूपेन्द्र सिंह, विधायक श्री शैलेन्द्र जैन एवं अन्य जन-प्रतिनिधि, जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र दुबे एवं अधिवक्ता समारोह में मौजूद थे।

Top

सेवामुक्त सीईओ को हाईकोर्ट से झटका

होशंगाबाद॥ जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित होशंगाबाद के सीईओ आर.के.दुबे को उनकी नियोक्ता बैंक अपेक्स बैंक की संवर्ग समिति की बैठक में १५ मार्च को सेवापृथक किये जाने का का निर्णय लिया गया था। जैसे ही सीईओ श्री दुबे को उक्त निर्णय की जानकारी प्राप्त हुई तो उन्होंने १६ मार्च से ३१ मई तक का अवकाश लेकर चले गये। जिला बैंक में करोड़ों का गोलमाल-घोटाला और अनियमितताओं सहित समर्थन मूल्य पर गेहॅू खरीदी में पॉच रूपये प्रति क्विंटल की दलालीके आरोपों के रहते पंजीयक सहकारिता के हस्तक्षेप पर उन्होंने यह अवकाश लिया था। अपेक्स बैंक के प्रभारी प्रबन्ध संचालक आर.बी.बटटी के आदेश से ३१ मार्च को सीईओ श्री दुबे को सेवापृथक किया गया । अपेक्स के सेवापृथक आदेश के विरूद्ध श्री दुबे ने उच्च न्यायालय जबलपुर की शरण ली लेकिन उच्च न्यायालय ने उनके प्रकरण को खारिज कर ३१ मार्च २०१३ तक सहकारिता आयुक्त को निराकरण किये जाने को निर्देशित किया है। रायकवार ही रहेंगे जिला बैंक के सीईओ जिला बैंक में अपना संविलियन करा चुके श्री दुबे के अवकाश पर जाने के बाद अपेक्स बैंक ने जिला बैंक होशंगाबाद में अपने संवर्ग अधिकारी के.के.रायकवार को सीईओ बनाकर भेजा। कयास लगाये जा रहे थे कि श्री दुबे के अवकाश पश्चात आने पर श्री रायकवार वापिस चले जायेगे। श्री दुबे का संवलियन करने वाली जिला बैंक होशंगाबाद ने ११ मई को अपने संचालक मण्डल की बैठक में लिये गये निर्णय से इन अटकलों को समाप्त कर दिया है तथा पंजीयक सहकारिता से सेवामुक्त हुये श्री दुबे के प्रकरण में अभिमत चाहा है , अभिमत प्राप्त न होने तक वर्तमान में पदस्थ श्री के.के.रायकवार ही जिला बैंक के महाप्रबन्धक पद पर कार्य करने का प्रस्ताव पारित किया है इससे अब श्री दुबे के वापिस जिला बैंक लौटने की संभावनाओं पर पूर्णविराम लग गया है।६१ करोड़ ८६ लाख की ऋणमुक्ति घोटाला जिला बैंक के सीईओ आर.के.दुबे ने ६१ करोड़ ८६ लाख रूपये के ऋणमाफी के संशोधित दावे प्रस्तुत कर अपात्र व्यक्तियों को लाभ पहुॅचाया । संयुक्त आयुक्त सहकारिता द्वारा बैंक की हरदा जिले में १८ समितियों की जॉच में १३ करोड़ रूपये के फर्जी दावे पाये जिसमें श्री दुबे को दोषी कर्मचारियों को पूर्ण संरक्षण दिया और इस घोटाले के लिये पुलिस थाने में अपराध दर्ज नहीं कराया। सीईओ दुबे के प्रकरण में जिला बैंक ने अभिमत मॉगा जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के संचालकमण्डल की ११ मई को संपन्न हुई बैठक में बैंक के संचालकमण्डल द्वारा अपेक्स बैंक से सेवामुक्त सीईओ आर.के.दुबे के प्रमरण में अभिमत प्राप्त करने का प्रस्ताव पारित किया है । कभी दुबे की कीमत पर कोई भी चर्चा न करने वाले जिला बैंक के संचालक मण्डल को अपनी नैया डूबती नजर आई तभी उनके द्वारा भ्रष्टाचार के करोड़ों रूपये श्री दुबे पर प्रमाणित होने पर उनके द्वारा उन्हें लेकर कोई विवाद मौल नही लेना चाहते है तभी उक्त अभिमत पंजीयक सहकारिता से भी चाहा है जिसके जबाव की प्रतीक्षा जिला बैंक को है। गेहॅू के खेल में गोलमाल से हुई जिला बैंक बदनाम समर्थन मूल्य पर जिले में गेहॅू खरीदी को लेकर प्रति क्विंटल ५ रूपये समिति प्रबन्धकों से अपने एजेन्टों के माध्यम से राशि एकत्र किये जाने का हिसाब हर १५ दिन में सीईओ दुबे ,ारा किये जाने से जिला सहकारी बैंक बदनाम हो गयी थी। खरीदी केन्द्रों को गेहॅू खरीदी में करोड़ों रूपये का लाभ होता है लेकिन इस गोलमाल में प्रासंगिक व्यय के अलावा लोकल मैनेजमेंट में भी १५ रूपये प्रति क्विंटल का गडबड़ झाला रहा है जिसे लेकर होशंगाबाद कलेक्टर श्री निशांत बरबडेृ़ ने सीईओ श्री दुबे को गेहॅू खरीदी से बाहर किये जाने की मॉग की थी तभी श्री दुबे १६ मार्च गेहॅू खरीदी के अगले दिन से ही पंजीयक सहकारिता के मौखिक निर्देशों के तहत अवकाश परचले गये थे। फर्जी ट्रकों से १ करोड़ का गेहॅू चोरी -ईओ डव्ल्यू करेगी जॉच१३ मई १२ को समर्थन मूल्य पर गेहॅू खरीदी में परत-दर परत जो चौकाने वाले तथ्य आये और ३० ट्रक गेहॅू बाबई -सोहागपुर की समितियों से चोरी हुआ उसने इस लचर व्यवस्था की पोल खोल दी। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने उक्त मसले को गंभीरता से लेते हुये मध्यप्रदेश राज्य आर्थिक अपराध अन्वेषण व्यूरौ से इसकी जॉच करने के आदेश दे दिये है। उधर बाबई की गूजरवाडा समिति से ६ ट्रक,सेमरीहरचन्द की तालकेसली से २ ट्रक,बहारपुर से ४ ट्रक और सोहागपुर की भौखेडी कला से ३ ट्रकतथा निभोरा से ३ ट्रक गेहॅू चोरी का खुलासा हुआ है और पुलिस ने ६ आरोपियों को जेल भेज दिया जबकि भाजपा के नेतापुत्र सहित ६ आरोपी अब तक पुलिस की पकड़ से बाहर है। अनेक खरीदी केन्द्र फर्जी बिल्टी रसीदों से गायब गेहॅू से भरे ट्रकों का मिलान करने में लगे है जिसमें चर्चा है कि यह मामला करोड़ों रूपये के गेहॅू चोरी के रूप में उजागर होगा, फिलहाल १ करोड़ृ रूपये के गेहॅू चोरी की वारदातें सामने आई है। २२९ लेपटाप खरीदी में २५ लाख के कमीशन की शिकायत होशंगाबाद जिले की १३९ गेहॅू खरीदी संस्थाओं सहित हरदा जिले की ९० खरीदी केन्द्रों को लेपटाप खरीदी हेतु १ करोडृ ४३ लाख १२ हजार पॉच सौ रूपये नागरिक आपूर्ति निगम से मिले थे जिसमें उक्त खरीदी में ं २५ लाख का कमीशन खाने की शिकायत कर किसी भी खरीदी केन्द्र में उपलब्ध लैपटाप का भौतिक सत्यापन किये जाने की मॉग की गयी है। होशंगाबाद-हरदा जिले के हर खरीदी केन्द्र के लिये ६२ हजार ५०० रूपये में लेपटाप खरीदकर देना था लेकिन सीईओ आर.के.दुबे द्वारा सहकारिता विभाग के अधिकारियों से सॉठगॉठ कर गोलमाल किया गया है तथा प्रत्येक खरीदी केन्द्र से इस बावत संतुष्टि पत्र लिखाकर ले लिया गया है ताकि विवाद न हो, लेकिन इस बड़े घोटालें में २५ लाख से कही अधिक का गड़बड़झाला किया गया है(आत्माराम यादव)

Top

शुरू हुआ शनि जयंती महोत्सव

होशंगाबाद-नगर के प्राचीन प्रसिद्ध शनि शिवालय मंदिर में तीन दिन चलने वाले शनि महोत्सव की शुरूआत आज शनिवार को विशेष पूजा-अर्चना के साथ हुई। रविवार २० मई को वट सावित्री अमावस्या पर सूर्य छायापुत्र भगवान शनि महाराज की जयंती का आयोजन धूमधाम से होगा जिसमें ३ समय आरति, पूजा-हवन,तिल-तेल से अभिषेक एवं वेद मंत्रोच्चार द्वारा अर्चना की जायेगी। शनि शिवालय के शनि जयंती समारोह के सचिव राजेन्द्र गिरि, पण्डित गिरिश परसाई,नर्मदाप्रसाद शर्मा एडव्होकेट के अनुसार पूर्व वर्षो की भॉति शनिदेव महाराज की जयंती भी रविवार को सुबह ५ बजे की आरति के साथ शुरू होगी । इस महोत्सव की शुरूआत आज मंगलाचरण, गणेशपूजन, क्लश स्थापना से हुई १९ मई को हुई तथा समारोह का समापन २१ मई को सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति, संध्या को मधुर भजनों-गीतों की प्रस्तुति से होगा। वहीं २० मई को शनिदेव का जन्मोत्सव मनाया जायेगा जिसमं शनिदेन का सार्वजनिक पूजन सुबह साढ़े आठ बजे से ९ बजे के मध्य होगा एवं ९ बजे से साढ़ दस बजे तक शांति यज्ञ, साढे १० बजे से १२ बजे तक हवन एवं महाआरति होगी। कल जहॉ शांति यज्ञ होगा वही दोपहर १२ बजे से सामूहिक शनि चालीसा पाठ एवं प्रसाद वितरण महाआरति के बाद होगा । एक हजार साल पुराना है शनि शिवालय नर्मदातट पर शनिचरा मोह्वे में शनि मंदिर एक हजार साल पुराना माना जाता है। ९वी-१० वीं शताब्दी में यह प्राचीन शनि मंदिर में शनि महाराज की अष्ठ धातु की मूर्ति विराजमान है । वर्ष १९६५ से १९७६तक इस मंदिर की देखरेख बाबा रामगिरी करते रहे इसके बाद ७६ से २००० तक बाबा लक्ष्मणगिरी गोस्वामी द्वारा इस प्राचीनतम शनि-शिवालय मंदिर की पूजा-अर्चना एवं रखरखाव किया गया। वर्ष २००० से निरन्तर पण्डित राजकुमार गोस्वामी इस शनि मंदिर की पूजापाठ करते आ रहे है। भगवान शनि महाराज के जन्मदिन को ही वट सावित्री अमावस्या का विशेष पूजन विधान है। पतिव्रता धर्म का पालन करने वाली सावित्री ने निराश्रित जीवन व्यतीत कर जंगल में रह रहे सत्यवान को पति रूप में चुना जबकि उसे पता था कि उसके पति की आयु १०० दिवस से अधिक नहीं ? सत्यवान से विवाह के बाद जैसे ही १०० वॉ दिन आया, उस दिन सत्यवान सावित्री जंगल में लकड़ी लेने गये थे वहॉ सत्यवान को लेकर यमराज जाने लगे तो सावित्री ने अपने पतिव्रत धर्म की शक्ति से यमराज का पीछा कर वाकपाटुता का परिचय देकर यमराज से अपने पति के प्राण वापिस लेकर एक नई मिसाल कायम की साथ ही यमराज के वरदान के ही कारण उसके पति को खोया हुआ राज्य मिला एवं सास-श्चसुर जो नेत्रहीन हो गये थे को नेत्र ज्योति भी प्राप्त हुई। २१ मई को होगी नर्मदा की संगीतमय महाआरित होशंगाबाद। वाराणसी में मॉ गंगा की कमहाकआरित की तर्ज पर २१ मई को स्थानीय सेठानीघाट पर नर्मदा मॉ की महाआरति का महाआयोजन की तैयारी की गयी है जिले लेकर पूरे जिले में लोगों को उत्सुकता है, समझा जा रहा है कि इस महाआरित में हजारों की सॅख्या में लोग भाग लेकर इस पुण्य लाभ के भागी बन सकते है। इन्ही बातों को ध्यान में रखते हुये विधायक गि्ररिजाशंकर शर्मा के निवास पर महाआरित की बैठक सम्पन्न हुई। मॉ नर्मदा की नित्य महाआरति समिति के अध्यक्ष विनोद दुबे के अनुसार वाराणसी की तर्ज पर होशंगाबाद ्रके सेठानीघाट पर मॉ नर्मदा की महाआरित के लिये जबलपुर से महंत प्रज्ञा भारती आ रही है जिसे लेकर जमकर तैयारी की गयी है। मॉ पुण्य सलिला नर्मदा जी की इस महाआरित संगीतमय होगी जो रात आठ बजे से शुरू होगी, इस अवसर पर मॉ नर्मदा की विशेष पूजा, अर्चना एवं नर्मदाष्टक का विशेष पाठ किया जायेगा। नर्मदा जी की इस संगीतमय महाआरति के लिये गठित समिति की बैठक में विधायक गिरिजाशंकर शर्मा, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष भवानीशंकर शर्मा, नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमति माया नारोलिया, नपा उपाध्यक्ष प्रमोद सोनी, महेन्द्र चौकसे, लोकेश तिवारी, दिनेश तिवारी एवं हंस राय आदि मौजूद थे जो इस आयोजन को लेकर तैयारी में लगे है(aatmaram yadav )

Top

सकौर ने जीता फाईनल मैच

बटियागढ़- मॉ कलेही मंदिर मगरोन मे चल रहे टेनिस बाल किक्रेट टूर्नामेंट के फायनल मैच मे द्गिावाजी किक्रेट क्लव सकौर ने इण्डियन किक्रेट क्लव मगरोन को ७१ रन से हराया एवं सकौर टीम ने १५१ रन का लक्ष्य मगरोन टीम के लिये रखा जिसमे महज ८० रन ही मगरोन टीम ने बनाएं प्रतिबर्ष मां कलेही के मंदिर के बाजू से बने एक खोल ग्राउण्ड मे टूर्नामेंट का आयोजन किया जाता है इस टूर्नामेंट मे कुल १६ टीमो ने भाग लिया था कार्यक्रम मुखयअतिथी श्रीमति राजकुमारी सिंह उपाध्यक्ष नगरपंचायत हिंडोंरिया,एवं रूपकिद्गाोर उदेनिया की अध्यक्षता की एवं करन सिंह,कपिल शुक्ला,बद्री विद्गवकर्मा,श्रीराम दुबे,आनंद दुबे,मोहन बसयान,बाबू सिंह,डा.कुरैद्गाी,राजावीर चौहन,कल्लू बद्गायान,कृपाल सिंह की उपस्थिती रही एवं विजेता उपविजेता टीमो के लिये शील्ड कप एवं नगद raashi दी गयी(ankit pandey )

Top

१५ सौ बोरिया गेहॅू ढोते ३ फर्जी ट्रक पकड़ायें

रक छोड़ने २० लाख की पेशकश कॉग्रेस ने आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर थाने पर धरना दिया होशंगाबाद। सोहागपुर तहसील के निभौरा खरीदी केन्द्र पर फर्जी बिल्टियों एवं फर्जी नम्बरों के ३ ट्रकों द्वारा १५ सौ क्विंटल गेहॅू परिवहन कर हेराफेरी करते समिति प्रबन्धक की तत्परता से पकड़ा गया। पकड़ाये ट्रक छोड़ने हेतु २० लाख रूपये की रिश्चत की पेशकश करने वाले भाजपा नेता के साथियों को टवेरा वाहन सहित घेराबंदी कर पकड़ा गया, जिसमें भाजपा नेता का पुत्र पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया है। निभौरा खरीदी केन्द्र प्रबन्धक वीरेन्द्र रघुवंशी की जब अपने खरीदी केन्द्र पहुॅचे तो उन्होंने देखा कि उनके केन्द्र का आपरेटर रिषी रघुवंशी तीन ट्रकों के चालकों द्वारा दी गयी बिल्टियों को रख रहा था कि उसने प्रबन्धक वीरेन्द्र को उक्त बिल्टियों के फर्जी होने का शक जाहिर किया । ट्रक खरीदी केन्द्र से १५०० बोरियॉ ले जाने वाले थे किसानों के सहयोग से प्रबन्धक ने उक्त तीनों ट्रकों के चालकों व क्लीनरों से दबाव देते बात की जिसमें एक ड्रायवर ट्रक छोड़कर भाग गया, उपस्थित दोनों ड्रायवरों एवं क्लिनरों पर किसानों ने पिटाई करने का भय दिखाया तो उन्होंने उक्त ट्रकों के फर्जी होने तथा फर्जी बिल्टी का सच उगल दिया। इस घटना के दरम्यान इटारसी के अधिकृत ट्रांसपोर्टर अजीत जैन व अर्पित अग्रवाल आ गये और उन्होंने उन ड्रायवरों से नम्बर फर्जी ट्रांसपोर्टर का नम्बर प्राप्त किया ।मामले की जानकारी सोहागपुर पुलिस को दे दी गयी जिसमें तत्काल ही थाना प्रभारी श्री एसएलसोनिया, अनुविभागीय दण्डाधिकारी, तहसीलदार सभी उपस्थित हो गये और उक्त फर्जी ट्रासपोर्टर के ट्रकों को लेकर पुलिस थाने पहुॅचे । उक्त घटना के बाद किसानों का आक्रोश बढ़ गया और गत वर्ष बाबई से गायब १ करोड़ रूपये के गेहॅू के चोरोें के पकड़ाये जाने की खबर के साथ वहॉ के समिति प्रबन्धक पहुॅचे और दोनों जगह की बिल्टिायों में एक ही लिखावट पाई गयी जिसे एक्पर्ट से जॉच किये जाने की बात कही गयी है। पुलिस ने दिनभर धरपकड़ में आशीष चतुर्वेदी, आकाश तिवारी, राजेश र्श्मा, नियामत अली, हल्कू उर्फ हरिनारायण माली, मनोजसिंह, अशोक चतुर्वेदी को धर दबौचा है जबकि भूरा चतुर्वेदी एवं रजनीकांत व्यास पुलिस को चकमा देकर भाग गये है। वाहनों के फर्जी नम्बर समर्थन मूल्य पर गेहॅू खरीदी केन्द्र निबौरा से फर्जी बिल्टियों के माध्यम से जिन फर्जी नम्बर के ट्रक पकड़ाये है उसमें चमकीले कागज की पन्नी पर ट्रक क्रमांक- एमपी ०९ एचजी ६५१७दर्ज था वही उसके नीचे फर्जी नम्ॅबर आर.जे.०२आई ९४३३, ट्रक क्रमांक-एमपी०९ केडी ६५९७,फर्जी नम्बर-आरजे ०२आईजी १३३०९, ट्रक नम्बर एमपी ०९ एचएफ ५७६५ के नीचे फर्जी नम्बर आरजे २५जीए ८२६२ अंकित था।२० लाख लो मामला रफा-दफा करो-भाजपा नेता उक्त फर्जी ट्रकों के पकड़ाये जाने की खबर के बाद थाना प्रभारी एसएल सोनिया के पास भाजपा के जिला उपाध्यक्ष रमाकांत व्यास का फोन पहुॅचा और उन्होंने २० लाख रूपये लेकर ट्रकों को छोड़ने एवं मामले को रफा दफा करने की बात की इस पर श्री सोनिया ने कहा कि मामला मीडिया के पास पहुॅच गया है अब कुछ नहीं किया जा सकता, तब फर्जी ट्रासंपोर्टर की ओर से असली ट्रांसपोर्टर अजीत जैन एवं अर्पित जैन के पास फोन आया कि आप सुलह करा दे, अर्पित ने कहा कि पैसे दे दीजिये मामले को सुलझा लिया जायेगा, फर्जी ट्रासपोर्टरों द्वारा सेमरीहरच्रद में एक स्कूल मैदान में बुलाया और कहा कि हमारी टबेरा वाहन क्रमांक-एमपी ०४ बीए २७८८ है आप आ जाये, इस दरम्यान थाना प्रभारी श्री सोनिया ने सेमरीहरचन्द पुलिस को अलर्ट कर दिया और उक्त टबेरा को पकड लिया जिसमें अशीष चतुर्वेदी एवं आकाश तिवारी एक लाख ८० हजार ११० रूपये सहित धरे गये जबकि भाजपा जिला उपाध्यक्ष रमाकांत व्यास का पुत्र रजनीकांत व्यास पुलिस को चकमा देने में सफल हो गया है। काग्रेसियों ने पुलिस थाने के सामने धरना देकर आरोपियों को पकड़ने की मॉग कीउक्त घटना के बाद आज जिला कॉग्रेस अध्यक्ष सुरेश अग्रवाल, पूर्व मंत्री विजय दुबे काकू भाई, पियूष शर्मा, प्रमोद यादव ,संतोष मालवीय, महेन्द्र सिंघई सहित १५० कॉग्रेसियों ने नारेवाजी कर पुलिस थाने के सामने आधे घंटे धरना देकर भाजपा नेताओं की करतूत पर उन्हें तत्काल गिरफ्तार करने की मॉग की एवं उनके पूर्व के सभी आपराधिक मामलों में कार्यवाही की मॉग की। पूर्व से विवादित एवं अपराध दर्ज है रजनीकांत पर पूर्व में रजनीकांत व्यास की संस्था नर्मदाचंल क्रय विक्रय समिति के द्वारा गेहॅू खरीदी में किसानों के साथ ज्यादा तौल कर लाखों रूपये की अनियमितताओं के लिये होशंगाबाद कलेक्टर निशांत बरबडे ने उक्त संस्था का २०१० में गेहॅू खरीदी से बाहर कर दिया जिसपर उक्त संस्था के अध्यक्ष द्वारा खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण के आयुक्त का फर्जी पत्र द्वारा स्वयं की संस्था को दोषमुक्त बतलाते हुये वर्ष २०११ में खरीदी कार्य कराये जाने का पत्र होशंगाबाद कलेक्टर के समक्ष प्रस्तुत किया, कलेक्टर द्वारा इस सम्बन्ध में आयुक्त महोदय से चर्चा की गयी तो उन्होंने किसी प्रकार का पत्र न लिखे जाने की पुष्टि की जिसपर होशंगाबाद पुलिस थाने में रजनीकांत के खिलाफ ७ मार्च २०११ को धरा ४०९ए४२० एवं १२० के तहत अपराध दर्ज किया गया है।(आत्माराम यादव )

Top

जनचेतना यात्रा की आम सभा

बटियागढ़।कांग्रेस की जन चेतना यात्रा मे सबसे पहले अजय सिंह नेता प्रतिपक्ष द्वारा तहसील के ग्राम ऑजनी बेलखेडी से एक विद्गााल आम सभा को सम्बोधित किया उन्होने म.प्र. के मंत्रीयो के साथ भाजपा सरकार को जम कर कोसा और पथरिया विधान सभा मे विकास के पैसो का दुरूप्योग का जुम्बा कृषि मंत्री डा.रामकृष्ण कुसमरिया को दिया और गरीबो का पैसा मंत्रीयो के जेव मे है एवं विकास के नाम पर सरकार राजनैतिक रोटियां सेक रही और उन्होने मुखयमंत्री के रिस्तेदारो को करोडो रूपेय के ठेको मे हुये व्यापक भ्रष्टाचार की बात कही गयी एवं पैसो कें नाम पर राज्य सरकार केन्द्र सरकार को बदनाम कर रही जबकी सबसे ज्यादा पैसा केन्द्र सरकार दे रही ग्राम ऑजनी के जनसभा के विद्गााल जनसमूह को देखते हुये लोक सभा कांग्रेस प्रभारी राजेद्गा तिवारी को धन्यवाद दिया मे सतत लोगो के बीच गरीब आसाह लोगो की मदद करने को मिद्गान २०१३ मे कांग्रेस का साथ देने के लिये लोगो से कहा एवं भ्रष्ट सरकार द्गिावराज सरकार के नारे भी लगवाये इसके बाद चनचेतना यात्रा बटियागढ ,खडेरी एवं केरबना ,पथरिया मे जगह जगह नेताप्रतिपक्ष अजय सिंह का फूल माला ओ से स्वागत किया गया इनकर रही उपस्थिती रामेद्गवर चौरसिया,सतीष मिश्रा,रज्जाव खांन,मनीषा दुबे,गोविंद सींग,श्रीमति सिरौठिया,के साथ अनेक कांग्रेस के पदाधिकारीयो की उपस्थिती रही(अंकित पाण्डेय )

Top

दलालों को उपकृत करने में लगी सरकार

हटा गुरूवार को जनचेतना यात्रा पथरिया विधानसभा क्षेत्र के लिए रवाना हुई। यात्रा के रवाना होने के पहले सभी कांग्रेसी नेताओं ने देवश्री गौरीद्गांकर मंदिर में दूल्हारूप में विराजे भगवान गौरीद्गांकर एवं मां पीताम्बरा देवी के दर्द्गान किये। नगर के मुखय मार्गो से होती हुई यात्रा सुबह नावघाट कांग्र्रेसी नेता राजेद्गा त्रिवेदी के निवास पर पहुंची जहां नेता प्रतिपक्ष ने डा. संजय त्रिवेदी से गोपनीय चर्चा की। इसके बाद यात्रा बड़ा बाजार, बस स्टेंड होती हुई, पथरिया विधानसभा क्षेत्र के लिए रवाना हुई। हारट गांव पहुंचने पर नेता प्रतिपक्ष की गाजे बाजे के साथ अगवानी हुई। कांग्रेसी नेता मनीषा दुबे के समर्थकों ने अगवानी के साथ नारेबाजी की। सभी कार्यकर्ताओं से भेंट करने के बाद काफिला बरोदा तिराहा पहुंचा जहां लोगों ने नेता प्रतिपक्ष को क्षेत्र में बिजली की समस्या से अवगत करते हुए बताया कि चार साल से गांव में डीपी नहीं रखी जा रही। बिजली के न होने से किसानों को अच्छी उपज भी नहीं मिल पा रही है। फतेहपुर से आए किसानों ने बताया कि गांव में जल संसाधन विभाग के द्वारा बनाया जा रहा तालाब विगत चार वर्षो से पूरा नहीं हो पा रहा है। हर बार नई दरों के आधार पर बिलों का भुगतान ठेकेदार के द्वारा लिया जा रहा है। निर्माण कार्य में भी गुणवत्ता नहीं है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि कांग्र्रेस की सरकार आते ही एक एक कार्य की जांच कराई जाएगी। दस साल से जो कष्ट और दुख झेल रहे हो उसका कर्ज तुम्हारे एक वोट से उतर सकता है। जो नेता जनता का दुख दर्द नहीं समझती उसे जनता एक ही दिन में दूर कर देती है। सारी अनियमितओं को विधानसभा में भी उठाया जाएगा। अजय सिंह ने हिनौती, मगरोन में जनता से अगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के पक्ष में कार्य करने का आव्हान करते हुए कहा कि प्रदेद्गा की भाजपा सरकार दलालों को उपकृत करने में लगी हैं, प्रदेद्गा का हर गरीब दुखी है, उसे सिर्फ लुभावने नारे एवं नौटंकी बाज मुखयमंत्री के चित्र ही मिले है। (संजय जैन )

Top

नारों से गुंजी नगर की गलियां

दमोह-जय बलराम,जय किसान केञ् जयकारों से गुंजती गलियां,आतिशबाजी की गूंज और ढोलों की थाप पर झूमते किसान सैकडों की तादाद में वाहन जी हां एैसा ही कुञ्छ नजारा था गोपाल पटैल केञ् प्रथम नगरामन केञ् अवसर का। ज्ञात हो कि भारतीय किसान संघ केञ् महाकौशल प्रांत की गत दिवस बालाघाट को आयोजित बैठक में जिले केञ् ही पालर ग्राम केञ् निवासी गोपाल पटैल को प्रांताध्यक्ष निर्वाचित किया गया था। इनका अध्यक्ष बनने केञ् बाद प्रथम नगरागमन था जहां स्थानीय जबलपुर नाका पर जिले भर केञ् किसानों ने भारतीय किसान संघ केञ् जिलाध्यक्ष रमेश यादव केञ् नेतृत्व में पहुंच भव्य स्वागत किया। सैकडों की तादाद में चार पहिये एवं दो पहिये केञ् साथ एक विशाल रैली का शुाारंभ किया गया। एक खुली जीप में गुलाबी साफा बांधे पुष्पहारों को धारण किये श्री पटैल केञ् साथ प्रांत सहकोषाध्यक्ष विवेक सप्रे उपस्थित थे । विशाल वाहन रैली कीर्ति स्तंभ,बैंक चौराहा,बस स्टेण्ड,स्टेशन चौराहा,राय तिराहा,घण्टाघर पहुंची। सारे मार्गों को स्वागत द्वारों बेनरों से सजाया हुआ था तो वहीं अनेक संगठन केञ् लोगों द्वारा पुष्पहारों एवं शीतल पेयजल से स्वागत किया गया। वहीं रैली टाकीज तिराहा स्थित प्राचीन श्रीराम मंदिर पहुंची जहां श्री पटैल ने मर्यादा पुरूञ्षोाम श्रीराम का पूजनार्चन कर आर्शीवाद प्राप्त किया। वहीं समीप स्थित भारतीय किसान संघ कार्यालय में श्री पटैल ने पहुंच भगवान बलराम केञ् चित्र पर माल्यापर्ण किया। पुष्पहारों से किसान संघ केञ् पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया। इसकेञ् पश्चात्‌ वह लक्ष्मण कुञ्टी पहुंचे जहां पवन पुत्र हनुमान का पूजन किया और आशीष प्राप्त करते हुये गृह ग्राम पालर पहुंचे। इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ केञ् विभाग कार्यवाह रामलाल जी, प्रांतीय सदस्य,जिलाउपाध्यक्ष दिनेश पालीवाल,खिलान पटैल,चन्द्रभान पटैल,डीपी पटैल,मनीष जैन,गजराज सिंह,भवानी पटैल,आरसी पटैल,द्वारका पटैल,रामेश्र्वर पटैल,उमेद सिंह,चन्द्रभान पटैल,कमलेश पटैल,प्रदीप पटैल,नरोाम पटैल,जयकुञ्मार पटैल,हरिश्चन्द्र पटैल,श्रीमती सीमा पालीवाल,महेश पटैल,विद्यारानी,मुकेञ्श,हरवंश पटैल,जागेश्र्वर पटैल,हीरालाल पटैल,निजाम सिंह,जगत सिंह,परमानंद शुタला,रामनाथ यादव,जयसींग,रामभजन,हरीराम पटैल सहित भारतीय किसान संघ केञ् पदाधिकारी एवं हजारों किसानों की उपस्थिति रही।

Top

भारतीय किसान संघ गैर राजनैतिक संगठन

दमोह/जिप्र/भारतीय किसान संघ एक गैर राजनैतिक संगठन है सरकार भारतीय जनता पार्टी की हो या फिर कांग्रेस या अन्य किसी भी दल की किसान विरोधी नीतियों का हम विरोध करते हैं और करते रहेंगे यह बात भारतीय किसान संघ केञ् महाकौशल प्रांत केञ् प्रांताध्यक्ष गोपाल पटैल ने कही। वह स्थानीय पत्रकारों केञ् प्रश्नों केञ् उार दे रहे थे। ज्ञात हो कि हाल ही में प्रदेश केञ् बालाघाट में आयोजित एक बैठक में श्री पटैल को महाकौशल प्रांत का अध्यक्ष निर्वाचित किया गया था जिसकेञ् बाद उनका यह प्रथम नगरागमन था। इन्होने कहा कि मैं पूर्व में किये गये समस्त आंदोलनों एवं अन्य कार्य जो भी संघ केञ् तय निर्णय केञ् अनुसार हुये आप सबका साथ मिलता रहा है और आपकेञ् सहयोग की और अधिक आवश्यकता है जब प्रांत का नेतृत्व मुझे सौंपा गया है। एक प्रश्र्र केञ् उार में इन्होने कहा कि किसानों की समस्याओं को लेकर हम जहां कार्य करते हैं तो वहीं दूसरी ओर रचनात्मक कार्य भी करते हैं। गत बर्ष देश में संघ द्वारा त्त्म् लाख किसानों का रक्तञ् परीक्षण कराया जबकि ख्ख् हजार किसानों ने रक्तञ् दान किया। लगभग त्त् हजार म् सौ कार्यक्रञ्म छोटे बडे देश में हुये। सामाजिक जागरूञ्कता केञ् साथ भीषण जल समस्या को लेकर देश केञ् प्रत्येक ग्राम केञ् ताल तलैया ,कूञ्पों,नदियों का जल एकत्रित कर ग्रामलृग्राम में जल का महत्व बतलाते हुये एकत्रित जल को लेकर संघ केञ् हजारों किसानों ने एकत्रित हो भगवान महाकाल का जलाभिषेक किया। एक प्रश्र्र केञ् उार में इन्होने कहा कि हमारे लिये राष्ट्र सर्वोपरि है राजनैतिक दल नहीं और जो भी किसानों केञ् हित के विरूञ्द्ध की बात करेगा वह कोई भी हो उसका विरोधहोगा। इन्होने कहा कि आपको याद होगा कि व्ही टी बेगन और व्ही टी काटन केञ् साथ डंकल का पुरजोर विरोध भारतीय किसान संघ ने किया था। एक प्रश्र्र केञ् उार में इन्होने कहा कि प्रदेश केञ् गृह मंत्री का यह बयान कि किसान संघ विश्र्वासघाती है उनकी सोच का परिणाम है कहने का मतलब साफ है जिसकी जैसी मानसिकता होती है उसकी वैसी सोच होती है। एक प्रश्र्र केञ् उार में इन्होने कहा कि गेंहु की खरीदी,उसका मूल्य तय करना तथा बारदाना उपलध कराना की जिमेदारी केञ्न्द्र सरकार की होती है और नियमों केञ् तहत क्रिञ्यान्वयन की जबाबदारी राज्य सरकार की होती है । प्रदेश में जो किसानों केञ् साथ घट रहा है उसमें दोनो बराबर केञ् दोषी हैं। एक प्रश्र्र केञ् उार में इन्होने कहा कि बरेली में हुये गोली कांड केञ् प्रशासन पूरी लापरवाही मैं मानता हूं। अभी एक ज्ञापन केञ् माध्यम से हमने सरकार को चेताया था उक्तञ् मामले में भोपाल में भारतीय किसान संघ की बैठक क्ख् मई को आयोजित की गयी है उसमें अगली रणनीति पर विचार और निर्णय होगा । मैं फिर स्पष्ट कर दूं कि किसान विरोधी कोई भी पार्टी की सरकार हो बर्दास्त नहीं किया जायेगा। एक प्रश्न केञ् उार में इन्होने बतलाया कि मेरा प्रयास होगा कि प्रांत में किसानों को अपने हक केञ् लिये जागृत किया जाये। पढे लिखे लोग जो कि खेती से दूर होते जा रहे हैं उनको आधुनिक खेती केञ् बारे में जानकारी दे जोडा जाये। एक प्रश्र्र केञ् उार में यह दुभार्ग्य है कि जिले में दोलृदो मंत्री होते हुये भी पानी की समस्या हल नहीं हो सकी। पंचम नगर योजना जो कि जिले केञ् लिये वरदान साबित हो सकती थी タया स्थिति में है आप सब जानते हैं। भारतीय किसान संघ ने जिले केञ् लिये अनेक मामलों में आवाज उठाई जिसमें पंचम नगर भी एक है। इन्होने एक प्रश्र्र केञ् उार में कहा कि मेरा व्यक्तिञ्गत अनुभव कहता है कि जैविक खेती आवश्यक है परन्तु यह भी सच है कि जैविक खेती मात्र से खेती को लाभ का धन्धा नहीं बनाया जा सकता। इन्होने इससे जुडे अनेक उदाहरण प्रस्तुत किये। पत्रकार वार्ता केञ् दौरान पूर्व में मीडिया प्रभारी पत्रकार डा.एल.एन.वैष्णव ने श्री पटैल केञ् बारे में जानकारी देते हुये बतलाया कि यह सौभाग्य का विषय है कि किसानों केञ् एक वृहद संगठन केञ् प्रांत का नेतृत्व करने केञ् लिये श्री पटैल को चुना गया है। इन्होने बतलाया कि जिले केञ् पालर ग्राम में क्ऽम्त्त् में जन्में श्री पटैल राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ केञ् प्रचारक भी रहे हैं एवं संघ केञ् ही विभिन्न दायित्वों का निर्वाहन करते हुये भारतीय किसान संघ केञ् प्रांत महामंत्री भी रहे हैं। वह पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर केञ् वर्तमान में डायरेタटर भी हैं। इस अवसर पर प्रांतीय सहकोषाध्यक्ष विवेक सपे्र एवं जिलाध्यक्ष रमेश यादव भी उपस्थित रहे।

Top

मुख्यमंत्री को गेहूं खरीदी की जानकारी

होशंगाबाद/नर्मदापुरम्‌ संभाग के संभागायुक्त श्री अरूण तिवारी ने ाज यहाँ एन ाईसी में समाधान ॉन लाईन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को नर्मदापुरम्‌ संभाग में गेहूं खरीदी तथा भंडारण की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि होशंगाबाद जिले में एक लाख ४० हजार मेट्रिक टन गेहूं के भडारण के लिए प्लानिंग कर ली गई है। इसी प्रकार हरदा जिले में डेढ लाख मेट्रिक टन गेहूं का भंडारण की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने बताया कि संभाग में जैसे ही बारदाने प्राप्त होते है सभी संबंधित खरीदी केन्द्रों पर तत्काल भेज दिये जायेंगे। श्री तिवारी ने बताया कि संभाग में बैतूल जिले में गेहूं खरीदी की कोई समस्या नही है वहाँ गेहूं खरीदी का कार्य प्लानिंग के मुताबिक पूरी मुस्तैदी से किया जा रहा है। इस मौके पर वीडियो कांफ्रेसिंग में मुख्य मंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने ाश्र्वस्त किया कि जोभी व्यय होगा उसका सरकार -ारा वहन किया जाएगा। उन्होंने गेहूं खरीदी का कार्य उत्सव के रूप में ानंद से पूर मुस्तैदी से करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि इसे चैलेंज के रूप में स्वीकार कर पूरी प्रशासनिक दक्षता के साथ किसानो का एकएक दाना गेहूं खरीदा जाए। साथ खरीदी केन्द्रो पर ाने वाले किसानो के लिए भोजन, पानी तथा न्य व्यवस्था भी की जाए ताकि किसानो को किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े तथा उनका गेहूं खरीदा जा सके।उन्होंने स्पष्ट किया कि बारदानो के अभाव में गेहूं खरीदी किसी भी स्थिति में न रूके किसानो का गेहूं हरहाल में खरीदा जाए तथा किसानो को मैसेज देकर धिक से धिक प्रचारप्रसार कर गेहूं खरीदी तथा गेहूं के भंडारण की समुचित व्यवस्था हो। इसके सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम किये जाए। इस मौके पर मुख्य सचिव ार.परशुराम ने नर्मदापुरम्‌ संभाग में गेहूं खरीदी तथा भंडारण पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने विश्र्वास व्यक्त कि संभाग में गेहूं खरीदी का कार्य कारगर ढंग से किया जा सकेगा। इस वसर पर कलेक्टर निशांत वरवडे, उप पुलिस महानिरीक्षक निल गुप्ता, एसपी. ाई.पी. रजरिया, उपायुक्त विकास एम.एल.वर्मा भी उपस्थित थे(आत्माराम यादव )

Top

आक्रोशित किसान गेहॅू उठाकर घर ले जा रहे है

होशंगाबाद-जिले की १३९ समर्थन मूल्य गेहॅू खरीदी समर्िैतयों में चारों ोर गेहॅू का ंबार लगा है, बादलों के बरसने से करोड़ों का गेहॅू गीला हो गया है, नेक जगह सड़ने की स्थिति बन गयी है। किसान एक सप्ताह से वारदानों के इंतजार में टेक्टर ट्रालियों किराये से लाकर पने नजदीकी खरीदी केन्द्र पर गेहॅू बेचने ाया लेकिन वारदानों के न होने पर ब किसानों ने खरीदी केन्द्रों से पना गेहॅू उठाकर घर ले जाना शुरू कर दिया है। इधर प्रशासन ने बिगड़ती स्थिति को देखते हुये किसानों से धीरज रखने की पील के साथ विश्र्वास दिलाया है कि ापके दर्द को हम समझते है, ापका एक एक दाना खरीदा जायेगा, किन्तु जिले का किसान ाक्रोशित हैँ । जिले के पिपरिया ब्लाक की रामपुर, सांडिया, सेमरीतला, गाडाघाट पचलावारा, केन्द्रों पर ५० हजार क्विंटल से धिक गेहॅू गीला पड़ा हु ा है जिसका परिदान नहीं किया गया है। खुले में रखे गेहॅू को ावारा मवेशी खा रहे है लेकिन समर्िैतयों के पास कर्मचारी नहीं जो मैदान में रखे गेहॅू की सुरक्षा ौर निगरानी कर सके। होशंगाबाद मंण्डी में एक लाख क्विंटल गेहॅू खुले में पड़ा है ौर यहॉ एक पखवाड़े से तुलाई रूकी हुई है जिससे मण्डी के चारों ोर ३०० से धिक ट्रालियॉ टोकन प्राप्त करने कली प्रतीक्षा में है जिसमें दो दर्जन से धिक ट्रालियॉ का गेहॅू किसान सिफर्ँ इसलिये वापिस ले गया क्यैेंकि उसे ट्राली के नुबन्ध नुसार ढुलाई का २ हजाररूपये भाड़ा के लावा र्प्रैतदिन ५०० रूपये ट्राली का भुगतान करने कोमजबूर होना पड़ रहा है लेकिन गेहॅू तुलने का नाम नहीं ले रहा है। यही आलम बाबई की ॉचलखेड़ा समर्िैत में देखने को मिला जिसमें ग्राम शुक्करवाड़ा क़ृषिफार्म के कृषक लखन यादव, गुलाब यादव पना माल ट्रालियों में उठाकर ले गये, उनका कहना रहा कि उन्होंने २७ प्रेल को गेहॅू समर्िैत में पटका लेकिन वारदानों के कारण उनका नम्बर ाने के बाद भी १ मई को तुलाई होना थी लेकिन ाज ९ मई होन पर तुलाई नहीं हो हुई ौर उन्हें बेबजहर दिन रात पने ढ़ेर की रखवाली करना पड़ रही है। इधर कलेक्टर निशांत वरवडे ने सभी सेक्टर धिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे पने क्षेत्र में सतत भ्रमण कर संबंधित खरीदी केन्द्रों में सुरक्षित रूप से बारदाना पहुँचाए ताकि किसानो का गेहूं खरीदा जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि सभी पंजीकृत किसानो को एसएमएस करने तथा जब सूचना दी जाए तब ही खरीदी केन्द्रो पर पना गेहूं लाने की सलाह दें। किसानो से कहा गया है कि उन्हें जब सूचना प्राप्त हो तब ही गेहूं खरीदी केन्द्रो पर लाने के लिए कहा जाए। किसानो को विश्र्वास दिलाया गया है कि सभी पंजीकृत किसानो का संपूर्ण गेहूं खरीदा जाएगा। वे निश्च्िंात रहे तथा सूचना का इंतजार करे। बताया गया कि बारदाने कीएक रैक शीघ्र ही पहुँचने वाली है जैसे ही बारदाना प्राप्त होता है बारदाना सभी संबंधित खरीदी केन्द्रो में भेजा जाएगा। स्ांभावना जताई गई है कि बारदाने की रैक यथाशीघ्र प्राप्त होने वाली है। कलेक्टर ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे प्राप्त होने वाले बारदाने वितरण की प्लानिंग कर ले तथा जैसे ही बारदाना प्राप्त हों तत्काल संबंधित खरीदी केन्द्रो पर भेंज दें। कलेक्टर ने स्पष्ट किया है कि जोभी सहकारी समिति गेहूं लोडिंग तथा नलोडिंग नही करेगी उसका भुगतान रोक दिया जाएगा। इसके लिए समिति की ही जिम्मेदारी सुनिश्च्िात होगी। प्रयास यह हो सभी किसानो का गेहूं खरीदा जा सके यदि संभव हो तो छोटे एवं मध्यम किसानो का गेहूं पहले खरीदा जाए इसके पश्चात न्य बड़े किसानो का गेहूं खरीदा जा सकता है। यह व्यवस्था सहकारी समिति स्तर पर की जा सकती है। जो बारदाने संबंधित खरीदी केन्द्रो पर सुरक्षित रूप से पुलिस भिरक्षा में भेजे ताए ताकि संबंधित खरीदी केन्द्रो पर बारदाना पहुँच सके। कलेक्टर ने सभी सेक्टर धिकारियों को निर्देश दिए है कि वे पने क्षेत्रो के भ्रमण के दौरान किसानो को समझाईश दें कि उनका एकएक दाना गेहूं खरीदा जाएगा। वे परेशान न हो ौर जब उन्हें एसएमएस मिले या फोन पर सूचना मिले तब ही खरीदी केन्द्र पना गेहूं लेकर ाए।(आत्माराम यादव )

Top

केन्द्रीय मंत्री सिंधिया का भव्य स्वागत

दमोह। केन्द्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री तथा युवाओं के प्रेरणाश्रोत श्रीमंत्‌ ज्योतिरादित्य सिंधिया के कटनी से दिल्ली जाते समय दमोह रेल्वे स्टेशन पर कांग्रेस जनों द्वारा भव्य स्वागत किया गया। कांग्रेस नेता सुनील गौतम के नेतृत्व में श्री सिंधिया का स्वागत करते हुये समस्त कांग्रेस जनों ने प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों तथा किसानों के साथ हो रहे भेदभाव की शिकायत करते हुये एक वृहद आंदोलन हेतु दमोह आमंत्रित किया। जिस पर श्री सिंधिया ने शीघ्र ही दमोह आने की सहमति जताई। इस अवसर पर श्री सिंधिया का स्वागत करने वालों में प्रमुख रूप से जिला कांग्रेस कमेटी के पूर्व प्रवक्ता सुनील गौतम,जिला कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष रतनचंद जैन, जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हरीशंकर चौधरी, नगर पालिका अध्यक्ष मनु मिश्रा, निगरानी समिति के चेयर मेन सतीश नायक, महामंत्री सतीश जैन कल्लन, महिला कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमति सुशीला सिरौठिया, शहर कांग्रेस अध्यक्ष अरूण टंडन, सेवादल के जिला अध्यक्ष वीरेन्द्र दवे, जिला कांग्रेस प्रवक्ता विपिन टंडन, पूर्व महामंत्री ललित नायक, युवक कांग्रेस अध्यक्ष राजेश तिवारी, उपाध्यक्ष लालचंद राय, सोनू जैन, शहर कांग्रेस प्रवक्ता अमर सिंह राजपूत, मुख्तार जाफरी, सीतू पंडा, रोशन नायक, योगेश वाजपेयी, अनिल जैन, प्रदीप पटैल, संजय चौरसिया, चंदू ठाकुर, यशपाल ठाकुर, यशपाल चौधरी, प्रशांत सेन, राजवीर तिवारी, करन सींग परिहार, सचिन दुबे, संतोष विश्वकर्मा, अनुनय श्रीवास्तव, आशीष तंतुवाय, ब्रजेश उपाध्याय, दीपक दुबे, राजा राय, मनीष चौरसिया, विज्जू सोनी, माखन खटीक, अखलेश पट्टा, प्रफुल्ल श्रीवास्तव, सादिक काजी, रजनी ठाकुर, निधि श्रीवास्तव सहित सैकड़ों की तादाद में कांग्रेस जन उपस्थित रहे। इसके पूर्व श्रीमंत्‌ ज्योतिरादित्य सिंधिया का बांदकपुर स्टेशन पर भी भव्य स्वागत किया गया। इस अवसर पर प्रमुख रूप से योगेश वाजपेयी, सीतू पंडा, रोशन नायक, सरपंच गनेशी बाई, लाखन सींग, भवानी राय, चतुर सींग, अनिल जैन, आशीष तिवारी, सुनील तिवारी, बब्लू राय, रामचरण गुप्ता, राजेश पाठक, मुकेश राय आदि सहित सैकड़ों की तादाद में कांग्रेस जन उपस्थित रहे। यहां पर कांग्रेस जनों ने प्रसिद्घ जागेश्वर नाथ तीर्थ स्थल में कुछ ट्रेनों के स्टापेज की मांग को लेकर एक ज्ञापन भी सौपा।

Top

तो बच सकते है पौधे

मड़ियादो सासन द्वारा लाखों रूपए खर्च कर पथ पौधारोपण कराया गया था जिसके रखरखाव के लिय ट्रीगार्ड निर्माण कराऐ गए थे लेकिन सासन के ही बेपरवाह नुमाईन्दों की अनदेखी के चलते पौधे ट्रीगार्ड जमीदोज होने के साथ साथ पौधे भी नच्च्ट हो गए किस्मत से जो पौधे जीवित है वह बदहाल है बार बार जानवरो का निवाला बनने से पौधों की बाड प्रभावित हो रही है। हटा व्लॉक के मडि यादो, रजपुरा, दामोतीपुरा, नारायणपुरा, पाठा, द्गिावपुर, बर्धा, अमझिर, निवास, घोघरा, बछामा, चौरईया सहित गांवों में मनरेगा के तहत लाखों रूप्ए खर्च कर हरीयाली महोत्सव व पथ पोधारोपण कराया गया था मडि यादो के जीवन लाल पटैल ने बताया बेरियल तिराहा से कंचन नाले के समीप लगाऐ गए पौधे ट्रीगार्ड नच्च्ट होने से सुरक्षित नही रहें अनेक टूटी ट्री गार्डो में आज भी पोधे जीवित है लेकिन जैसे ही पौधों में पत्ते आते हे जानवर निवाला बना लेते हे जिस से पौधे की बाड़ रूक गई है यदि ट्री गार्ड ठीक करा दिए जाए ेतो पुराने पोधे पेड बन सकते है। सरमन आदिवासी ने बताया ऐसा ही हाल निवास पाठा का है यहा भी पौधे रखरखाव ना होने से पनप नही रहे। ग्राम विकास प्रस्फूटन समिती अध्यक्ष नरेन्द्र सोनी सचिव सुरेद्गा पटैल द्वारा जिन टूटी ट्रीगार्ड में पौधे जिंदा है उनके सुधार की प्रसासन से मांग की है। इस सवंध में जनपद सीईओ आरपी लोधी का कहना है रखरखाव के चलते जो पौधे पनप नही रहें उन पौधे की सुरक्षा के लिए सरपंच सचिवों से बात कर बचाने का प्रयास करेगे।(युसूफ पठान )

Top

दूर दूर से भक्त कुंडलपुर पहुंचे

हटा आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के परम द्गिाष्य मुनि श्री चिन्मयसागर जी महाराज जंगल वाले बाबा के २५ वें रजत मुनि दीक्षा महोत्सव वर्ष २०१२सिद्धक्षेत्र कुंडलपुर में प्रारंभ हुआ। इस आयोजन में भाग लेने दूर दूर से भक्त कुंडलपुर पहुंचे। महोत्सव का प्रारंभ भक्तों के द्वारा बड़ेबाबा का अभिषेक, शांतिधारा, पूजन के साथ हुआ। द्वितीय चरण में विद्याभवन में को भक्तों के द्वारा मुनि श्री चिन्मय सागर महाराज की आरती पूजन की गई। बाहर से भक्तों ने श्रद्धा भाव के साथ रजत मुनि दीक्षा पर्व पर चलने वाले विभिन्न आयोजनों में समर्पणभाव से सहयोग करने का संकल्प लिया। रजत मुनि दीक्षा पर्व महोत्सव का आयोजन श्री चिन्मय सागर चेरीटेबल ट्रस्ट के द्वारा किया गया। इसके अंतर्गत वर्ष भर २५ स्वास्थ द्गिाविर, २५ विकलांगों को जयपुर पैर लगवाएं जायेंगें, २५ विकलांगों को ट्राईसाइकिल, २५ रोगियों का निःद्गाुल्क इलाज, २५ सरकारी अस्पतालों में सुविधा सामान उपलब्ध कराना, २५ सौ लोगों को शुगर, दर्द, हार्ट की दवा का वितरण, २५ छात्रों को निःद्गाुल्क द्गिाक्षा उपलब्ध कराना, २५ स्कूलों के गरीब छात्रों को ड्रेस, पेन, कापी, किताब आदि का वितरण, २५ स्कूलों में वाटर कूलर, टेबल, कुर्सी आदि प्रदान करना, २५ प्रतिभा सम्पन्न खिलाडि यों को खेल सामग्री प्रदान करना, २५ हजार द्गिाक्षकों को उद्‌बोधन मुनिश्री द्वारा, २५ स्कूलों में उद्‌बोधन मुनिश्री के द्वारा, २५ हजार पौधों का रोपड सहित करीब प्रतिभाओं का सम्मान सहित करीब ६५ बिन्दुओं पर काम किया जाएगा। सभी ने बिन्दुओं पर सतत्‌ सहयोग करने की बात कही। इस पर मुनिश्री के चरणों में भक्तों के द्वारा श्रीफल भेंट कर किया गया। विभिन्न क्षेत्रों से आए भक्तों के द्वारा वर्षायोग चातुर्मास के लिए निवेदन किया गया। ५०० से अधिक भक्तों ने जीवन भर नद्गाा, व्यसन, जुआ से दूर रहने का शपथ पत्र भरा। इस अवसर पर सारे दिन धार्मिक आयोजन चलते रहे(संजय जैन )

Top

विस्थापितों को पक्के मकान बनाकर दिये जायेंगे

रीवा समान बस स्टैण्ड के विस्थापित परिवारों को रतहरी स्थित गड़रिया बस्ती में पक्के मकान बनाकर दिये जायेंगे। प्रदेश के ऊर्जा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) राजेन्द्र शुक्ल ने रीवा में विस्थापित परिवारों से मुलाकात की और उन्हें इस जानकारी से अवगत करवाया। ऊर्जा मंत्री श्री शुक्ल ने कहा कि आई.एच.एस.डी.पी. योजना में 144 पक्के मकान बनाये जायेंगे। इनमें से 91 विस्थापित परिवारों को यह मकान उपलब्ध करवाये जायेंगे। उन्होंने इस अवसर पर गड़रिया बस्ती में विस्थापित परिवारों के प्रत्येक मुखिया को एक-एक हजार की मजदूरी राशि भी प्रदान की। ऊर्जा राज्य मंत्री ने अपेक्षा की कि पक्के मकान मिल जाने से विस्थापित परिवार व्यवस्थित ढ़ंग से रह सकेंगे। उल्लेखनीय है कि समान बस स्टैण्ड से पूर्व में 117 परिवारों को विस्थापित कर रतहरी गड़रिया बस्ती में बसाया गया था। इनमें से 91 परिवारों को वहीं पक्के मकान सुलभ हो सकेंगे। इस अवसर पर आयुक्त नगर निगम श्री रमेश सिंह बघेल, कार्यपालन यंत्री श्री शैलेन्द्र शुक्ल सहित नगर निगम के अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित थे।

Top

घायलों को अस्पताल देखने पहुँचे वन मंत्री

भोपाल वन मंत्री सरताज सिंह ने आज हमीदिया अस्पताल पहुँचकर कल भोपाल जिले के बैरसिया में वन माफिया के हमले से घायल उप वन क्षेत्रपाल श्री मगन बिहारी गुप्ता और वन-रक्षक श्री लीला किशन नागर के उपचार और स्वास्थ्य की जानकारी ली। श्री सिंह ने कहा कि घायलों के इलाज का खर्च शासन वहन करेगा। वन मंत्री ने उप वन क्षेत्रपाल श्री गुप्ता को 20 हजार और वन-रक्षक श्री लीला किशन नागर को 10 हजार रुपये की मदद देने की भी घोषणा की। श्री सिंह ने घायलों पर हमला करने वाले लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने के निर्देश भी दिये। उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को वन विभाग का अमला सूचना मिलने पर बैरसिया में अवैध कटाई की लकड़ी जब्त करने गया था। जब्ती के दौरान अमले पर पथराव और मारपीट की गई, जिससे डिप्टी रेंजर श्री मगन बिहारी गुप्ता के सिर सहित कई जगह चोटें आई थीं। श्री लीला किशन नागर के बाएँ पैर में फ्रेक्चर के साथ कई छोटी चोटें भी आई हैं। वन मंत्री के साथ प्रधान मुख्य वन संरक्षक श्री एस.एस. राजपूत भी थे।

Top

किसानों का ५३ करोड़ का भुगतान अटका

होशंगाबाद्‌ जिले के किसानों को गेहॅू बेचने के बाद ५३ करोड़ रूपये का भुगतान खरीदी संस्थाओं से लेना शेष है जबकि जिले में १३९ संस्थाओं द्वारा गेहॅू खरीदी पर शासन की ओर से ७२२ करोडृ रूपये का भुगतान किया जा चुका है ,जबकि उक्त भुगतान में से किसानों को अब भी १०० करोड़ रूपये से अधिक का भुगतान लेना बकाया है। जिले में अब तक ८७ हजार किसानों ने गेहॅू बेचने हेतु अपना पंजीयन कराया था जिसमें से ४२ हजार ९००किसानों द्वारा गेहॅू बेचा गया जिसमें ३७ हजार किसानों को ७२२ का भुगतान हुआ है जबकि ६ हजार किसानों को ५३ करोड़ का भुगतान बकाया है। भुगतान पाने किसानों की लगी लम्बी कतारें इधर जिले में जिन ३७ हजार किसानों को भुगतान होनो बताया जा रहा है उसमें होशंगाबाद, बाबई, इटारसी, सिवनीमालवा, शिवपुर, पुरानी इटारसी, सेमरीहरचन्द, शोभापुर, सोहागपुर, पिपरिया एवं बनखेड़ी की जिला सहकारी बैंक की शाखाओं में भुगतान पाने वाले किसानों की कतारे देखने को मिल रही है और किसान समय पर भुगगान न किये जाने से नाराज है। जबकि हाल ही में किसान संघ इटारसी में मॉग कर चुका है कि जिन किसानों को भुगतान होना बताया जा रहा है उसमें १०० करोड़ से अधिक रूपये की राशि किसानों को उपलब्ध नहीं करायी गयी है। जब इस प्रतिनिधि ने सिविल सप्लाई के मैनेजर श्री बड़ोने से २०४ करोड़ रूपये का गेहॅू असुरिक्षत मैदानों पर होने पर उठाये जाने वाले कदम की जानकारी ली तो उनका कहना है कि इससे कुछ नहीं होता इससे अधिक गेहॅू खुले मैदान में है । ५३ करोड़ के भुगतान के सम्बन्ध श्री बड़ोने ने कहा कि उन्होंने जिला सहकारी बैंक को भुगतान कर दिया है, उनसे पूछिये उन्होंने संस्था को भुगतान क्यों नहीं किया, इस सम्बन्ध में जिला सहकारी बैंक में उत्तर देने के लिये कोई जिम्मेदार अधिकारी नहीं था, जबकि सीईओ के.के. रायकवार का मोबाईल बंद बताया गया।(आत्माराम यादव)

Top

५ करोड़ का गेहॅू वर्षा से हुआ गीला

३०० करोड़ का गेहॅू मैदानों में असुरक्षित होशंगाबाद्‌। तेज हवा के साथ अचानक हुई बरसात के कारण किसानों का खून पसीने से पैदा किया ५ करोड़ रूपये कीमत का गेहॅू होशंगाबाद मण्डी के खरीदी केन्द्रों सहित अन्य स्थानों पर गीला हो गया है तथा वारदानों के अभाव में ३८ करोड़ का बिना तुला हुआ किसानों का गेहॅू गीले होने की कगार पर है जबकि ३०० करोड़ रूपये कीमत का ९८ हजार मीट्रिक टन गेहॅू खरीदी केन्द्रों पर असुरक्षित रखा है। नागरिक आपूर्ति निगम के मैनेजर एलएन बड़ोने के अनुसार जिले में अब तक १३९ खरीदी केन्द्रों द्वारा ५ लाख ६० हजार मीट्रिक टन गेहॅू खरीदा जा चुका है जिसमें ४ लाख २९ हजार मीट्रिक टन गेहॅू का उठाव किया जा चुका है। जिले के इन खरीदी केन्द्रों पर सैकड़ों किसान एसएमएस मिलने के बाद २० अप्रेल से अपनी उपज को खरीदी केन्द्रों के मैदानों में रख चुके है, एक अनुमान के अनुसार प्रत्येक खरीदी केन्द्र पर २००० हजार क्विंटल से अधिक का गेहॅू वारदानों के अभाव में तुलने से बचा हुआ है और किसान दिन-रात तुलाई के इंतजार में अपने गेहॅू के ढ़ेर की रखवाली करने को विवश है। पूरे जिले में ३८ करोड़ रूपये से अधिक का २ लाख ८० हजार क्विंटल गेहॅू वारदानों की कमी के रहते तुल नहीं सका है जिससे किसानों में गहरा आक्र ोश है।होशंगाबाद नगर के ऊपर बादलों ने डेरा डाला जिससे किसानों के माथे पर लकीरे उभर आई, किन्तु कुछ घन्टों के बाद बादल छुटपुट पानी गिराकर चलते बने इस दरम्यान किसानों ने अपनी उपज की सुरक्षा के लिये खरीदी केन्द्रों पर तुलवाई का इंतजार कर रहे अपने ढे़रों पर तिरपाल ,पन्नी से ढ़कने का काम किया। अपरान्ह ३ बजे के बाद फिर पश्चित की ओर से आये बादलों ने नगर को अपनी चपेट में ले लिया और आधे घन्टे तक झूमकर बरसे जिससे ५ करोड़ रूपये के गेहॅू के गीले होने का अनुमान है,होशंगाबाद मण्डी, जासलपुर,निमसाड़िया, नानपा, बुधवाड़ा, रोहना, डोलरिया, बघवाड़ा आदि खरीदी केन्द्रों पर पानी की बौछारों व आधे घन्टे की झडी से यह नुकसान हुआ है किन्तु अधिकारी इसे नुकसान नहीं बता रहे है।(आत्माराम यादव)

Top

लेपटाप खरीदी में २५ लाख दलाली

होशंगाबाद। समर्थन मूल्य पर गेहॅू खरीदी करने वाली जिले की १३९ सहकारी समितियों को ९१ लाख ४ हजार ५ सौ रूपये की राशि लेपटाप खरीदी हेतु मिली ताकि प्रतिदिन के खरीदी रिकार्ड को संधारण किया जाकर भ्रष्टाचार पर रोक लग सके लेकिन उक्त संस्थाओं में लेपटाप खरीदी में २५ लाख रूपये से अधिक का कमीशन खाकर अधिकारियों ने घटिया सामग्री खरीदी की है। नागरिक अधिकार जनसमस्या निराकरण समिति के अध्यक्ष ए.आर.यादव ने जिले की १३९ समितियों को ६५ हजार ५०० रूपये प्रति लेपटाप खरीदी में हुये इस भ्रष्टाचार की जॉच की मॉग की है। श्री यादव के अनुसार वृहद स्तर पर लेपटाप खरीदी में जहॉ समितियों को स्वयं के लेपटाप,प्रिंटर्स,चार्जर,बेटरी आदि खरीदी करना थी लेकिन उक्त संस्थाओं को उक्त खरीदी जिला बैंक होशंगाबाद द्वारा खरीद कर दी गयी है जिसमें ७ हजार रूपये का लेपटाप १० हजार रूपये का प्रिन्टर्स, आदि कुल सामग्री का योग किया जाये तो मुश्किल से ३० हजार रूपये में एक संस्था को उक्त सामग्री खरीदी जा सकती है लेकिन संस्थाओं को ंअंधेरे में रखकर उक्त ३० हजार रूपये की सामग्री के ६५ हजार ५ रूपये के बिल बनवाये गये है। यदि अन्य खर्च निकाल भी लिये जाये तो उक्त खरीदी में २५ लाख रूपये का भ्रष्टाचार हुआ है जिसकी जॉच से अपराधियों को बेनकाब किया जा सकता है।श्री यादव के अनुसार इस जिले में समर्थन मूल्य पर गेहॅू खरीदी करने वाली संस्थाओं को प्रतिवर्ष करोड़ो रूपये की आमदनी होती है तथा सार्वजनिक वितरण प्रणाली एवं खाद ्रिबक्री आदि से भी मिलने वाले कमीशन से संस्थाओं को लाभ मिलता है किन्तु इस जिले में सहकारी संस्थाओं को भ्रष्टाचार ने बुरी तरह जकड लिया है और जो संस्था अब तक २५-२५ करोड रूपये का लाभ अर्जित कर चुकी है वे सभी घाटे में चल रही है। गेहॅू खरीदी उपरांत अनाप-शनाप खर्चो से संस्थाओं को घाटे में पहुूचाये जाने के इस खेल को बेनकाब करने को नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा प्रत्येक संस्था को अपना-रिकार्ड संधारण हेतु लेपटाप दिलाये गये है । जिले में वृहद स्तर पर हुई इस लेपटाप खरीदी का भौतिक सत्यापन किये जाने तथा उक्त सामग्री का वर्तमान बाजार मूल्य की स्थिति ज्ञात कर उक्त २५ लाख रूपये से अधिक की हेराफेरी पर नागरिक अधिकार जनसमस्या निराकरण समिति ने जॉचोपरांत अपराध दर्ज करने की मॉग की है(आत्माराम यादव)

Top

फर्जी पंजीयन पर सॅख्त कार्यवाही हो कलेक्टर

होशंगाबाद-खरीदी केन्द्रों पर हो रहे पंजीयन की रेंडम चैकिंग करने के लिए कलेक्टर निशांत वरवडे न सभी सेक्टर अधिकारियों सहित न्य प्रभारी धिकारी तथा जिला पंजीयक को निर्देश देकर जाँच करने को कहा तथा इस दरम्यान किसी किसान ने फर्जी तरीके से तथा दुबारा पंजीयन कराया हो उसके विरूद्घ सख्त कार्यवाही को कहा । कलेक्टर ने ाज यहाँ कलेक्टोरेट में गेहूं उपार्जन की समीक्षा बैठक में दिए। इस वसर पर संयुक्त कलेक्टर श्रीमती सपना शिवाले, डिप्टी कलेक्टर जगदीश गोमे, जिला पंजीयक सहकारिता निल वर्मा भी उपस्थित थे। कलेक्टर ने संबंधित धिकारियों को निर्देश दिए कि वे ट्रक धिग्रहण का कार्य जारी रखे तथा धिग्रहित ट्रको को परिवहन कार्य में लगाए तथा गले १० दिनो के भीतर पूरे गेहूं का परिवहन कराए। उन्होंने इटारसी तथा सिवनीबनापुरा के परिवहनकर्ता ों से कहा कि गेहूं परिवहन तेजी से कराए तथा निर्धारित दिनो के भीतर पूरा गेहूं परिवहन कराए। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बरतने पर सख्त कार्यवाही की जाएगी। बैठक में बताया गया कि जिले के लिए भी बारदाने की ३१०० गठाने प्राप्त हुई थी जिसे खरीदी केन्द्रो में भेजा जा रहा है तथा ागामी दोतीन दिनो में २०० गठाने ौर मिल जाएगी। इसी प्रकार बारदाने की गठाने मंगवाने के प्रयास निरन्तर जारी हैं। संभावना व्यक्त की गई है ागामी दिनो में बारदाने की ौर भी रैक ाने की संभावना है(आत्माराम यादव )

Top

बारदाने की आई रैक, कलेक्टर ने दिए

खरीदी केन्द्रों पर बारदाने भेजने के निर्देश होशंगाबाद- जिले में गेहूं खरीदी केन्द्रों पर बारदाने की ापूर्ति सुनिश्च्िात की जा रही है। जिले को प्राप्त बारदाने खरीदी केन्द्र पर शीघ्र भेजे जा रहे हैं। यह जानकारी कलेक्टर श्री निशांत वरवडे की ध्यक्षता में संपन्न गेहूं उपार्जन की बैठक में दी गई। कलेक्टर ने संबंधित धिकारियों को निर्देश दिए कि वे प्राप्त बारदाने मंडियो तथा न्य खरीदी केन्द्रों पर शीघ्र भेंजे ताकि खरीदी कार्य प्रभावित न हो सके। उन्होंने सेक्टर धिकारियों को निर्देश दिए कि वे पने क्षेत्र में नियमित रूप से भ्रमण कर खरीदी केन्द्रों पर गेहूं खरीदी की जानकारी प्राप्त कर खरीदे गये गेहू के परिवहन का कार्य तेजी से कराए। कम से कम २० हजार मेट्रिक टन गेहूं प्रतिदिन परिवहन कराए। इसके लिए ट्रको का धिग्रहण करे जो ट्रक धिग्रहण करे उसे दो या तीन दिन के भीतर परिवहन के पश्चात छोड़ दे। उन्होंने सेक्टर धिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि वे खरीदी केन्द्रों पर न्य सभी व्यवस्था देंखे जहाँ कही कमी है या कोई समस्या ा रही है उनका निराकरण तत्काल कराए। इसी के साथ पंजीयन के शेष किसानो की जानकारी तथा किसानो को खाद की उपलब्धता तथा केन्द्र से खाद ले जाने के बारे में जानकारी दें ताकि किसान गेहूं विक्रय कर खाद पने साथ ले जा सके। उन्होंने ट्रक धिग्रहण के कार्य में तेजी लाकर धिक से धिक ट्रक धिग्रहण करे तथा ट्रकों -ारा परिवहन हो जाने के पश्चात दो दिन के बाद ट्रक को छोड़ दें। जहाँ कही भी हम्मालों की समस्या ा रही है उनका निराकरण किया जाए वारदाने की रैक आई इटारसी में बैठक में नागरिक ापूर्ति निगम के प्रबंधक बी.एल.बड़ोने ने बताया कि जिले के इटारसी में बारदाने की रैक ाई है जिससे ५०० गठाने प्राप्त हो रही है जिसे सभी मंडियो में भेजा जा रहा है तथा न्य स्थानो से प्राप्त होने वाले बारदानो को न्य खरीदी केन्द्र जहाँ बारदाने की ावश्यकता है वहाँ भेजा जा रहा है। बताया गया कि मुगलसराय से बारदाने की रैक ा रही है जिससे २५२० बारदाने प्राप्त होंगे। (आत्माराम यादव )

Top

गेहूं परिवहन टेक्टर बैलगाड़ियों से भी कराये

होशंगाबाद/ होशंगाबाद जिले में खरीदी केन्द्रों पर रखा गया समर्थन मूल्य के गेहूं के परिवहन के कछुआ गति से होने पर ंततः कलेक्टर निशांत बरबडे ने सॅख्त रूख ख्तियार करते हुये निर्देशित किया कि समय पर ट्रकों के न मिलने पर गेहूं परिवहन के लिए टेक्टर, बैलगाड़ी का भी इस्तेमाल कर सकते है। बैठक में संयुक्त कलेक्टर श्रीमती सपना शिवाले, डिप्टी कलेक्टर जगदीश गौमे, जिला पंजीयक निल गुप्ता, उप संचालक कृषि श्री पाठक भी उपस्थित थे। कलेक्टर ने सभी सेक्टर धिकारियों को निर्देश दिए कि वे पने क्षेत्र में पूरी ताकत के साथ गेहूं के परिवहन के कार्य में जुट जाए। साथ खरीदी केन्द्रों पर व्यवस्था पर विशेष ध्यान दें। उन्होंने डिप्टी कलेक्टर को निर्देश दिए कि वे ट्रक धिग्रहण का कार्य तेज कर धिक से धिक ट्रक धिग्रहण कर गेहूं परिवहन का कार्य तेजी से कराए जो ट्रक धिग्रहण किये जाते हैं उसे २५ प्रतिशत धिक राशि देकर परिवहन कराए। साथ धिग्रहित ट्रक को गेहूं परिवहन के पश्चात दो दिन बाद छोड़ दे। बताया गया कि डोलरिया, बाबई, होशंगाबाद के लिए ट्रक धिग्रहण कर गेहूं परिवहन का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। परिवहन कार्य में लगे परिवहन कर्ता को ७० प्रतिशत ही भुगतान किया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि जो ट्रक धिग्रहित किए जाए उनके वाहन चालको को भोजन की व्यवस्था तथा वाहन में डीजल ादि डलबाया जाए।कलेक्टर के कहा कि ग्राम स्तर पर टेक्टरटालियॉ ली जाकर उनसे परिवहन किराया जाये तथा उनके उपलब्ध न होने की स्थिति में दूरदराज के स्थान जहॉ ट्रक नहीं पहुॅच पा रहे हो वहॉ से बैलगाड़ियों -ारा भी गेहॅू परिवहन कराया जाये। जिले में अभी ११ हजार मेट्रिक टन गेहूं परिवहन हो रहा है इसे बढ़ा कर २० हजार मेट्रिक टन प्रतिदिन कराया जाए ताकि खरीदी केन्द्रो पर रखा गया गेहूं का भंडारण तथा परिवहन हो सके।(आत्माराम यादव )

Top

योजनाओं का लाभ सभी को मिले संभागायुक्त

होशंगाबाद- नागरिकों को लोकसेवा के प्रदाय की गारंटी धिनियम के तहत प्रदत्त सेवा को समय पर उपलब्ध कराया जाना सुनिश्च्िात किया जाए यह निर्देश संभागायुक्त श्री रूण तिवारी ने यहाँ जिला पंचायत सभाकक्ष में संपन्न कलेक्टर कांफ्रेंस में दिए। इस वसर पर कलेक्टर होशंगाबाद निशांत वरवडे, कलेक्टर हरदा सुदामा खांडे, कलेक्टर बैतूल बी.चंद्रशेखर, सीई ो जिला पंचायत कृष्णगोपाल तिवारी, उपायुक्त श्रीमती कुसुम छारी ौर एम.एल.वर्मा भी उपस्थित थे। संभागायुक्त श्री तिवारी ने कलेक्टर्स से कहा कि वे मुख्यमंत्री की प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्च्िात कर कार्यक्रम तथा योजना ों को ामजन तक पहुँचाने के हर स्तर से प्रयास करे। उन्होंने कहा कि संभाग के सभी चिकित्सालयों में ामजन के लिए उपलब्ध सुविधा ों का ध्यान रखकर स्वास्थ्य सुविधा ों का विस्तार करे तथा नागरिकों को चिकित्सा सुविधा का लाभ समय पर दिलाए। उन्होंने भू र्जन के प्रकरणो का समय पर निराकरण करने के लिए कहा। इसी प्रकार उन्होंने राजस्व प्रकरणों के निराकरण में तेजी लाकर प्राथमिकता से प्रकरणों का निराकरण के निर्देश दिए। इसी के साथ वसूली पर ध्यान देकर पने जिले में विशेष भियान चलाकर वसूली सुनिश्च्िात करने के लिए कहा। इसी प्रकार कौशल उन्नयन विकास केन्द्र को विकसित कर नौजवानो को विभिन्न ट्रेडो में प्रशिक्षण दिलाने के निर्देश दिए।संभागायुक्त ने सभी कलेक्टर से कहा कि वे जनपद पंचायत के सीईओ को पने क्षेत्र में नियिमत रूप से भ्रमण कराकर विभिन्न योजना ों तथा कार्यक्रमों के प्रभावी ढंग से संचालन करने के निर्देश देकर नियमित मानिटरिंग कराए। संभागायुक्त ने बैठक के दौरान जन सुनवाई के ंतर्गत ावेदनों के निराकरण, राजस्व प्रकरणों के निराकरण, विवादित ौर विवादित नामांतरण एवं बंटवारा, स्कूल चले भियान, पट्‌टे, नुकम्पा नियुक्ति तथा परिवार कल्याण कार्यक्रम की जानकारी प्राप्त की। इस वसर पर कलेक्टर निशांत वरवडे ने स्पर्श भियान के तहत जिले में हुए कार्यो के प्रगति की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस भियान के तहत निःशक्तजनों के समग्र विकास की दिशा में प्रभावी प्रयास किये हैं(आत्माराम यादव )

Top

बिजली कर्मचारी महासंघ करेगा आंदोलन

छतरपुर। मध्यप्रदेश बिजली कर्मचारी महासंघ द्वारा अपनी क्क् सूत्रीय मांगों का ज्ञापन कपनी प्रबंधक सहित प्रदेश केञ् मुखिया शिवराज सिंह चौहान तक को सौंपा गया लेकिन आज दिनांक तक बिजली कर्मचारियों की मांगे पूर्ण नहीं हो सकी। मप्र बिजली कर्मचारी महासंघ केञ् अध्यक्ष अवधेश कुञ्मार द्विवेदी ने बताया कि अगर जल्दी ही मांगों का पूर्ण निराकरण नहीं किया गया तो महासंघ एक माह पश्चात आंदोलन करेगा। बिजली कर्मचारी महासंघ केञ् खजुराहो डिवीजन केञ् उपाध्यक्ष रविकांत पाठक ने बताया कि मध्यप्रदेश पूर्व क्षेत्र वि.वि.कपनी लि. केञ् प्रबधंक द्वारा कर्मचारियों की उचित मांगों का निराकरण न करने एवं कर्मचारियों का लगातार शोषण करने का ज्ञापन विभागीय अधिकारियों को कई बार सौंपा गया लेकिन विभाग द्वारा बिजली कर्मचारी महासंघ केञ् हित में कोई भी समूचित कार्यवाही नहीं की। उन्होंने बताया कि पूर्व में कई बार विधायकों द्वारा विधान सभा में प्रश्र्र किये गये जिस पर कपनी प्रबंधन द्वारा शासन को पूर्णतः गलत लेख कर गुमराह किया गया। विगत कई वषोर्ं से अपनी मांगे पूर्ण कराने केञ् लिए भटक रहे बिजली कर्मचारी महासंघ ने अब आंदोलन करने का मन बना लिया है। श्री पाठक ने कहा कि अगर एक माह केञ् अंदर मांगे पूर्ण नहीं की गई तो महासंघ एक जुट होकर प्रशासन केञ् विरुद्ध आंदोलन करने को बाध्य होगा। यह है बिजली कर्मचारी महासंघ की मांग मध्यप्रदेश बिजली कर्मचारी महासंघ ने अपनी मांगे बताते हुए कहा कि नौगांव का संविलियन क्भ् अगस्त ख्क् को म.प्र. पूर्व क्षेत्र वि.वि.क.लि. में किया गया तब से आज दिनांक तक सविलियन की प्रक्रिञ्या वरिष्ठ अधिकारियों की लापरवाही एवं उदासीनता केञ् कारण पूर्ण नहीं हो सकी। महगाई भाा फ्फ् प्रतिशत कम मिलना, कर्मचारियों को ख्क् से क्ख् माह की वेतन नहीं दी गई, रिटायर्ड एवं मृत कर्मचारियों को एवं उनकेञ् परिजनों को कपनी द्वारा कोई भुगतान न किया जाना, घोषित वेतन, बोनस आदि न देते हुये उनकेञ् नियमितीकरण की कार्यवाही न होना, कर्मचारियों की मृत्यु केञ् पश्चात परिजनों को सहायता न मिलना, बिजली कर्मचारियों को को सुविधा न मिलना तथा ख् घंटे कार्य लिया जाना आदि मांगे शामिल हैं।

Top

सहकारिता न्यायालय भोपाल ले जाने की तैयारी

होशंगाबाद। २ वर्ष हुये नर्मदापुरम संभाग बनने के बाद दर्जनों संभागीय कार्यालयों का काम आज भी भोपाल से संचालित किया जा रहा है जबकि संभागीय मुख्यालय किये जाने के बाद नर्मदापुरम संभाग में इन कार्यालयों को चालू किया जाना चाहिये था, परन्तु यह दुर्भागय ही कहा जायेगा कि अब यहॉ सहकारिता के संयुक्त आयुक्त कार्यालय को भोपाल में किये जाने की तैयारी की गयी है वहीं होशंगाबाद,हरदा एवं बैतूल जिले के उपपंजीयक कार्यालयों से सभी प्रकार के न्यायालयीन अधिकार छीन कर भोपाल में स्थानान्तरित किये जाने की गुपचुप तैयारी अधिकारियों ने कर ली है जिससे इस संभाग के तीनों जिलों के हजारों पक्षकारों के लिये न्याय पाना जटिल,मॅहगा एवं कष्टदायी हो जायेगा। नागरिक अधिकार जनसमस्या निराकरण समिति भोपाल के अध्यक्ष ए.आर.यादव ने मुख्यमंत्री, सहकारिता मंत्री,पंजीयक सहकारिता सहित तीनों जिले के विधायकों, सांसदों को पत्र लिखकर मॉग की है कि नर्मदापुरम संभाग के होशंगाबाद,हरदा एवं बैतूल जिले की सहकारी समितियों, प्राथमिक उपभोक्ता भण्डारों, गृहनिर्माण समितियों के मध्य आने वाले विवादों,अनियमिततओं आदि किसी भी प्रकार की शिकायत पर जहॉ जिलों में उपपंजीयक सहकारिता द्वारा विधिक प्रक्रिया के तहत जॉच करने, आरोपों पर प्रकरण निर्धारित कर सहकारिता की विभिन्न धाराओं में उन्हें निराकृत किया जाता है किन्तु अब नर्मदापुरम संभाग के जिलों से यह अधिकारछीना जाकर भोपाल पृथक पीठाधीन अधिकारी के समक्ष यह मामले निर्णय हेतु पहुॅचेंगे जिससे संभाग के सहकारी समितियों के हजारों कर्मचारियों को अपना काम छोड़कर भोपाल न्याय पाने भटकना पड़ेगा जो उनके लिये इस मॅहगाई में कमर तोड़ने जैसा होगा। श्री यादव के अनुसार नर्मदापुरम संभाग में जहॉ पूर्णकालिक संयुक्त आयुक्त न्यायालय की स्थापना होना चाहिये वही संभाग के इन जिलों में उपपंजीयक के सहकारी न्यायालयीन अधिकारों को अन्यत्र विलय नहीं किया जाना चाहिये ताकि इन जिलों के पक्षकारों को अपने ही जिले के सहकारिता न्यायालय में प्रकरण सुनने,निराकृत करने के निर्णय से उनके अधिकारों सहित इन जिलों के अधिवक्ताओं के हितों को सुरक्षित रखा जा सकेगा। इस सम्बन्ध में हरदा विधायक एवं पूर्व राजस्व मंत्री कमल पटेल द्वारा पंजीयक सहकारिता को लिखा गया है कि उक्त सहकारिता न्यायालयीन प्रक्रिया का पालन उनके जिले से भोपाल न किया जाये।(आत्माराम यादव )

Top

७३ करोड़ का भुगतान बकाया

होशंगाबादजिले में १३९ खरीदी केन्द्रों पर अभी तक ३८ हजार ७२९ किसानो से ७०९ करोड़ रूपये कीमत का ५ लाख १२ हजार मेट्रिक टन गेहूं खरीदा जा चुका है। जिसमें से २९३ करोड़ ६२ लाख रूपये का गेहॅू खरीदी केन्द्रों पर सुरक्षित पड़ा है। जिले में वारदानों के न रहने से खरीदी केन्द्र सूने पड़े है जिससे किसान, हम्माल,व्यापारी सभी का धंधा चौपट हो गया है इस दरम्यान गेहॅू का विक्रय कर चुके किसानों का ७३ करोड़ रूपये समितियों से लेना निकलता है जिसके सम्बन्ध में किसान परेशान है॥ नेक स्थानों पर खरीदी न होने से त्रस्त किसानों ने नारेवाजी कर खरीदी प्रक्रिया पर प्रश्नचिन्ह खड़ा कर दिया है। नागरिक ापूर्ति निगम के ाज के ॉकड़ों के नुसार जिले के खरीदी केन्द्रों पर ३ लाख ४६ हजार मेट्रिक टन गेहूं का परिवहन किया जा चुका है ौर ३३ हजार २९४ किसानो को ६३६ करोड़ रूपए का भुगतान किया जा चुका है। इन किसानो के खाते में उक्त राशि जमा कराई जा चुकी है किन्तु ाज भी जिले के किसानों को इन खरीदी केन्द्रों से ७३ करोड़ रूपये का भुगतान लेना है जिसे लेकर वे समितियों के चक्कर काट रहे है । जिन किसानों को ६३६ करोड़ रूपया भुगतान किया जाना बताया गया है उसमें से सैकड़ों किसानों के करोड़ों रूपये उनके खाते में नहीं पहुॅच सके है। इस सम्बन्ध में नागरिक ापूर्ति निगम का कहना है कि उन्होंने प्उक्त ६३६ करोड़ रूपये का भुगतान जिला सहकारी बैंक को दा कर दिया है, यह बैंक की जिम्मेदारी है कि वह खरीदी संस्था ों को किस प्रकार भुगतान करती है।किसान,हम्माल,खरीदी वाले सभी वारदानों के न रहने से परेशान समूचे जिले के किसान, हम्माल एवं उपार्जन करने वाले परेशान है। सभी खरीदी केन्द्रों पर वारदाना समाप्त होने के कारण उपार्जन केन्द्रों ने गेहॅू की खरीदी बंद कर दी है जिससे हजारों किसानों का माल मण्डी में ढेर के रूप में है तथा हजारों की सॅख्या में अपनी उपज बैचने के लिये ट्रालियों में भरकर खरीदी केन्द्रों पर विगत ५ दिनों से डेरा डाले हुये है जिसमें उन्हें दिनरात जागकर ट्रालियों में पनी उपज की रखवाली करनी पड़ रही है। नेक स्थानों पर ट्रालियों से गेहॅू चोरी होने की घटना ों के बाद किसान रात को भी जागने को विवश हु ा है। सैकड़ों की सॅख्या में हम्माली कर रहे हम्मालों का बुरा हाल है क्योंकि काम बंद होने से उनका धंधा चौपट हो गया है। कम मजदूरी मिलने वाले हम्मालों का कहना है कि जिले में नेक स्थानों पर हम्माली के लग लग रेट है जिसमें ढेर से कट्टी भरने के एक रूपये साठ पैसे, तुालई का साठ पैसे, सिलाई का बीस पैसे तथा कट्टी का एक रूपये साठ पैसे का भुगतान किया जा रहा है जबकि नेक स्थानों पर धिक मजदूरी दी जाती है। इस सम्बन्ध में जहॉ स्थानीय हम्मालों से काम न लिया जाकर बाहर से ठेके पर ाने वाले हम्मालों से कम मजदूरी दी जाकर काम लेने का चलन है जिसका स्थानीय हम्माल विरोध करते है तो उन्हें धिक रेट पर काम मिल जाता है, जिसका विरोध हो रहा है।व्यवस्था सुधारों नहीं तो किसान आन्दोलन को विवश होंगेकिसान संघ जिले की इटारसी तहसील में गेहॅू खरीदी को लेकर व्यवस्था उत्पन्न होने तथा वारदानों के न रहने से किसानों को १५१५ दिन खरीदी केन्द्रों पर रात गुजारने से परेशान किसानों ने जयस्तम्भ चौक पर जमकर प्रदर्शन कर नारेवाजी की। किसानों का कहना था कि जिन किसानों का गेहॅू बिक गया है उन्हें बैंक से एक माह से धिक समय हो जाने के बाद भी भुगतान नहीं कियागया है जबकि कई किसानों के यहॉ शादीविवाह होने के बाद गेहॅू खरीदी के पश्चात भुगतान न होने पर उन्हें कर्ज लेने को विवश होना पड़ा था। किसानों ने ागे चेतावनी दी कि गेहॅू की समय पर तुलाई की व्यवस्था हो तथा किसान परेशान न हो, इस बावत प्रशासन की ोर से परिवहनकर्ता ों -ारा खरीदी केन्द्रों से गेहॅू का उठाव न करने पर नाराजी व्यक्त की वही समय पर वारदानों की व्यवस्था के लिये चेताया तथा कहा कि यदि दो दिनों में व्यवस्था नही सुधरी तो पूरे जिले के किसान ान्दोलन करने को विवश होंगे।(आत्माराम यादव )

Top

चोंरो ने २ लाख के जेबरात चुराये

होशंगाबाद। नगर के हिल्स व्यू में कालोनी के दो अलग-अलग मकानों में अज्ञात चार-पॉच चोरों द्वारा डेढ़ लाख के जेबरात एवं ५ हजार नगदी पर हाथ साफ किया जिसपर होशंगाबाद पुलिस ने मामला कायम किया है। पुलिस के प्राप्त जानकारी के अनुसार बीती रात डेढ़ बजे के लगभग वार्ड नं१८ हिल्स व्यू ओमकालोनी पहाड़िया के पास आनन्द दुबे के मकान में किराये से रह रहे अनिल गौर के यहॉ ४-५ अज्ञात युवकों ने मकान के पिछले दरवाजे की चटकनी तोड़कर प्रवेश किया और सोने की टाम्पस, मंगलसूत्र,सोने की चूडिया कीमत डेढ़ लाख रूपये एवं ५ हजार रूपये नगदी पर चोरी कर ले गये। वही दूसरी ओर उक्त मकान से कुछ दूरी पर राजेन्द्र मालवीय के मकान में रह रहे कि रायेदार राजेश मालवीय के घर में भी उन्हीं चोरों ने रात तीन बजे के आसपास धावा बोला और ५० हजार रूपये मूल्य के सोने के जेबरात चुराकर ले गये। उक्त घटना के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फॅैल गयी और लोग जागकर उक्त चोरों की तलाश में भागे किन्तु ४-५ की सॅख्या में २५-३० साल के युवकों द्वारा उक्त घटना को अंजाम देकर अंधेरे का लाभ उठाकर भाग खड़े हुये जिसकी दिन भर तलाश के बाद आज शाम ५ बजे पुलिस थाने में अपराध दर्ज कराया गया है(आत्माराम यादव )

Top

बेजुबानों को पानी पिलाना पुनीत कार्य

छतरपुर। हिन्दु उत्सव समिति बेहद नेक कार्य कर रही है। बेजुबान जानवरों एवं प्यास बुझाने इधर उधर भटक रहे पक्षियों को पानी पिलाने से बड़ा पूनीत कार्य नहीं होता। उक्त बातें हिन्दु उत्सव समिति द्वारा जानबरों को पीने के लिए पानी हेतु टंकी रखवाने के अभियान का शुभारंभ करते हुए विधायक ललिता यादव ने कहीं। वार्ड नम्बर १ ललिता यादव के घर में टंकी रखकर हिन्दू उत्सव समिति द्वारा हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी जानवरों को पानी पीने हेतु टंकियां रखवाने का अभियान शुरू कर दिया गया। अक्षय तृतीया के अवसर पर अभियान का शुभारंभ करते हुए विधायक ललिता यादव ने कहा कि हिन्दू उत्सव समिति जो सामाजिक जिम्मेदारी निभाती चली आ रही है वह सराहनीय है। उन्होंने यह भी कहा कि जो भी सामाजिक संगठन सामाज के हित में कार्य करेगा वे अपना भरपूर सहयोग देंगी। हिन्दू उत्सव समिति के संवाद प्रमुख कमल अवस्थी ने अध्यक्ष पवन मिश्रा के हवाले से बताया कि समिति द्वारा अब तक गत वर्षों को मिलाकर करीब साढ़े तीस सौ पानी की टंकियां नगर के अलग अलग स्थानों में रखवाई जा चुकी है। पवन मिश्रा ने कहा कि टंकियों में नियमित पानी अवश्य भरें। उन्होंने कहा कि हर वर्ष पानी की कमी से हजारों पशु पक्षी काल के गाल में समा जाते हैं जिन्हें बचाना हम सब की जिम्मेदारी है। इस अवसर पर समिति के सदस्य मौजूद रहे।

Top

इटारसी में पॉलीटेक्निक कॉलेज खुलेगा

होशंगाबाद/ उच्च शिक्षा एवं जनसंपर्क मंत्री श्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने कहा कि होशंगाबाद जिले के इटारसी में शीघ्र ही पालीटेक्निक कालेज खोला जायेगा इसके लिए भूमि का चयन किया जा रहा है तथा ७.५० करोड़ रूपए की राशि भी स्वीकृत की जा चुकी है। इस अवसर पर विधायक श्री गिरिजाशंकर शर्मा, पूर्व विधायक श्री सीताशरण शर्मा, जनभागीदारी समिति के श्री कठहल तथा महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.एल.एल.दुबे भी उपस्थित थे। उच्च शिक्षा एवं जनसंपर्क मंत्री श्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने कहा कि शासन -ारा शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए हरस्तर से प्रयास किये जा रहे है जिसके परिणाम भी मिलने लगे हैं। उन्होंने बताया कि यहाँ इटारसी महाविद्यालय में जनभागीदारी से बेहतर कार्य हुए है इसका श्रेय विधायक श्री गिरिजाशंकर शर्मा को जाता है। विधायक के नेतृत्व में यहाँ पर महाविद्यालय में जनभागीदारी के समुचित प्रयासो से बेहतर कार्य हुए है। इन कार्यो से न्य महाविद्यालय की समस्याए प्रेरणा ले तथा ौर बेहतर कार्य कराए। उन्होंने बताया कि पिछले दोतीन वर्षो से प्रदेश में नेक नये महाविद्यालय खुले हैं जहाँ पर शिक्षा के क्षेत्र में बेहतर कार्य किया जा सकेगा। उन्होंने ाशा व्यक्त की कि यह महाविद्यालय में बच्चो को ौर बेहतर शिक्षा मिले ऐसे प्रयास सुनिश्च्िात हो। उन्होंने यहाँ पर न्य कलां संकाय के साथ व्यवसायिक एवं टेक्नालाजी के न्य संकाय खोले जाए ताकि छात्रछात्रा ों को उच्च गुणवत्तायुक्त शिक्षा मिल सके।इस अवसर पर विधायक श्री गिरिजाशंकर शर्मा ने महाविद्यालय में जनभागीदारी से हुए कार्य का जिक्र करते हुए यहाँ महाविद्यालय में हुए प्रयास की जानकारी दी।उन्होने गरीब विद्यार्थियों के लिए न्य कोर्स प्रारंभ करने की जरूरत बताई। इस मौके पर महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.दुबे ने महाविद्यालय -ारा जारी पत्रिका मंत्री जी को भेंट की। इस मौके पर मंत्री जी ने यहाँ महाविद्यालय के न्य कक्षो का वलोकन किया तथा यहाँ जनभागीदारी से हुए कार्यो की प्रशंसा की। इस मौके पर जिला पत्रकार संघ -ारा मंत्री जी को ज्ञापन सौंपा गया। पने भ्रमण के दौरान उच्च शिक्षा एवं जनसंपर्क मंत्री श्री लक्ष्मीकांत शर्मा -ारा परशुराम जयंती के वसर पर यहाँ ायोजित कार्यक्रम में शामिल हुए तथा भगवान परशुराम जी के चित्र पर माल्यार्पण कर पूँजा र्चना की। इस वसर पर विधायक श्री गिरिजाशंकर शर्मा, पूर्व विधायक श्री सीताशरण शर्मा, श्री विजय दुबे काकू भाई सहित न्य जनप्रतिनिधि तथा न्य पदाधिकारी उपस्hथित थे।(आत्माराम यादव )

Top

पुरातत्वीय धरोहर को लेकर कार्यशाला

होशंगाबाद/ मध्यप्रदेश की नमोल, सांस्कृतिक एवं पुरातत्वीय धरोहर विरासत से ाम नागरिको को परिचित कराने तथा जागरूकता लाने के लिए २९ प्रेल को प्रातः ११ बजे शासकीय नर्मदा स्नातकोत्तर महाविद्यालय में एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला में सरपंचो, पंचो, शिक्षको, प्रार्चायो, छात्रछात्राए शामिल हो सकेंगे। पुरातत्ववेत्ता व्ही.के.माथुर ने बताया कि इस प्रशिक्षण कार्यशाला में प्रदेश के पुरातत्वीय धरोहर, सांस्कृतिक महत्व एवं विरासत से परिचित कराने के लिए सभी संबंधित धिकारी, इतिहासकार, पुरातत्वविदो को ामंत्रित किया जा रहा है। इस वसर पर पुरात्व के विभिन्न पहलु ो पर चर्चा की जाएगी तथा शोध पत्र भी पढ़े जायेंगे(आत्माराम यादव )

Top

मिंटो हाल कन्वेंशन सेंटर के रूप में

भोपाल- मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने पर्यटन विकास निगम को पुराने विधानसभा भवन (मिंटो हाल) के संरक्षण और जीर्णोद्धार की विस्तृत कार्य-योजना बनाने के निर्देश दिये हैं। भवन सौ वर्ष पुराना है। श्री चौहान ने प्रदेश के अन्य हेरिटेज भवनों के भी संरक्षण और विकास की विस्तृत योजना बनाने के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मिंटो हाल के जीर्णोद्वार के संबंध में आज यहाँ बैठक में उसे कन्वेन्शन सेंटर के रूप में विकसित करने को कहा। उन्होंने कहा कि भवन का यह विकास तथा जीर्णोद्धार किसी भी पुराने निर्माण को तोड़े बिना किया जाये। परिसर में खुले स्थान पर उद्यान विकसित किया जाये। कन्वेंशन सेंटर के रूप में विकसित होने से शहर के मध्य सेमीनार आदि के लिए यह स्थान उपलब्ध रहेगा। बैठक में बताया गया कि पर्यटन विकास निगम भवन के संरक्षण के लिये एस.पी.वी. (स्पेशल परपज व्हीकल) बनायेगा, जिसमें प्रबंधन की कोर टीम रहेगी। इसकी पूरी प्रक्रिया पारदर्शी रखी जायेगी। इस संबंध में जन-प्रतिनिधियों से चर्चा कर निर्णय लिया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिये कि प्रदेश में इन्दौर, भोपाल, राजगढ़, रीवा, दतिया, ग्वालियर, पन्ना आदि स्थानों के हेरिटेज भवनों के मूल स्वरूप को बनाये रखते हुए उनके संरक्षण की योजना बनायी जाय। बैठक में मुख्य सचिव श्री अवनि वैश्य, अपर मुख्य सचिव श्री आर. परशुराम, प्रमुख सचिव उद्योग श्री पी.के. दास और प्रमुख सचिव आवास एवं पर्यावरण श्री इकबाल सिंह बैंस उपस्थित थे।

Top

एक साथ निकलेंगी 1170 दूल्हों की बारात

भोपाल- मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में 24 अप्रैल को सिरोंज में अक्षय तृतीया पर सामूहिक विवाह सम्मेलन में करीब 1170 जोड़े वैवाहिक बंधन में बँधेंगे। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान एवं उच्च शिक्षा मंत्री श्री लक्ष्मीकांत शर्मा सहित हजारों की संख्या में क्षेत्र के नागरिक इस ऐतिहासिक विवाह समारोह के साक्षी बनेंगे। सिरोंज में शासकीय लाल बहादुर शास्त्री महाविधालय परिसर में आयोजित सामूहिक विवाह सम्मेलन में एक ही पंडाल में करीब 1170 जोड़े परिणय-सूत्र में बँधेंगे। विवाह-स्थल पर विशाल मंच के सामने 1170 वेदियाँ बनाई गई हैं जिसमें प्रत्येक जोड़े के साथ उनके परिजनों को बैठने के लिए स्थान सुनिश्चित किया गया हैं। साथ ही विवाह स्थल को आकर्षक रंगोली से सजाया जायेगा। विवाह के लिए प्रधान आचार्य एवं 100 सहयोगी ब्राह्मणों की व्यवस्था की गई है। वर-वधुओं को मिलेंगे ढेरो उपहार विवाह समारोह में इस बार प्रत्येक दम्पत्ति को 13 हजार 500 रूपए मूल्य के जीवन उपयोगी उपहार प्रदान किए जाएंगे। इस बार इन दम्पतियों को बर्तन, वस्त्र, जेवरात, पलंग-बिस्तर, कुकर, सूटकेस एवं श्रंगार सामग्री आदि उपहार में दिये जाएंगे। 75 टेक्टर-ट्रालियों में निकलेगी बारात विवाह समारोह के दौरान करीब पचहत्तर ट्रालियों पर दूल्हों की बारात निकलेगी। इस ऐतिहासिक बारात के लिए प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किए हैं। इस दौरान नगर के मुख्य मार्गों को तोरण द्वारों एवं पुष्पों के साथ ही आकर्षक विधुत सज्जा से सजाया गया है। बारात का भी जगह-जगह विभिन्न संस्थाओं एवं समाजसेवियों द्वारा स्वागत किया जावेगा। बारात में आकर्षक बैण्ड बाजों और डीजे की धुन पर नाचते-गाते हुए बाराती नगर के मुख्य मार्गों से होते हुए विवाह स्थल पर पहुँचेंगें।

Top

फर्जी पंजीयन पर कार्यवाही

होशंगाबाद/होशंगाबाद जिले में गेहूँ उपार्जन का कार्य तेजी से किया जा रहा है। शासन -ारा किसानो को गेहूँ खरीदी केन्द्रों पर पंजीयन की सुविधाए उपलब्ध कराई गई थी परन्तु कुछ तथाकथित किसानो ने फर्जी तरीके से पंजीयन कराया है ऐसे किसान जिन्होंने फर्जी तरीके से पंजीयन कराया है उनके विरूद्घ कार्यवाही सुनिश्च्िात होगी। यह जानकारी कलेक्टर श्री निशांत वरवडे की अध्यक्षता में संपन्न गेहूँ खरीदी की समीक्षा बैठक में दी गई। बैठक में संयुक्त कलेक्टर श्रीमती सपना शिवाले, डिप्टी कलेक्टर श्री जगदीश गौमे भी उपस्थित थे। बैठक में बताया कि प्रशासन -ारा गेहूँ उपार्जन कार्य की सतत मानिटरिंग की जा रही है एक ऐसा साफ्टवेयर विकसित किया गया है जिससे फर्जी तरीके से पंजीयन कराने वाले किसान ब किसी भी स्थिति में नही बच पायेंगे। फर्जी तरीके से पंजीयन कराने वाले किसानो को कम्प्यूटर पकड़ लेगा। इस संबंध में कलेक्टर ने सभी संबंधित धिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे पंजीयन कराने वाले किसानो पर नजर रखे तथा जहाँ कही नियमितताए तथा गड़बड़ी पाई जाए सख्त कार्यवाही सुनिश्च्िात करे। सभी सेक्टर धिकारियों से कहा है कि वे पने क्षेत्रो मेंसतत प्रतिदिन भ्रमण कर गेहूँ खरीदी पर नजर रखे ौर गेहूँ परिवहन का कार्य तेजी से कराए जो परिवहन कर्ता गेहूँ परिवहन कार्य नही करते उनकी जानकारी दें ताकि उन परिवहन कर्ताओं पर सख्त कार्यवाही की जा सके। बैठक में सिवनी, इटारसी, बाबई, पिपरिया, होशंगाबाद क्षेत्र के लिए परिवहन करने वाले परिवहनकर्ता को गाह किया कि वे गेहूँ परिवहन का कार्य तेजी से कराए नही कराने की दशा में उन पर जुर्माना किया जा सकेगा तथा न्य तरीके से परिवहन करवा कर उनसे वसूली की जायेगी। सहकारी समिति को पन्नी रखने के निर्देश मौसम के मद्देनजर सभी सहकारी समितियों को निर्देश दिए हैं कि वे पनी समिति के लिए तत्काल पन्नी (बरसाती) की व्यवस्था करले। पन्नी की व्यवस्था नही करने पर सहकारी समिति प्रबंधक की जबावदारी सुनिश्च्िात की जायेगी तथा गेहूं खराव होने पर सहकारी समिति प्रबंधक जिम्मेदार होगा। इसी प्रकार जिन सहकारी समिति का गेहूं खरीदी का र्य पूर्ण हो गया है उन सहकारी समितियों को उनके निकटतम समितियों से संबंद्घ किया जाए तथा सभी स्टाप तथा न्य व्यवस्था संबंधित समिति के खरीदी केन्द्रों में उपलब्ध कराई जाए(आत्माराम यादव )

Top

जलासय पर संकट के बादल

जोगीडाबर की बदल गई सूरत मड़ियादो तेज धूप और तपन से जोगीडाबर जलाद्गाय के पानी ने घाटो को छोड ना द्गाुरू कर दिया है। जिस से घाटों के किनारे दलदल और गंदगी ही गंदगी है। यंहा के बाद्गिांदों की माने तो जलासय की गहराई निरंतर कम होती जा रही है यदि इसका उपाय नही हुआ तो बिरासत में मिला जोगीडाबर जलाद्गाय गुम हो जाऐगा। अनंतराम पांडे बताते है कि गोड वाना सासन काल में बनाए गए किले के किनारे से निकला जलासय अपने आप में हर किसी का मन मोह लेता है सायद ही हटा व्लांक में ऐसा दृच्च्य कही और देखने को मिले पर अब यंहा के देखरेख और जलासय की साफ सफाई ना होने से यंहा पुराव हो रहा है और गहराई दिन प्रतिदिन कम रही है। हरा हो गया पानीमहेन्द्र अग्रवाल, जीवनलाल कुद्गावाहा ने बताया गांव की अबादी का ऐक बड़ा हिस्सा वा जानवर जलासय से निस्तार का पानी उपयोग करते है कुछ वर्च्चो पहले जलासय में बहुत गहराई हुआ करती थी अब वहां पुराव होने से कम ही पानी बचा है। स्थानीय लोगो के अनुसार जलासय की गहराई होना आवद्गयक है पंचायत प्रसासन को इस के लिए आगे आना चाहिए। यहां के हाल बेहाल गांव के सरूवा, गोड घाट, बाबा घाट, कंचन, जलासयो पर गंदगी ही गंदगी है पुच्च्पेन्द्र श्रीवास्तव, नरेन्द्र सोनी, डां.एसके पटैल का कहना है यंहा गर्मीयों में आस पास के लोगो को पानी का सहारा होता है पर गंदगी के चलते लोग यंहा आने से कतराने लगे हें । इस सवंध में सरपंच सुदामा छिरौल्या का कहना है जलाद्गाय की गहराई वा नए घाट निर्माण कराने की योजना है द्गाीघ्र ही कार्य कराने के लिय प्रस्ताव डालेगे(युसूफ पठान )

Top

व्यवस्था सुधारों वरना होगा आंदोलन

भाजपा जिला अध्यक्ष ने एसबीआई के खिलाफ खोला मोर्चा भाजपा के जिला अध्यक्ष पूर्व विधायक डा. विजय सिंह राजपूत ने आज स्थानीय स्टेट बैंक के प्रबंधक को पत्र देकर कहा कि बैंक में हो रही अनियमिताओं को तत्काल सुधारा जाएं अन्यथा १५ दिन बाद बैंक प्रबंधन के खिलाफ आंदोलन किया जाएगा। जिला अध्यक्ष द्वारा दिए लिखित द्गिाकायती पत्र में बताया गया कि एटीएम धारकों को, व्यापारियों, पेंद्गानर्स, छात्र, किसान आज बैंक में निरंतर हो रही अनियमिताओं के कारण परेद्गाान है। उपभोक्ताओं के द्वारा जब कभी भी कोई जानकारी मांगी जाती है। तो उसके साथ अमानवीय व्यवहार किया जाता हैं। एटीएम आए दिन बंद रहता है। जिसके कारण बाहर से आए लोगों को अपना पैसा निकालने में परेद्गाानी होती है। नया खाता खोलने के लिए कोई कोई स्टाफ का सहयोग नहीं करता है। बैंक में प्रद्गिाक्षित स्टाप न होने के कारण हर काम में देरी हो रही है। सर्वर खराब होने पर लेन देन बंद कर दिया जाता हैं जिससें उपभोक्ताओं का बाजार में निजी साहूकारों से पैसा लेना पड़ रहा हैं। जिला अध्यक्ष ने कहा कि यदि स्टाफ ने अपना रवैया नही सुधारा एवं उपभोक्ताओं को परेद्गाान किया तो बैंक प्रबंधन के खिलाफ आंदोलन किया जाएगा(संजय जैन )

Top

गृह मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता मंत्रालय में राज्य औद्योगिक सुरक्षा बल के गठन के संबंध में अधिकारियों से चर्चा की।

Top

प्रमुख सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास डा. अरूणा शर्मा से संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम, नई दिल्ली स्थित कार्यालय की राष्ट्र प्रमुख सुश्री कैथलिन विसन ने भेंट की।

Top

जल संसाधन मंत्री श्री जयंत मलैया ने डिपो चौराहा से भदभदा तक बनने वाली फोर-लेन सड़क का भूमिपूजन किया। इस अवसर पर गृह मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता भी उपस्थित थे।

Top

ख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रालय में प्रमुख सचिव नगरीय प्रशासन और विकास से विभागीय गतिविधियों पर वन टू वन चर्चा की। इस दौरान मुख्य सचिव श्री अवनि वैश्य और अपर मुख्य सचिव एवं विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी श्री आर.परशुराम भी उपस्थित थे।

Top

गृह मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता वार्ड नं. 28 में रहवासियों की समस्याएँ सुनते हुए।

Top

आदिम जाति कल्याण मंत्री एवं सीहोर जिले के प्रभारी मंत्री कुंवर विजय शाह ने जिले के रहेटी तहसील के ग्राम भौसान में आयोजित आदिवासी सम्मेलन को सम्बोधित किया।

Top

सहकारिता मंत्रीगौरीशंकर बिसेन पिछले दिनों बालाघाट जिले के लांजी में आयोजित मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में शामिल हुये।

Top

आसमान से भी अलग ही दिखती होगी

भोपाल -प्रदेश में ग्राम-पंचायतों को व्यवस्थित कर एक नया स्वरूप प्रदान करने की व्यवस्था को खण्डवा जिले में पूर्ण रूप से लागू किया गया है। जिले में अब ग्राम-पंचायतों के सुंदर भवन और परिवेश जिले की अपनी पहचान में बदल चुके हैं। गाँव वाले तो आपसी चर्चा में कहते भी हैं कि आसमान से उड़नखटोले में बैठकर धरती निहारने से खण्डवा जिला अलग ही नजर आता होगा। जिले की प्रत्येक ग्राम-पंचायत को क्रियाशील करने के लिए इन पंचायत में आवश्यक बुनियादी सुविधाएँ भी उपलब्ध करवा दी गई हैं। जिले में सभी 422 ग्राम-पंचायत में अब साफ-सुथरे भवनों में वाचनालय, खेल, दूरभाष, विश्राम कक्ष, शौचालय जैसी बुनियादी सुविधा के अतिरिक्त व्यवस्थित रूप से जन-सुनवाई की गतिविधियाँ भी प्रारंभ हो गई हैं। ग्राम-पंचायतों के सुंदर भवन और परिवेश ने अब प्रशासन और आम जनता के बीच भी दूरी कम कर दी है।

Top

गेहूं तुलाई ठप्प

३० हजार किसान है परेशान होशंगाबाद/ जिले में प्रशासन के युद्घस्तर पर गेहॅू खरीदी की पोल खुल गयी और १३९ खरीदी केन्द्रों में १०० से धिक वारदानों की कमी के रहते गेहॅू की तुलाई ठप्प हो गयी है जिससे ३० हजार किसान टेक्टरट्रालियों के साथ पनी उपज लेकर खरीदी केन्द्रों पर परेशान हो रहे है। इस समय जिले में ४५ हजार गठानों की ावश्यकता है किन्तु ब तक २० हजार गठान ही ा सकी है, गले एक सप्ताह तक उक्त गठानों का ाना निश्च्िात नहीं होने से किसानों में गहरा ाक्रोश छाया है जो कभी भी विस्फोटक हो सकता है। उधर १५ मार्च से खरीदी शुरू होने के बाद जिले में होशंगाबाद कलेक्टर -ारा प्रतिदिन गेहॅू खरीदी की समीक्षा की जा रही है, खरीदी केन्दों पर व्यवस्था न हो इसलिये १२ सेक्टर धिकारियों को नियुक्त कर व्यवस्था की जिम्मेदारी उन्हें सौपी गयी, किन्तु यह दुर्भाग्य ही रहा कि जहॉ प्रतिदिन १२ सौ ट्रकों से उठाव कराया जाना चाहिये वही ७०्र० ट्रक उठाव करने में लगे है जिससे सभी खरीदी केन्द्रों पर लाखों क्विंटल गेहॅू उठाव न होने से पड़ा है। एक नुमान के नुसार जिले धिकूत रूप से ४लाख ९ हजार मेट्रिक टन गेहॅू खरीदी की जा चुकी है जिसमें से दो लाख मीट्रिक टन गेहॅू का खुले में पड़ा खराब हो रहा है जिसका उठाव होना बाकी है जबकि नागरिक ापूर्ति निगम के प्रबन्धक एनएल बड़ोने की माने तो ब तक २ लाख ६४ हजार मीट्रिक टन गेहॅू का उठाव हो चुका है, किन्तु जो गेहॅू खरीदी केन्द्रों पर खराब हो रहा है के सम्बन्ध में वे कोई उचित जबाब नहीं दे सके।कलेक्टर श्री निशांत वरवडे -ारा आयोजित गेहूँ खरीदी की समीक्षा बैठक में में जिले में गेहूँ खरीदी केन्द्रों पर बारदाने की कमी की बात ाने पर नागरिक ापूर्ति निगम के शाखा प्रबंधक ने बताया कि बारदाने की कमी का कारण कलकत्ता की कम्पनी को ार्डर देने के बाद भी पूर्ति नही किया जाना है। इस कारण बारदाने की समस्या उत्पन्न हुई है। उन्होंने बताया शासन स्तर पर बारदाने मँगवाने के तेजी से प्रयास जारी हैं। वरिष्ठ धिकारी कंपनी से निरन्तर संपर्क स्थापित कर रहे हैं। संभावना जताई गई कि एक हजार ५०० बारदाने की गठाने मिलने की उम्मीद है। पंजीयन से छूटे किसान पना पंजीयन करा सकेंगे जिन किसानो ने पना पंजीयन नही कराया है ऐसे किसान पना पंजीयन एक मई से ३ मई तक करा सकेंगे। साथ ही ऐसे किसान जिन्होंने पंजीयन तो करा लिया परन्तु उन्हें एसएमएस प्राप्त नही हु ा है वे भी पुनः खरीदी केन्द्र जाकर पना पंजीयन करा सकेंगे। गेहूँ खरीदी २० मई तक होगी किसानो से उनके -ारा उत्पादित गेहूं खरीदी का कार्य २० मई तक ही खरीदा जाएगा। किसी भी स्थिति में खरीदी की तारीख ागे नही बढ़ाई जा सकेगी। जिले के सभी किसानो से पील की गई है वे पना गेहूं खरीदी केन्द्र पर २० मई तक ही लाए तथा शासन -ारा दी सुविधा का भरपूर लाभ उठाए।(आत्माराम यादव)

Top

दहेज प्रताड़ना से युवती ने लगायी फॉसी

होशंगाबाद - स्थानीय मालाखेड़ी निवासी एक २२ वर्षीय नवविवाहिता -ारा दोपहर घर में फॉसी लगाये जाने की जॉच नुविभागीय धिकारी पुलिस इडला मौर्य -ारा किये जाने पर दहेज प्रताड़ना का मामला उजागर होने पर ाज पति,सास,श्र्वसुर पर मामला कायम किया गया है। गत अप्रैल को मालाखेड़ी में २२ वर्षीय श्रीमति कायनात बी के ज्येठ के लड़के की शादी में का पूरा परिवार सुबह से बालागंज में एक शादी में गया हु ा था किन्तु दहेज की प्रताड़ना के रहते परिवार के लोगों ने कायनात को साथ नहीं ले गये। घर परिवार में दहेज को लेकर कायनात के साथ मारपीट की जाती रही जिसे लेकर वह गहरे वसाद में रही। ससुराल में उक्त प्रताड़ना के रहते कायनात ने दोपहर १२ बजे के लगभग घर में फॉसी ्रलगाकर ात्महत्या कर ली। जिसकी जॉच नुविभागीय धिकारी पुलिस इडला मौर्य -ारा की गयी ौर कायनात के पति सलम,सास मीना बी एवं श्र्वसुर मेहबूब को उक्त ात्महत्या के लिये दोषी पाया ौर उक्तों पर दहेज प्रताड़ना का पराध पंजीवद्घ किया गया(आत्माराम यादव)

Top

भाजपा युवामोर्चा में अर्न्तकलह उजागर

होशंगाबाद । भारतीय जनता युवा मोर्चा की कार्यकारणी में गठन और विस्तार को लेकर उभरा असंतोष पर जहॉ भाजपा प्रदेश अध्यक्ष प्रभात झा शुक्रवार को मीड़िया के जबाव से स्वयं को बचाते हुये मामले को जल्द निपटाने की बात कहकर कन्नी काट गये वही अगले दिन वनमंत्री सरताज सिंह और भाजपा जिलाध्यक्ष संतोष पारित द्वारा एक ही समय पर अलग-अलग स्थानों पर पत्रकार वार्ता आयोजित किये जाने के आमंत्रण देने पर उभरी गुटवाजी ने उक्त अर्न्तकलह को सड़क पर ले आयी है। भले ही भाजपा इसे अपना अन्दरूनी मामला बतलाकर जल्द निपटाने की बात कर रही हो परन्तु वनमंत्री तथा जिलाध्यक्ष द्वारा एक ही दिन अलग-अलग स्थानों पर एक ही समय पत्रकारवार्ता हेतु पत्रकारों को आमंत्रित किये जाने से स्पष्ट है कि संगठन में किस प्रकार असंतोष घर कर गया है। मामले की शुरूआत तब देखने को मिली जब भाजपा प्रदेश अध्यक्ष प्रभात झा नरसिंहपुर से भोपाल आ रहे थे तब होमगार्ड आफिस के सामने युवा मोर्चा के पदाधिकारियों ने उनका स्वागत करने के पश्चात अपना आक्र ोश व्यक्त कर बताया कि युवा मोर्चा की कार्यकारिणी में विस्तार एवं गठन में वे वर्षो से पार्टी की सेवा के बदले उपेक्षा पा रहे है और तत्काल ही इसका सकारात्मक निर्णय लिया जाना चाहिये। उक्त नाराजगी व्यक्त करने वालों में जिला महामंत्री दीपक अग्रवाल, हंसराय, नगर अध्यक्ष दिनेश तिवारी, जिला उपाध्यक्ष महेन्द्र चौकसे रहे जिन्होंने झॉ को अवगत कराया कि युवामोर्च की कार्यकारिणी के गठन में वरिष्ठ पदाधिकारियों को नजर अंदाज किया गया है। भाजयुमो की कार्यकारिणी से असंतमुष्ट सदस्य चरणजीत सिंह एवं प्रशांत दीक्षित ने इस्तीफा देते हुये मॉग की है कि उन्हें उनके काम के अनुरूप पद मिलना चाहिये। इसके बाद जिला भाजपा कार्यालय के सामने भाजपा जिलाध्यक्ष संतोष पारिख,जिला संगठन मंत्री जितेन्द्र लिटोरिया, निर्भयसिंह राजपूत, मनोहर बड़ानी सहित नपाध्यक्ष श्रीमति माया नारोलिया ने स्वागत किया, तब वहॉ युवामोर्चा ने पुनः जिलाध्यक्ष संतोष पारिख का विरोध करते हुये उनके द्वारा मनमर्जी से घोषित कार्यकारिणी को भंग करने की मॉग श्री झा से की। दो पृथक स्थानों पर गुटीय आधार पर श्री झा के समक्ष संगठन की कमजोरी व्यक्त करने वालों की अंर्तकलह इसमें साफ झलकी जिसमें श्री झॉ का स्वागत एक स्थान पर न किया जाकर दो अलग-अलग स्थानों पर किया गया। भाजपा की गुटीयता तब सड़कों पर आ गयी जब शनिवार को भाजपा जिलाध्यक्ष संतोष पारिख और नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमति माया नारोलिया की संयुक्त प्रेस कांफ्रेस भाजपा जिलाध्यक्ष कार्यालय में दोपहर ३ बजे बुलाई गयी जिसकी सूचना एक दिन पूर्व ही मीडिया को दे दी गयी थी। जबकि वनमंत्री सरताजसिंह एवं विधायक गिरिजाशंकर शर्मा द्वारा उसी समय सर्किट हाऊस में मीड़िया से रूबरू हुये जबकि भाजपा जिलाध्यक्ष एवं नपाध्यक्ष भाजपा जिला कार्यालय में मीड़िया की प्रतीक्षा करते रहे । मीड़िया ने इस सम्बन्ध में वनमंत्री सरताजसिंह से जानकारी चाही तो उन्होंने जिला भाजपा कार्यालय में प्रेसवार्ता किये जाने के कारणों से अनभिज्ञता व्यक्त करते हुये भाजयुमो में चल रहे कलह को जल्द ही हल किये जाने को कहा। भाजपा जिलाध्यक्ष संतोष पारित ने एक ही दिन एक ही समय वनमंत्री सरताजसिंह एवं उनके द्वारा प्रेसवार्ता आयोजित किये जाने का कारण जानना चाहा किन्तु उनका कहना रहा कि जिन्होंने गल्ति कर एक ही समय प्रेसबार्ता का समय दिया है उनपर कार्यवाही की जायेगी। लेकिन भाजयुमो में मची अंर्तकलह के सडक़ पर आ जाने तथा पार्टी संविधान के विपरीत नियुक्ति को लेकर फैले असंतोष को लेकर सटिक जबाव किसी के पास नहीं था(आत्माराम यादव )

Top

दर्दनाक मौत-लोगों में आक्रोश

होशंगाबाद-जिले की इटारसी तहसील में दुबे अस्पताल रोड, न्यास कालोनी में तेज एवं लापरवाही से आ रहे टेक्टर की चपेट में एक १४ वर्षीय बालक के आने से उसकी मौत हो गयी, चालक टेक्टर छोड़ भाग खड़ा हुआ, गुस्सायें लोगों ने टेक्टर को आग के हवाले करने का प्रयास किया जिसे समय रहते पुलिस ने स्थिति नियंत्रण में ली और प्रकरण दर्ज किया। जानकारी के अनुसार टेक्टर क्रमांक-एमपी ०५ एफ १५२९ का चालक रमेश तिवारी ने लापरवाही पूर्वक तेज रफ्तार में टेक्टर को भीड़वाले क्ष्ैात्र में चलाकर १४ वर्षीय योगेश आत्मज सुरेश को कुचल दिया जिससे उक्त बालक की घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गयी। घटना के तुरन्त बाद टेक्टर चालक टेक्टर लेकर भाग खड़ा हुआ, किन्तु लोगों ने उसका पीछा किया जिससे वह टेक्टर को छोड़कर गली-कूचों से भाग खड़ा हुआ। लोग इस घटना के बाद लौटकर टेक्टर को आग के हवाले करने जा रहे थे इसके लिये उनके द्वारा उक्त टेक्टर को आवासीय क्षैत्र से मैदानी क्षैत्र में ले जाने की तैयारी थी कि जानकारी लगते ही पुलिस आ गयी और लोगों को समझाईश देकर टेक्टर आग के हवाले होने से बचाते हुये उसे जब्त कर ले आयी। पुलिस ने टेक्टर चालक आरोपी युवक रमेश तिवारी के खिलाफ मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है। (आत्माराम यादव )

Top

श्रमजीवी पत्रकार संघ की बैठक

दमोह। मप्र श्रमजीवी पत्रकार संघ के प्रदेश अध्यक्ष शलभ भदौलिया के निर्देशन में १५ अप्रैल, दिन रविवार को प्रदेश उपाध्यक्ष एवं सागर संभाग प्रभारी कैलाश देवलिया एवं प्रदेश महासचिव डॉ. सुखदेव मिश्रा के मुख्य आतिथ्य एवं सागर संभाग अध्यक्ष भागीरथ तिवारी के विशिष्ट आतिथ्य में बैठक का आयोजन किया गया है। बैठक में मप्र शासन द्वारा श्रमजीवी पत्रकारों को विभिन्न योजनाओं का लाभ दिया गया है। जिसके परिपेक्ष्य में १ मई को श्रम दिवस पर भोपाल में प्रांतीय कार्य समिति के आह्वान पर आभार रैली निकालकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं जनसंपर्क मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा को आभार पत्र भेंट किया जाएगा। साथ ही जिला स्तरीय बैठक में ब्लाक अध्यक्षों एवं कार्यकारिणी सदस्यों की घोषणा की जाएगी। इसके साथ ही पत्रकारों को दी गई सुविधाओं के बारे में चर्चा की जाएगी। श्रमजीवी पत्रकार संघ के जिलाध्यक्ष रामशरण पाराशर एवं महासचिव महें्र जैन ने संघ के सभी सदस्यों से १५ अप्रैल को अस्पताल चौक पर मानस भवन समीप जिला कार्यालय में १२ बजे बैठक में उपस्थिति की अपील की है।

Top

सांसद ने किया औचक निरीक्षण

दमोह- रेल्वे स्टेशन पर अनिमित्ताओ एंव अन्य शिकायते मिलने पर क्षेत्रीय सांसद शिवराज सिंह लोधी १३ अप्रेल की रात्रि ११ बजे औचक निरीक्षण करने रेल्वे स्टेशन पंहुचे जहां पर पेयजल ,सफाई,यात्री प्रतिक्षालय एंव अन्य जगहो का जायजा लिया । तथा अनियमित्ताऐ पाये जाने पर स्टेशन अधीक्षक च स्टेशन मास्टर को जमकर फटकार लगााई तथा उन्होने कहां कि रेल्वे स्टेशन अब माडल स्टेशन की श्रेणी मे है। तथा गर्मी मे यत्रियो को पेयजल की पर्याप्त व्यवस्था हो ताकि यत्रियो को पेयजल के लिये परेशान न होना पडे एंव सफाई व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया जावे कही भी कचरो के ढेर नजर नही आने चाहिए उन्होने कहा कि यत्रियो की सुरक्षा हेतू रेल्वे पुलिस पर्याप्त गश्त करे जिससे यत्रियो के साथ किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना न हो सके । श्री सिंह के निरीक्षण के दौरान राज्यरानी इंटरसिटी के पायलट व गार्ड भी वहां पर पहुचे और उन्होने बताया कि स्टाफ को ठहरने लिए रनिंग रूम नही है जिससे हमें काफी परेशानी उठनी पडती है यकद रनिंग रूम का निर्माण कराया जाता है तो स्टाफ को परेशानी नही होगी । जिस पर सांसद सिंह ने आश्वासन दिया कि अतिशीध्र रेलमंत्री एंव जीएम से रनिंग रूम निर्माण की बात करेगें। स्टेशन के बाहर बने शिव मंदिर का निरीक्षण किया एंव कहा कि यह मंदिर प्राचीन है तथा इस का निर्माण अवश्य करायेगे एंव जीएम व डीआरएम से चर्चा करेगे।

Top

अनिल बने जिलाध्यक्ष

छतरपुर। अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार सुरक्षा संघ के प्रदेश प्रभारी हर्षवर्धन कुरोठे ने चौबे कालोनी निवासी अनिल खरे को संघ की छतरपुर जिला इकाई का अध्यक्ष नियुक्त किया है। उन्होंने श्री खरे को नियुक्ति पत्र सौंपते हुए मानवाधिकारों की रक्षा के अपने दायित्व का निर्वाह पूरी ईमानदारी और निष्ठा से करने को कहा है।

Top

जीना यहां मरना यहां इसके सिबा --

तृतीय दमयंती बुंदेली महोत्सव का रंगारंग समापन स्थानीय एवं बाहरी कलाकारों ने दिखाये कला के जौहर यादगार बना समारोह हजारों दर्शकों की देर रात तक उपस्थिति दमोह- मंच पर घुप अंधकार और उपस्थित विशाल जनसमूह सोचने को मजबूर हो जाता है कि क्या बात है और अचानक मंच पर रोशनी में जो दिखता है उसको देखकर तालियों की गढगढाहट प्रारंभ हो जाती है जी हां एैसा ही कुञ्छ परिदृश्य था तृतीय दमयंती बुंदेली महोत्सव केञ् समापन का समारोह जो यादगार संध्या केञ् नाम से दर्ज हो गया। महान शो मेन राजकपूर की अनुपम कृञ्ति मेरा नाम जोकर केञ् हूबहू रूञ्प में कलाकार द्वारा जीना यहां मरना यहां इसकेञ् सिबा जाना कहां केञ् गीत पर जैसे ही नृत्य प्रस्तुत होता है हजारों लोग झूमने लगते हैं। वहीं दूसरी ओर बालीबुड मुबई से आये कलाकार भी नाचने लगते है और देखतेलृदेखते मंच पर भी बडी संチया में लोगों की उपस्थिति कलाकारों केञ् उत्साहवर्धन केञ् लिये उपस्थित हो जाती है। ज्ञात हो कि उक्तञ् भूमिका में जिले केञ् ही पत्रकार एवं रंगकर्मी पं.डा.एल.एन.वैष्णव प्रस्तुति दे रहे थे जैसे ही लोगों को यह बतलाया जाता है तो लोग आर्श्चय चकित रह जाते हैं। वहीं जूनियर फिल्म अभिनेता शाहरूञ्ख खान,अनुष्का शर्मा,मिथुन चक्रञ्वर्ती सहित उपस्थित कलाकारों की खुशी का ठिकाना नहीं रहता जो स्वयं डा.वैष्णव केञ् साथ नाचते रहते हैं। आर्श्चय की बात यह है कि उक्तञ् गीत को एक बार नहीं अपितु पांच बार बजाया जाता है एक बार खत्म होते ही जनता की ओर से आवाज आती है कि एक बार और प्रारंभ हो जाता है पुनःनृत्य । इस अवसर पर कलाकारों केञ् साथ उपस्थित राजनेता,अधिवक्तञ एवं पत्रकार भी जमकर नाचे और समारोह को यादगार बनाया। विदित हो कि बुंदेली संस्कृञ्ति का अपना एक गौरवशाली इतिहास है,नगर में आयोजित होने वाले बुंदेली महोत्सव द्वारा इससे परिचित होने का अवसर लोगों को दमोह दमयंती बुंदेली महोत्सव केञ् माध्यम से मिल रहा है। विदित हो कि हर क्षेत्र की संस्कृञ्ति का अपना एक गौरव होता है जो अन्य जगह से उसे कुञ्छ खास केञ् कारण भिन्न बनाता है, यूं तो भारत देश अनेकता में एकता का प्रतीक कहा जाता है और इन्हीं अनेकताओं में से एक विशेष क्षेत्र का दर्जा प्राप्त होने वाले का नाम है बुंदेलखण्ड जहां की पावन माटी एक ओर वीरों की त्याग और बलिदान की गाथा गाती है तो वहीं दूसरी ओर कला और संस्कृञ्ति को अपने भीतर संजोए बैठी है। इसी गौरवशाली इतिहास केञ् संबंध में जानकारी देने और उसे संजोने संवारने केञ् पवित्र उद्‌देश्य को लेकर बुंदेलखण्ड लोक संस्कृञ्ति सेवा मंच द्वारा एक बीड़ा उठाया गया जिसको लेकर वृहद मेले केञ् आयोजन केञ् साथ युवा पीढ़ी एवं अन्य नागरिकों को इससे परिचित कराने का क्रञ्म जारी हुआ और दो वर्ष की लगातार सफलता केञ् पश्चात तृतीय दमयन्ती बुंदेली महोत्सव के चार दिवसीय आयोजन किया गया था। उक्तञ् अविस्मरणीय शाम की साक्षी बनी हजारों आंチो जिन्होने देर रात्रि तक उपस्थित हो कलाकारों का उत्साह वर्धन किया। शाम केञ् समय से प्रारंभ हुये उक्तञ् कार्यक्रञ्म में क्षेत्रीय एवं बाहरी कलाकारों ने विभिन्न प्रस्तुतियों केञ् साथ सबका मन मोह लिया। जहां प्रतिदिन लगातार बुंदेलखण्ड की राई, फागें, ढिमरयाई, धुवयाई, नौरता, भक्तेंञ्, स्वांग, बधाई का आनंद लोगों ने उठाया। इस अवसर पर मुチयातिथि पुष्पेंद्र हजारी,अध्यक्षत न्यायाधीश सीजेएम श्री उपाध्याय जी,सहित जिपा दमोह उपाध्यक्ष रोहिन्टन पनवेलीवाला,दमोह नपाअध्यक्ष मनुमिश्रा, हटा नपा अध्यक्ष बाबूलाल तंतुवाय,क्षेत्रीय सांसद केञ् पुत्र अर्जुन सींग की विशेष रूञ्प से उपस्थिति रही। इस अवसर पर कला केञ् साथ युवकलृयुवतियों ने डा.अरूञ्ण खरे केञ् मार्गदर्शन में स्टंट का प्रर्दशन किया। वहीं देर रात्रि में हुये समापन समारोह में मंच पर कलाकारों केञ् साथ बुंदेलखण्ड लोक संस्कृञ्ति सेवा मंच केञ् अध्यक्ष अजीत श्रीवास्तव,आनंद श्रीवास्तव,इंजी.अमर सिंह राजपूत,अनुनय श्रीवास्तव,अधिवक्तञ संघ केञ् जिलाध्यक्ष विपिन टंडन,अधिवक्तञ भगवती श्रीवास्तव,जनर्लिस्ट्‌स यूनियन ऑफ मध्यप्रदेश जप की जिलाध्यक्ष डॉ.श्रीमती हंसा वैष्णव,पत्रकार नरेन्द्र बजाज,आजम खान,संजय सरवरिया,सुनील चौरसिया,अधिवक्तञ दीपक श्रीवास्तव,अनुनय श्रीवास्तव,रघुवीर गुप्ता,प्रभात राजपूत,नरेन्द्र अरजरिया,सुनील राय,माणिक चंद सचदेवा,किशन लाल हुरा,विष्णु गुप्ता,आलोक श्रीवास्तव,प्रदीप राजपूत,अभिनय श्रीवास्तव,तुलाराम साहु,निधि श्रीवास्तव,कविता बजाज,रितु अग्रवाल,मनोरमा रतले केञ् साथ लगभग पचास महिलायें समीति केञ् समस्त पदाधिकारी एवं सदस्यों सहित हजारों की उपस्थिति रही। आभार प्रदर्शन नपा के नेता प्रतिपक्ष रूञ्पेश रजक ने किया।

Top

साहब की आदमकद प्रतिभा शीघ्र होगी स्थापित

हिण्डोरिया/भारत रत्न बाबा साहेब डॉ. भीमराव अम्बेडकर की अष्टधातु से बनी आदम कद प्रतिमा अपने पूर्व सािन वार्ड नं. १० (डॉ. अम्बेडकर वार्ड) से शीघ्र सािपित की जायेगी। उक्ताद्गाय की जानकारी नगर परिषद अध्यक्ष रामेद्गवर ठेकेदार उपाध्यक्ष राजकुमारी सिंह ने हमारे प्रतिनिधी को दी । समाजसेवी सुजात खान ने बताया कि विगत ८ अगस्त २००९ की रात्रि में डॉ. अम्बेडकर वार्ड नं.१० हिण्डोरिया नगर में सािपित,वर्षो पुरानी बाबा साहेब डॉ. अम्बेडकर जी की प्रतिमा अज्ञात तत्वों द्वारा खण्डित कर दी गई थी। परिणाम स्वरूप बाबा साहेब के अनुयाध्यों एवं सं्रभात नागरिको में भारी आक्रोद्गा फैल गया था । इस संबंध में नगर के दलित वंचित समुद्राय के नागरिको द्वारा विद्गााल जुलूस निकालकर थाना पहॅुंचकर शरारती तत्वों की पता साजी कर उनकी गिरफ्तारी एवं खण्डित प्रतिमा के बदले शीध्र नवीन अष्टधातु की आदमकद प्रतिमा सािपित करने की मांग शासन-प्रद्गाासन से की गई थी। नगर परिषद प्रद्गाासन ने जनभावना का आदर करते हुये मांग के अनुरूप बाबा साहेब की प्रतिमा सािपना हेतु अपने फण्ड से ५ लाख राद्गिा मंजूर कर अपनी विधिवत मूर्ति सािपना संबंधी प्रक्रिया तभी से शुरू कर दी थी। किन्तु कलेक्टर की स्वीकृति नहीं मिलने एवं अनावद्गयक जटिल कागजी प्रक्रिया में उलझा दिये जाने के कारण मूर्ति सािपित नहीं हो पा रही थी। इस कारण से नगर के दलित एवं वंचित वर्ग के लोगों में भारी द्यरोष व्याप्त था तथा इनके द्वारा अनवरत इस दिद्गा में अनेक प्रजातांत्रिक आन्दोलनत्मक कदम उठाये जा रहे थे । तत्संबंध में नपा सीएमओ अजय रायजादा ने बताया कि कलेक्टर द्वारा विधिवत स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है । नपा द्वारा मूर्तिकार (भोपाल) को मूर्ति वर्क आदेद्गा भी जारी कर दिया गया है। शीघ्र ही इस दिद्गा में कार्ययोजना बनाकर बाबा साहेब की प्रतिमा सािपित कराई जायेगी। इस खबर से बाबा साहेब के अनुयाइयों नगर वासियों से हर्ष व्याप्त है ।(राधेशयाम सोनी )

Top

अनुबंध को कंपनी ने बनाया मजाक

हिण्डोरिया/यात्रियों,महिलाओ एवं आम नागरिकों की दैनिक लघु शंका,मैदान दिद्गाा एवं स्नान संबंधी समस्याओं के समाधान हेतु स्थानीय बस स्टेण्ड पर शासन द्वारा लाखो रूपयों की लागत से बनाया जाने वाला अधूरा सुलभ काम्पलेक्स वर्तमान में पूरी तरह से औचित्यहीन साबित हो रहा है। कंपनी के ठेकेदार द्वारा काम्पलेक्स का निर्माण कार्य अधूरा छोड़कर भाग जाने से शासन को सम्भवतः लाखों रूपयों की चपत लग जाने की वर्तमान में संभावना है। ज्ञातव्य हो कि नगर के वार्ड नं.१० में स्थित बस स्टेण्ड पर म.प्र. शासन से अनुबंधित सुलभ इन्टर नेद्गानल काम्पलेक्स आर्गनाईजेसन (भोपाल) ने १० लाख की लागत से आदिम जाति कल्याण विभाग दमोह के मार्गदर्द्गान में सर्व सुविधा युक्त सुलभ काम्पलेक्स बनाने का काम अपने हाथों में लिया था। किन्तु कंपनी का ठेकेदार अधूरा निर्माण कार्य कराकर एवं कुल लागत की आधी राद्गिा ५ लाख रूपया भुगतान कराकर भाग गया और लगभग ४-५ वर्ष से सुलभ काम्पलेक्स का निर्माण कार्य अधूरा पड ा बर्बादी की कगार पर है। कंपनी एवं उसके ठेकेदार पर अंकुद्गा लगाने मुकर्रर आदिम जाति कल्याण विभाग दमोह एवं जिला प्रद्गाासन भी इस मामले में गैर जिम्मेदार साबित हुये है। वर्तमान में निर्माण कार्य अधूरा छोड देने से काम्पलेक्स की स्थिति अत्यन्त दयनीय एवं सोचनीय हो चुकी है। इस संबंध में नगर परिषद एवं जागरूक नागरिको तथा मीडिया साथियों ने संबंधितो से कई बार विभिन्न माध्यमों से ठोस कदम उठाने की आवाज उठाई तथा पत्र व्यवहार भी किया किन्तु नतीजा कल की तरह आज भी शून्य पर टिका हुआ है । एक बार फिर नपा परिषद एवं जागरूक नागरिकों ने नवागत कलेक्टर एवं संबंधितो से इस दिद्गाा में शीघ्र ही ठोस कदम उठाने की मांग है(राधेशयाम सोनी )

Top

हर पंचायत को टेंकर प्रदाय किया गया

होशंगाबाद/ कहने को जिले के सोहागपुर,होशंगाबाद,सिवनीमालवा, पिपरिया, केसला, बनखेड़ी और बाबई जनपद में कुल ४२९ ग्राम पंचायतें हैे किन्तु वनमंत्री सरताजसिंह का प्रतिनिधित्व करने वाली सिवनीमालवा विधानसभा एक केली पर सबसे ज्यादा दुलार देखा गया जहाूे की सभी ९६ ग्राम पंचायतों के पास स्वयं के टेंकर उपलब्ध कराये गये ौर जल्द ही उन्हें पम्प भी उपलब्ध कराये जायेगे यह बात रहस्योदघाटन वनमंत्री सारताज सिंह ने ाज जिले के सिवनीमालवा रेस्ट हाउस में जनसमस्या निवारण शिविर का ायोजन के दरम्यान स्वेच्छानुदान राशि के चैक वितरित कार्यक्रम में किया। वनमंत्री श्री सिंह ने बताया कि प्रदेश का सिवनीमालवा ही एक मात्र विधानसभा है जहाँ हर ग्राम पंचायतों को टेंकर प्रदाय किया गया है तथा टेंकर के लिए पम्प भी उपलब्ध कराया जा रहा है। जिससे ाग पर नियंत्रण मे मदद मिल रही है। उन्होंने यह भी बताया कि चिकित्सालय में चिकित्सा सुविधा ों का विस्तार किया गया है। यहाँ पर विभिन्न प्रकार की सुविधाए उपलब्ध कराई गई है जिससे ाम नागरिकों को ौर बेहतर स्वास्थ्य सुविधाए उपलब्ध कराई जा सके। उन्होंने बताया कि इस क्षेत्र में सड़के के विस्तार के लिए व्यापक स्तर पर कार्य किया जा रहा है। परिणाम स्वरूप सड़को की मरम्मत, नई सड़के की स्वीकृति तथा पुलपुलियों के निर्माण की मंजूरी दी गई है। इसी के साथ ही किसानो के लिए हितकारिणी योजना लागू की गई है जिससे किसानो को विद्युत की ापूर्ति की सुविधा ों का विस्तार किया जा सके।उन्होंन बताया कि सिवनीमालवा क्षेत्र के वन क्षेत्रो की १० वन ग्राम समितियों को आवश्यक खाद्यान्न सामग्री वितरण के लिए स्वीकृति दी गई है तथा पूरे प्रदेश भर में ६०० वन ग्राम समितिया सार्वजनिक वितरण प्रणाली संचालित कर रही है । इस वसर पर वनमंत्री श्री सरताज सिंह ने स्वेच्छानुदान मद के तहत जरूरतमंदो को चैक तथा महिला ों को सिलाई मशीन वितरित की। इसी प्रकार परिवार कल्याण कार्यक्रम में उत्कृष्ट कार्य करने वाले धिकारियों को पुरस्कृत किया। इनमें नुविभागीय धिकारी बी.के.नागेन्द्र, तहसीलदार भुवन गुप्ता, सीई ो जनपद पंचायत मनोज तिवारी तथा स्वास्थ्य एवं महिला बाल विकास विभाग के धिकारी को पुरस्कृत किया। इस वसर पर वनमंत्री ने घोषणा की कि किसानो का गेहूँ ब २३ क्विंटल प्रति एकड़ के मान से खरीदा जाएगा। इस घोषणा से किसानो में हर्ष व्याप्त होते देखा गया। इस वसर पर वनमंत्री ने म.प्र.मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी -ारा प्रकाशित पुस्तिका हितकारिणी योजना का विमोचन किया। सहित न्य जनप्रतिनिधि एवं न्य धिकारी तथा बड़ी संख्या में ग्रामीण जन उपस्थित थे। (आत्माराम यादव )

Top

वैध रूप से रह रहे लोगों के विरूद्ध कार्रर्वाई

भोपाल- गृह मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता ने शासकीय 228 आवास अवैध रूप से रह रहे लोगों के विरूद्ध कार्रर्वाई के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि थाना प्रभारी और लोक निर्माण विभाग के अधिकारी संयुक्त निरीक्षण कर तीन दिन में कार्रवाई करें। विद्युत मण्डल के अधिकारी अवैध विद्युत उपयोग का प्रकरण बनाएं। श्री गुप्ता ने वार्ड नं. 30 के 228 आवास, सुनहरी बाग माता मंदिर, सरस्वती नगर, शास्त्री नगर और रोशनपुरा झुग्गी बस्ती का भ्रमण कर लोगों की समस्याएँ सुनीं। श्री गुप्ता ने 228 आवासों की सीवेज लाइन की सफाई, पेयजल पाइप लाइन के लीकेज को बन्द और सड़क की मरम्मत करवाने के निर्देश दिए। गृह मंत्री ने शहरवासियों की माँग पर 228 आवास के पास खाली जमीन पर पार्क विकसित करने के निर्देश दिए। सुनहरी बाग में नाली की सफाई और शास्त्री नगर में साँई मंदिर के पास पानी की सुचारु आपूर्ति के निर्देश दिए। श्री गुप्ता ने सरस्वती नगर में नियमित सफाई और कचरा-पेटी रखवाने के लिए कहा। गृह मंत्री ने रोशनपुरा झुग्गी बस्ती में सड़क ठीक करवाने और स्ट्रीट लाइट लगवाने के निर्देश दिए। इस दौरान नगर निगम, लोक निर्माण, पुलिस और विद्युत मण्डल में अधिकारी उपस्थित थे।

Top

दिनदहाड़े युवक की गोलीमार कर हत्या

हवाईफायर,हथियारों से लैंस बदमाशों के आतंक पर नहीं जागी पुलिस- दिनदहाड़े युवक की गोलीमार कर हत्या होशंगाबगाद। समूचा नगर जुआरियों-सटोरियों के आतंक से परेशान है, पुलिस को खबर है किन्तु पुलिस कार्यवाही नहीं करती और बदमाश कभी हवाई फायर कर चले जाते है, कभी किसी के घर में पेट्रोल बम फैककर आते है तो कभी समूह के रूप में गाड़ियों में नंगी तलवारें-हथियार लेकर मोह्वों से ह्वा करके गुजर जाते है, पुलिस उन्हें नहीं तलाश पाती, अन्ततः बदमाशों को मिली छूट का ही परिणाम रहा कि एक युवक के सीने में गोली मारकर उसकी हत्या कर दी गयी। कोरीघाट निवासी ३० वर्षीय अशोक कहार को एकता चौक पर शारदा जायसवाल के घर के सामने दो युवकों ने बुलाकर आटो में बिठाया और उनमें विवाद हुआ, आसपास के लोगों ने देखा, पास ही दुकानदार, लान्ड्री वाले ने देखा किन्तु सामान्य बात समझकर उन्होंने अपना ध्यान बटा दिया जबकि उन दोनों युवकों ने पिस्तोल निकालकर अशोक कहार के सीने में गोली मार दी जिससे आटों में ही उसकी मौत हो गयी। दिन दहाड़े हुये इस सनसनीखेज बारदात को लेकर कोई भी कुछ कहने को तेयार नहीं है, आज नर्मदा जयंती को लेकर पूरे क्षैत्र में चप्पे-चप्पे पर पुलिस लगी थी, वाहनों की जॉच हो रही थी किन्तु इतने बड़े हादसे की किसी को खबर नहीं हो यह समझ से परे लगता है, क्योंकि लोग जानते है कि सटोरियों-जुआड़ियों में विवाद चल रहा है, ऐसा नहीं कि हत्यारे कहीे बाहर के हो लेकिन जानते हुये भी कोई कुछ बतलाने को तैयार नहीं है। जबकि घटना के पूर्व कल शाम को क्षैत्र में दर्जनों लोगों के बीच तलवारे और हथियार तन गये थे लेकिन वे लहराते हुये एक दूसरे को डराकर भाग खड़े हुये।१९ जनवरी को निमसाड़िया में एक विधायक के रिश्तेदार के जुये की फड पर पुलिस छापा मारने पहुॅची तब सारे व्यापारी, नेता भाग खड़े हुये जिसमें पुलिस किसी को नहीं पकड़ सकी, बात साफ थी पुलिस ने मुखबिरी कर बात लीक कर दी और कोई जुआड़ी नही पकड़ाया, अलबत्ता सभी के वाहन पकड़ा गये, पुलिस किसी की कालर तक नहीं पहुॅच पा रही है फिर उन्हें पकडेगी कैसे, इसी बात का लाभ लेने वे सफेदपोश अपने वाहनों की चोरी की रिपोर्ट लिखाकर बचने की जुगाड़ में है कि सटोरियों-जुआड़ियों के वचस्व को ठेस पहुॅची और भाजपा की महिला पार्षद के घर में पहले हवाई फायर करने बाद में पेट्रोल बम फेकने पर पुलिस ने किसी पर कार्यवाही नहीं की। चॅूकि पुलिस ने कल ही पत्रकारों को बुलाकर चैकिंग के दरम्यान चार हत्याओं के फरार आरोपी को वाहन चैकिंग के दरम्यान पकड़ने पर अन्य घटनाओं से मीड़िृया का ध्यान खींचना चाहा किन्तु आज की चाक चौबन्द पुलिसकर्मियों की तैनाती के बाद हुई निर्मम हत्या ने स्थानीय पुलिस का मुखौटा उतारकर रख दिया और पुलिस अधींक्षक के नेतृत्व को लेकर अनेक चर्चाये शुरू हो गयी है।(आत्माराम यादव )

Top

प्रतिभा नैय्यर दमोही और ताविश नैय्यर

राजस्थान के जयपुर शहर में हुए सम्मानित दमोह/ अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त शायर नैय्यर दमोही और दुष्यन्त कुमार पुरूस्कार से सम्मानित उनके युवा पुत्र ताविश नैय्यर को गत दिवस जयपुर राजस्थान में मिर्जा गालिब सोसायटी द्वारा सम्मानित किया गया। गौर तलब है कि जयपुर राजस्थान में उर्दू साहित्य के क्षेत्र में कार्य करने वाली संस्था मिर्जा गालिब सोसायटी जो पिछले ७५ सालों से उर्दू शायरी की तरक्की के लिये कार्य करती आ रही है, ७५ साल पूरे होने पर आल इंडिया मुशायरा आयोजित कर जश्ने गालिब मनाया गया। शहर के बीचों बीच आयोजित कार्यन्नᆬम में हमारे जिले व प्रदेश का प्रतिनिधित्व करते हुए शायर नैय्यर दमोह और उनके पुत्र ताविश नैय्यर ने मुशायरे में हिस्सा लिया। जिसमें देश भर के शायरों के साथ कार्यन्नᆬम में शिरकत कर अपने अंदाज में गजलें, नज्में प्रस्तुत की और वाहवाही लूटी और जिले का गौरव बढ़ाया। इस अवसर पर उर्दू न्यूज चैनल च्च्मुन्सिफज्ज् के डिवीजन हेड स्लामुद्दीन और संस्था अध्यक्ष शमशाद अली, सेकेट्री मिर्जा हबीव बेग,शायर कामिल जयपुरी द्वारा शायर नैय्यर दमोह और ताविश नैय्यर को स्मृति चिन्ह भेंट किया गया। कार्यन्नᆬम में देश के जाने माने शायर नसीम देववंद, रहीश बिहारी, उजमा परवीन, शवीहा नियाद दि्वी, शकील सिकन्द्रवाही, मासूमा मालेगा आदि शायरों ने शिरकत की। गौर तलब है नैय्यर दमोही साहब इससे पहिले कई अंर्तराष्ट्रीय मंचों पर सम्मानित किये जा चुके है। अब उनकी परम्परा को आगे बढ़ाते हुए उनके होनहार बेटे मशहूर शायर और पिछले वर्ष महान कवि दुष्यंत कुमार पुरूष्कार से सम्मानित ताविश नैय्यर भी कई राज्य स्तरीय और राष्ट्रीय स्तर के मंचों पर सम्मानित हो चुके है, जिन्होंने अपने नाम के साथ-साथ जिले व प्रदेश का नाम राष्ट्रीय स्तर पर रोशन किया है। समय-समय पर उर्दू चैनलों पर उनके प्रोग्रामों का प्रसारण भी होता रहा है उनकी इस उपलब्धि पर जिले के साहित्य प्रेमियों ने उन्हें मुबारकबाद दी है।

Top

टपक सिंचाई ने किया मालामाल

दमोह- खेती को फायदे का धंधा बनाने का गुर यदि किसी को सीखना है तो वे दमोह जिले की दमोह जनपद के ग्राम बरमासा जाकर कृषक चांद और राजवीर के खेतों में जाकर देखें कि कैसे ड्रिप एरीगेशन से २५ एकड़ में टमाटर की फसल लहरा रही है। देखने वाला शायद ही अपनी आंखों पर भरोसा करे लेकिन यह हकीकत है जो भी टमाटर की फसल को देखता हे बरवस उसके मुंह से निकल पड़ता है अद्भुत अनोखा कम पानी में ज्यादा उत्पादन कैसे लिया जाता है इन दोनो भाईयों से सीख लेकर अपने घर में समृद्धि ला सकते है। यहाँ यह कहने में कतई संकोच नहीं है कि श्रीवृद्धि अर्थात धनलक्ष्मी उसी का दामन थामती है जो कर्मशील होता है,मेहनती होता है।

Top

डम्फर पलटने से तीन की मौत

होशंगाबाद। जिले की इटारसी तहसील के अर्न्तगत ग्राम कंदईगुर्रा में ५-६ बजे रेत लेने जा रहे डम्फर के पलटने से उसमें सवार तीन मजदूरों की दबकर दर्दनाक मौत होने से ग्राम घोडाकेम्प में मातम छा गया। प्राप्त जानकारी के ेअनुसार होशंगाबाद निवासी तथा जिला जेल में पदस्थ लहाडिया जी का डम्फर क्रमांक-एम.पी.०५ जी ६४५९ आज सुबह ५ बजे के लगभग ग्राम घोडाकेम्प निवासी २४ वर्षीय गोलू उर्फ पुरूषोत्तम आत्मज भवानीसिंह, २० वर्षीय सूरज वर्मा आत्मज दयालप्रसाद वर्मा एवं २६ वर्षीय अनिल उईके आत्मज मोतीलाल उईके को लेकर मरोडा खदान पर रेत लेने जा रहा था कि ग्राम कंदई गुर्रा के पास डम्फर पलट जाने से उक्त तीनों युवकों की दबकर दर्दनाक मौत हो गयी । घटना के बाद से ड्रायवर शंकरलाल उईके फरार है जिसपर ग्राम घोडाकेम्प निवासी सुनील जायसवाल आत्मज रतनलाल के आवेदन पर रामपुर गुर्रा पुलिस थाने में अपराध क्रमांक-७-१२ धारा ३०४ ए के तहत प्रकरण पंजीवद्ध कर लिया गया है। नवसंवत्सर की शुरूआत में हुये इस दर्दनाक हादसे के बाद घोडाकेम्प के तीन नवयुवकों की असमय मृत्यु के बाद सन्नाटा छा गया। उक्त घटना तेज एवं लापरवाही से वाहन चलाने से मानी जा रही है, जबकि आम चर्चा है कि ड्रायवर ने नशे में उक्त घटना को अंजाम दिया है(आत्माराम यादव)

Top

पॉलीथिन-मुक्त शहर के लिये पेपर बैग निर्माण -

भोपाल जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के सहयोग से भोपाल को पॉलीथिन-मुक्त शहर बनाने के लिये प्रधानमंत्री स्व-रोजगार योजना के माध्यम से आज ‘‘पेपर बैग वाला’’ इकाई का शुभारंभ हुआ। पर्यावरण के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करते हुए युवा श्री सुधीर बारस्कर ने स्व-रोजगार के लिये पेपर बैग निर्माण इकाई का निर्णय लिया। सुधीर इस इकाई की शुरूआत करना चाहते थे, लेकिन पूँजी का न होना एक समस्या थी। उन्होंने जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के प्रबंधक श्री तरुण कटारे से सम्पर्क किया। श्री सुधीर ने उद्यमिता विकास कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षण में भी भाग लिया। प्रबंधक श्री कटारे के सलाह मशविरे से उन्होंने ऋण के लिये आवेदन किया। टॉस्क-फोर्स समिति द्वारा परीक्षण कर उन्हें 5 लाख रुपये का ऋण बैंक ऑफ इण्डिया से मंजूर हुआ। ऋण मंजूरी के बाद उन्होंने कोयंबटूर से पेपर बैग निर्माण की मशीनें बुलवाईं। आज उनका स्व-रोजगार का सपना पूरा हुआ। सागर एवेन्यू अयोध्या बायपास रोड स्थित इस इकाई के शुभारंभ पर महाप्रबंधक श्री मोहन चतुर्वेदी ने अपने सहयोगियों के साथ उपस्थित रहकर इकाई की सफलता के लिये शुभकामनाएँ दीं।

Top

बीजेपी क़ा गुंडाराज

मध्य प्रदेश में अधिकारियो पर खनन माफियाओं द्वारा किये गए हमलो के मामले अभी थमे ही नहीं थे क़ि छतरपुर में एक महिला अधिकारी को फोन पर धमकी देकर अभद्रता किये जाने क़ा मामला सामने आया है... लेकिन इस बार कोई खनन माफिया ने नहीं बल्कि अधिकारी को निशाना बनाया है... भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष पुष्पेन्द्र प्रताप सिंह ने जो लगातार सरकारी जमीन को अपने लोगो को दिए जाने के लिए महिला अधिकारी पर दवाव बना रहे थे और अब पीड़ित अधिकारी ने जिला कलेक्टर से सुरक्षा क़ि गुहार लगाई है. छतरपुर के जिला कलेक्टर दफ्तर में नारेवाजी करते यह लोग भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष पुष्पेन्द्र प्रताप सिंह द्वारा सहर छतरपुर नायब तहसीलदार नमिता खरे को फोन पर दी गई धमकी और अभद्रता क़ा विरोध कर रहे है दरअसल भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष बंधिकला गाँव खसरा नम्बर 860 पर अपने लोगो को दिलाना चाहते है जब कि यह जमीन राजस्व रिकार्ड में शासकीय घोषित है जिसको लेकर नेता जी लगातार गलत काम कराने के लिए महिला अधिकारी पर दवाव बना रहे थे लेकिन जब अधिकारी ने उनकी एक नहीं सुनी तो भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष ने फोन पर महिला अधिकारी को पहले तो फोन खूब खरी खोटी सुनाई और बाद में अपने सिपह - सालारो के साथ तहसील कार्यालय पहुचकर हंगामा करने लगे और अब पीड़ित तहसीलदार ने जिला कलेक्टर से शिकायत कर कार्यवाही और सुरक्षा क़ि गुहार लगाई है...! तहसीलदार नमिता खरे के पति अभिराम खरे (I.R.S.) इंडियन रेलवे सर्विस में हैं... फरियादी महिला अधिकारी के साथ हुई इस घटना से जिले के सभी कर्मचारी और अधिकारी संगठन सदमे में है और उन्होंने जिला कलेक्टर को ज्ञापन सोपकर दोषी भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष पुष्पेन्द्र प्रताप सिंह के खिलाफ कार्यवाही क़ि मांग क़ि है हालाकि अभी तक पुलिस को इस मामले से दूर रखा गया है...! जाहिर है प्रदेश में हाल ही में खनन माफियाओं द्वारा अधिकारियो पर हमले किये जाने के मामले सामने आये थे और उसके वाद अब भाजपा नेता द्वारा अधिकारी को दी गई धमकी से साफ़ जाहिर होता है क़ि सूबे में अब अधिकारी क़ि सुरक्षा राम भरोसे है और घटना के बाद से महिला अधिकारी दहशत के साये में जी रही है(सुनील उपाध्याय)

Top

मध्यप्रदेश में गरीबी 12 प्रतिशत घटी

मध्यप्रदेश में गरीबी की स्थिति में वर्ष 2004-05 से 2009-10 तक पाँच वर्षों में 12 प्रतिशत की अभूतपूर्व कमी आयी है। इस दौरान गरीबी कम होने का राष्ट्रीय प्रतिशत 7.3 प्रतिशत रहा। उल्लेखनीय है कि इससे पहले वर्ष 1999-2000 से वर्ष 2004-05 की पाँच साला अवधि में मध्यप्रदेश देश का एकमात्र प्रदेश था, जहाँ गरीबी बढ़ी थी। यह गरीबी वृद्धि 4 प्रतिशत थी। उन पाँच साल में प्रदेश में गरीबी 44.6 प्रतिशत से बढ़कर 48.6 प्रतिशत हुई थी। इसके विपरीत वर्ष वर्ष 2004-05 से वर्ष 2009-10 की पाँच साला अवधि में प्रदेश में गरीबी 48.6 प्रतिशत से घटकर 36.7 प्रतिशत हो गयी। योजना आयोग द्वारा जारी आँकड़ों में एक उल्लेखनीय तथ्य यह भी उभरकर आया है कि वर्ष 1993-94 से वर्ष 2004-05 तक अखिल भारतीय स्तर तक गरीबी में वार्षिक 0.7 प्रतिशत कमी आई जबकि इस दौरान मध्यप्रदेश में गरीबी .36 प्रतिशत बढ़ी। इसके उलट वर्ष 2004 से 2009 तक अखिल भारतीय स्तर पर गरीबी में वार्षिक 1.5 प्रतिशत कमी आई जबकि इस अवधि में मध्यप्रदेश में गरीबी 2.4 प्रतिशत वार्षिक की दर से कम हुई है। प्रदेश में गरीबी रेखा का प्रतिशत वर्ष प्रतिशत 1993-94 42.5 1999-2000 44.6 2004-05 48.5 2009-10 36.7 भारत के योजना आयोग द्वारा जारी वर्ष 2009-10 के अनुमानों के अनुसार, प्रदेश में शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों में समान रूप से गरीबी कम हुई है। प्रदेश को यह शानदार उपलब्धि सिंचाई सुविधाओं तथा कृषि उत्पादकता में वृद्धि, उद्योगों को चौबीस घंटे बिजली की आपूर्ति, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना सहित सभी ग्रामीण योजनाओं के कुशल क्रियान्वयन, कुशल वित्तीय प्रबंधन तथा राज्य सरकार द्वारा गरीबी के खिलाफ निरंतर लड़ाई के फलस्वरूप मिली है। मनरेगा के क्रियान्वयन में प्रदेश देश में तीसरे स्थान पर है। एक उल्लेखनीय तथ्य यह भी है कि साथ ही जिन प्रदेशों में मुस्लिम आबादी में गरीबी बढ़ी है उनमें मध्यप्रदेश शामिल नहीं है। वर्ष 2004-05 से वर्ष 2009-10 तक पाँच वर्ष के दौरान प्रदेश में लगभग 13 लाख परिवार गरीबी से ऊपर आये। इनके सदस्यों की संख्या लगभग 54 लाख है। इसके विपरीत वर्ष 1993-94 और वर्ष 1999-2000 के बीच गरीबी रेखा से नीचे की जनसंख्या 53 लाख 40 हजार बढ़ी थी। वर्ष 1993-94 में गरीबी रेखा से नीचे की आबादी 2 करोड़ 19 लाख 7 हजार थी, जो वर्ष 1999-2000 में बढ़कर 2 करोड़ 61 लाख 66 हजार हो गयी। इस प्रकार इसमें 42 लाख 59 हजार की वृद्धि हुई। प्रति व्यक्ति आय प्रचलित मूल्यों पर वर्ष आय 1993-94 7,313 1999-2000 13,087 2004-05 15,442 2009-10 28,571 2011-12 37,744 इसके बरक्स वर्ष 2004-05 में प्रदेश में गरीबी रेखा से नीचे की आबादी 3 करोड़ 15 लाख 7 हजार थी जो 2009-10 में घटकर 2 करोड़ 61 लाख 8 हजार हो गयी। मध्यप्रदेश में आलोच्य अवधि में प्रति व्यक्ति आय में लगातार इजाफा हुआ है। इस प्रकार पाँच वर्षों में प्रचलित दर पर प्रदेश की प्रति व्यक्ति आय में दो गुना इजाफा हुआ। इसके पहले तो यह और भी कम थी। मध्यप्रदेश की यह उपलब्धि इस तथ्य के मद्देनज़र और बढ़ जाती है कि वर्ष 2009-10 सामान्य वर्ष नहीं था। इस साल प्रदेश में व्यापक सूखा था और बारिश कम हुई थी। प्रदेश का दो-तिहाई क्षेत्रफल प्रति व्यक्ति आय स्थिर मूल्यों पर वर्ष आय 1993 12,850 2000 11,585 2004 15,442 2009 21095 खेती के लिए वर्षा पर आधारित है। सूखे और कम वर्षा का असर विशेषकर आदिवासी बहुल क्षेत्रों में हुआ। विशेषज्ञों का मत है कि वर्ष 2011-12 में जो सर्वेक्षण हो रहा है, उसमें मध्यप्रदेश में निश्चित रूप से गरीबी में अभूतपूर्व कमी आएगी। यह उम्मीद इसलिए की जा रही है कि इस वर्ष अच्छी और सामान्य वर्षा हुई है और वर्षा का वितरण पूरे प्रदेश में समान रूप से संतुलित रहा है।

Top

फर्जी जाति प्रमाण-पत्र पर लिया लोन

भोपाल जिला उद्योग एवं व्यापार केन्द्र ने फर्जी जाति प्रमाण-पत्र पर कर्ज हासिल करने वाले छह लोगों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज करने के लिये इन्हें पुलिस को सौंपा है। शहर के विभिन्न हिस्सों में रहने वाले इन लोगों ने रानी दुर्गावती स्वरोजगार योजना में स्व-रोजगार के लिये वित्तीय सहायता प्राप्त कर ली थी। इस योजना से अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के बेरोजगार युवाओं को खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिये कर्ज जुटाया जाता है। जिला उद्योग केन्द्र इस पर 30 प्रतिशत अनुदान भी देता है। भोपाल के छह लोगों संदेश (ओम नगर), योगेश चौरे (ऋषि नगर), कमल कटारे (राहुल नगर), नरेन्द्र महदेले (साईंनाथ नगर), माधुरी शिन्दे (दुर्गा नगर) और कमलेश चावला (बाग सेवनिया) ने फर्जी जाति प्रमाण-पत्र पर योजना की मार्जिन मनी और कर्ज हासिल किया। जिला कलेक्टर कार्यालय को सत्यापन के लिये जब इन मामलों को भेजा गया तो वहाँ से मिली रिपोर्ट में इन लोगों को जाति प्रमाण-पत्र जारी नहीं किये जाने की जानकारी दी गई। इस पर उद्योग केन्द्र ने आपराधिक मामले दर्ज करने के लिये इन्हें एम.पी नगर थाने पहुँचा दिया है।

Top

जंगलों में नहीं बनेंगे ईंट-भट्टे

भोपाल -वन और वन्य-प्राणियों को ईंट-भट्टों से नुकसान न पहुँचे इसके लिए एक निश्चित दूरी निर्धारित की जाएगी। यह निर्णय आज यहाँ वन मंत्री श्री सरताज सिंह की अध्यक्षता में विभागीय परामर्शदात्री समिति की बैठक में लिया गया। बैठक में वन राज्य मंत्री श्री जयसिंह मरावी, विधायक श्री अन्तरसिंह आर्य, श्री अल्केश आर्य, श्री भगतसिंह नेताम, प्रमुख सचिव वन श्री देवराज विरदी, प्रधान मुख्य वन संरक्षक श्री रमेश दवे उपस्थित थे। वन मंत्री ने विधायक श्री अल्केश कार्य के सुझाव पर बताया कि ईको पर्यटन की दृष्टि से बैतूल जिला शासन की प्राथमिकताओं में शामिल है। क्षेत्र के भौगोलिक एवं सांस्कृतिक महत्व को देखते हुए जिले के कुकरु,सापना, भौरा, मरामझिरी, सारणी, मुलताई,मोतीढ़ाना, आमला ट्रैक, कांटावाड़ी, घोघरा, कुरसाना को ईको पर्यटन के रूप में विकसित करने के लिए चिन्हित किया गया है। इनमें से कुकरु के विकास के लिए भारत सरकार द्वारा एक करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत भी कर दी गई है। बैठक में बताया गया कि वन्य-प्राणियों द्वारा किसानों की फसलों को हानि पहुँचाने पर राज्य शासन द्वारा मुआवजे का प्रावधान करते हुए इसे लोक सेवा प्रदाय गारंटी योजना में शामिल किया गया है। इन प्रकरणों के निराकरण एवं भुगतान के लिये अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को प्राधिकृत किया गया है। प्रकरणों के निराकरण एवं भुगतान के लिए 30 कार्य दिवस की सीमा निर्धारित की गई है। बैठक में बताया गया कि जिलों को तेन्दूपत्ता संग्रहण के प्रोत्साहन पारिश्रमिक की राशि भेजी जा चुकी है और अधिकांश स्थानों पर वितरण भी सम्पन्न हो चुका है।

Top

एम पी के ३ मंत्री

एम पी के ३ मंत्री-- अगर और भी हैं तो आप को नाम मालूम हो तो लिखें

Top

यूपी के जंगलमाफियों का कब्जा

छतरपुर- मध्यप्रदेश में सीमावर्ती उत्तरप्रदेश के जंगलमाफियाओं ने डेरा डाल लिया है तो वहीं वन विभाग का अमला सत्ताधारी नेताओं के कारण जंगलमाफियाओं पर कार्रवाई करने से बचता नजर आ रहा है। वनों की उपज को बढ़ावा देने और वनों पर आश्रित परिवारों को अधिक से अधिक लाभ पहुंचाने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों को वन विभाग के मैदानी अमले की मिलीभगत के चलते यूपी के वनमाफिए बहुमूल्य वनोपज देने वाली पेड़ों की प्रजातियों को नष्ट करने में सन्निᆬय बने हुए हैं। जिले में काफी लंबे अरसे से उप्र के कथित वन माफिए सर्वाधिक यहां सन्निᆬय हैं और चर्चा में बने हुए हैं। इस संबंध में बडामलेहरा विकासखण्ड क्षेत्र के रेंजर ओएस चौहान ने मीडिया को बताया कि यह सही है कि गोंद पैदा करने वाले कु्वू प्रजाति के पेड़ बेहद अल्प संख्या में है जबकि सलैया प्रजाति के पेड़ काफी तादाद में है। इन दोनों प्रजातियों के पेड़ों पर शासनादेश पर प्रतिबंध लगा हुआ है। गोंद का व्यवसाय करने वाले अथवा कथित वन माफियों की गतिविधियों की फिलहाल सूचना नहीं है यदि शिकायत मिलती है तो तत्काल विभागीय अमले के साथ सख्त कार्रवाई की जाएगी।जिले के बड़ामलहरा, किशनगढ़ और बक्स्वाहा विकासखण्ड क्षेत्र के कुछ जंगल सलैया और कु्वू प्रजाति के पेड़ों को लेकर विख्यात है। इन दोनों प्रजाति के पेड़ों से गोंद निकाली जाती है जबकि सलैया के पेड़ों का उपयोग इर्ंटों पर रंग देने के लिए भी किया जाता है। विलुप्त और नष्ट होती जा रही पेड़ों की इन प्रजातियों को बचाने के लिए वनविभाग द्वारा विशेष अभियान चलाया जा रहा है। गोंद की उपज देने वाले पेड़ों का इस प्रयोजन से लगातार तीन वषोर्ं तक उपयोग किए जाने पर ये पेड़ नष्ट हो जाते हैं। क्या है यूपी के जंगलमाफियाओं का फण्डा-जिले के नौगांव विकासखण्ड क्षेत्र के मुख्यालय की सीमा से लगे उप्र के अजनर में इसी राज्य के करीब एक दर्जन से अधिक ठेकेदार जंगलों से गोंद निकालने का ठेका लेते हैं। चूंकि उप्र के इस इलाके में गोंद उगलने वाले प्रजाति के पेड़ नगण्य है ऐसी स्थिति में यूपी के ये कथित ठेकेदार व वन माफिए अपने उक्त फर्जी कारोबार के लिए छतरपुर जिले में गोदाम बनाते हैं और यहां के जंगलों से चोरी-छिपे गोंद निकालकर उप्र के अलावा अन्य राज्यों में ले जाते हैं। यह कार्य लंबे अरसे से यहां जारी है। गोंद का क्या है व्यापार-सर्वाधिक गोंद की उपज देने वाले कु्वू व सलैया प्रजाति के पेड़ों से गोंद का व्यवसाय करने वाले बड़े व्यवसायी और वन माफिए ग्रामीणों से ८० से ९० रूपए प्रति किलो के भाव से गोंद खरीदते हैं और १२५ से १४० रूपए प्रति किलो के भाव से बिन्नᆬी कर देते हैं। दो वर्ष से जिले में लगा हुआ है प्रतिबंध-सर्वाधिक गोंद उगलने वाले विलुप्त होते जा रहे कु्वू प्रजापति के पेड़ों के संरक्षण और संवर्धन के लिए जिले में पिछले करीब दो वषोर्ं से इस पर पूर्णतर्‍ प्रतिबंध लगा हुआ है। इसके बावजूद चोरी छिपे जिले के बड़ामलहरा, किशनगढ़ और बक्स्वाहा के कुछ जंगलों में इन पेड़ों को नष्ट कर गोंद निकाले जाने का कार्य जारी है(रवि गुप्ता )

Top

कम्प्यूटर केन्द्र पर हुआ संवाद कार्यक्रम

सिवनी मालवा - स्वर्ण जयंती शहरी रोजगार योजना के कौद्गाल उन्नयन प्रद्गिाक्षण के अंर्तगत द्गाहरी विकास अभिकरण एवं नगर पालिका परिषद सिवनी मालवा के मार्गदर्द्गान में ३० द्गाहरी युवक - युवतियों को प्रद्गिाक्षण दिया जा रहा है। इस अवसर पर प्रद्गिाक्षण केन्द्र पर संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया । सलिला समग्र विकास संस्थान द्वारा निःद्गाुल्क कम्यूटर प्रद्गिाक्षण के दौरान युवक युवतियों को रोजगार उन्मुखी बनाने के लिए दक्षता प्राप्त प्रद्गिाक्षकों के माध्यम से अभी तक कम्प्यूटर फंडामंटल,विंडो एक्सपी,डॉस कमाण्ड,एम एस वर्ड,पावर पाइंट,एम एस एक्सल,ग्राफिक्स,इंटरनेट व मल्टीपल फीचर सहित अन्य आवद्गयकता अनुसार प्रद्गिाक्षण प्रदान किया जा रहा है । प्रद्गिाक्षण के दौरान प्रद्गिाक्षाणथयों की साप्ताहिक रिपार्ट भी तैयाार की जा रही है , प्रद्गिाक्षण उपरांत सभी प्रद्गिाक्षाथियों को प्रमाण पत्र प्रदान किये जावेगें । सलिला समग्र विकास संस्थान के अध्यक्ष आर.एस.साहू द्वारा प्रद्गिाक्षकों एवं प्रद्गिाक्षाथियों के साथ मिलकर विगत तीन माह के दौरान अभी तक प्राप्त प्रद्गिाक्षण की जानकारी प्राप्त की । श्री साहू ने कम्प्यूटर प्रद्गिाक्षण के उद्वेद्गयों की जानकारी देते हुऐ बताया कि स्वर्ण जयंती द्गाहरी रोजगार योजना के तहत प्रद्गिाक्षण उपरांत युवक युवतियॉं अपना स्वंय का स्वरोजगार प्रारंभ कर सकते हैं । प्रद्गिाक्षण के दौरान कार्यद्गााला में आईसेक्ट के संचालक अद्गाीष मालीय, प्रद्गिाक्षक मुकेद्गा कुमार रिजवाना अली, प्रद्गिाक्षाथियों में प्रमुख रूप से सुद्गाील सोनी,विपिन वर्मा ,जगदीद्गा लौवंद्गाी,दीपक उईके,मोहसिन खान,जफर कुरेद्गाी,दीपिका धुर्वे,दिलीप परते,राकेद्गा कुमार,आद्गाुतोष कुमार,जुनेद खान,सचिन,द्गोख जाहिद,राहुल सेन,विनय राठौर,हफीद्गा द्यद्गााह,कु० सीमा,कु० द्गोफता खान,कु० रूखमणी,योगेद्गा कुमार मो० द्गााकिर,अमित मसीह, अय्‌यूब खान,विद्गााल आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे ।

Top

मेले में पत्रकार पर हमला

दमोह में आयोजित बुदेली मेले में एक न्यूज चैनल के संवादाता व् कैमरामैन के साथ मारपीट किए जाने का मामल सामने आया है संवाददाता का आरोप है कि उन पर यह हमला जल संसाधन मंत्री जयंत मलैया की पत्नी सुधा मलैया के इशारे पर किया गया है रात के समय हुऐ हमले से पत्रकारो का एक दल रिपोर्ट लिखवाने के लिऐ कोतवाली में गया संवाददाता का कहना है कि उनका कैमरामैन मेले में रात को बजे कवरेज करने गया था वहां जब राजा डांस ग्रूप द्वारा डांस किया जा रहा था तभी सुधा मलैया वहां पर पहुची और उन्होने डांस रूकवा दिया डांस रूकने के वाद कैमरामैन जब इस दृश्य को कैमरे में कैद कर रहा था तभी सुधा मलैया ने कुछ भाजयुमो कार्यकर्ताओं से कैमरामैन को पीटने की बात कही मलैया की बात को भाजयुमो कार्यकर्ताओं सुनकर पीटना ही नही वल्कि कैमरा भी तोड दिया फिर संवाददाता को खबर मिलने पर तो वह मेले पर आये तो उनके साथ भी मारपीट कर दी गई पुलिस ने संवादाता व कैमरामैन की रिपोर्ट व मुलाहिजा कराने भेजा दिया फिर भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने भी संवादाता के खिलाफ थाने में शिकायत की है इसको लेकर सभी मिडिया कर्मियों ने एक बैठक की

Top

विश्व उद्योग जगत में अलग पहचान बनेगी

भोपाल- पर्यावरण एवं जल-संसाधन मंत्री श्री जयंत मलैया ने कहा है कि मध्यप्रदेश सरकार के सहयोग और उद्योगपतियों की मेहनत से विश्व के औद्योगिक क्षेत्र में प्रदेश की अलग पहचान बनेगी। श्री मलैया आज यहाँ 22 फरवरी तक चलने वाले इंजीनियरिंग एण्ड ऑटो एक्सपो का शुभारंभ कर रहे थे। एक्सपो में दक्षिण अफ्रीका की उद्योग प्रतिनिधि श्रीमती रेखा राम जोगी और एप्टैक उड़ीसा के श्री विनय पटवर्धन विशेष अतिथि थे। एक्सपो के दौरान देश-विदेश के वॉयर सेलर एकत्रित होकर इंजीनियरिंग एवं ऑटो सेक्टर के उत्पादों की निर्यात संभावनाओं पर विमर्श करेंगे। श्री मलैया ने कहा कि एक्सपो में यह बात आश्चर्यचकित कर देने वाली है कि भोपाल में भी ऐसी वस्तुओं का उत्पादन हो रहा है, जिन्हें एक्सपोर्ट किया जा सकता है। उन्होंने ऑटो एक्सपो की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस तरह के आयोजन मार्केटिंग के अवसर बढ़ाते हैं क्योंकि यहाँ क्रेता एवं विक्रेता मिल-बैठकर संभावनाओं की तलाश करते हैं। श्री मलैया ने कहा कि प्रदेश का 1620 करोड़ का वर्तमान निर्यात 20 हजार करोड़ रुपये का हो सकता है। इसके लिये उद्योगपति मेहनत करें, मध्यप्रदेश सरकार उन्हें सहयोग करेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पहले जहाँ साल में 3-4 उद्योग ही लगते थे वहीं अब इनकी संख्या बढ़कर 25 से 30 हो गई है। उद्योग इन्फ्रा-स्ट्रक्चर के लिये 450 करोड़ का प्रावधान श्री मलैया ने कहा कि उद्योगपति मध्यप्रदेश पर भरोसा जता रहे हैं। यह एक शांत प्रदेश है और यहाँ सरकार से उन्हें भरपूर सहयोग भी प्राप्त हो रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने इस वर्ष साढ़े चार सौ करोड़ रुपये का प्रावधान बजट में उद्योगों के इन्फ्रा-स्ट्रक्चर के लिये रखा है। उन्होंने कहा कि भोपाल के औद्योगिक क्षेत्र गोविंदपुरा की जहाँ 3-4 वर्ष पूर्व अधिकांश इकाइयाँ बंद पड़ी रहती थीं वहीं अब यहाँ शत-प्रतिशत इकाइयाँ कार्य कर रही हैं। यहाँ स्थान कम पड़ने के कारण 140 एकड़ अतिरिक्त भूमि को भी उद्योगों के लिये विकसित किया जा रहा है। प्रतिभागियों द्वारा प्रदेश के उद्योग मित्र वातावरण की सराहना श्री विनय पटवर्धन ने अपने संबोधन में कहा कि मध्यप्रदेश सरकार उद्योगपतियों के लिये बेहद मददगार सिद्ध हो रही है। सबसे अच्छी बात उद्योगों के लिये मध्यप्रदेश में यह है कि उन्हें यहाँ सातों दिन 24 घंटे बिजली प्राप्त हो रही है। प्रमुख सचिव वाणिज्य एवं उद्योग श्री पी.के. दाश, ट्रायफेक के प्रबंध संचालक श्री प्रमोद दास और साउथ अफ्रीका की गेटकीपर ग्रुप ऑफ कम्पनी की श्रीमती रेखा राम जोगी ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। आई.सी.आई. बैंक के राधाशरण गोस्वामी ने आभार व्यक्त करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने उद्योग जगत को भरपूर सहयोग का आश्वासन दिया है। इसी का नतीजा है कि अब यहाँ उद्योगपति कार्य करने के लिये तैयार हैं

Top

गौ-अभयारण्य- 984 एकड़ भूमि का प्रावधान

पाल -मुख्यमंत्रीशिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि गौ-वंश के संरक्षण के लिये राज्य सरकार प्रतिबद्ध है और इस दिशा में किये जा रहे प्रयासों के तहत गायों के संरक्षण के लिये गौ-शालाओं को पर्याप्त धनराशि दी जायेगी। उन्होंने कहा कि सुसनेर में विकसित किये जाने वाले गौ-अभयारण्य के लिये 984 एकड़ भूमि का प्रावधान किया गया है। श्री चौहान शाजापुर जिले के सेमली धाम में शिवरात्रि महोत्सव के अवसर पर उपस्थित बड़ी संख्या में गौ-भक्तों को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने लोगों का आव्हान किया कि वे गौ-वंश के संरक्षण की दिशा में हर-संभव प्रयास करें। उन्होंने लोगों से बेटा-बेटी में भी कोई भेदभाव न करने का आग्रह किया। संत श्री कमल किशोर नागर ने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा गौ-वंश के संरक्षण की दिशा में किये जा रहे प्रयासों की सराहना की। राज्य सभा सदस्य श्री प्रभात झा ने भी राज्य शासन द्वारा गौ-संरक्षण की दिशा में किये जा रहे प्रयासों पर प्रकाश डाला।

Top

छोटे कर्मचारियों पर लक्ष्यपूर्ति करने की तलवा

छतरपुर- मध्यप्रदेश के मुख्य सचिव अवनि वैश्य ने समस्त कलेक्टरों से साफ और स्पष्ट शब्दों में कहा गया था कि परिवार नियोजन के टारगेट को पूरा करने के लिये किसी भी परिवार के पुरूष व महिला पर दबाब ना बनाया जाये। यहां तक कि किसी भी कर्मचारी को जबरदस्ती नसबंदी के केस लाने के लिये बाध्य ना किया जाये। मुख्य सचिव के आदेश के बावजूद भी सागर संभाग के सभी जिला सीईओ के द्वारा छोटे छोटे कर्मचारियों पर नसबंदी लक्ष्यपूर्ति करने के लिये मानसिक तौर पर यह कहकर दबाब बनाया जा रहा है कि अगर लक्ष्यपूर्ति नही की गई तो तुम्हारी वेतन राजसात कर ली जायेगी, तुम्हारी सविदा नौकरी समाप्त कर दी जायेगी इत्यादि। इससे छोटे कर्मचारियों में आक्रोश समाता जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ कलेक्टरों द्वारा लगातार यही कहा जा रहा है कि नसबंदी प्रकरणों में जोर जबरदस्ती ना की जाये। शासन की योजनाओं को भलिभांति समझा बुझाकर ही नसबंदी कराने की उचित सलाह देते हुये नसबंदी कराने के लिये राजी किया जाये।ग्राम जनपद पंचायतों के सचिवों, महिला बाल विकास विभाग की आशा कार्यकर्ताओ, आंगनबाडी सहायिकाओं एवं कार्यकर्ताओं, स्वास्थ्य विभाग की एएनएम कार्यकर्ताओं, राजस्व विभाग के पटवारियों को जिले के जिला सीईओ के द्वारा साफ और स्पष्ठ शब्दों में आदेश दिया जा रहा है कि परिवार नियोजन कार्यक्रम में रूचि न लेने वालों के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जायेगी। उनकी वेतन राजसात कर दी जायेगी, उनकी संविदा नौकरी समाप्त कर दी जायेगी। ऐसे आदेशों से त्रस्त छोटे कर्मचारियों ने इसे अंग्रेजी हुकूमत का फरमान बताया है। उन्होने यह भी कहा कि लक्ष्यपूर्ति करने में कामयाबी दिलाते है तो शबाशी अधिकारी लेते है और लक्ष्यपूर्ति करने में सफल नहीं हो पाते है तो दण्डित छोटे कर्मचारी हो जाते है। लक्ष्यपूर्ति ना हो पाने पर विभाग के अधिकारियों की भी वेतन वृद्वियां रोकीं जाये, उनकी वेतन राजसात की जायें, उन्हे भी निलंबित किया जाये इत्यादि के आदेश होना चाहिये। कानून सभी के लिये बराबर होते है। छोटे कर्मचारियों का आरोप है कि जब हमारी नियुक्ति की गई थी जो हमारे आदेश में इस बात का कहीं पर भी उ्वेख नहीं किया गया था कि शासन की योजनाओं की लक्ष्यपूर्ति ना करने पर नौकरी समाप्त कर दी जायेगी, वेतन राजसात कर दी जायेगी।(रवि गुप्ता )

Top

सशर्त लगायेंगे तेल के उद्योग

छतरपुर- खजुराहो में तेलों के उत्पादन को लेकर चल रहे तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार में वैज्ञानिकों ने कहा कि सुगंधित और औषधीय तेलों का उत्पादन करके क्षेत्र के किसान अपनी तकदीर बदल सकते हैं। इनसे संबंधित कई किस्मों के लिए बुंदेलखंड की जलवायु उपयुक्त भी हैं। कई तेल उत्पादक कंपनियों के प्रतिनिधियों ने खजुराहो क्षेत्र में इससे संबंधित उद्योग लगाने की सशर्त इच्छा भी जाहिर की है। खजुराहो के होटल क्लार्क में चल रहे इंटरनेशनल कांफ्रेंस एवं एक्सपो के दूसरे दिन वैज्ञानिकों ने सुगंधित एवं औषधीय तेलों के उत्पादन पर विस्तृत चर्चा की। तकनीकी व्याख्यान सत्र एससी वार्सनेय की अध्यक्षता में हुआ। इसमें देश के विभिन्न संस्थानों से आए वैज्ञानिकों ने विचारों का आदान-प्रदान किया। मुख्य रूप से केंद्रीय संस्थान औषधीय पौध (सीमैप) के वैज्ञानिक डॉ. वीरेंद्र कुमार ने यहां पर बताया कि मैंथा एवं प्रिप्रेटा की ऐसी प्रजाति तैयार की गई है, जो बुंदेलखंड क्षेत्र में अच्छा उत्पादन दे सकती है। इसका बीज अगले वर्ष तक किसानों को मुहैया होगा। उन्होंने कहा कि मैंथा (पिपरमिंट) उप्र, मप्र, पंजाब में किसानों के लिए एक अच्छी फसल है। यदि मैंथा और प्रिप्रेटा प्रजातियों को मिलाकर बीज मुहैया करा दिया जाएगा, तो देश अमेरिका से आगे आ सकता है। वहीं आरआरएल जम्मू कश्मीर के वैज्ञानिक डा.सुरेश चंद्रा ने पॉमरोजा (गुलाब की किस्म) की प्रजाति के बारे में जानकारी दी।सोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. आरएल गुप्ता ने बताया कि मैंथा, लेमन ग्रास कम जगह में अच्छा लाभ देने वाली फसलें हैं। इसके लिए किसानों को जागरुक करने की आवश्यकता है। यहां अरविंद नंदा ने बताया कि वे ४० वषोर्ं से मैंथा से जुड़े हैं। पहले चीन इसका सबसे बड़ा निर्यातक था और आज भारत ही चीन को निर्यात कर रहा है। यदि शासन तेल के व्यापार में किसानों के लिए सब्सिडी बढ़ाती है, तो यह अधिक फायदे की खेती होगी। विशाल प्रोडक्ट कंपनी के ऋषिराज गुप्ता के अनुसार यदि मप्र सरकार उन्हें सहयोग करे तो औषधीय और सुगंधित तेलों का उत्पादन करने वाले किसानों को सीधा लाभ उपलब्ध कराने के लिए वे खजुराहो के पास डिपो बनाने के लिए तैयार हैं। यहां पर डॉ. हरीश के अनुसार उत्तराखंड सरकार किसानों को लागत मूल्य और यंत्रों में ५० फीसदी से अधिक सब्सिडी दे रही है। इसलिए वहां तेलों का उत्पादन बढ़ा है। मप्र सरकार को भी ऐसा करना चाहिए। वैज्ञानिक शेर सिंह ने गेहूं के साथ मेंथा लगाने के बारे में जानकारी दी(रवि गुप्ता )

Top

प्रेस क्लब ने किया सम्मान

नोगॉव (छतरपुर ) मध्य प्रदेद्गा की पहली बिधान सभा के सदस्य एवं आजादी के बीर सपूत श्री प्रताप सिंह उर्फ नन्हे राजा ने आज ९४ बसंत पूरे कर लिये है उनके जन्म दिन पर नौगॉव बुन्देलखण्ड प्रेल क्लब के अध्यक्ष संतोष गंगेले ने अपने संघ के पदाधिकारियों के साथ उनके निवास पहुॅच कर उनका पुष्पमालाओं से सम्मान किया तथा श्रीफल व द्यद्गााल से सम्मान किया । बुन्देलखण्ड प्रेस क्लब के उपाध्यक्ष श्री सतीद्गा साहू, प्रबक्ता श्री राजेद्गा द्गिावहरे, संगठन मंत्री श्री दिनेद्गा द्गार्मा पेन्टर श्री खेमचन्द्र आनंदा , युवा प्रतिभाद्गााली श्री राजदीप गंगेले ने स्वागत करते हुये उनकी दीर्धायू की कामना की । इस अवसर पर स्वतंत्रता संग्राम सेनानी श्री प्रताप सिंह नन्हे राजा ने देद्गा में नेताओं की कथनी करने पर चिन्ता बताते हुये कहा कि अब युवाओं को देद्गा की बागडोर सम्भावना चाहिये तथा देद्गा में अन्याय व अत्याचार को समाप्त करने केलिए भारत के सभी लोगों को जाति व धर्म से उठकर देद्गा की सुरक्षा व विकाद्गा में आगे आना चाहिये । स्वतंत्रता संग्राम सेनानी ने कहा कि आज महिलाओं का सम्मान में कमी आ रही हैं, महिलाओं के मान सम्मान के प्रति हम आप को ध्यान रखना होगा साथ ही उन्होने भारतीय महिलाओं से आग्रह किया है कि महिलायें भी भारतीय संस्कृति एंव सस्कारों की मर्यादाओ का पूरा ध्यान रखें , महिलाये घर परिवार की लक्ष्मी होती है उन्हे भी अपने अधिकारों के साथ साथ सम्मान के प्रति सचेत होना चाहिये ।

Top

हत्या के विरोध में सौंपेगें ज्ञापन

दमोह। मध्यप्रदेश के उमरिया जिले के वरिष्ठ पत्रकार एवं नवभारत के ब्यूरो प्रमुख चंद्रिका राय, पत्रि दुर्गा राय, पुत्र जलज एवं पुत्री निशा की जघन्य पूर्ण हत्या के विरोध में दमोह जिले के समस्त पत्रकार २१ फरवरी मंगलवार को मध्यप्रदेश के राज्यपाल रामनरेश यादव एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नाम पर एक ज्ञापन सौपेगें। पत्रकार सुनील गौतम ने बताया कि जिले के समस्त पत्रकार २१ फरवरी को दोपहर १२ बजे अस्पताल चौराहे के समीप स्थित मानस भवन में एकत्रित होगें तथा वहॉ से पैदल मौन चलकर एवं विरोध स्वरूप काली पट्ठी बांधकर कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौपेगें। जिले के समस्त पत्रकारों से अपील है कि मंगलवार को अधिक से अधिक संख्या में इस शांतिपूर्ण आंदोलन में शामिल हो।

Top

सरल एवं मृदुभाषी थे पं. दुबे

दमोह। समाजसेवी एवं पत्रकार नरेन्द्र, महेन्द्र, सुरेन्द्र और देवेन्द्र दुबे के पिता पं. रमेश दुबे के निधन उपरांत स्थानीय मानस भवन में आयोजित श्रृद्धांजली सभा में जिले के समस्त राजनीतिज्ञयों, समाजसेवियों, पत्रकारों, व्यापारियों, कर्मचारियों एवं गणमान्य नागरिकों द्वारा श्रृद्धासुमन अर्पित किये गये। इस अवसर पर उपस्थित अनेक वक्ताओं ने स्व. रमेश दुबे के व्यक्त्वि पर प्रकाश डालते हुये उनके जीवन की अनेक उपलब्धियों पर अपने विचार प्रकट किये। इस अवसर पर मसीह समाज से, सिक्ख समाज से सरदार कुलवंत सिंह, मुस्लिम समाज से गफूर तायर, जैन समाज से अजीत कंडया, बुंदेली महोत्सव न्यास की ओर से विमल लहरी के अलावा डॉ. सुधा मलैया, सत्यमोहन वर्मा, नारायण सिंह ठाकुर, आदित्य सॉलोमन, राजीव अयाची, लखन पटैल, आभा भारती, दिनेश असाटी, वीरेन्द्र दवे, गजेन्द्र चौबे, जेपी असाटी आदि ने उनके व्यक्ति व पर प्रकाश डाला। इसके पूर्व पं. रमेश दुबे के सुपुत्र नरेन्द्र दुबे, महेन्द्र, सुरेन्द्र, देवेन्द्र दुबे, सुनील मिश्रा, रवि मिश्रा ने पं. दुबे के चित्र पर पुष्पजलीं अर्पित की तत्पश्चात पं. ने मंत्रोच्चार किया। कार्यक्रम समापन के पूर्व समस्त उपस्थित जनों द्वारा दो मिनिट का मौन रखकर श्रृद्धांजली दी तथा क्रमबद्ध तरीके से पं. स्व. श्री दुबे के चित्र पर पुष्पांजली अर्पित की। श्रृद्धांजली सभा का संचालन आनंद श्रीवास्तव द्वारा किया गया।

Top

चुनाव में भगवां कटी पतंग समान!

छतरपुर- मध्यप्रदेश बुन्देलखण्ड से सटे हुये उत्तरप्रदेश बुन्देलखण्ड चुनाव में जीत का परचम लहराने के लिये भाजपा प्रत्याशियों सहित फायरब्रांड नेता उमा भारती को काफी मशक्कत करना पड रही है। अगर यह कहें कि उत्तरप्रदेश बुन्देलखण्ड में भगवां आसमां में कटी पतंग के समान उडता नजर आ सकता है। अतिश्योक्तिपूर्ण बात नहीं होगी। मध्यप्रदेश के दिगगज नेता उत्तरप्रदेश में भगवां के उडते रंग को देखकर यही कहते नजर आ रहे है कि भाजपा तीसरे नम्बर पर आयेगी। हालांकि इसके पीछे कारण बताया गया है कि कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी का विगत वर्षो से उत्तप्रदेश बुन्देलखण्उ में धरातल पर जा जाकर जो मेहनत की है उसके मीठे फल के फूल मेहनत के पेड पर आने लगे है। वहीं भाजपा फायर ब्रांड नेता उमा भारती को कम समय में पूरे उत्तरप्रदेश की कमान सौंपकर और उन्हे स्वयं चरखारी विधानसभा से प्रत्याशी बनाकर उत्तरप्रदेश की सत्ता हथियाने का जो सपने भाजपा हाईकमान ने देखे है शायद काफी हद तक देखे गये सपने नींद खुलते ही हवा हवाई हो सकते है। अगर उमा भारती को उत्तरप्रदेश की कमान एक वर्ष पहले संघ की बात मानकर सौंप दी जाती तो शायद यह विपरीत स्थिति कांग्रेस के लिये हो सकती थी। इस चुनाव में महोबा, बांदा, हमीरपुर, ललितपुर, झांसी, जालौन और चित्रकूट के जिलों के विधानसभाओं पर नजर दौडाई जाये तो शायद ही ऐसी कोई विधानसभा का क्षेत्र हो जहां पर जातिवाद का असर ना दिखाई पडे। जातिवाद की राजनीति और ब्राहम्मण, पिछडा व मुस्लिम मतदाताओं का रूझाान भाजपा और कांग्रेस के नम्बर तय करेंगे। रही बात एससी/एसटी वर्ग के मतदाताओं की इन मतदाताओं का वोट बसपा की तरफ ही रहता है परन्तु रातों रात किस तरफ करवट बदलेगा पूर्ण विश्चास के साथ कोई नहीं कह सकता है। इस चुनाव में जातिवाद के आधार पर सपा, बसपा, कांग्रेस और भाजपा ने जो भी अपने अपने उम्मीदवार उतारें है अधिकतर उम्मीदवार सफेदपोषाक के अंदर माफिया एवं भगवां की पोषाक का चोला पहनकर वोट मांगते दिखाई दे रहे है। हालांकि ऐसे उम्मीदवार अपने समाज और जातिवर्ग में बराबर का वर्चस्व रखे हुये है। परन्तु सपा और कांग्रेस का चुनाव यादव और मुस्लिम मतदाताओं के आधार पर विजयी होने का प्रयास कर सकते है तो वहीं कांग्रेस का खानदानी एससी/एसटी मतदाता बसपा, सपा और भाजपा में बंट चुका है। तो वहीं भाजपा का व्यापारी और सवर्ण व पिछडा मतदाता प्रभावशाली प्रत्याशी के जातिवाद, उमा की पिछडा राजनीति एवं पार्टी का हिन्दुवाद के विचारधारा से अपनी जीत हासिल कर अपने नम्बर पर आने का प्रयास कर सकता है।इस चुनाव में भाजपा को खतरा अपने सीमावर्ती मध्यप्रदेश के भाजपा नेताओं से ही है क्योंकि जब उमा ने पार्टी छोडी थी और भाजश से मध्यप्रदेश में शिवराज को चुनौती देते हुये चुनाव लडा था तब ऐसी स्थिति में मध्यप्रदेश बुन्देलखण्ड के ही भाजपाई उत्तरप्रदेश बुन्देलखण्ड चुनाव प्रचार में जुटे है जिन्होने उमा को बडी बेरहमी से कोसा था यहां तक कि बाहुबलियों ने उमा को घेरकर अनहित करने की भी साजिश रची थी और आज यही नेता उमा के उत्तरप्रदेश बुन्देलखण्ड चुनाव में भाजपा का प्रचार कर जीत का दावा पेश कर रहे है। भगवां प्रत्याशियों मे संशय की स्थिति बनी हुई है कहीं उमा के कारण हमारे साथ मध्यप्रदेश बुन्देलखण्ड के भाजपाईयों के द्वारा प्रचार करने पर भितरघात ना हो जाये। वहीं बसपा के माफियाराज से तिरस्त रहने वाले मतदाताओं को सपा ही एक ऐसा रास्ता दिखाई दे रहा है जो बसपा के माफियाराज रूपी हरे भरे वृक्षों को सुखा सकता है। कांग्रेस विकास की बात कर केन्द्र की सत्ता को बचाये रखने के लिये युवा नेतृत्व को आगे आने को कह रही है तो वहीं पढे लिखे बेरोजगार युवा वर्ग अन्ना हजारे के साथ कांग्रेस के द्वारा किया गया अन्याय का बदला लेने के लिये आगे आता दिखाई दे रहा है। हालांकि इस बार के चुनाव में युवा वर्ग का मतदान करने के रूझान पर ऊंट किस करवट बदलेगा यह आने वाला समय और वक्त बतायेगा (रवि गुप्ता)

Top

नाबालिग को किया अगवा

होशंगाबाद/जिले की बाबई तहसील निवासी एक नाबालिग को शादी का लालच देकर एक युवक भगाकर ले गया है, पुलिस ने उक्त युवती की मॉ -ारा कराई गुम इंसान रिपोर्ट की जॉच में यह तथ्य ाने पर मामला दर्ज कर लिया है। बाबई नाला मोहल्ला निवासी श्रीमति बीबी खान पत्नी सलीम खान की १७ वर्षीय नाबालिग पुत्री रेहाना परिवर्तित नाम को ग्राम बर्रा निवासी २६ वर्षीय शोकर कीर १० जनवरी १२ को बहलाफुसलाकर शादी का लालच देकर ले गया है। बाबई पुलिस ने पूर्व में गुम इंसान क्रमांक३ पर मामला दर्ज किया था जिसमें श्रीमति बीबीखान ने रिपोर्ट की थी कि उसकी नाबालिग पुत्री १० जनवरी को रात ९ बजे के लगभग घर से गायब हुई है जिसकी जॉच में यह तथ्य ाये कि रेहाना के गायब होने के पूर्व शोक के साथ उसकी बातचीत होती रही है तथा गायब होने की रात भी शोक ौर रेहाना के बीच सम्पर्क रहा है ौर उसी दिन व समय से शोक भी पने घर से गायब हु ा है। शोक के परिजनों व मिलने वालो के नुसार रेहाना ौर शोक के कुछ दिनों पूर्व से प्रेम प्रसंग चल रहा था ौर दोनों एक दूसरे से मिलते रहे है इसलिये यह माना जा रहा है कि शोक ने शादी का प्रलोभन देकर रेहाना को गवा किया है ौर पुलिस थाने में धारा ३६६,३६३ भारतीय दण्ड संहिता के तहत शोक के खिलाफ प्रकरण पंजीवद्घ कर लिया है(आत्माराम यादव )

Top

कांग्रेस ने राज्यपाल के नाम दिया ज्ञापन

अशोकनगर। जिला कांग्रेस , ब्लांक कांग्रेस द्वारा मंगलवार को विभिन्न समस्याओं को लेकर प्रदेश के महामहीम राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन सौंपने के पूर्व समस्त कांग्रेसजन स्थानीय गांधीपार्क चौराह पर एकत्र हुये जहां से रैली निकालते हुये जिला कलेक्टर कार्यालय पहुंचे जहां कांग्रेस कार्यकर्ता एवं पदाधिकारियों द्वारा महिला कांग्रेस प्रदेश सचिव एवं अशोकनगर पर्यवेक्षक नीलमा सपरे के नेतृत्व में एक ज्ञापन सौंपा गया । ज्ञापन में कांग्रेसियों द्वारा दर्शाया गया है कि प्रदेश में भारतीय जनतापार्टी की सरकार द्वारा कांग्रेस पार्टी के विधायकों एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर झूठे राजनीतिक मामले दर्ज कराये जा रहे है लोकतंत्र में हर व्यक्ति , हर पार्टी को अपनी बात कहने का अधिकार है परन्तु इन अधिकारों को दबाया जा रहा है इसी के तहत मध्यप्रदेश विधान सभा की सदस्य कांग्रेस विधायक कल्पना परूलेकर पर मामला दर्ज कराया गया है वह मामला पूरी तरह से निराधार है । वहीं किसानों की समस्याओं के सन्दर्भ में जिले के किसानों के खेतों में चना व अन्य फसले पाले की चपेट में आ जाने के कारण फसलों का काफी नुकसान हुआ है जिसका अभीतक शासन द्वारा सर्वे नही कराया गया है जिनका सर्वे जल्द से जल्द कर किसानों को उचित मुआवजा दिलाया जाये। साथ ही जिले में आदिवासियों की जमीनों को हड़पा जा रहा है जिससे आदिवासी भूमिहीन होते जा रहे है। पिछले ६ वर्षो में जिले भर में जितने भी आदिवासियों की जमीनों को सवर्णो द्वारा अपने नाम कराया गया है उन जमीनों को वापिस दिलाया जाये तथा अशोकनगर शहर व जिले में अनेकों स्थानों पर धड़्वे से स्मैक का कारोबार चलाया जा रहा है जिससे अनेको घर-परिवार बर्बाद हो गये है। तथा शहर का वातावरण बिगड़ रहा है इन नशीले पदार्थो की बिक्री पर रोक लगाई जाये। वहीं ब्लांक कांग्रेस द्वारा दिये गये अपने ज्ञापन में अशोकनगर व शाढ़ोरा तहसील में कम्प्यूटर नकल प्राप्त करने में भ्रष्टाचार किया जा रहा है तथा ग्रामीण क्षेत्रों में एनसीपीसी द्वारा नवीन ट्रांसफार्मर स्थापित किये गये थे जिनमें से कई ट्रांसफार्मर जल गये है या चोरी चले गये है फिर भी किसानों को बिल दिया जा रहा है। जहां ट्रांसफार्मर नही है उन गांवों के बिल माफ करने की मांग की गई है। ज्ञापन देने वालों में जिला कांग्रेस अध्यक्ष सिरनाम सिंह यादव, ब्लांक कांग्रेस अध्यक्ष दिग्विजय सिंह रघुवंशी, जिला कांग्रेस महामंत्री राकेश सिंघई, डॉ. ब्रिजेन्द्र सिंह यादव रिजौदा, अल्प संख्यक प्रदेश महासचिव अनस सिद्धीकी, युवा कांग्रेस विधान सभा उपाध्यक्ष आशीष रघुवंशी, गौपाल कौल, हरिओम रघुवंशी, पार्षद, लक्ष्मी यादव आदि कांग्रेस के कार्यकर्ता उपस्थित थे। फोटो- ज्ञापन सौंपते हुये कांग्रेसजन।(अजय शर्मा )

Top

पटवारी संघ ने सौंपा ज्ञापन

न्देरीः- मप्र पटवारी संघ जिला अशोकनगर के आव्हान पर आज तहसील चन्देरी मे समस्त पटवारी सांकेतिक कलम वंद हडताल पर चले कए पटवारियो द्वारा श्री फीरोज खान द्वारा प्रताडंना से की गई आत्महत्या के संवंध मे एक ज्ञापन माननीय राज्य पाल महोदय को अनुविभागीय अधिकारी के माध्यम से दिया गया। ज्ञापन मे बाताया की आत्महत्या मे दोसी तहसील दार लच्छी राम कोरी को तुरंत गिरफ्तार किया जा कर एफ।आर्ई।आर दर्ज की जाये तथा पीड़ित परिवार को १० लाख रू। की आर्थिक सहयता दी जाने के साथ ही परीवार के एक सदस्य को साशकिये नोकरी दी जाये। इसके अलावा यदि कोई पटवारी प्रताडना संवंधी शिकायत वरिष्ठ से करता है। तो तुरंत जॉच का समाधान किया जाये और सार्वजनिक रूप से किसी भी पटवारी को मौखिक रूप से धमकी अथवा अपशब्दो प्रताडित न किया जाये। ज्ञापन देने वालो मे अरविंद रघ्ुावंशी, राम सिंह राघुवंशी, दीपक राघुवंशी, राम गोपाल ओ।ई।के, रविन्द्र कुशवाहा, हरिओम कलावत, शुरेश वैरागी, पंचम सिंह जगदीश यादव, अशोकरावत, श्रीमति पूजा दुवे आदि उपस्थित थे। फोटो- ज्ञापन सौंपते हुये पटवारी संघ के सदस्य(अजय शर्मा )

Top

बुंदेली मेला मे नहीं रहेगा नानवेज

कलाकार दिखाएंगे प्रतिभा का प्रदर्शन दमोह. शहर के तहसील ग्राउंड पर आयोजित होने वाले बुंदेली महोतसव की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इसी क्रम में बुंदेली गौरव न्यास के अध्यक्ष काका अंबालाल पटैल ने जानकारी देते हुए बताया है कि इस बार बुंदेली महोत्सव की तिथि १४ से २३ फरवरी रखी गई है। जिसकी तैयारियों को अंतिम स्प दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि बुंदेली गौरव न्यास के संरक्षक मंत्री जयंत मलैया के नेतृत्व में सभी अलग-अलग समितियों के सदस्यों ने पूरी जिम्मेवारी के साथ कार्य को लगभग पूरा कर लिया है। इस बार दस दिनों तक आयोजित होने वाले बुंदेली महोत्सव में शहर के अलावा बुंदेलखंड के अनेक कलाकार अपनी प्रस्तुतियां देंगे। साथ ही देशभर के विभिन्न प्रदेशों से कलाकारों को भी आमंत्रित किया गया है।निर्धारित हुए कार्यक्रम सांस्कृतिक कार्यक्रमों के संयोजक राजीव अयाची ने बताया है कि १४ फरवरी से शुरु होने वाले बुंदेली महोत्सव में पहले दिन उद्‌घाटन सत्र की शुरुवात होगी। जिसमें बुंदेली विधा से लोगों को परिचय कराया जाएगा। १५ फरवरी को राजस्थान के रंग मोरु सपेरा व उनकी पार्टी के महावीरराणा साथ ही भारतीय कला संस्थान जयपुर के निर्देशक अशोक शर्मा के निर्देशन में कार्यक्रम आयोजित होगा। इस दिन स्वर श्री प्रतियोगिता की शुरुआत होगी जिसमें जिले भर के कलाकार अपने स्वरों से जलवा बिखेरेंगे जिसमें दस साल से लेकर बुजुर्ग व्यक्ति भी आवाज का जादू दिखाएंगे। इसकी तैयारियों को स्वरश्री प्रतियोगिता के संयोजक संगीत शिक्षक रवि वर्मन के निर्देशन में तैयारियां पूर्ण की जा रहीं हैं। यह प्रतियोगिता शाम चार से छह बजे तक चलेगी। इसके अलावा १६ फरवरी को भगवान श्रीकृष्ण के लिए समर्पित ब्रजलोक कला मंच डींग भरतपुर के निर्देशक विष्णुदत्त शर्मा के निर्देशन में ब्रज की होली का भव्य आयोजन होगा। साथ ही इसी दिन से नृत्यश्री प्रतियोगिता की शुरुआत होगी। जिसमें संयोजक नवोदित निगम के निर्देशन में जिले भर के नृत्य के कलाकार अपनी कला का बेहतरीन प्रदर्शन करेंगे एक प्रश्न के उत्तर में बताया गया की स्टालों में नानवेज नहीं रहेगा

Top

बीन की धुनों पर डांस करता प्रशासन?

छतरपुर मध्यप्रदेश में शिवराज सरकार की बीन पर बजती धुनों पर प्रशासन लगातार विभिन्न प्रकार के डांस कर रहा है। यहां तक कि सरकारी बीन पर बजने वाली धुनें पूरी हो नहीं पाती है और जैसे ही दूसरी धुन बजने लगती है वैसे ही डांस करने का तरीका भी बदल जाता है। इस बात को हम नहीं कह रहे है वरन जिला प्रशासन में एडीएम के रूप में पदस्थ रहने वाले एक अधिकारी ने यह बात बडी ही गम्भीरता पूर्वक कही थी जब मीडिया ने उनसे पूंछा था कि शिवराज की कोई भी योजना का क्रियान्वयन पूरा नहीं हो पाता है और दूसरी योजना लागू हो जाती है तो पहली योजना को भूलकर दूसरी योजना के क्रियान्वयन में पूरा अमला लग जाता है। इसी के जबाब में कहा गया था कि हम तो बाराती है और सरकार बैंड मास्टर। जो धुन बैंड मास्टर निकालेंगे उसी धुन पर हम लोगों के पैर डांस करने के लिये थिरकने लगते है।उदाहरण के तौर पर उन्होने बताया कि जैसे जब कोई बारात सजती है और उस बारात में बैंड मास्टर जो भी धुनें निकालता है उसी धुन पर बाराती डांस करने लगते है। यही हाल बैंड मास्टर के रूप में शिवराज सरकार का और बाराती के रूप में जिला प्रशासन का है। यह भी कहा था कि शिवराज सरकार ने ऐसी कई जनहित कल्याणकारी योजनाओं की घोषणा बडे स्तर पर की गई परन्तु उन योजनाओं के क्रियान्वयन में लगभग छह माह का समय लगता है और जैसे तैसे घोषित योजना का ताना बाना बुना और धरातल पर लागू करने के लिये बीज जैसे ही डाले वैसे ही दूसरी योजना लागू कर दी जाती है। हम लोग पहली योजना को छोड दूसरी योजना के क्रियान्वयन कराने में लग जाते है। और फिर तीसरी योजना लागू कर दी जाती है। इसी प्रकार का तारतम्भ चल रहा है और हम लोग बैंड मास्टर की धुनों पर डांस कर जनता को लुभाने का काम ही कर पा रहे है। (रवि गुप्ता)

Top

गहोई वैश्य समाज करायेगा आठ फेरों की शादियां

छतरपुर- मध्यप्रदेश के बुन्देलखण्ड के गहोई वैश्य समाज ने निर्णय लिया है कि वे अपने अपने बच्चों की शादियां आठ फेरों की करवायेंगे। पवित्र अगिन को साक्षी मानकर सात फेरे जीवन बंधन के इसके अतिरिक्त आठवां फेरा जीवन भर विश्चास के साथ जीवन व्यतीत करने और लडके की चाहत में लिंग परीक्षण कराकर भू्रण हत्या ना करने एवं वेटा बेटी एक समान की सोच रखने का संकल्प है। इस आठवें फेरे की शुरूआत से मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की बेटी बचाओ योजना को बल मिलने की पहली सफलता होगी जब गहोई वैश्य समाज ने लडकी बच्चे को बचाने की प्रतिज्ञा का आठवां फेरा लेने का निर्णय लिया है। मध्यप्रदेश बुन्देलखण्ड के छतरपुर जिले के महाराजपुर निवासी राधेश्याम बिलैया जो कि शासकीय कालेज में प्रोफेसर है उन्होने अपनी बेटी की शादी में १२ फरवरी को पवित्र अगिन के समाने सात फेरों के अलावा आठवां फेरा दिलाने को संकल्प लिया है। बताया जाता है कि दुल्हन रानी हर्ष मुम्बई में एक निजी कम्पनी मं सहायक प्रबंधक और दूल्हे राजा समीर मोबाइल कम्पनी में सहायक प्रबंधक के पद पर कार्यरत है। आठवां फेरा लिये जाने के निर्णय से बर-बधु पक्ष के परिजनों ने अपनी सहमति जताई है।गहोई वैश्य समाज अध्यक्ष प्रेम नारायण रूसिया ने मीडिया को बताया कि इस अद्वितीय पहल से सामाजिक जागरूकता भी बढेगी और इसके साथ साथ बेटे की चाहत में लिंग परीक्षण कराकर गर्भ में पल रहीं बेटी का गर्भपात कराकर बेटियों की संख्या में होने वाली चिंताजनक कमी से भी निजात पाया जा सकता है। (रवि गुप्ता)

Top

विधवा की नसबंदी ने खोली दावों की पोल

पहले पुरूष नसबंदी में जिले ने बनाया था विश्चरिकार्ड तब अंधे-कुॅआरों की की गयी थी नसबंदी होशंगाबाद--शांतिप्रिय,सौम्यता की मिसाल के लिये होशंगाबाद जिले की गंगा-जमुना संस्कृति पर अब महिला नसबंदी में एक ५० वर्षीय विधवा को बरगला कर उसकी नसबंदी किये जाने से जहॉ उक्त विधवा को समाज से गंदे ताने सुनने को मिल रहे है वहीं आशा कार्यकर्ता द्वारा धोखाधड़ी कर नसबंदी कराने में दावों की पोल खुल गयी है ठीक उसी प्रकार जैसे पुरूष नसबंदी के लक्ष्य को पूरा करने को कुॅआरे, अंधे युवकों की नसबंदी की गयी, और नसबंदी में जिले ने लक्ष्य ही पूरा नहीं किया बल्कि विश्चरिकार्ड बनाने में कामयाब भी रहे है। कलेक्टर निशांत बरबड़े ने जिस प्रकार जिले के सोहागपुर में महिला नसबंदी लक्ष्य को लेकर अनेक आशा कार्यकर्ताओं एवं स्वास्थ्य विभाग की परेड़ लेते हुये जमकर डॉट डपट लगाते हुये कहा कि तुम्हारी जगह मेैं होता तो आत्महत्या कर लेता, कलेक्टर की उक्त डाट से निचले दर्जे के इन कर्मचारियों को हतोत्साहित होने के साथ ही पेट पालने को नौकरी बचाने की चिंता ने इस कदर भयाक्रान्त किया कि अब एक पचास वर्षीय विधवा महिला तक की नसबंदी कर जिले के माथे पर कलंक लगा है। वर्ष २००५ में तात्कानिक कलेक्टर फैज अहमद किदवई के निर्देशानुसार जिले में २८६९पुरूषों की नसबंदी करके होशंगाबाद जिले ने विश्चरिकार्ड बनाया था, तब भी निचले स्तर के कर्मचारियों ने भूल कर कहीं कुऑरे जवानों की नसबंदी की तो कही अंधे युवक तक की नसबंदी करके बदनामी उठानी पड़ी जो अब उक्त विधवा की नसबंदी किये जाने के दरम्यान देखने को मिली। टप्पा तहसील डोलरिया के नजदीकी ग्राम डूडगॉव की ५० वर्षीय विधवा महिला श्रीमति सुमनबाई ने पहले डोलरिया पुलिस थाने में शिकायत कराई कि गॉव की आशा कार्यकर्ता रामप्यारी कु शवाह ने ५ हजाररूपये की योजना का लाभ दिलाने का कहकर इटारसी ले गयी और वहॉ नसीला पदार्थ पिलाकर उसे बेहोश करके अस्पताल में भर्ती कर उसकी नसबंदी कर दी जबकि नसबंदी के लिये उसकी कोई स्वीकृति नहीं थी। श्रीमति सुमन के अनुसार उक्त नसबंदी के बाद उसका मजदूरी करना मुश्किल हो गया है तथा समाज में उसे महिलाओं व अन्यों द्वारा ताने दिये जा रहे है। उक्त शिकायत को डोलरिया पुलिस ने मजाक समझकर वापिस कर सुमनबाई को थाने से बाहर का रास्ता दिखाया तब उक्त सुमनबाई अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमृतलाल मीना के समक्ष पहुॅची और यह शिकायत की जिसपर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक का कहना है कि शिकायत की जॉच करायी जायेगी। जिले में नसबंदी का आंतक नसबंदी लक्ष्य को लेकर जिस तरह ऑगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं आशा कार्यकर्ताओं पर दबाव बनाया जा रहा है वह किसी आंतक से कम नहीं, और वे सुबह से ही लोगों के घर-घर जाकर नसबंदी के लिये मेलजेल करती है, किन्तु बावजूद नसबंदी के लिये महिलाओं का रूझान नहीं है, कहीं यदि महिला राजी हो जाये तो पति या परिवार के लोग इंकारकर देते है, इस कारण जमीनी तौर पर इन निचले दर्जे के कर्मचारियों पर अधिकारियों का दबाव लगातार है, यदि जिस तरह नसबंदी के लिये दबाव बनाया जा रहा है उसी तरह अस्पताल पहुॅचने वाले मरीजों की देखरेख करने तथा उनके उपचार के लिये प्रयास किये जाये तो जनता का विश्चास जीता जा सकता है, लेकिन जहॉ परेशानी-दुख में उनके साथ ईलाज के नाम पर लूट खसूट चल रही हो वही अपने मतलब एवं शासन की योजनाओं की आपूर्ति के नाम नसबंदी जैसी योजनाओं से जुड़ने में लोग पिछड़े रहेगे। हिन्दू-मुस्लिम नसबंदी के ऑकडे है चौकाने वाले जिले में नसबंदी को लेकर अनेक चर्चाये है जिसमें सामान्यजन में हिन्दूओं द्वारा वर्ष २००५में नसबंदी योजना के क्रियान्वयन में किये गये प्रचार-प्रसार में १९ नवम्बर ९५ तक कराये पुरूष नसबंदी आपरेशनों में मुस्लिम वर्ग के व्यक्तियों ने नसबंदी से खुदको अलग रखा वही हिन्दूओं की नसबंदी से जिला विश्चरिकार्ड कायम कर चुका, इससे हिन्दुओं में प्रशासन के प्रति गहरा आक्रोश देखने को मिला कि किस प्रकार जिला प्रशासन हिन्दुओं के साथ छलावा कर मुस्लिमों का बचाव कर उन्हें संरक्षण देता है। यही बात अब महिलाओं के नसबंदी आपरेशन में सुनाई देने लगी कि जिला प्रशासन आपरेशन कराने वाली महिलाओं की सूची सार्वजनिक करें ताकि पता चल सके कि हिन्दु परिवारों की तरह मुस्लिम परिवार से कितनी महिलाओं ने नसबंदी आपरेशन कराये (आत्माराम यादव)

Top

विधवा की नसबंदी ने खोली दावों की पोल

पहले पुरूष नसबंदी में जिले ने बनाया था विश्चरिकार्ड तब अंधे-कुॅआरों की की गयी थी नसबंदी होशंगाबाद--शांतिप्रिय,सौम्यता की मिसाल के लिये होशंगाबाद जिले की गंगा-जमुना संस्कृति पर अब महिला नसबंदी में एक ५० वर्षीय विधवा को बरगला कर उसकी नसबंदी किये जाने से जहॉ उक्त विधवा को समाज से गंदे ताने सुनने को मिल रहे है वहीं आशा कार्यकर्ता द्वारा धोखाधड़ी कर नसबंदी कराने में दावों की पोल खुल गयी है ठीक उसी प्रकार जैसे पुरूष नसबंदी के लक्ष्य को पूरा करने को कुॅआरे, अंधे युवकों की नसबंदी की गयी, और नसबंदी में जिले ने लक्ष्य ही पूरा नहीं किया बल्कि विश्चरिकार्ड बनाने में कामयाब भी रहे है। कलेक्टर निशांत बरबड़े ने जिस प्रकार जिले के सोहागपुर में महिला नसबंदी लक्ष्य को लेकर अनेक आशा कार्यकर्ताओं एवं स्वास्थ्य विभाग की परेड़ लेते हुये जमकर डॉट डपट लगाते हुये कहा कि तुम्हारी जगह मेैं होता तो आत्महत्या कर लेता, कलेक्टर की उक्त डाट से निचले दर्जे के इन कर्मचारियों को हतोत्साहित होने के साथ ही पेट पालने को नौकरी बचाने की चिंता ने इस कदर भयाक्रान्त किया कि अब एक पचास वर्षीय विधवा महिला तक की नसबंदी कर जिले के माथे पर कलंक लगा है। वर्ष २००५ में तात्कानिक कलेक्टर फैज अहमद किदवई के निर्देशानुसार जिले में २८६९पुरूषों की नसबंदी करके होशंगाबाद जिले ने विश्चरिकार्ड बनाया था, तब भी निचले स्तर के कर्मचारियों ने भूल कर कहीं कुऑरे जवानों की नसबंदी की तो कही अंधे युवक तक की नसबंदी करके बदनामी उठानी पड़ी जो अब उक्त विधवा की नसबंदी किये जाने के दरम्यान देखने को मिली। टप्पा तहसील डोलरिया के नजदीकी ग्राम डूडगॉव की ५० वर्षीय विधवा महिला श्रीमति सुमनबाई ने पहले डोलरिया पुलिस थाने में शिकायत कराई कि गॉव की आशा कार्यकर्ता रामप्यारी कु शवाह ने ५ हजाररूपये की योजना का लाभ दिलाने का कहकर इटारसी ले गयी और वहॉ नसीला पदार्थ पिलाकर उसे बेहोश करके अस्पताल में भर्ती कर उसकी नसबंदी कर दी जबकि नसबंदी के लिये उसकी कोई स्वीकृति नहीं थी। श्रीमति सुमन के अनुसार उक्त नसबंदी के बाद उसका मजदूरी करना मुश्किल हो गया है तथा समाज में उसे महिलाओं व अन्यों द्वारा ताने दिये जा रहे है। उक्त शिकायत को डोलरिया पुलिस ने मजाक समझकर वापिस कर सुमनबाई को थाने से बाहर का रास्ता दिखाया तब उक्त सुमनबाई अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमृतलाल मीना के समक्ष पहुॅची और यह शिकायत की जिसपर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक का कहना है कि शिकायत की जॉच करायी जायेगी। जिले में नसबंदी का आंतक नसबंदी लक्ष्य को लेकर जिस तरह ऑगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं आशा कार्यकर्ताओं पर दबाव बनाया जा रहा है वह किसी आंतक से कम नहीं, और वे सुबह से ही लोगों के घर-घर जाकर नसबंदी के लिये मेलजेल करती है, किन्तु बावजूद नसबंदी के लिये महिलाओं का रूझान नहीं है, कहीं यदि महिला राजी हो जाये तो पति या परिवार के लोग इंकारकर देते है, इस कारण जमीनी तौर पर इन निचले दर्जे के कर्मचारियों पर अधिकारियों का दबाव लगातार है, यदि जिस तरह नसबंदी के लिये दबाव बनाया जा रहा है उसी तरह अस्पताल पहुॅचने वाले मरीजों की देखरेख करने तथा उनके उपचार के लिये प्रयास किये जाये तो जनता का विश्चास जीता जा सकता है, लेकिन जहॉ परेशानी-दुख में उनके साथ ईलाज के नाम पर लूट खसूट चल रही हो वही अपने मतलब एवं शासन की योजनाओं की आपूर्ति के नाम नसबंदी जैसी योजनाओं से जुड़ने में लोग पिछड़े रहेगे। हिन्दू-मुस्लिम नसबंदी के ऑकडे है चौकाने वाले जिले में नसबंदी को लेकर अनेक चर्चाये है जिसमें सामान्यजन में हिन्दूओं द्वारा वर्ष २००५में नसबंदी योजना के क्रियान्वयन में किये गये प्रचार-प्रसार में १९ नवम्बर ९५ तक कराये पुरूष नसबंदी आपरेशनों में मुस्लिम वर्ग के व्यक्तियों ने नसबंदी से खुदको अलग रखा वही हिन्दूओं की नसबंदी से जिला विश्चरिकार्ड कायम कर चुका, इससे हिन्दुओं में प्रशासन के प्रति गहरा आक्रोश देखने को मिला कि किस प्रकार जिला प्रशासन हिन्दुओं के साथ छलावा कर मुस्लिमों का बचाव कर उन्हें संरक्षण देता है। यही बात अब महिलाओं के नसबंदी आपरेशन में सुनाई देने लगी कि जिला प्रशासन आपरेशन कराने वाली महिलाओं की सूची सार्वजनिक करें ताकि पता चल सके कि हिन्दु परिवारों की तरह मुस्लिम परिवार से कितनी महिलाओं ने नसबंदी आपरेशन कराये (आत्माराम यादव)

Top

जिले में महिला नसबंदियों को लेकर तनाव

होशंगाबाद- जिले की सभी आशा कार्यकर्ताओं एवं ऑगनबाडी कार्यकर्ताओं सहित होशंगाबाद,बाबई,सोहागपुर,पिपरिया,बनखेड़ी,केसला, इटारसी एवं सिवनीमालवा ब्लाकों के बीएमओ महिला नसबंदी लक्ष्य को हासिल करने में ४५ प्रतिशत पिछड़े है। जहॉ एक ओर अस्पताल में अव्यवस्थाओं का आलम है जिससे महिलाओं नसबंदी कराने आने वाली महिलाओं को अपमानित होने से इस मुहिम में लगे सभी लोगों को तकलीफ उठानी पड़ रही है। इधर होशंगाबाद जिले में महिला नसबंदियों का लक्ष्य ़१२ हजार ४०० तय किया गया है और पूरे जिले में चार महिने की गहरी मसस्कत के बाद ६५७१ का ऑकड़ा पार पाया जा सका है, जिले में ५३ प्रतिशत नसबंदी की जा चुकी है और ४७ प्रतिशत में ५ हजार ८ सौ २९ महिलाओं की नसबंदी के बाद ही पूरा लक्ष्य पाया जा सकता है। मुख्य जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाक्टर सुधीर जैसानी के अनुसार जिले के अनेक ब्लाकों के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के बीएमओ का वेतन लक्ष्य पूर्ति में लापरवाही के कारण रोका गया है। इसके ५०० ए.एन.एम एमपीडव्ल्यू वेतन के लिये तरस रही है वहीं आशा कार्यकर्ताओं एवं ऑगनबाडी कार्यकर्ताओं के दो माह से वेतन रोक ा गया है। इससे सभी कर्मचारी गहरे तनाव में और लक्ष्य पूरा करने के दरम्यान एक विधवा की नसबंदी के बाद तो जैसे कार्यवाही के भय से इन कर्मचारियों पर पहाड आ टूटा है। (आत्माराम यादव)

Top

बुन्देलखण्ड की राजनीति करना छलावाः

छतरपुर- देश की राजधानी दि्वी में बैठकर बुन्देलखण्ड की राजनीति करने वाले नेता ने अपनी सुविधा को देखते हुये एनटीपीसी परियोजना मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले के बरेठी में स्वीकृत कराई है। इतना ही नहीं छतरपुर जिला प्रदूषण मुक्त जिला होने के कारण नेता जी का कोई भी उद्योग खजुराहो के आसपास स्थापित नहीं हो पा रहा था इसी को दृष्ठिगत रखते हुये उन्होने एनटीपीसी परियोजना स्वीकृत कराकर कार्य को अंजाम देने में लगे हुये है ताकि एनटीपीसी परियोजना लग जाने से छतरपुर जिला प्रदूषण मुक्त की सीमा से अलग हो जायेगा और इसी के आड में अपना सीमेन्ट और माइन्स उद्योग स्थापित करने में परेशानी की बाधा से निजात मिल सकेगा। उक्त आरोप रांची बिहार में जन्मे और खजुराहो में निवास करने वाले एवं अपने आपको समाजिक कार्यकर्ता एवं कांग्रेसी नेता कहने वाले नमित वर्मा ने आयोजित पत्रकारवार्ता में कही। श्री वर्मा का ईशारा खजुराहो के पूर्व सांसद एवं वर्तमान राज्य सभा सांसद सत्यव्रत चतुर्वेदी उर्फ विनोद भैया की तरफ रहा है। श्री वर्मा ने आरोप लगाया कि कांग्रेस पार्टी के युवराज राहुल गांधी के नाम पर एनटीपीसी परियोजना लागू करवाई है और राहुल गांधी के नाम का मुखौटा पहनाकर अपने स्वार्थ सिद्वि के खातिर एनटीपीसी परियोजना कानून का खुला उ्वंघन कर रहा है। इस प्रक्रिया में कानून का उ्वंघन किये जाने के अलावा कई खामियां की मध्यप्रदेश सरकार द्वारा अनदेखी की गई है। यह सुपर थर्मल पॉवर प्लांट परियोजना की दृष्टि से कई तरह के नुकसान पहुंचाने के साथ साथ खजुराहो के मंदिरों के लिए भी गम्भीर खतरा बन सकती है।श्री वर्मा से जब मीडिया ने पूंछा कि राहुल का सपना हमेशा से रहा है कि पिछडा बुन्देलखण्ड रोशनी से हमेशा जगमगाये और आप कांग्रेसी नेता होने के नाते राहुल गांधी को एनटीपीसी परियोजना लगने का श्रेय ना देकर उनकी ही पार्टी के नेता पर आरोप प्रत्यारोप लगाकर उन्हे बदनाम करने की साजिश रच रहे है तो इसके जाबाब में कहा गया कि राहुल गांधी की इच्छा से बरेठी में विद्युत उत्पादन इकाई नहीं खोली जा रही है इस योजना में उनका नाम बेवजह घसीटा जा रहा है बल्कि यह काम उन लोगों का है जो एनटीपीसी का मोहरा बनाकर अपना उ्वू सीधा करना चाहते हैं लेकिन वह ऐसा नहीं कर पायेंगे बल्कि जो भी ऐसा करेगा वह जेल जाने से नहीं बच सकता। केन्द्र शासन ने तो उन खनिज खदानों की जांच के भी आदेश दिए है जो राज्य सरकार की अनुमति से चल रही है। उन्होंने भोपाल की एनजीओ कार्यकर्ता शैला मसूद हत्याकांड के तार पन्ना से जुड़े होने की आशंका भी जताई। आपने कहा कि आरटीआई के तहत शैला मसूद ने जो जानकारी मांगी थी वह उसकी मौत का कारण बन गई जिसका खुलासा सीबीआई जांच से होने वाला है जिसमें बड़े बड़े नेता सलाखों के पीछे जायेंगे। रियो टिंटों डिविलियर्स के संबंध में आपने कहा कि रियो टिंटो नाम की कम्पनी हीरा उद्योग लगा रही है लेकिन हीरों की तलाश में वह अन्य खनिज सम्पदा का भी दोहन कर रही है। श्री वर्मा ने कहा कि पन्ना देवभूमि है यहां के बारे में कहावत है कि प्राणनाथ जी का यह श्राप है कि जो यहां खुदाई करेगा वह नष्ट हो जायेगा। प्रदेश की भाजपा सरकार भी प्राणनाथ के श्राप से बच नहीं सकती। श्री वर्मा ने बताया कि भगवान प्राणनाथ महाराजा छत्रसाल के गुरू थे। जिनकी राजधानी पहले ओरछा थी किंतु मुगलों से युद्ध में हार जाने के कारण वे अपने गुरू प्राणनाथ की सलाह पर पीछे हटकर पन्ना आए थे जिसे उन्होंने अपनी राजधानी बना लिया। प्राणनाथ जीके आशीर्वाद से पन्ना में हीरे मिलते हैं किंतु उनका यह श्राप भी था कि जो यहां खुदाई करेगा वह नष्ट हो जायेगा। एनटीपीसी को मोहरा बताते हुए श्री वर्मा ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह के पन्ना एवं छतरपुर जिले के प्रदूषण रहित जिला घोषित किया गया था लिहाजा यहां ऐसे कारखाने लगाने में अनेक कानून अड़चनें हैं वह तो सरकारी धन का बंदरबांट करने के लिए यह जानते हुए कि बरेठी में एनटीपीस की विद्युत उत्पादन इकाई नहीं खुल सकती फिर भी एनटीपीसी की प्रक्रिया सम्पन्न कराई जा रही है(रवि गुप्ता)

Top

आउट ऑफ स्कूल चिल्ड्रन जीरो

छतरपुर- केन्द्र सरकार के द्वारा मध्यप्रदेश के जिलों में संचालित सर्वशिक्षा अभियान अंतर्गत बुन्देलखण्ड के छतरपुर जिले में संचालित जिला शिक्षा केन्द्र अंतर्गत संचालित जनपद शिक्षा केन्द्रों में आउट ऑफ स्कूल चिल्ड्रन की संख्या जीरो बताई जा रही है। पिछले तीन वर्ष के आंकडों पर नजर डाली जाये तो जनपद शिक्षा केन्द्रों में पदस्थ रहे बीआसीसी ने कार्यालय में बैठकर आउट ऑफ स्कूल चिल्ड्रन की संख्या जीरो भरकर यह साबित कर दिया कि हम किसी से कम नहीं है। जानकारी के अनुसार सर्वशिक्षा अभियान की बेब साइट से निकाले गये आंकडों में पिछले तीन वषोर्ं पर नजर दौडाई जाये तो वर्ष २००९-१० में ईशानगर जनपद शिक्षा केन्द्र को छोडकर बारीगढ, लौंडी, बक्स्वाहा, बडामलेहरा, राजनगर, बिजावर, नौगांव जनपद शिक्षा केन्द्रों में आउट ऑफ स्कूल चिल्ड्रन जीरो दर्शाये गय है। इसी प्रकार वर्ष २०१०-११ और वर्ष २०११-१२ में आउट ऑफ स्कूल चिल्ड्रन की संख्या जीरो दर्शाई गई है। हालांकि डीपीसी संतोष कुमार शर्मा कहते है कि कलेक्टर ने सभी बीआरसीसी को इस संबंध में नोटिस जारी कर आउट ऑफ स्कूल चिल्ड्रन की संख्या को सर्वेक्षण के आधार पर दर्शाये जाने को कहा है। चिन्ताजनक बात तो यह है कि जिला मुख्यालय पर संचालित जनपद शिक्षा केन्द्र ईशानगर में आउट ऑफ स्कूल चिल्ड्रनों की संख्या पांच सौ से एक हजार दर्शाई जा रही है जबकि जिला मुख्यालय पर सभी सुविधाये मौजूद है। वहीं दूसरी तरफ अति पिछडा क्षेत्र जनपद शिक्षा केन्द्र बारीगढ, लौंडी, जोकि उत्तरप्रदेश की सीमासे लगा हुआ है ऐसे पिछडे क्षेत्र में आउट ऑफ स्कूल चिल्ड्रन की संख्या जीरो दर्शाई जा रही है जो अपने आप में अतिश्योक्ति पूर्ण आंकडा ही नहीं फर्जीबाडा का बाप है। इसीप्रकार जनपद शिक्षा केन्द बिजावर और बस्स्वाहा जिसके अंतर्गत आदिवासी बाहुल्य गांव आते है और यहां पर भी आउट ऑफ स्कूल चिल्ड्रन जीरो है। इसी प्रकार राजनगर और नौगांव जनपद शिक्षा केन्द्रों का हाल है। राजनगर विश्चविख्यात पर्यटन स्थल खजुराहों से कुछ ही दूरी पर है और नौगांव जिला मुख्यालय से मात्र पच्चीस किमी दूरी पर है। इन दोनो जनपद शिक्षा केन्द्रों में भी आउट ऑफ स्कूल चिल्ड्रन जीरो दर्शाये गये है। जो अपने आप में अलग उदाहरण है। अगर इसी आधार पर फर्जी आंकडेबाजी में बच्चों की संख्या को दर्शाया गया तो इस पिछडे बुन्देलखण्ड की दशा और दिशा सुधारने में पीढी दर पीढी निकल सकतीं है। ऐसी घटना से वर्ष १९५४ की हिन्दी फिल्म नास्तिक में चर्चित गाना याद आता है कि . . . राम के भक्त, रहीम के बंदे, रचते आज फरेब के धंघे। कितने ये मक्कार ये अंधे, देख लिये इनके भी धंधे। इन्ही के काली करतूतों से हुआ ये मुल्क मसान॥ कितना बदल गया इंसान . . . । इसी तर्ज पर सर्वशिक्षा अभियान का फर्जी आंकडा दर्शाया गया है।(रवि गुप्ता )

Top

विकास यात्रा विकास का ढोंगःभूरिया

छतरपुर- प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया का पर्यटक ग्राम बसारी में आयोजित आमसभा को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा की जनविरोधी नीतियों का जबाव आने वाले विधानसभा चुनाव में जनता देगी। उन्होंने कहा कि बिजली की अघोषित कटौती से किसान परेशान है और मनमाने बिल थमाकर सरकार उन्हें लूटने में लगी हुई है। प्रदेश के मंत्री भ्रष्टाचार में लिप्त हैं और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान उन्हें बचाने में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि बुन्देलखंड के विकास के लिए कांग्रेस की केन्द्र सरकार ने साढ़े चार हजार करोड़ रूपए दिए जिसे कहां खर्च किया गया। इसका प्रदेश सरकार कोई हिसाब नहंी दे रही है। उन्होंने कहा कि केन्द्र की योजनाओं को अपना बताकर भाजपा की प्रदेश सरकार जश लूटने में लगी हुई है। भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों से किसान आत्महत्या करने को मजबूर हैं और भाजपा के मुखिया विकास यात्रा निकालकर प्रदेश के विकास का ढ़ोंग रच रहे हैं। उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से आवाह्न किया कि भाजपा की जनविरोधी नीतियों को आमजन तक पहुंचाए ताकि आने वाले विधानसभा चुनाव में जनता भाजपा को मुंहतोड़ जबाव दे सके। कांग्रेस जिलाध्यक्ष जगदीश शुक्ला ने कहा कि प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों से किसान और आमजनमानस परेशान हैं। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से आवाह्न किया कि भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों को जन जन तक पहुंचाकर और केन्द्र सरकार की योजनाओं से लोगों को अवगत कराएं ताकि आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा का सूपड़ा साफ हो सके।जनपद पंचायत राजनगर के अध्यक्ष सिद्धार्थ शंकर बुन्देला ने कहा कि किसानों को समय पर खाद बिजली पानी नहीं मिल रहा है। बुंदेलखंड पैकेज के तहत दी गई राशि को कागजों पर खर्च किया जा रहा है। यही वजह है कि करोड़ों रूपए खर्च होने के बावजूद बुन्देलखंड अंचल में विकास नाम की कोई चीज दिखाई नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि मनरेगा के तहत केन्द्र सरकार ने हर हाथ को काम दिलाने की योजना बनाई जिसका गलत तरीके से न्निᆬयान्वयन होने के कारण पलायन का सिलसिला जारी है। उन्होंने भाजपा की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ एकजुटता के साथ आंदोलन करने का आवाह्न किया।(रवि गुप्ता )

Top

कियॉस्क टच स्क्रीन मशीन पर धूल

छतरपुर- मध्यप्रदेश के छतरपुर मुख्यालय के जिला पंचायत के एमआईएस कम्प्यूटर शाखा में आई कियॉस्क टच स्क्रीन मशीन पिछले दस वर्षों से अधिक सालों से लाखों रूपये की क्रय की गर्इ मशीन धूल खा रही है। इन बर्षो में मशीन के संचालन की चिन्ता जिले के जिम्मेदार अधिकारियों ने नहीं की है। इस मशीन के संचालन में व्यवधान क्यों आ रहा है इसके लिये हर एक जिम्मेदार अधिकारी कुछ भी कहने से बच रहा है। मिली जानकारी के अनुसार आई कियॉक्स टच स्क्रीन मशीन जिले में पूर्व कलेक्टर रामानंद शुक्ल के समय आई थी परन्तु इस मशीन के संचालन करने के लिये ऑपरेटर एवं साफ्‌टवेयर ना होने के कारण इस मशीन को ज्यों की त्यों पेटी में ढककर रखवा दी गई। बताया गया इस मशीन की कीमत उस समय लगभग पांच लाख रूपये में क्रय की गई थी। इस मशीन का भुगतान शासन की विभिन्न योजनाओं की रािश से किया गया था। तात्कालीन जिला सीईओ एवं वर्तमान टीकमगढ कलेक्टर रधुराज राजेन्द्रम ने इस मशीन को कलेक्टर कार्यालय से उठवाकर जिला पंचायत में रखवाया था एवं इंजीनियरों से एक साफ्‌टवेयर बनवाया था जिसमें शासन की गा्रमीण विकास योजनाओं सहित विभिन्न योजनाओं को समाहित किया गया था। इसका विधिवत संचालन हेतु जिला पंचायत से प्रचार प्रसार भी करवाया गया था कि सरकार की विभिन्न जनहित कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी जिला पंचायत में आई कियॉक्स टच स्क्रीन मशीन से एक टच करने पर हर आम व्यक्ति ले सकता है। इस मशीन के संचालन हेतु ऑपरेटर की व्यवस्था एवं साफ्‌टवेयर डाउनलोन ना हो पाने के कारण इस मशीन को पुनः अपनी जगह पहुंचा दिया गया।आई कियॉक्स टच मशीन जिला पंचायत में धूल खाने को मजबूर है और किसी भी अधिकारी को इस बात की चिन्ता नहीं है कि इस मशीन के संचालन की व्यवस्था कर शिवराज सरकार की विभिन्न जनहित कल्याणकारी विकास योजनाओं की जानकारी का साफ्‌टवेयर डाउनलोड कर शुरू कर सकें। हालांकि सरकार की सोच यही थी कि इस मशीन से हर एक हितग्राही को अपने संबंधित योजनाओं की जानकारी एवं विकास कार्र्यो की जानकारी एक टच करने पर मिल सके। ताकि उसे अधिकारियों के पास जानकारी प्राप्त करने के लिये ना जाना पडे। (रवि गुप्ता )

Top

सचिव ने निकाली कुटीर की राशि

कलेकटर से की शिकायत अशोकनगर- अशोकनगर विकासखंड के ग्राम करैयाराय पंचायत के सचिव पर ग्राम की हरिजन महिला द्वारा कुटीर की राशि फर्जीवाडे के तहत निकालने की शिकायत जिला कलेकटर एके भार्गव से लिखित आवेदन के माध्यम से की गई है। आवेदिका ममता बाई पत्नि दिमना अहिरवार दर्शाया गया है कि उसके नाम पर वर्ष २००७-२००८ में कुटीर की स्वीकृति हुई थी परंतु उसकी राशि आज तक मुझे प्राप्त नहीं हो पाई है। पंचायत सचिव हरिराम साहू द्वारा फर्जीवाडा कर मेरे फर्जी तौर पर अंगूठा लगाकर बैंक से राशि निकाल ली गई है तथा इसकी जानकारी मुझे नहीं दी गई है। और पंचायत सचिव से जब-जब कुटीर निर्माण की राशि के संबंध में पूछा गया तो उसने महज राशि नहीं आने की बात कहकर गुमराह करता रहा। परंतु अब मुझे पंचायत सचिव द्वारा मेरे नाम पर किये गये फर्जीवाडे के संबंध में जानकारी मिली तो सचिव द्वारा कोई उचित जबाव नहीं दिया गया। वहीं सचिव के इस कारनामे से पीड़ित महिला ममता बाई द्वारा कलेकटर से पंचायत सचिव के विरूद्ध दंडात्मक कार्यवाही कर मामला दर्ज कराने की बात कही गई है। साथ ही आहरण बाऊचर पर लगाये गये फर्जी अंगूठे के निशानों का भी मिलान कराने की मांग की है। (अजय शर्मा )

Top

भटा का पेड १० फुट का

हटा नवोदय वार्ड ककराई में फतेहपुर के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी आरके पटेल के निवास पर जून २०११ को लगाया भटा बैंगन का पेड करीब १० फुट का हो गया। जिसमें अच्छे खासे फल भी आ रहे है। १० फुट का बैंगन का पेड गृह वाटिका से रूचि रखने वालों के लिए दर्शनीय बन गया है। माधव पटेल ने बताया कि गत वर्ष के बरसात के प्रारंभ होते ही भटा के बीच रोपे गए थे। उद्यान विभाग के संजय निकुंज प्रभारी पीएल अहिरवार ने बताया ने कि सामान्यतः भटा का पेड तीन से चार फुट का होता है। जो एक वर्ष की आयु का होता है। यदि इसकी देखरेख की जाए तो यह दो वर्ष तक भी चलता है। भटा के पेड की मुखय शाखा की कटाई छटाई एवं समय पर खाद पानी के कारण यह १० फुट का हो गया है।(संजय जैन )

Top

एंगिल में फसी नागिन

हटा- नवोदय वार्ड बीआरसी कार्यालय के सामने कस्सी मिस्त्री की दुकान के पास रखे एंगिल में एक नागिन फंस गई । करीब दो घंटे तक नागिन एंगिल में फन मारती रही। लेकिन निकल नहीं पा रही थी। मुकेद्गा विद्गवकर्मा भूरे ने जहरीली नागिन होने की सूचना सर्प विद्गोषज्ञ कलू महराज, मुन्ना नेमा को दी। दोनों ने आराम से एंगिल को अलग कर नागिन को पकड़ा और उसे जंगल में छोड दिया। कलू महराज ने बताया कि कोबरा प्रजाति की यह नागिन बहुत ही जहरीली होती है। एंगिल में फसने पर उसे किसी भी प्रकार की कोई चोट नही आई है(संजय जैन )

Top

अमेठी चुनाव में जाऊंगाःबाबूलाल गौर

छतरपुर- मैं उमा भारती के चुनाव क्षेत्र चरखारी में नहीं, सोनियां गांधी के चुनाव क्षेत्र अमेठी जाऊंगा। मुझे पार्टी ने इलाहाबाद, प्रतापगढ, सु्वतानपुर और अमेठी क्षेत्र का चुनाव प्रभारी बनाया है इस कारण हम उत्तरप्रदेश बुन्देलखण्ड क्षेत्र में चुनाव प्रचार करने नहीं जाऊंगा। उक्त बात नगरीय प्रशासन मंत्री बाबूलाल गौर ने मध्यप्रदेश के छतरपुर जिला मुख्यालय पर आयोजित एक कार्यक्रम के बाद पत्रकारवार्ता में मीडिया के सवाल जबाबों के आधार पर कही। मीडिया ने पूंछा कि फायरब्रांड भाजपा नेत्री ने अपनी कुर्सी का त्यागकर आपको मुख्यमंत्री बनाया था और आज उसी त्याग और बलिदान की खातिर जातिगत समीकरण बैठाने के लिये उमा के बुन्देलखण्ड उत्तरप्रदेश चुनाव प्रचार में जायेंगे या नहीं। इसी आधार पर मंत्री जी जल्दबाजी में अपने दिल की बात कह गये। मीडिया ने पूंछा कि शिव की विकास यात्रा जो नवम्बर माह में प्रारम्भ होना थी और उत्तर प्रदेश के चुनाव व उमा भारती को चुनाव की कमान सौंपे जाने की खबर से फरवरी माह में शिव विकास यात्रा प्रारम्भ इसीलिये कर दी गई ताकि टीकमगढ से लेकर रीवा के बेल्ट से जुडे जनाधार वाले सत्ता व संगठन के नेता उमा के बुन्देलखण्ड के चुनाव प्रचार में ना जा सके। इस बात पर मंत्री जी पहले चौंके और फिर बोल उठे ऐसा कुछ भी नहीं था और हमें इसकी जानकारी नहीं है।भोपाल को जर्दा, पर्दा, गर्दा से निजात दिलाई-मध्यप्रदेश के नगरीय प्रशासन मंत्री बाबूलाल गौर बुन्देलखण्उ के ह्‌दय स्थली छतरपुर जिला मुख्यालय पर आये और उन्होने नगर पालिका परिषद छतरपुर के द्वारा नवनिर्मित ट्रांसपोर्ट नगर में २५ लाख की लागत से सीमेन्ट रोड एवं डिवाइडर निर्माण का लोकार्पण एवं वृक्षारोपण कार्यक्रम पश्चात अपने उद्‌बोधन में कहा कि हम चाहते है कि मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल को जर्दा, पर्दा और गर्दा से मुक्त करवाया वैसा ही प्रदेश का हर शहर बने। उन्होने कहा कि भोपाल में चारों तरफ सडक किनारे गेंदा के फूद खिलते है तो दि्वी में चारों तरफ धूल उडती है, भोपाल में चारों तरफ फूलों की खुशबू बहती है तो दि्वी में धुंआ उडता है, भोपाल में सौन्दर्यता दिखती है तो दि्वी में व्यस्तता दिखती है। मंत्री जी चौरसिया समाज के सम्मेलन में शिरकत करने के लिये चौरसिया समाज के प्रदेशअध्यक्ष को साथ लेकर आये थे। मंत्री जी को इस बात की खबर ही नहीं थी जिस धरा पर यह सम्मेलन किया जा रहा है उस जमीन को चौरसिया समाज ने सांतरी रामजानकी मंदिर की जमीन पर कूटरचित दस्तावेजों के आधार पर अपने नाम करा ली थी और इसकी शिकायत होने पर वर्तमान कलेक्टर राहुल जैन ने इस जमीन को पुनः शासकीय दर्जकर उसका अतिक्रमण हटाने के निर्देश भी दिये है। शासकीय जमीन को अपनी जमीन बना सके इस कारण शिवराज सरकार के बुल्डोजर मंत्री को बुलवाया गया ताकि अतिक्रमण की जमीन पर बुल्डोजर ना चल सके।(रवि गुप्ता )

Top

शिव की विकास यात्रा उमा की नसीहत होगी

छतरपुर - मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं भाजपा प्रदेशाध्यक्ष प्रभात झा के द्वारा उत्तर प्रदेश चुनाव के दौरान बनाया गया मध्यप्रदेश विकास यात्रा कार्यक्रम सीमावर्ती क्षेत्र के उत्तरप्रदेश चुनाव में उमा की नसीहत साबित होगी। हालांकि मध्यप्रदेश विकास यात्रा कार्यक्रम नबम्बर माह में प्रारम्भ किया जाना था परन्तु उत्तरप्रदेश के चुनाव की कमान फायरब्रांड भाजपा नेत्री उमा भारती के हांथों सौपी जाने पर मध्यप्रदेश विकास यात्रा के कार्यक्रम को फरवरी माह में रखा गया। ताकि सत्ता व संगठन के नेता विकास यात्रा कार्यक्रमों में व्यस्त हो जायें। हालांकि मध्यप्रदेश के संगठन एवं पार्टी से जुडे नेताओं की बात पर विश्चास करें तो उनका कहना था कि हमने अपने अपने सूत्रों से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं भाजपा प्रदेशाध्यक्ष प्रभात झा के पास सुझाव पहुंचाया था कि उत्तरप्रदेश के चुनाव को देखते हुये मध्यप्रदेश में बनाई गई विकास यात्रा कार्यक्रम को चुनाव तक स्थगित रखा जाये। अगर यह संभव नहीं है तो टीकमगढ जिले के ओरछा से लेकर रीवा जिले तक के बेल्ट तक विकास यात्रा को स्थगित किया जाना पार्टी के लिये इसीलिये उचित है क्योंकि सीमावर्ती उत्तरप्रदेश में फायरबा्रंड भाजपा नेत्री उमा भारती के नेतृत्व में लडा जाने वाला चुनाव चरखारी सीट सहित अन्य सीटों पर जातिगत समीकरण बैठाने केलिये उत्तरप्रदेश चुनाव प्रचार के लिये जाना जरूरी है। इस सुझाव पर कोई तबज्जो नहीं दिया गया। टीकमगढ जिले के सांसद वीरेन्द्र खटीक, आदिमजाति कल्याण मंत्री हरिशंकर खटीक, छतरपुर विधायक ललिता यादव, खजुराहो सांसद जितेन्द्र सिंह बुन्देला, छतरपुर भाजपा जिलाध्यक्ष घासीराम पटेल, बडामलेहरा विधायक रेखा यादव, चंदला विधायक रामदयाल अहिरवार सहित ऐसे कर्इ जनाधार वाले सत्ता व संगठन के नेता है जो अपने सीमावर्ती उत्तरप्रदेश की चरखारी सीट पर जातिगत समीकरण बैठाकर उमा की एतिहासिक जीत दिलवा सकतें है। परन्तु सारे नेताओं को विकास यात्रा का प्रभारी बनाकर उन्हे अपने ही क्षेत्र में डे-नाइट हल्ट कर पन्द्रह दिनों का कार्यक्रम सफल बनाने को कहा गया है। ऐसा ही माजरा पन्ना, कटनी सतना, रीवा, दमोह, दतिया, गवालियर, जिलों का है जो चाहते है कि उमा का बुन्देलखण्ड भाजपा से लहलहाये परन्तु विकास यात्रा आडे हांथों आने से असहाय है।(रवि गुप्ता )

Top

५ लाख की सुपारी देकर करायी थीहत्या

होशंगाबाद। नर्मदाजयंती के दिन अशोक कहार की गोलीमार की गयी हत्या में पुलिस द्वारा सुराग देने वाले को ५ हजार रूपये की घोषणा के तत्काल बाद मुखबिर की सूचना पर हत्या में शामिल ६ आरोपी पकड़ा गये, एक फरार है। हत्यारों ने आपसी रंजिश के कारण ५ लाख रूपये की सुपारी देकर हत्या को अंजाम दिया गया, जो लोग हत्या में शामिल थे वे होशंगाबाद,सीहोर, बैतूल, हरदा, रायसेन जिलों में डकैती एवं लूट की घटना कर चुके थे। पुलिस सूत्रों के अनुसार नाला मोह्वा कोरीघाट निवासी अशोक कहार का उनके पड़ौसी सुरेश से आपसी रंजिश थी , सुरेश का परिवार छिन्नभिन्न हो गया तथा पत्री घर छोड़कर चली गयी एवं पैतृक मकान में वह स्वयं ठीक से नहीं रह पाता था , उसे आशंका थी कि उसका पड़ौसी अशोक कहार एवं उसके परिजनों ने जाटू-टोना कर दिया जिससे उसका परिवार बरबाद हो गया। सुरेश खुद का मकान छोड़ किराये से रहने लगा जहॉ अशोक की बहनों का आना जाना था। अशोक ने अपनी बहनों को सुरेश के घर जाना बंद कर दिया इससे सुरेश ने उसे अपनी प्रतिष्ठा का प्रश्र्र बनाकर अशोक को रास्ते से हटाने का मन बना लिया और अपने मित्र सुरेन्द्र राजपूत उर्फ व्ही.आई.पी.टेलर को यह बात बतलाई। सुरेन्द्र ने विनोद धोबी को यह बात बतलायी तो विनोद ने ऋषिकांत उर्फ मोनू विश्चकर्मा ने सिवनीमालवा निवासी दीपक उर्फ बाबा केवट,सूरज बि्वे एवं अजय उर्फ अज्जु बाधव को ५लाख रूपये में अशोक की हत्या की सुपारी दी जिसमें २५ हजार नगद दिये गये तथा हत्या के तुरन्त बाद २ लाख रूपये की दूसरी किश्त दी गयी । शूटर्स को २ लाख २५ हजार के भुूगतान में से पुलिस ५० हजार रूपये ही जब्त कर सकी । इसके अलावा उनसे एक पिस्तोल , एक जिंदा कारतूस मिला जबकि हत्या में प्रयुक्त एक माऊजर जब्त नही हो सकी तथा एक आरोपी नहीं पकड़ा जा सका है। घटना को अंजाम देने से पूर्व शूटर्स सूरज बि्वे एवं अजय बाधव को विनोद धोबी ने अशोक कहार की सारी गतिविधियॉ,हुलिया आदि की जानकारी दी तब निश्चित होकर दोनों शूटर्स ने पल्सर मोटरसायकल का इस्तेमाल कर नर्मदाजयंती के दिन सुबह ९ बजे अशोक कहार की गोली मारकर हत्या कर दी। उक्त हत्या होशंगाबाद पुलिस के लिये सिरदर्द बन गयी थी और पुलिस को अच्छी खासी बदनामी मिल रही थी। पुलिस महानिरीक्षक विजय कटियार एवं पुलिस उप महानिरीक्षक अनिल कुमार गुप्ता के निर्देशन में पुलिस अधीक्षक आई.पी.अरजरिया के मार्गदर्शन में होशंगाबाद पुलिस ने ३ दिन में ही हत्या का पर्दाफाश किया है। लूटपाट-डकैती कर चुके है हत्यारे अशोक कहार हत्याकाण के आरोपियों को पकड़ने के बाद होशंगाबाद पुलिस को दोहरी सफलता मिली है। आरोपी विनोद धोबी, मोनू विश्चकर्मा,दीपक केवट ,सूरज बि्वे एवं अज्जु बाधम आदतम अपराधी है और होशंगाबाद,हरदा,रायसेन,बैतूल एवं सीहोर जिले में लूट-डकैती की कई घटनायें कर चुके है। इनके द्वारा होशंगाबाद पुलिस थानार्न्तैगत ८ दिसम्बर ़११ को हरदा बाइपास पर रामलखन साहू निवासी पलासडोह से ८० हजार रूपये लूटे गये जिसमें ३० हजार रूपये बरामद कर लिये गये। इसके अतिरिक्त इन्होंने शाहगंज जिला सीहोर में १ लाख ३० हजार रूपये, टिमरनी जिला हरदा में १ लाख ७० हजार रूपये, चौपना जिला बैतूल में ७५ हजार रूपये,औबेदु्वागंज जिला रायसेन में २ लाख २५ हजार रूपये, सिवनीमालवा होशंगाबाद में १ जून ११ को २ लाख ६० हजार रूपये,१६ अप्रेल ११ को झकलाय रोड़ सिवनीमालवा में ५० हजार रूपये एवं भूमडदेव नहर के पास सिवनीमालवा में १६ नवम्बर ११ को २ लाख रूपये की लूट एवं डकैती को अंजाम दिया। पुलिस ने ७ आरोपियों के खिलाफ धारा ३०२,१२० बी, एवं धारा ३४ बी के तहत मामला दर्ज किया है। साईंसेवा समिति की आड़ में करते थे लूट-डकैती होशंगाबाद जिले की सिवनीमालवा तहसील में दीपक उर्फ बाबा केवट कहने को तो साईसेवा समिति चलाकर समाजसेवा का लवादा ओढ़े हुये था लेकिन वह ८-१० युवकों के साथ मिलकर वह लूटपाट एवं डकैती को अंजाम देता रहा जिसमें विनोद धोबी,मोनू विश्चकर्मा,अज्जु बाधव उसके विशेष सहायक थे। इनके द्वारा लूटे गये पैसों का हिसाब साईसेवा समिति के दीपक के पास पहुॅचने के बाद मोटी रकम उसे मिलती शेष अन्य में बॉटी जाती। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमृतलाल मीना के अनुसार उक्त आरोपियों ने पंजाबमेल में भी लूट की वारदात की है जिसकी पूछताछ की जाना है(आत्माराम यादव )

Top

बच्चे की निर्मम पिटाई

होशंगाबाद-जिला मुूख्यालय पर नर्मदा वैली इंटरनेशनल स्कूल के कक्षा तीसरी के ९ वर्षीय छात्र की निर्मम पिटाई के बाद बच्चा दहशत में आने के बाद स्कूल के नाम से कॉप रहा है पीड़ित बच्चे के पिता ने इस सम्बन्ध में स्कूल प्रबन्धन के खिलाफ पुलिस थाने में शिकायत की है। होशंगाबाद नगर के सराफा निवासी अधिवक्ता राजीव कुमार दुबे का ९ वर्षीय पुत्र विद्यानकांत दुबे नर्मदा वेली इन्टरनेशनल स्कूल में कक्षा ३ का छात्र है। आज स्कूल में गणित विषय के शिक्षक द्वारा बच्चे की निर्मम पिटाई कर दी जिससे छात्र की स्थिति बिगड़ गयी। बच्चे के पिता स्कूल में समझाने गये लेकिन स्कूल प्रबन्धन ने उनकी शिकायत नहीं सुनी और न ही गणित विषय के शिक्षक को कोई चेतावनी आदि नहीं दी। बच्चे के पिता श्री दुबे ने पुलिस थाने में अपनी शिकायत में लिखा है कि पहले भी अगस्त ११ में तथा २७ दिसम्बर ११ को बच्चे की निर्मम पिटाई की गयी थी और उन्होंने स्कूल प्रबन्धक को शिकायत की किन्तु तब भी स्कूल प्रबन्धन ने कोई कार्यवाही नहीं की।स्कूल प्रबन्धन के अड़ियल रवैये से पीड़ित एडव्होकेट श्री दुबे ने बताया कि हाल ही में उनकी मॉ का देहान्त हुआ है जिसपर स्कूल प्रबन्धन ने उनके बच्चें को स्कूल से छुटटी न देकर अमानवीयता का परिचय दिया, बाबजूद वे मॉ की गमी के बाद भी बच्चे को नियमित स्कूल भेजते रहे जिसके बाद भी स्कूल प्रबन्धन का रवैया नहीं सुधरा और बच्चे की आज तीसरी बार निर्मम पिटाई की गयी। श्री दुबे के अनुसार उन्होंने एक पिता के रूप में हमेशा स्कूल प्रबन्धन के समक्ष उपस्थित हुये और कभी नहीं जतलाया कि वे अधिवक्ता के बतौर उनके समक्ष पेश आये। उनके अनुसार स्कूल में अनेक बच्चों को बुरी तरह मारा-पीटा जाकर प्रताड़ित किया जाता है किन्तु बहुत कम लोग है जो शिकायत दर्ज कराते है इसी का परिणाम रहा कि अब तक उक्त स्कूल में बच्चों के पिता अपने बच्चों की पिटाई के बाद खामोश रहे ।(आत्माराम यादव )

Top

बसपा ने रैली निकालकर सौंपा ज्ञापन

अशोकनगर-बहुजन समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों द्वारा स्थानीय गाँधीपार्क चौराहे से एक विशाल रैली निकाली गई। रैली में समिलत होने के लिये बहुजन समाजवार्दी पार्टी के कार्यकर्ता गण अशोकनगर शहरी क्षेत्र के अलावा आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों से भी बड़ी संखया में गाँधी पार्क एकत्रित हुये जहाँ से रैली के रूप में बहुजन समाज पार्टी जिंदाबाद के नारों के साथ जिला कलेकटर कार्यालय पहॅुचे जहाँ कलेकटर के नाम ज्ञापन सौंपा गया। पार्टी जिला प्रभारी दैलवार ने कहाकि मेरे ऊपर पुलिस प्रशासन द्वारा झूटी कायमी की गई है। प्रशासन इस मामले की जाँच किये बिना ही अपनी मनमर्जी अनुसार प्रकरण दर्ज किया। इस मामले की निष्पक्ष जाँच होना चाहिये। ज्ञापन देने वालों में पार्टी जिलाध्यक्ष टीआर भंडारी, जिला प्रभारी बाबूलाल दैलवार, उपाध्यक्ष बीरेन्द्र शर्मा, महासचिव कमरसिंह दांगी आदि विशेष रूप से उपस्थित थे(अजय शर्मा )

Top

एनटीपीसी विवादों में

राहुल गांधी का टूट सकता है सपना छतरपुर- मध्यप्रदेश के बुन्देलखण्ड में कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी का सपना हमेशा से रहा है कि इस पिछडे क्षेत्र में बिजली के लिये सुपर थर्मल पॉवर प्लांट की स्थापना करवाकर आने वाले चुनाव में इसका फायदा उठाया जाये। परन्तु मध्यप्रदेश बुन्देलखण्ड के छतरपुर जिले में मंजूर हुई एनटीपीसी सुपर थर्मल पॉवर प्लांट की स्थापना को लेकर ग्रामीणों में बिरोध के स्वर उठने से राहुल गांधी का सपने को बट्‌टा लग सकता है। अगर बिरोध के स्वर इसी तरह से बढते गये तो मध्यप्रदेश में होने वाले चुनाव में इसका फायदा कांग्रेसी नेताओं को नहीं मिल सकता है। हालांकि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने मध्यप्रदेश के ग्रामों से लेकर शहरों तक २४ घंटे बिजली देने का वायदा कर अभी से फरमान जारी कर आने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है। कांग्रेसी सूत्रों के अनुसार केन्द्र सरकार किसानों को उनकी मांगों के हिसाब से मुआबजा बितरित करना चाहती है बशर्ते जिला प्रशासन किसानों के हित में जमीनों का मुआवजा उसी आधार पर अनुशंसा सहित केन्द्र सरकार को लिखित रूप में भेजे ताकि किसानों की सिंचित व असिंचत जमीनों एवं उसमें लगे फलदारवृक्षों का मुआवजा दे सके। कांग्रेसी नेताओं ने आरोप लगाया है कि मध्यप्रदेश सरकार स्वयं नहीं चाहती है कि एनटीपीसी प्लांट लगे और इसका उदघाटन प्रधानमंत्री के साथ कांग्रेज युवराज राहुल गांधी करें ताकि इसका श्रेय कांग्रेस का ना मिल सके। यह भी आरोप लगाया कि मध्यप्रदेश सरकार नहीं चाहती है कि मध्यप्रदेश बुन्देलखण्ड अंधेरे से उभर सके, जबकि राहुल गांधी का सपना है कि समूचा बुन्देलखण्ड रोशनी से जगमगाये और इस क्षेत्र की बेराजगारी दूर हो सके। एनटीपीसी सुपर थर्मल पॉवर प्लांट के लिए ३ हजार एकड़ भूमि का अधिग्रहित होना है। एनटीपीसी बरेठी सुपर थर्मल पॉवर प्रोजेक्ट में ६६० मेगावाट का उत्पादन करने वाली ६ यूनिट लगाएगी। इस प्रोजेक्ट से ३९६० मेगावाट बिजली का उत्पादन होगा। इसके लिए बतौर ईंधन ७० हजार मीट्रिक टन कोयला की प्रतिदिन आवश्यकता होगी। कोयला रेलवे द्वारा लाया जाएगा। परियोजना के लिए १४४६५ घन मीटर प्रति घंटा पानी की जरुरत होगी। इसके लिए ३५ किमी दूर केन नदी से पानी लाया जाना प्रस्तावित है। सूत्रों के अनुसार कुल बिजली उत्पादन का ५० प्रतिशत मप्र, ३५ प्रतिशत उप्र को दिया जाएगा। इस प्लांट के लगजाने से समूचे बुन्देलखण्ड में बिजली की कमी कभी भी नहीं आयेगी। इतना ही नहीं बुन्देलखण्ड में यह प्लांट लग जाने से यहां पर बिजली का इतना उत्पादन होगा कि उसे बुन्देलखण्ड के जिलों के अलावा अन्य जिलों में बिजली देने में कोई भी किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं उठानी पडेगी। ग्रामीणों ने भूमि अधिग्रहण को लेकर नीति स्पष्ट करने की मांग की है। ऐसा न होने पर अपनी भूमि देने से मना कर दिया है। हालांकि प्रशासन को दिए मांगपत्र में ग्रामीणों ने प्रशासन द्वारा गठित कमेटी की बैठक खुले में कराने की मांग भी की है। उनका कहना है कि इससे पारदर्शिता आएगी। ग्रामीणों का आरोप है कि भूमि अधिग्रहण के बाद मिलने वाले मुआवजा की नीतियों में गड़बड़ी है। ग्रामीणों ने बताया कि कंपनी की ओर से उन्हें पुनर्वास, रोजगार, मुआवजा और बोनस पर नीति बताई जाए।(रवि गुप्ता )

Top

नाबालिग हुई गर्भवती

होशंगाबगाद। जिले की बनखेड़ी तहसील में एक नाबालिग १५ वर्षीय स्कूली छात्रा को ७-८ माह पूर्व घर में अकेले पाकर डराधमकाकर उसके साथ अनैनिक सम्बन्ध स्थापित करने वाले उसके पड़ौसी के खिलाफ आज बलात्कार का प्रकरण दर्ज किया गया है। पुलिस थाने से प्राप्त जानकारी के अनुसार बनखेड़ी निवासी लीलाधर की ९ वी पढ़ने वाली पुत्री रजनी (परिवर्तित नाम ) को उनका पड़ौसी २४ वर्षीय पूनम बैनीप्रसाद कोरी ने आज से ८ पूर्व घर में अकेला पाया तो उसने रजनी को डराते-धमकाते हुये उसके साथ जबजस्ती की तथा कहा कि तुम किसी को बोलोगी तो तुम्हें और तुम्हारे घरवालों को जान से मार दूॅूगा। उक्त नाबालिग के साथ एक बार बलात्कार के बाद उक्त युवक हमेशा डरा-धमकाकर सम्बन्ध स्थापित करने पहुॅच जाता । युवती का पिता एक गरीब व्यक्ति है जो चाय की होटल में काम करता है। उक्त युवक की पंचर की दूकान है जिसे वह चलाता है। आज पीड़ित रजनी अपने परिजनों के साथ पेट में ७ माह का गर्भ लेकर उक्त युवक के खिलाफ जोरन्जबरजस्ती करने एवं जान से मारने की धमकी देकर जबरिया सम्बन्ध बनाने की रिपोर्ट लिखाने पहुॅची जिसे पिपरिया पुलिस थाने में अपराध क्रमांक-४१ पर दर्ज कर लिया है। -(आत्माराम यादव )

Top

आतंक पर नहीं जागी पुलिस-

दिनदहाड़े युवक की गोलीमार कर हत्या होशंगाबगाद। समूचा नगर जुआरियों-सटोरियों के आतंक से परेशान है, पुलिस को खबर है किन्तु पुलिस कार्यवाही नहीं करती और बदमाश कभी हवाई फायर कर चले जाते है, कभी किसी के घर में पेट्रोल बम फैककर आते है तो कभी समूह के रूप में गाड़ियों में नंगी तलवारें-हथियार लेकर मोह्वों से ह्वा करके गुजर जाते है, पुलिस उन्हें नहीं तलाश पाती, अन्ततः बदमाशों को मिली छूट का ही परिणाम रहा कि आज सुबह ९-१० बजे एक युवक के सीने में गोली मारकर उसकी हत्या कर दी गयी। कोरीघाट निवासी ३० वर्षीय अशोक कहार को आज सुबह ९-१९ बजे के दरम्यान एकता चौक पर शारदा जायसवाल के घर के सामने दो युवकों ने बुलाकर आटो में बिठाया और उनमें विवाद हुआ, आसपास के लोगों ने देखा, पास ही दुकानदार, लान्ड्री वाले ने देखा किन्तु सामान्य बात समझकर उन्होंने अपना ध्यान बटा दिया जबकि उन दोनों युवकों ने पिस्तोल निकालकर अशोक कहार के सीने में गोली मार दी जिससे आटों में ही उसकी मौत हो गयी। दिन दहाड़े हुये इस सनसनीखेज बारदात को लेकर कोई भी कुछ कहने को तेयार नहीं है, आज नर्मदा जयंती को लेकर पूरे क्षैत्र में चप्पे-चप्पे पर पुलिस लगी थी, वाहनों की जॉच हो रही थी किन्तु इतने बड़े हादसे की किसी को खबर नहीं हो यह समझ से परे लगता है, क्योंकि लोग जानते है कि सटोरियों-जुआड़ियों में विवाद चल रहा है, ऐसा नहीं कि हत्यारे कहीे बाहर के हो लेकिन जानते हुये भी कोई कुछ बतलाने को तैयार नहीं है। जबकि घटना के पूर्व कल शाम को क्षैत्र में दर्जनों लोगों के बीच तलवारे और हथियार तन गये थे लेकिन वे लहराते हुये एक दूसरे को डराकर भाग खड़े हुये। १९ जनवरी को निमसाड़िया में एक विधायक के रिश्तेदार के जुये की फड पर पुलिस छापा मारने पहुॅची तब सारे व्यापारी, नेता भाग खड़े हुये जिसमें पुलिस किसी को नहीं पकड़ सकी, बात साफ थी पुलिस ने मुखबिरी कर बात लीक कर दी और कोई जुआड़ी नही पकड़ाया, अलबत्ता सभी के वाहन पकड़ा गये, पुलिस किसी की कालर तक नहीं पहुॅच पा रही है फिर उन्हें पकडेगी कैसे, इसी बात का लाभ लेने वे सफेदपोश अपने वाहनों की चोरी की रिपोर्ट लिखाकर बचने की जुगाड़ में है कि सटोरियों-जुआड़ियों के वचस्व को ठेस पहुॅची और भाजपा की महिला पार्षद के घर में पहले हवाई फायर करने बाद में पेट्रोल बम फेकने पर पुलिस ने किसी पर कार्यवाही नहीं की। चॅूकि पुलिस ने कल ही पत्रकारों को बुलाकर चैकिंग के दरम्यान चार हत्याओं के फरार आरोपी को वाहन चैकिंग के दरम्यान पकड़ने पर अन्य घटनाओं से मीड़िृया का ध्यान खींचना चाहा किन्तु आज की चाक चौबन्द पुलिसकर्मियों की तैनाती के बाद हुई निर्मम हत्या ने स्थानीय पुलिस का मुखौटा उतारकर रख दिया और पुलिस अधींक्षक के नेतृत्व को लेकर अनेक चर्चाये शुरू हो गयी है।(आत्माराम यादव )

Top

चरवाहे ने नाबालिग से किया बलात्कार

होशंगाबगाद। सिवनीमालवा तहसील के अर्न्तगत आने वाली टप्पा तहसील शिवपुर के ग्राम अमलाड़ा खुर्द में एक चरवाहे ने जंगल में बकरिया चराने आई एक १५ वर्षीय नाबालिग लड़की को बुलाकर उसके साथ अश्रील हरकत की जब उक्त लड़की ने विरोध किया तो फिर उसके कपड़े फाड़ दिये और उसे उठाकर नाले में लेजाकर उसके साथ बलात्कार किया। पुलिस सूत्रों के अनुसार ग्राम अमलाड़ा खुर्द निवासी दयाराम कोरकू की १५ वर्षीय नाबालिग लड़की जुगनी परिवर्तित नाम गॉव के बाहर २९ जनवरी को शाम को ५ बजे के दरम्यान जंगल में अपनी बकरिया चराकर घर की ओर लौट रही थी कि वहॉ एक अन्य २८ वर्षीय चरवाहा टुन्डा उर्फ योगेन्द्र पाल जो स्वयं अमलाड़ा खुर्द का रहने वाला है के द्वारा उक्त लड़की को आवाज देकर बुलाया, चॅूकि लड़की अपने गॉव के व्यक्ति के बुलाने पर उसके मन में छिपे पाप को समझ नहीुं पायी और पहुॅच गयी। उक्त चरवाहे ने पहले नाबालिग से अश्रील हरकर की जब उसके द्वारा विरोध किया तो उसने उक्त बच्ची के कपडे़ फाड़ दिये और उसके साथ कुकर्म किया। बलात्कार की शिकार उक्त नाबालिग ने अपने घर आकर बात की जिससे उसके परिजनों ने रिपोर्ट लिखाने की तैयारी की किन्तु टुन्टा पाल के परिजनों ने ले-देकर मामले को दबाना चाहा और नाबालिग के परिजनों को डराया धमकाया, बाद में आज टुण्डा के खिलाफ शिवपुर पुलिस थाने में धारा-३७५, ५९६, भारतीय दण्ड संहिता संहित अनुसूचित जनजाति के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।(आत्माराम यादव )

Top

नाबालिग को ले भागा युवक

होशंगाबगाद। पिपरिया तहसील के ग्राम हथवास निवासी संजीव पूर्विया ने गॉव की ही एक भोली-भाली १६ र्षीय युवती को बहला-फुसलाकर लालच देकर भगा ले गया है, युवती के पिता की शिकायत पर पुलिस्र ने संजीव के खिलाफ धारा-३६३,३६६-क के तहत प्रकरण पंजीवद्ध कर युवक एवं युवती की तलाश शुरू कर दी है। पिपरिया थाना प्रभारी मिल्कितसिंह के अनुसार रामबिलास कालोनी हथवास निवासी भवानीसिंह पूर्विया ने २१ जनवरी १२ को उसकी १६ वर्षीय पुत्री वंदना पूर्विया के गायब होने पर गुम इंसान के रूप में रिपोर्ट दर्ज करायी थी। उक्त गुम इंसान की जॉच में पुलस ने पाया कि उक्त ग्राम का एक युवक संजीव भी उसी समय से गायब है और साक्ष्य में उसी के द्वारा वंदना को लाचल देकर, गुमराह करके ले जाने की जानकारी मिली है। इस सम्बन्ध में युवती के पिता द्वारा भी जानकारी में संजीव द्वारा उसकी नाबालिग पुत्री को लेकर भागने एवं उसे बरगलाकर कहीं रखने की जानकारी मिलने पर आज पुलिस ने अपराध कायमी के बाद संजीव के रिश्तेदारों सहित अन्य मिलने जुलने वालों की खोज खबर शुरू कर दी है(आत्माराम यादव )

Top

नेता की कोठी से हथियारों का जखीरा बरामद

छतरपुर से सागर हाईवे पर स्थित बड़ामलहरा थाना अंतर्गत नपं अध्यक्ष पति और बसपा नेता आनंद सिंह के खिलाफ पुलिस और वन विभाग के अमले ने बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस और वन विभाग की टीमों से संयुक्त छापे में आनंद सिंह के पास से दो कट्ठे, हथियार बनाने के औजार पुलिस ने बरामद किए, तो वहीं वन विभाग के अमले ने भारी मात्रा में सागौन की लकड़ी श्री सिंह की कोठी के पास से बरामद की है। पुलिस की रेड से पहले ही हथियार बनाने वाला आरोपी मौके से भाग निकला। एसपी पीएस बिष्ट के निर्देशन में छतरपुर न्नᆬाइम स्क्वाइड, फ्लाइंट स्क्वाइड, बड़ामलहरा पुलिस की टीमें और वन विभाग के अधिकारियों की टीम नपं अध्यक्ष पति आनंद सिंह की लखनवां रोड पर पहाड़ी पर कोठी में छापा मारने पहुंची। इस कोठी के पीछे अवैध हथियारों की फैक्टरी चल रही थी। पुलिस को देखते ही हथियार बनाने वाला लुगासी का नरेश विश्चकर्मा मौके से फरार हो गया, जबकि अध्यक्ष पति आनंद सिंह को पुलिस ने पकड़ लिया। उसके पास से एक कट्ठा बरामद हुआ।(रवि गुप्ता )

Top

एम्स की तर्ज पर बनेगा चिकित्सालय

छतरपुर- मध्यप्रदेश के बुन्देलखण्ड क्षेत्र का छतरपुर जिला एक ऐसा जिला होगा जिस जिले में एम्स जैसी वो सारी सुविधायें उपलब्ध होंगी। इस चिकित्सालय का निर्माण करवाने के लिये पहले साढे चार करोड की लागत से योजना पूर्व कलेक्टर डॉ ई रमेशकुमार ने तैयार की थी। जिस पर स्वीकृति आयुक्त स्वास्थ्य एवं वित्त विभाग द्वारा कैबिनेट में मंजूरी के साथ दी गई थी। वर्तमान कलेक्टर राहुल जैन ने जिला मुख्यालय पर बनने वाले नवीन जिला चिकित्सालय के निर्माण और यहां पर आने वाले रोगियों के बारे में सर्वेक्षण करवाया तो पाया कि बनने वाले नवीन जिला चिकित्सालय को एम्स की अधिकतर सुविधाओं के आधार पर बहुमंजलीय बिल्डिंग का निर्माण किया जाना अतिआवश्यक है और यहां आने वाले रोगियों की संख्या बहुआयात है। यहां तक कि छतरपुर जिले के आसपास के जिले पन्ना, टीकमगढ, दमोह, के अलावा सीमावर्ती जिले महोबा, कबरई, बांदा, चरखारी, मऊरानीपुर क्षेत्र के लोग ईलाज करवाने छतरपुर जिला चिकित्सालय आते है। ऐसे में मरीजों को वो सभी सुविधाये उपलब्ध कराई जाना चाहिये जो झांसी, गवालियर, एम्स दि्वी में ही मिल पातीं है। इसी आधार पर कलेक्टर राहुल जैन ने साढे दस करोड की प्रारम्भिक योजना बनाकर आयुक्त स्वास्थ्य जे.एन.कांसोटिया के पास एक प्रोजेक्ट रिपोर्ट मय नक्शा के साथ भेजी जिस पर प्रदेश स्वास्थ्य कमेटी ने अनुशंसा के साथ कैबिनेट बैठक में रखवाकर पास की गई है।कैबिनेट की स्वीकृति उपरांत छतरपुर जिले के प्रभारी मंत्री हरिशंकर खटीक की अध्यक्षता में रोगी कल्याण समिति, जिला चिकित्सालय छतरपुर की साधारण सभा की बैठक में १० करोड़ २६ लाख एवं २६ हजार रूपये राशि की लागत से नया अस्पताल भवन के निर्माण का अनुमोदन कराया गया जिसमें २२६ बिस्तरों की व्यवस्था की कार्ययोजना बनाई गई है। कलेक्टर राहुल जैन ने कहा कि जिला अस्पताल में बायोमेट्रिक अटेंडेंस मशीन लगाई जायेगी। जिससे यह मालूम हो सके कि चिकित्सक एवं कर्मचारी किस समय उपस्थित हुए हैं। उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल में नया मीटिंग भवन भी बनाया जायेगा। सीएचओ जी.के.चौरसिया ने बताया कि पूरे जिला चिकित्सालय का जीर्णोद्वार के साथ साथ नवीन जिला चिकित्सालय का निर्माण करवाया जायेगा। पूरे जिला चिकित्सालय में लगभग पांचसौ बिस्तर उपलब्ध रहेंगे। इस चिकित्सालय के निर्माण हेतु १३वें वित्त आयोग से रािश उपलब्ध होगी और जनभागी व विधायक सांसद निधि से राशि लेकर निर्माणकार्य को पूरा करवाया जायेगा। यह भी बताया कि इस निर्माण की ऐजेन्सी पीडब्ल्यूडी है(रवि गुप्ता )

Top

४० लाख का गेहॅू गायब

१० लाख की चोरी की रिपोर्ट ऑकड़ों के खेल में मलाई खाते प्रबन्धक होशंगाबाद। जिले में गत वर्ष कृषक सेवा सहकारी समिति बरखेड़ी द्वारा कृषि उपजमंण्डी में समर्थन मूल्य पर ख्ररीदे गये गेहॅू को सुरक्षा की दृष्टि से रखा गया किन्तु १० लाख रूपये का ८२३ क्विंटल ५० किलो का गेहॅू रखे-रखायें चोरी हो गया है, इस आशय का अपराध बनखेड़ी पुलिस थाने में दर्ज किया गया है। जबकि संस्था से ३१६३ क्विंटल गेहॅू जो ४० लाख १७ हजार रूपये मूल्य का हिसाब में हेरा-फेरी की गयी है जबकि संस्था ने कुल खरीदी पर ३४ लाख ४४ हजार ५६५ रूपये का कमीशन प्राप्त किया है। बनखेड़ी समिति प्रबन्धक किशोर कुमार शुक्ला के अनुसार उसके द्वारा संस्थागत खरीदी में १ लाख ५६ हजार ९३८ क्विंटल ५० किलो गेहॅू खरीदा गया जो परिदान न होने से कृषि उपज मण्डी बरखेड़ी में रखा गया। श्री शुक्ला के अनुसार २१ जून २०११ को उसने खरीदे गेहॅू का मिलान किया तो उसमें ८२३ क्विंटल ५० किलो गेहॅू जिसकी कीमत १० लाख ४५ हजार ८४५ रूपये होती है चोरी हो गया जिसकी उसके द्वारा अपने वरिष्ठतम अधिकारियों को लिखित में सूचना दी गयी। उक्त के द्वारा ७ माह पूर्व उक्त एफआईआर न कराई जाकर अब कराये जाने का कारण पूछे जाने पर श्री शुक्ला अधिकारियों से जॉच कराई जाना बतलाकर सटीक उत्तर नहीं दे सके।उक्त संस्था के खरीदी ऑकड़ों को माना जाये तो जहॉ संस्था प्रबन्धक किशोर कुमार शुक्ला १ लाख ५६ हजार ९३८ क्विंटल ५० किलो गेहॅू खरीदना बतलाते है वहीं रिकार्ड में नागरिक आपूर्ति निगम को १ लाख ५३ हजार ९१० क्विंटल ४६ किलो गेहॅू को भेजा गया, जबकि नागरिक आपूर्ति निगम ने उक्त भेजे गये गेहॅू में १३५ क्विंटल २५ किलो कम गेहॅू जमा करते हुये उक्त संस्था द्वारा निगम को १ लाख ५३ हजार ७७५ क्विंटल २१ किलो गेहॅू प्राप्त होना बतलाया है। जबकि संस्था से ३१६३ क्विंटल गेहॅू जो ४० लाख १७ हजार रूपये मूल्य का है का कमीशनखोरी को लेकर अधिकारियों में हिसाब-किताब चलता रहा है और अंततः मिल-बॉटने के बाद ४० लाख के गेहॅू को १० लाख का बतलाकर उक्त रिर्पोर्ट करायी गयी(आत्माराम यादव)

Top

एटीएम कार्ड बदलकर निकाले ५० हजार

होशंगाबगाद। एटीएम मशीन में कार्ड बदलकर रूपये निकालने की घटनाओं का दंश फिर एक ८५ वर्षीय बुजुर्ग को लगा जब झॉसा देकर अज्ञात व्यक्ति ने उसका एटीएम कार्ड बदलकर उसके खाते से विभिन्न एटीएम मशीनों से ५० हजार पॉच सौ रूपये निकाले। ज्ञातव्य हो कि पूर्व में भी सेवानिवृत्त शालिगराम मौर्य को झॉसा देकर एटीएम से ठगी का मामला जॉच में था कि यह घटना घट गयी। पटवारी कालोनी,बाबई रोड़ निवासी ८५ वर्षीय रामप्रसाद यादव आत्मज कुंजीलाल यादव १३ दिसम्बर ११ को पैसों की आवश्यकता होने पर एटीएम कार्ड लेकर पैसा निकालने पहुॅचा जहॉ मशीन से पैसा न निकलने पर वहॉ खड़े अज्ञात व्यक्ति ने मदद करने को कहा, जिसे बुजुर्ग द्वारा स्वीकार कर उसे अपना एटीएम कार्ड दे दिया, बुजुर्ग से एटीएम कार्ड लेकर उक्त व्यक्ति ने चालाकी से कार्ड बदल लिया ओर बुजुर्ग को दूसरा एटीएम कार्ड जो पूर्व में बैंक द्वारा निरस्त कर दिया था थमा दिया। बदले हुये एटीएम कार्ड से पैसा नहीं निकलने पर रामप्रसाद यादव परेशान होकर घर आ गया। उक्त अज्ञात व्यक्ति ने नगर के विभिन्न एटीएम मशीनों में उक्त रामप्रसाद यादव के कार्ड का प्रयोग कर ५० हजार ५०० रूपये निकाल लिये। अगले दिन रामप्रसाद जब बैंक पैसे निकालने पहुॅचा तब उसे उसके साथ हुये धोखे की खबर लगी।झॉसे एवं अनूॅठे तरह से ठगी के शिकार हुये रामप्रसाद ने बैंक मैनेजर को तत्काल लिखित में इस बात की शिकायत कर उसके खाते से निकाले ५० हजार ५ सौ रूपये की मॉग की । बैंक मैनेजर ने लिखित शिकायत प्राप्त कर जॉच को कहा, जॉचोंपरांत बैंक उक्त अज्ञात व्यक्ति के संबंध में कोई जानकारी प्राप्त न कर सकी। अंततः आज उक्त फरियादी रामप्रसाद यादव की शिकायत पर होशंगाबाद पुलिस थाने में धारा-४२० के तहत मामला पंजीवद्ध कर लिया है। ज्ञातव्य हो कि होशंगाबाकद नगर में पिछले वर्ष सेवानिवृत्त बुजुर्गो के साथ बैंक में रूपया निकालने के दरम्यान आधा दर्जन से अधिक ठगी,धोखाधडी कर रूपये निकालने के प्रकरण दर्ज हुये है, एक सेवानिवृत्त शालिगराम जी के प्रयासों से उन्होंने उनके एटीएम बदलकर रूपया निकालने वाले आरोपी को पकड़कर पुलिस के हवाले किया किन्तु वह बाद में छूट गया, लेकिन उक्त शालिगराम मौर्य आज भी अपने रूपयों को पाने के लिये न्यायालय से मिलने वाले न्याय की बॉट जोह रहा है।((आत्माराम यादव )

Top

सीएमएचओ की अग्रिम जमानत खारिज

तरपुर- मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर जिले में पदस्थ रहेने वाले छतरपुर के पूर्व सीएमएचओ डा. ओपी गौतम पर एफआईआर दर्ज होने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। डा. गौतम द्वारा छतरपुर प्रथम एडीजे कोर्ट में लगाई गई अग्रिम जमानत की अर्जी को खारिज कर दिया गया है। जमानत याचिका में डा. गौतम के वकील ने वर्तमान सीएमएचओ डा. जीके चौरसिया पर पदस्थापना को लेकर चल रही खींचतान के चलते दस्तावेजों में छेड़छाड़ करके उन्हें फंसाने की साजिश रचने का आरोप लगाया है। एडवोकेट अनिल द्विवेदी ने बताया कि डा. ओपी गौतम पर थाना सिटी कोतवाली में आईपीसी की धारा १३(१)डी, १३(२) भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत आपराधिक प्रकरण दर्ज किया गया है। इस मामले में डा. गौतम की ओर से एडीजे प्रथम डीके पालीवाल के न्यायालय में अग्रिम जमानत के लिए अर्जी लगाई गई थी। इसमें उनके वकील द्वारा बताया गया कि जिन व्यक्तियों की नियुक्ति सीएमएचओ कार्यालय द्वारा तत्कालीन समय में निकली रिक्तियों में नहीं हो सकी थी, उनके द्वारा झूठी शिकायतें की जा रहीं हैं।वकील ने अर्जी में भी कहा कि डा. गौतम की नियुक्ति नरसिंहपुर सीएमएचओ के रूप में की गई। जबलपुर के डा. गिरीश चौरसिया की नियुक्ति भी नरसिंहपुर के लिए इसी पद पर हुई थी, लेकिन डा. गौतम को वरिष्ठता का लाभ मिला और डा. चौरसिया को छतरपुर का सीएमएचओ बनाया गया। डा. चौरसिया जबलपुर के होने के कारण नरसिंहपुर में पदस्थ होना चाहते थे, लेकिन ऐसा नहीं होने के कारण डा. चौरसिया ने डा. गौतम को बदनाम करने की नियत से दस्तावेजों में हेराफेरी करके आपराधिक प्रकरण दर्ज कराया है।((रवि गुप्ता )

Top

निर्माण कार्यों का लिया जायजा

अशोकनगर- नगरपालिका अध्यक्ष जजपालसिंह जज्जी ने शहर के वार्ड नं.३ की शंकर कॉलोनी में चल रहे निर्माणाधीन कार्यों की समीक्षा की। अपने भ्रमण के दौरान नपा अध्यक्ष ने वार्ड में चल रहे निर्माण कायोर्ं पेवर्स ब्लॉक, नाली निर्माण, बिजली खंभों पर लगाई जा रही लाईट आदि का निरीक्षण किया और संबंधितों को सख्त हिदायत दी कि निर्माण कार्यों में किसी प्रकार की कोई कोताही न बरती जाए। लम्बे समय से अंधेरे की मार झेल रहे वार्डवासियों को अंधेरे से अब निजात मिलती नजर आ रही है। नगरपालिका अध्यक्ष श्रीजज्जी द्वारा कराये जा रहे निर्माण कार्यों की वार्डवासियों द्वारा भूरी-भूरी प्रशंसा की गई। इस दौरान उनके साथ इंजीनियर आजाद जैन, पार्षद कैलाशी बाई, सोनू सुमन, राजासिंह यादव, हरिनारायण फुलौदिया, संबंधित ठेकेदार आदि विशेष रूप से उपस्थित थे। नपा अध्यक्ष हुये वार्डवासियों से रूबरू- वार्ड क्रमांक ३ में चल रहे निर्माण कार्यों का जायजा लेने पहॅुचे नपा अध्यक्ष जजपालसिंह जज्जी वार्ड वासियों से रूबरू हुये। इस दौरान नपा अध्यक्ष को वार्डवासियों ने अपनी समस्याओं के बारे में अवगत कराया। इस मौके पर नपा अध्यक्ष ने वार्डवासियों की समस्याओं पर गौर करते हुये जल्द निराकरण करने का आश्वासन दिया। इस दौरान वार्डवासियों ने नगरपालिका द्वारा कराये जा रहे निर्माण कार्यों की प्रशंसा की। रोशन होगा वार्ड- वषोर्ं से अंधेरे में जीवन बसर कर रहे वार्डवासियों को नपा द्वारा कराये जा रहे निर्माण कार्यों से आस जागने लगी है। नपा द्वारा वार्ड में बिजली के खंभे लगवाये गये और उन पर ट्‌यूब लाईट आदि लगाये जाने से अंधेरे में जीवन वसरकर रहे लोग काफी खुश है। वार्डवासी कल्याण ने बताया कि वह जब से इस वार्ड में रह रहा तब से वह अंधेरे में ही रह रहा है। इसके अलावा भूरीबाई ने बताया कि वार्ड में पक्की नाली न होने से नालियों का गंदा पानी यहाँ से बहा होता रहता था जिससे काफी परेशानियाँ होती थी। इस गंदे पानी से मच्छर आदि भी पनपते रहते थे। नपा द्वारा कराये जा रहेकार्य से हम बहुत खुश है(अजय शर्मा )

Top

सहकारी समितियॉ डायलिसिस पर

गेहॅू खरीदी में नुकसानी-डीआर कोर्ट पहुॅचे होशंगाबाद - जिले में समर्थन मूल्य पर गेहॅू खरीदी करने वाली १४१सहकारी साख समितियों ने ७३ लाख ५५ हजार ४९६ क्विंटन गेहॅू की रिकार्ड खरीदी पर १६ करोड़ ४५ लाख रूपये का कमीशन कमाने के बाद १३ करोड़ ६९ लाख गॅवाकर डायलिसिस पर आ गयी है। इन प्राथमिक कृषि साख समितियों को जिला बैंक के साथ नागरिक आपूर्ति निगम ने मिलकर इनकी नीवें हिला दी जिससे ये अपना वजूद खोने को विवश है। इन समितियों को गर्त में पहुॅचाने वालों के विरूद्ध कार्यवाही करने में सहकारिता विभाग नकारा साबित हुआ है वहीं कार्यवाही के नाम पर समितियों में भारी भ्रष्टाचार को बढ़ावा देकर अधिकारी वर्ग चान्दी कॉट रहा है, ऐसे में प्रदेश में सहकारिता आन्दोलन को अर्न्तराष्ट्रीय स्तर पर आयोजित किये जाने के खर्च की व्यवस्था हेतु सहकारिता मंत्री गौरीशंकर विसेन द्वारा दबाव बनाया जाना सरकार से छिपा नहीं है। आश्चर्यचकित किये जाने वाला सत्य यह है कि बीते वर्ष २०११ में होशंगाबाद जिले की साख समितियों ने समर्थन मूल्य पर ७३ लाख ५५ हजार ४९६ क्विंटल गेहॅू खरीद कर नागरिक आपूर्ति निगम को भेजा किन्तु निगम ने १० हजार ७७९ क्विंटल ६१ किलो गेहॅू कम प्राप्त होना बतलाया जिसकी कीमत १३ करोड़ ६९ लाख १ हजार १०४ रूपये है। जिले की समितियॉ समझ नहीं पा रही है कि रास्ते से इनमी मात्रा का गेहॅू कैसे कम हो गया, चॅूकि मामला गंभीर है ,यदि समितियॉ उक्त थोपे गये घाटे को जबरिया उठाये तो उनके कमीशन से उक्त राशि कट जायेगी। जिले की सभी समितियों ने उक्त संबंध में उपपंजीयक सहकारिता होशंगाबाद के समक्ष मामला ले गये, जिसे उपपंजीयक डॉ.अनिल वर्मा ने संज्ञान में लेकर नागरिक आपूर्ति निगम को थोक में नोटिस जारी किये है।जिले की इन समितियों में पूर्व से ही सार्वजनिक वितरण प्रणाली एवं रासायनिक खाद की साख सीमा में१० करोड़ रूपये से अधिक का नुकसान हुआ है वही इस वर्ष १३ करोड़ का नुकसान के लिये समिति प्रबन्धकों पर दोष मढ़ना इन संस्थाओं को डायलिसिस पर पहुॅचाना है। चॅूकि वर्ष २०१० में समितियों द्वारा परिदान किये गये गेहॅू में ५१०५ क्विंटल गेहॅू की कमी बतलाने पर संस्थाओं ने ७ करोड़ का नुकसान चुपचाप उठा लिया तब इस वर्ष नागरिक आपूर्तिनिगम ने इस मद को दुगुना कर दिया जो समितियों के लिये बैमौत मरने जैसा है। यही आलम है तो सहकारिता आन्दोलन के लिये अर्न्तराष्ट्रीय सम्मेलन में इन संस्थाओं की बदहाली के लिये अन्य देशों से आने वालों के समक्ष भ्रष्टाचार में गले तक डूबे प्रदेश के नेता क्या संदेश देना चाहेगे यह यक्ष प्रश्र्र बना हुआ है ? सहायकों-सेल्समेनों के हाथों बागडोर वाली संस्थायें घाटे में क्यो? जिले में सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दूकानें संचालित करने ,किसानों को खाद-बीज बॉटने एवं समर्थन मूल्य पर शासन के निर्धारित कमीशन पर गेहॅू, धान की फसले खरीदने में प्रतिवर्ष करोड़ों रूपये की आमदनी करने वाली ये संस्थायें आखिर कमजोर क्यों हुई? जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित होशंगाबाद के अधीनस्थ चलने वाले इन संस्थाओं के इतने बुरे हाल क्यों है? वैद्यनाथन कमेटी की अनुशंसा पर समितियों के संचालक मण्डल द्वारा अपना समिति प्रबन्धक, उपप्रबन्धक को नियुक्त करने का अधिकार है किन्तु किसी भी समिति के संचालक मण्डल ने अब तक इसे अंजाम नहीं दिया। यही कारण है कि जिला सहकारी बैंक होशंगाबाद के कर्मचारी इन समितियों के प्रबन्धक से लेकर शाखाओं में प्रभारी शाखा प्रबन्धक तक के पद पर काबिज है। बैंक के पास वैसे ही २५० से अधिक लोगों का स्टाप कम है ऐसे में इन समितियों में बैंक द्वारा अधिकृत व्यक्ति इन संस्थाओं में एक से लेकर ५-६ समितियों का एकमेव अतिरिक्त प्रभार लेकर काम कर रहा है इससे जहॉ एक व्यक्ति ५-६ समितियों का अतिरिक्त प्रभार देखने के कारण अन्य समितियों में न तो स्वयं जा पाता है और न ही वहॉ की स्थिति को समझ पाता है,यही कारण है वाकी समितियॉ में न तो समय पर वसूली हो पाती है, न समय पर खाद बीज वितरण हो पाता है , उल्टे इन समिति प्रबन्धकों द्वारा काम न किया जाकर समितियों में बैठे सेल्समेन ही सर्वेसर्वा होते है,जिसका लाभ जिले में बैठे अधिकारी उठाते हुये भ्रष्टाचार कराते है जो समिति प्रबन्धक और सहायक की गले की फॉसी बन जाता है। इसी के परिणाम स्वरूप संस्थायें करोड़ों के घाटे से उबरने में नाकामयाब रही है। इनका कहना है :- समर्थन मूल्य पर गेहॅू खरीदी करने वाली संस्थाओं ने उपपंजीयक के यहॉ १३ करोड़ की नुकसानी की कार्यवाही की है जिसके नोटिस मेरे कार्यालय में तामील हुये, संस्थाओं को प्रकरण लगाना ही चाहिये क्योंकि करोड़ों की नुकसानी जो हुई है किन्तु वे सभी प्रकरणों में हार जायेंगे, क्योंकि हमसे हुये अनुबन्ध में खरीदी उपरांत गेहॅू को ट्रकों में लादने के बाद तौल कराकर देना चाहिये, किन्तु संस्थाओं के पास वर्कर नहीं होने से वे ऐसा नहीं कर सके , संस्थाओं की इसी गल्ती से जीत हमारी होगी, परन्तु आने वाले वर्ष में संस्थायें नुकसान में नहीं होगी, ऐसी व्यवस्था शासन स्तर पर की गयी है। एलएन बड़ोने, मैनेजर नागरिक आपूर्ति निगम, होशंगाबाद (आत्माराम यादव )

Top

पत्री को पागल घोषित कराना चाहा

होशंगाबाद- शादी के दो सालों में पत्री से १० लाख की दहेज की मॉग करना तथा पूरी न करने पर पत्री को मारने-पीटने एवं पागल घोषित किये जाने का चिकित्सकों से प्रयास किये जाने के पश्चात आज दहेज पीड़िता की शिकायत पर श्चास,श्चसुर,पति,नंद, नंदोई पर मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस थाने से प्राप्त जानकारी के अनुसार मालाखेड़ी होशंगाबाद निवासी कनक दीक्षित का विवाह २८ दिसम्बर २००९ को धमतरी निवासी राहुल के साथ धूमधाम से संपन्न हुआ जिसमें कनक के पिता ने बेटी की बिदाई में ५ लाख रूपये के दहेज के साथ १ लाख नगदी भी दी। शादी के एक सप्ताह बाद से ही कनक को अपने ससुराल पक्ष के लोगों ने कम दहेज को लेकर ताना देना शुरू हुआ जिसपर उसने अपने परिजनों को बताया और परिजनों के समझाने की एक दो महिने में सब ठीक हो जायेगा। लेकिन परिवार में ठीक नहीं हुआ, अंततः कनक अपने मायके आ गयी। एक माह बाद ही पति उसे लेने आ गया तब परिजनों ने उसकी आवभगत कर समझा कर बेटी को विदा किया। धमतरी पहुॅचने के बाद राहुल ने अपनी पत्री कनक को मानसिक बीमार एवं पागल होने की खबर फैलाकर मनोचिकित्सक से उसका इलाज चालू कराया एवं भोपाल में भी दिखाया। शादी के दो साल भी पूरा नहीं कर पाने के बाद पति राहुल,श्चसुर डॉक्टर आनन्द ,सास श्रीमति अनिता, ननद ऋचा मिश्रा एवं नंदोई संजू द्वारा उसे पूरे समय परेशान कर प्रताड़ित करने एवं मारने पीटने के बाद नगदी १० लाख रूपये दहेज में लाकर देने की चेतावनी देते हुये घर से निकाल दिया। कनक के अनुसार उसके पिता की हैसियत नहीं कि वह मेरे लालची ससुराल पक्ष की दहेज की अनचाही मॉग पूरी कर सके, कनक की शिकायत पर होशंगाबाद पुलिस थाने में धारा ४९८ ए , ३४ दहेज एक्ट के तहत पॉचों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।(आत्माराम यादव )

Top

२ युवक ढ़ाई लाख के गहने लेकर चंपत

होशंगाबाद-सिवनमालवा में अपने घर के मंदिर में पर पूजा कर रही एक महिला को दो युवकों ने झॉसा देकर दो हजार रूपये चढ़ाने को देकर उसमें सोना छुलाने का कहकर दस तौला सोने के जेबरात उतरवाकर ले भागे, पुलिस ने ढाई लाख के जेबरात धोखे से हड़पकर भागने पर मामला दर्ज कर युवकों की तलाश शुरू कर दी है। सिवनीमालवा थाना प्रभारी के.एस. बघेल के अनुसार सिवनीमालवा के देवल मोह्वे में चतुर्भज की पत्री श्रीमति चन्द्रकला सुबह स्नान के बाद घर के मंदिर में पूजा करने पहुॅची कि उसी दरम्यान सुबह के १० बजे के लगभग सभ्य परिवार से दिखने वाले दो युवक भी पहुॅचे और उन्होंने पूजा कर रही चन्द्रकला से कहा कि वे मंदिर में दो हजार रूपये दान करना चाहते है। उन युवकों ने आगे कहा कि उनकी दुकान में बरकत नहीं हो रही है ज्योतिषी के अनुसार कोई मॉ स्वरूप देवी मंदिर के हाथों से दान करोगे तो दुकान चलेगी साथ ही यदि वह देवी दान किये जा रहे २ हजार रूपये में सोने के जेवर छुवाकर दान दे तो उनकी सभी परेशानी दूर हो जायेगी।पूजा में लीन चन्द्रकला युवकों से पैसे लेकर उनकी बात को मानकर अपने हाथ में पहनी सोने की ७ तोला ४ चूड़ियों में युवकों द्वारा दिये गये २ हजार रूपये छुवाकर मंदिर में रखने लगी तब एक युवक बोला माता जी ऐसा नहीं, आप चूड़िया पैसों पर रखे, साथ ही सोने को अन्य सोने से छुवाने से हमारे परिवार का कल्याण होगा, चन्द्रकला ने हाथों से ४ चूड़िया एक सोने का पैडल एक सोने की चैन अपने गले से निकालकर पैसों से मिलाकर भगवान के चरणों में अर्पित कर दी। युवकों ने कहॉ मॉ आप हमारे लिये प्रार्थना करें , जैसे ही चन्द्रकला ऑखमूंचकर उक्त युवकों के लिये प्रार्थना में लीन हुई कि वे युवक साढ़े ९ तौला सोना एवं स्वयं द्वारा चढ़ाये २ हजार रूपये लेकर चंपत हो गये। पुलिस चन्द्रकला के बताये हुलिये पर दिन भर युवकों की तलाश करती रही किन्तु वे पुलिस की पहुॅच से दूर निकल गये है(आत्माराम यादव )

Top

मप्र में पंच परमेश्चर योजना!

छतरपुर- भारत देश का दिल मध्यप्रदेश और मध्यप्रदेश का हदय स्थली छतरपुर जिले के गांव की तसवीर और तकदीर बदलने की कवायद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पंच परमेश्चर योजना से की जायेगी। हलांकि केन्द्रीय योजनाओं से आने वाले बजट से मध्यप्रदेश में अपना नाम देकर विकास करने का नया तरीका निकाला है। जब प्रदेश के गांवों का विकास केन्द्रीय योजना मनरेगा के अरबों के बजट से नहीं कराया जा सका तब ऐसे में पंच परमेश्चर योजना से गांवों का विकास कैसे संभव है जबकि इस योजना का बजट ऊंट के मुंह में जीरा के समान है। पंच परमेश्चर की योजना से गांवों को कम्प्यूटरीकृत करने की कबायद प्रदेश के ग्रामीणों को एक लाली पॉप साबित होगी। छतरपुर जिला मुख्यालय पर प्रभारी मंत्री हरिशंकर खटीक ने कलेक्टर राहुल जैन और जिला सीईओ श्रीमती भावना बालिम्बे के साथ पत्रकारवार्ता में मीडिया को शिवसरकार की पंच परमेश्चर योजना के बारे में बताया कि पूरे देश में अपने ढंग की पहली पंच परमेश्चर योजना शिवराज सरकार ने शुरू की है। इस योजना में ग्राम पंचायतों को अपनी आबादी के मान से विकास कार्यों केलिये एकजाई राशि मिलेगी। इससे गांवों में स्थायी महत्व के विकास कार्य एक बार में सम्पन्न हो सकेंगे। यह भी बताया कि योजना के जरिये अगले दो वर्ष में सभी २३ हजार १२ पंचायतों को लगभग ३४ सौ करोड की राशि मिलेगी। इस योजना में दो हजार तक की आबादी से लेकर पन्द्रह हजार से अधिक की आबादी के गांवों को तीन भागों में बांटा गया है। दो हजार तक की आबादी वाले गांवों में पांच लाख रूपये, पांच हजार आबादी वाले गांवों में दस लाख रूपये और दस हजार से अधिक आबादी वाले गांवों में पन्द्रह लाख रूपये सीधे ग्राम पंचायत के खाते में टॉपअप करके गांव के विकास में एकीकृत कार्य योजना के तहत सीसी सडक, नाली निर्माण और आंगनवाडी केन्द्रों का निर्माण करवाया जायेगा। इस योजना के शुभारम्भ पर कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि केन्द्र की कांग्रेस सरकार से मध्यप्रदेश सरकार को विभिन्न योजनाओं के तहत दी जाने वाली अरबों रूपये की राशि में से वही कार्य किये जायेंगे जो अभी तक कागजों में होते रहे है और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पंच परमेश्चर योजना का नाम देकर प्रदेश की जनता को छलने का नया तरीका ढूंढा है। पंच परमेश्चर योजना का बजट वही है जो केन्द्र की विभिन्न योजना में मनरेगा, महिला बाल विकास से बनने वाली आंगनबाडी केन्द्र, प्रधानमंत्री सडक की राशि से मुख्यमंत्री सडक योजना का नाम देकर ग्रामीण सडक का निर्माण करना, केन्द्र सरकार द्वारा स्थापित एनटीपीसी से २४ घंटे बिजली दिये जाने की घोषणा, सर्वशिक्षा अभियान के तहत बनने वाले स्कूल बिल्डिंग, इंदिरा आवास योजना की राशि से मुख्यमंत्री आवास योजना का नाम देकर कुटीर बनवाना, केन्द्र की नल जल योजना की राशि से मुख्यमंत्री पेयजल योजना के नाम से काम करवाना, केन्द्रीय वन अधिनियम के तहत सुप्रीम कोर्ट के आदेश के परिपालन में वनवासियों को कब्जाधारी घोषित करने की योजना, केन्द्रीय समग्र स्वच्छता योजना की राशि से गांवों के घरों में शौचालयों का निर्माण करवाना इत्यादि।(रवि गुप्ता छतरपुर)

Top

तालाब के पानी पर लगी लोगों की निगाहें

तालाब को चोरी से किया जा रहा है खाली अशोकनगर। शहर में लोगों की निगाहें तुलसी सरोवर तालाब की भूमि पर लग रही है तो जहां लोग तालाब की भूमि पर कब्जा कर रहे है तो कुछ लोग तालाब के पानी की चोरी भी कर रहे है। परन्तु चोरी करने वाले अपने आप को इस कार्य में माहिर समझ रहे हो लेकिन कैमरे की निगाह से उनकी चोरी नही छुपी है। लोगों ने तालाब में से पानी चोरी करने का अद्‌भुत तरीका निकाला है। जहां तालाब की पार के नीचे से प्लास्टिक के पाईपों को तालाब में डालकर उसमें से पानी लिया जा रहा है और इन पाईपों को कांटे की झाड़ियो, पत्थर, मिट्‌टी एवं कपड ों से ढक दिया गया है। तांकि कोई भी व्यक्ति इन पाईपो को न देख सकें और बराबर पानी की चोरी होती रहे। परन्तु कैमरे की निगाह में यह सब कैद हो गया कि पानी कैसे चोरी हो रहा है यह सिलसिला बीते करीब एक माह से जारी है। तुलसी सरोवर तालाव जहां बीते वर्ष कम बारिश के कारण भी पानी से लबालव भरा रहा और इसी तालाव में से नगरपालिका द्वारा शहर के पार्को की हरियाली बचाने के लिये पानी लिया जाता था परन्तु अब इसमें से रातदिन पाईपों के माध्यम से पानी निकाल कर इसे खाली किया जा रहा है। जिससे आंशका है कि आने वाले दिनों में तालाब पूर्ण रूप से खाली हो जायेगा और व मुश्किल है कि मई जून की गर्मी के समय में तालाब में पानी बच सकें। इसके लिये प्रशासन द्वारा इन पानी चोरों पर शिकंजा लगाना होगा। तभी इस तालाव के जल को प्रशासन बचा सकता है।(अजय शर्मा )

Top

आय-छापामार कार्यवाही को बताया गलत

होशंगाबाद। लोकायुक्त की विशेष टीम ने मेरे बेटे आबकारी अधिकारी बीपी भारके पर कार्यवाही किये जाने में मेरी पुस्तैनी कृषि भूमि से होने वाली आमदनी का मूल्यांकन किये बिना गलत तरीके से छापा मारा है जिससे समाज में हमारी प्रतिष्ठा धूमिल हुई है यह बात खण्डवा में पदस्थ जिला आबकारी अधिकारी के वृद्ध पिता धन्नूलाल भारके ने बतलाते हुये अपना पक्ष रखा। ग्राम झमझिरी तहसील उदयपुरा निवासी धन्नूलाल ने बताया कि वर्ष १९२७ से राजस्व रिकार्ड में उनके परिजनों के नाम से १००.६८ एकड़ पुस्तैनी जमीन है जिसे आधार मानकरक लोकायुक्त ने मेरे पुत्र पर करोड़ों की सम्पत्ति-जमीन होने का आरोप लगाया है। भारके के वृद्ध पिता ने प्रश्र्र किया कि भारतीय लोकतंत्र में नागरिकों को पुश्तैनी सम्पत्ति रखने का अधिकार नहीं है क्या ? देश का कानून किसी भी पुत्र को अपनी पैतृक सम्पत्ति और उससे आने वाली आय से वंचित करने के अधिकार से वंचित नहीं करता है ? श्री भारके के पिता का कहना है कि आजादी के पूर्व वर्ष १९२७ से उनके परिवार के पास एक सौ एकड़ से अधिक भूमि है जिसपर वे खेती करते आये है तथा उक्त भूमि से होने वाली आय कृषि आधारित है जिससे यदि इन ८५ वर्षो में परिजनों ने ४० एकड अन्य स्थानों पर तत्समय भूमि की नगण्य कीमतों में उन्हें खरीदा है तो क्या गुनाह किया है, उक्त सम्पत्ति पर मेरे बेटे बीपी भारके का परिवार के सदस्य होने के नाते हक है जिसे लोकायुक्त की छापमार कार्यवाही में नजरअंदाज किया गया।श्री धन्नूलाल भारके का कहना है कि उनके पुत्र बीपी भारके जो जिला आबकारी अधिकारी खण्डवा है के द्वारा शासकीय सेवाकाल में अर्जित सम्पत्ति एवं पुश्तैनी सम्पत्ति एवं भूमि का ध्यान रखना चाहिये कि आज खेती लाभ आधारित साधन हो गयी है और बीपी भारके ने शासकीय सेवाकााल में जो सम्पत्ति अर्जित की है उसमें परिवार की सम्पत्ति का हिस्सा भी शामिल रहा है। जिस समय जमीनें खरीदी गयी उस समय का मूल्य का आंकलन आज की परिस्थितियों में कई गुना न्यूनतम रहा है और जो करोड़ों रूपये की सम्पत्ति अर्जित करने का तर्क दिया गया है वह भ्रामक एवं परिवार की प्रतिष्ठा को मिट्‌ठी में मिलाने का है। राजस्व रिकार्ड में पुश्तैनी जमीन के साक्ष्य दिखाते हुये श्री भारके के वृद्ध पिता ने मीड़िृया से निवेदन किया कि आप स्वयं जॉच करें कि उक्त सम्पत्ति पुस्तैनी है कि नहीं? पिछले ५ दिनों से उनका परिवार एक गहरी मानसिक यंत्रणा को झेल रहा है जिसमें सभी अपराध बोध लेकर जीने को विवश है, इसलिये पत्रकारों से निवेदन करते हुये साक्ष्य आधारित स्वच्छ और निष्पक्ष एवं सत्य बात का समर्थन करने की बात करते हुये श्री धन्नूलाल भारके ने अपने अधिकारी बेटे का पक्ष रखा।(आत्माराम यादव )

Top

खेड़ापति हनुमान की मूर्ति चोरी

होशंगाबाद- बाबई तहसील के अर्न्तगत ग्राम गोरा में गॉव के खेड़ापति हनुमान जी की मूर्ति को कोई अज्ञात चोर चुराकर ले गया है जिससे गॉव में तनाव जैसा माहौल बन गया तथा ग्रामीण किसी आशंका से ग्रस्त हनुमान जी की मूर्ति को वापस लाये जाने की मॉग कर रहे हे। बाबई थाना प्रभारी जाहिर सिंह के अनुसार ग्राम गोरा में ढाई फिट के हनुमान जी की मूर्ति है जो २१ हजार रूपये कीमती बतलायी गयी है, उक्त मूर्ति को कोई अज्ञात चोर बीती रात चुराकर ले गया है। जैसे ही सुबह लोग मंदिर के चबूतरे पर पहुॅचे वहॉ हनुमान जी को नही पाकर गॉव के लोग एकत्र हो गये। ग्राम के मोहनलाल अहिरवार की शिकायत पर चोरी का मामला दर्ज कर लिया है(आत्माराम यादव )

Top

प्याज भरा ट्रक पेड़ से टकराया-एक की मौत

होशंगाबाद- तड़के ३-४ बजे की दरम्यानी रात ग्राम मूढ़ापार के पास खण्डवा से छिन्दवाडा प्याज ले जा रहा ट्रक एक पेड़ से टकराने के बाद पलट गया जिसमें दबने से हेल्पर की मौत हो गयी पुलिस ने तेज एवं लापरवाही से वाहन चलाने पर ड्रायवर के खिलाफ धारा-१४७ सीआरपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया है। बाबई पुलिस थाने के अनुसार एक प्याज से भरा ३-४ बजे के लगभग ग्राम बुधवाड़ा निकलने के पश्चात मूढ़ापार की पुलिया के पास एक पेड़ से टकरा कर पलट गया जिससे उसमें सवार ३० वर्षीय राकेश आत्मज कन्हैयालाल यादव निवासी ग्राम अमलपुरा जिला खण्डवा निवासी हेल्पर की दबने से मौत हो गयी है। घटना के बाद से ड्रायवर फरार है(आत्माराम यादव )

Top

छापा-८ कारें और १८ बाईक जब्त

होशंगाबाद- समीपस्थ ग्राम निमसाड़िया के एक खेत में ३०-४० प्रभावशाली भाजपा नेताओं,व्यापारियों, और विधायक के करीबी लोगों के द्वारा हाई प्रोफाइल जुये खेलने की जानकारी पर होशंगाबाद पुलिस ने योजनावद्ध रूप से छापामार कार्यवाही की, किन्तु इन्काउन्टर स्पेशलिस्ट पुलिस अधीक्षक इन्द्रप्रकाश अरजरिया के पदस्थी के दरम्यान से ही पुलिस जुआरियों को पूर्व सूचित कर भाग जाने का अवसर देकर अग्रणी रही है यह बात ८ कारों और १८ बाईक लेकर जुये खेलने गये जुआरियों ने साबित कर दी कि उनके लिये कानून किस चिड़िया का नाम है, हमें पकड़ कर दिखाओं तो जाने ? होशंगाबाद पुलिस दल-बल के साथ योजनावद्ध रूप से बीती रात ८ बजे पुलिस थाने से जुये की फड की ओर रवाना हुई और मुश्किल से २० मिनिट में पुलिस ने खेत को घेर लिया और पुलिस जुऑ खेलने आये लोगों की ८ कारें एवं १९ वाईक देखकर गदगद हो गये कि सारे जुआरी धर लिये जायेंगे, लेकिन ये क्या वहॉ कोई भी नहीं था,आखिर कोई मिलता क्यों जब छापा डालने गयी पुलिस टीम ने ही जुये की फड़ चला रहे विधायक के करीबी को पूर्व सूचना जो दे दी।और पुलिस के हाथ लगे जुआरियों के वाहन और ताश के ५२ पत्ते। कानूनी कार्यवाही करनी थी इसलिये वाहनों को जब्त किया गया और पुलिस को इन्हें थाना लाने में पसीना छूट गया। रात १२ बजे तक पुलिस उक्त जब्त वाहनों को पुलिस थाने लेकर निकली जबकि अनेक वाहन टोचन द्वारा रात डेढ बजे तक लाये गये जुआरियों को क्या जमीन निगल गयी या आसमान खा गया ? जुये की फड़ पर पहुॅची पुलिस को २६ वाहन मिल गये लेकिन वाहनों के मालिक भाजपा के नेता, मंडल अध्यक्ष,सेमरी के धनाढ़य व सत्ताधारी पार्टी के पदाधिकारी,इटारसी, होशंगाबाद के रसूखदार व्यापारी को क्या जमीन निगम गयी या ऑसमान खा गया यह प्रश्र्र सभी के जेहन में है, उस क्षैत्र के प्रत्यक्षदर्शियों का कहना रहा है विधायक के एक रिश्तेदार जो होशंगाबाद में रेस्टोरेंट चलाते है के द्वारा यह जुआ खिलाया जा रहा था और अनेक रसूखदार को पुंलिस ने मौके पर जाकर भागते हुये पकड़ भी लिया परन्तु राजधानी भोपाल से नेताओं, मंत्रियों के फोन पुलिस अधिकारियों के पास पहुॅचे तब राजनैतिक दबाव में सभी को भगा दिया और वाहन जब्त कर लिये गये। इस सम्बन्ध में पुलिस अधीक्षक इन्द्रप्रकाश अरजरिया का कहना है कि वाहनों से उनके मालिकों की पहचान कर उनपर कार्यवाही की जायेगी।।(आत्माराम यादव)

Top

मजदूरों की एम्बुलेंस में, साहब ने किये दौरे

एक भी घायल को नहीं मिली सुविधा होशगाबाद।संभागीय मुख्यालय के सहायक आयुक्त श्रमायुक्त कार्यालय को जिले के २० हजार पंजीकृत मजदूरों के निर्माण कार्य में घायल होने पर तत्काल सुविधा उपलब्ध कराये जाने को दी गयी एम्बुलेंस का लाभ एक भी घायल मजदूर नहीं प्राप्त कर सका और योजनार्न्तगत उनकी सुविधा को मिले इस वाहन में श्रमायुक्त मजे से जिले के दौरे एवं मीटिंग सीटिंग में उपयोग करते रहें। नर्मदापुरम संभागीय मुख्यालय होशंगाबाद में आयुक्त श्रमायुक्त कार्यालय में हरदा जिले में ७ हजार ७४,बैतूल जिले में २३७५३ तथा होशंगाबाद जिले में १९३९६ श्रमिक पंजीकृत है जिसमें होशंगाबाद जिला मुख्यालय पर ही श्रमिकों के लिये शेड निर्माण कराये गये है। सरकार की योजनाओं के तहत इन मजदूरों को जो लाभ मिलना चाहिये वह नहीं मिल पा रहा है। बीमार अथवा निर्माण कार्य के दौरान घायल हुये मजदूरों के लिये जिला मुख्यालय पर एक एम्बुलेंस उपलब्ध करायी गयी लेकिन उक्त एम्बुलेंस में आज तक कोई भी मरीज अस्पताल नहीं भेजा गया, उल्टे उक्त वाहन को श्रमायुक्त ने जिले के दौरे करने के लिये अपने पास रख लिया। उक्त बात का रहस्योदघाटन तब हुआ जब संभाग आयुक्त अरूण तिवारी ने श्रमिक समिति की बैठक बुलवायी तब एक सदस्य ने अधिकारी की मनमानी एवं श्रमिकों के साथ भेदभाव के किये जाने की बात करते हुये एम्बुलेंस का जिक्र करके अधिकारियों के कान खड़े कर दिये। संभाागायुक्त अरूण तिवारी ने इस बात को गंभीरता से लेकर जानकारी मॉगी तथा हिदायत दी कि कोई भी मजदूर योजना के लाभ से वंचित न रहे तथा उनकी समस्याओं को त्वरित निराकरण किया जाये । इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि अगर मजदूरों के लिये एम्बुलेंस मिली है तो उनके लिये ही इस्तेमाल की जाये। प्रायवेट नर्सिग होम सहित अनेक संस्थानों में मजदूरों का पंजीयन नहीं जिले में प्रायवेट नर्सिग होमों, प्रायवेट अस्पतालों, जनपद पंचायत, ग्राम पंचायत,नपगरपंचायत में काम करने वाले सैकड़ों लोग जो मजदूरी की श्रेणी के है उन्हें मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल की सूची में अधिसूचित नहीं किया गया है, समिति सदस्यों ने संभागायुक्त श्री अरूण तिवारी से मॉग की कि इन मजदूरों को शासन की योजनाओं का लाभ दिलाये जाने हेतु जनपद पंचायत ,ग्राम पंचायत एवं नगरपंचायत-नगरपालिकाओं से उपकर की राशि वसूली का विशेष अभियान चलाकर इन्हें भी बतौर श्रमिकों को मिली वाली योजनाओं के लाभ से जोड़ने की मॉग की गयी(आत्माराम यादव)

Top

सम्मेलन में भ्रष्टाचार हुआ शर्मिन्दा

होशंगाबाद। सड़क,नाली, व्यवसायिक निर्माण सहित अन्य योजनाओं के करोड़ों के ठेकेदारों के दम पर नगरपालिका के दो वर्ष के कार्यकाल को भव्य रूप से मनाने वाले भाजपाईयों की बंद मुठ़ठी तब खुल गयी जब कमीशनखोरी के पैसों से सम्मान के लिये खरीदे शालों की गुणवत्ता को लेकर सम्मानित हुये नेताओं में स्तरहीन कमकीमत की शाल वापस कर अन्यों की तरह मॅहगी शाल की मॉग की तब लगा जैसे भ्रष्टाचार ने स्वयं शर्मिदा होकर नगर होशंगाबाद के गाल पर तमाजा जड़ दिया। रही सही कसर कॉग्रेस ने पूरी कर दी जब कुछ कॉग्रेसी पार्षद मॅहगे शाल और परौसी थाल का मोह नहीं त्याग सके जबकि वे पूर्व ही कॉग्रेस इस कार्यक्रम का बहिष्कारकर चुकी थी। होशंगाबाद जिला मुख्यालय पर भाजपा की गुटवाजी थमने का नाम नहीं ले रही है, पहले पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष रामपालसिंह का जन्म दिन ४ जनवरी पर होने पर उन्हें खुश कर चापलूसी करते हुये १३ जनवरी भव्यतम रूप में जन्म दिवस मनाया गया, भले ही उन्होंने उस दिन जिले के प्रभारी मंत्री बृजेन्द्रसिंह सहित दर्जनों नेताओं को नजरअंदाज कर कार्यकर्ताओं को सबक सिखाने उक्त कार्यक्रम में तीन घन्टे लेट पहुॅचकर मजा किरकिरा कर दिया हो का विवाद थमा नहीं कि आज नगरपालिका के दो वर्ष के कार्यकाल पूरा होने पर हुये आयोजन में भाजपाईयों को फिर दो भागों में बटा हुआ एक दूसरे को शहऔर मात देने का खेल खेलते देखा गया। आधे कॉग्रेसी पार्षद कार्यक्रम में नजर आये वही आधों ने विरोध जताते हुये कार्यक्रम का बहिष्कार किया। राज्यसभा सांसद एवं राजस्थान के भाजपा प्रभारी कप्तानसिंह सोलंकी के विशिष्ट आतिथ्य में संपन्न हुये इस कार्यक्रम में कई पेंच दिखे। श्री सोलंकी ने इस अवसर पर वरिष्ठ कॉग्रेसी भवानीशंकर शर्मा जो पूर्व कॉग्रेस छोड़ने की घोषणा कर चुके थे आज भाजपा के मंच पर आने पर श्री सोलंकी ने उनकी प्रसंशा करते हुये कहा कि आपका भाजपा में स्वागत है। श्री सोलंकी ने नगरपालिका द्वारा २५ लाख रूपये की मॉग किये जाने पर वार्ड नं.१८ में मंगलभवन के लिये अपनी सांसद निधि से १० लाख रूपये देने की घोषणा की तथा इटारसी में स्टाप डेम के लिये विधायक गिरिजाशंकर को १० लाख रूपये देने को कहा। भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष रामपालसिंह ने नगरपाालिका अध्यक्ष श्रीमति माया नारोलिया की प्रशंसा करते हुये कसींदे कसे कि वर्ष २०१४ तक नगर के सारे विकास पूरे हो जायेगे, यह माया नारोलिया की माया से ही संभव होगा? विधायक गिरिजाशंकर शर्मा ने नगरपालिका अध्यक्ष की प्रशंसा की वहीं उनके भाई एवं पूर्व इटारसी विधायक डाक्टर सीताशरण शर्मा ने मंच से ही कह दिया कि जब तक माया नारोलिया रहेगी तब तक वे होशंगाबाद नगरपालिका में राज करेंगी । डॉ० शर्मा ने इस अवसर पर इटारसी नगरपालिका में विकास न होने का रोना रोते हुये होशंगाबाद के अंदर हो रहे विकास में कसीदें कसे जो एक अतिश्योक्ति रहे वहीं गोसंवधर्न बोर्ड के अध्यक्ष शिवचौबे ने दो घर आगे बढ़कर नपाध्यक्ष श्रीमति माया नारोलिया को प्रणाम करके तुलसीदास की चौपाई पढ़ी कि सिया राममय सब जग जानी, करहू प्रणाम जोरि जुग पानी और उन्होंने भावार्थ में कहा कि वे सभी में विकास की पकहकर नगरपालिका अध्यक्ष माया नारोलिया एवं पार्षदों की प्रशंसा की। कार्यक्रम का दूसरा पहलू यह भी रहा कि पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष एवं वरिष्ठ कॉग्रेसी नेता पण्डित भवानीशंकर शर्मा मंचाशीन दिखे वही कॉग्रेसी पार्षदों ने इसे नगरपालिका का नहीं अपितु भाजपा का कार्यक्रम कहकर कार्यक्रम का बहिष्कार किया और कोई भी कॉग्रेसी पार्षद इसे विकास का नहीं अपितु चापलूसी का कार्यक्रम बतलाते हुये शामिल नहीु हुआ। वही रामपालजी के खासमखास समझे जाने वाले सोहागपुर विधायक एवं उनके समर्थकों को भुला दिया गया।मैं पुराना जनसंघी हॅू- भवानीशंकर शर्मा पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष नपा अध्यक्ष माया नारोलिया की माया का ही कमाल रहा कि मंच पर वरिष्ठ कॉग्रेसी और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष पण्डित भवानीशंकर शर्मा मुखरित हो गये कि वे पुराने जनसंघी है तथा उन्होंने सदा भाजपा का साथ दिया है। उनके ऐसा व्यक्त करते हुये कईयो ने दर्शकदीर्घा में चुटकी ली इसलिये कॉग्रेस की नैईया एक ही घर से डूब रही है, जबकि उनके परिवार के सदस्य कॉग्रेस पदाधिकारी पियूष शर्मा अपने कॉग्रेसी मित्रों के साथ कार्यक्रम स्थल के बाहर मौजूद सभी के भाषणों को ध्यान से सुन रहे थे। नपा के दो वर्ष के विकास का फोल्डर लोकार्पित किन्तु खर्च का ब्यौरा नदारत नपा होशंगाबाद की अध्यक्ष श्रीमति माया नारोलिया ने अपने कार्यकाल के २ वर्ष पूर्ण होने पर कराये गये कार्यो एवं आगामी योजनाओं की जानकारी के रंगीन फोल्डर को कप्तानसिंह सोलंकी, रामपालसिंह, शिवचौबे, विधायक गिरिजाशंकर शर्मा से लोकार्पित कराने के बाद उपस्थित लोगों को पढ़ने के लिये वितरित कराया। जिसमें सांसद, विधायक निधि से मिलने वाली राशि सहित अन्य नगरपालिका द्वारा संचालित व्यवस्थाओं एवं योजनाओं के क्रियान्वयन का व्यौरा था, किन्तु कहॉ किसमें कितना खर्च किया इसकी जानकारी नदारत थी। उपस्थित भाजपाई चुटकी ले रहे थे कि आमद और खर्च इसलिये नहीं बताया कहीं माया के कमीशन और भ्रष्टाचार का मायाजाल उजागर न हो जाये।भाजपाईयों के मॅहगे खर्चीले आयोजनों के हिसाब को लेकर कानाफॅूसी नगर के प्रतिष्ठित कामाख्या गार्डन में १३ जनवरी को प्रदेश उपाध्यक्ष रामपालसिंह के जन्म दिवस पर दाल बाफले सहित हुये खर्च सहित भाजपाईयों की किरकिरी के बाद दूसरा बड़े आयोजन के रूप में नगरपालिका के दो वर्ष का कार्यकाल पूरा होने पर भव्य आयोजन रखा गया जिसमें भी अनाप-शनाप खर्च किया गया। भाजपा के उक्त दोनों भव्य आयोजनों में अनेक गरीब परिवारों की शादी हो सकती थी किन्तु भाजपाईयों ने शान बघारने के लिये यह कार्यक्रम करके नगर में जगह-जगह होडिंगज्स लगाये और समाचार पत्रों को विज्ञापन से भरकर मोटी रकम खर्च की जिसे लेकर नगर में चर्चा का बाजार गर्म हो गया है कि इन मॅहगे आयोजनों के खर्चो का हिसाब कहॉ डालेंगे ? इसलिये खर्च के हिसाब से बचने मंच से बार-बार घोषणा की गयी कि यह आयोजन नगरपालिका कर्मचारी संघ का है, यह अलग बात है कि कर्मचारियों के कल्याण के लिये उनके पास भले ही फन्ड न हो कितने लाखों रूपये के इस खर्च के लिये पैसा कर्मचारी संघ के पास कैसे पहुॅचा। सम्मान में मिले सस्ते शाल को कुछ पार्षदों ने लौटाया . . . .? भले ही कोई न कहे किन्तु बंद मुठ्‌ठी आखिर तब खुल गयी जब पता चला कि कुछ पार्षदों के पास सम्मान में मिले शाल मामूली है तथा कुछ को अच्छे दर्जे के दिये गये, जिससे जिन्हें मामूली किस्म के शाल मिले उन्होंने नाराजी में वापिस कर दिये। पड़ताल में पता चला कि नगरपालिका में जिस ठेकेदार को करोड़ों रूपये के काम दिये उसने दो दर्जन ८ सौ रूपये कीमत वाले शाल बुलवाये थे,लेकिन एक अन्य ठेकेदार ने ५ सौ रूपये कीमत के बुलवाये, जिन पार्षद के पास पॉच सौ रूपये कीमत के शाल पहुॅचे विरोध के बॉध तत्काल आठ सौ रूपये कीमत बाले शाल पार्षदों को ठेकेदार द्वारा दिलवाकर उनकी नाराजी दूर की गयी।अध्यक्ष एवं पार्षदों ने स्वयं का सम्मानित कराया... कॉग्रेसी पार्षद रहे बहिष्कार पर वैसे नगरपालिका अध्यक्ष एवं पार्षदों के अच्छे काम के लिये दूसरों द्वारा प्रशंसा कर उन्हें सम्मानित किया जाता तो बात जमती किन्तुअपने मुॅूह मियॉ मिू बनी नपा परिषद ने स्वयं एवं पार्षदों का सम्मन करके शहरवासियों को क्या संदेश दिया, यह कोई समझ नहीं पा रहा है। इस आयोजन में पहले नगरपालिका अध्यक्ष ने सभी पार्षदों को शाल-श्रीफल से सम्मानित किया इसके बाद स्वयं का कराया। यह अलग बात थी कि कॉग्रेस का कोई भी पार्षद एवं नगरपालिका में विपक्ष के नेता अनोखीलाल राजोरिया कार्यक्रम को भाजपाईयों का बतलाकर कार्यक्रम का बहिष्कार कर नही आये जिससे वे इस अनूॅठे सम्मान से वंचित रह गये। विधायक गिरिजाशंकर शर्मा मंच छोड़कर खिसके. . . पार्षदों व नापाध्यक्ष के सम्मान समारोह के तुरन्त बाद विधायक गिरिजाशंकर शर्मा मंच छोडकर चले गये। नपाध्यक्ष श्रीमति माया नारोलिया को अपना सम्मान कराने के बाद उपस्थिति अतिथियों की याद आयी और फिर उन्होंने विधायक को जाते देखा तो दौड लगाकर उन्हें बुलाकर मंच पर ले गयी एक ठेकेदार से तुरन्त ही बुलाये गये मॅहगे शालों द्वारा कप्तानसिंह सोलंकी, रामपाल, शिव चौबे, डॉ.सीताशरण शर्मा, भवानीशंकर शर्मा,भाजपा जिलाध्यक्ष संतोष पारिख का विधायक श्री शर्मा द्वारा शाल श्रीफल से स्वागत कराकर उनकी नाराजी दूर की बाद में ं सभी ने मिलकर विधायक श्री शर्मा को शाल-श्रीफल देकर उनका भी सम्मान किया। मंच पर अकेले पुलिस कप्तान की उपस्थति चर्चा में नगरपालिका के दो वर्ष के कार्यकाल पूर्ण होने पर भाजपा के इस राजनैतिक मंच पर अकेले पुलिस अधीक्षक इन्द्रप्रकाश अरजरिया की पूरे मंच पर उपस्थिति चर्चा में थी कि वे आखिर क्यों इस मंच पर आये, वे क्या संदेश देना चाहते थे, क्या राजनैतिक मंच पर बैठे रहने में शासन के निदेशा-निर्देशो का उ्वंघन नहीं ? या वे सेवानिवृत्ति के बाद की तैयारी में तो नहीं, सवाल अनेक है उत्तर सिर्फ-सिर्फ पुलिस कप्तान के पास है जो उन्होंने सार्वजनिक नहीं किया? और अंत में ... शहर के लोगों की हुई जमकर फजीयत , नपा जश्र्र में डूबी जिले के हर कार्यालय में सुबह १० के बाद काम चालू हो गये किन्तु नगरपालिका के अधिकारी-कर्मचारी नपाध्यक्ष श्रीमति माया नारालिया के दो वर्ष के कार्यकाल पूरा होने के जश्र्र में कामाख्या गार्डन में जम गये। कार्यक्रम में मुख्यनगरपालिका अधिकारी दर्शक दीर्घा में थे, तो मुख्य लिपिक डॉ. प्रशांत जैन संचालन कर रहे थे। नगरपालिका भवन सूना था और कुर्सिया खाली। शहर के वांशिदें अपने कामों के लिये नगरपालिका में ११ बजे के बाद शाम ५ बे तक चक्कर लगाते रहे किन्तु उनका दिन खराब रहा और काम नहीं हो सका जबकि नगरपालिका अपने अधिकारियों-कर्मचारियों, पार्षदों, सहित दो वर्ष के कार्यकाल पूरा होने के जश्र्र में पार्टी में डूबी रही। ( आत्माराम यादव ))

Top

भार वाहनो का प्रवेश निषेद

छतरपुर- चाहे आप ट्रक वाहन मालिक हो या फिर ट्रांसपोर्ट व्यवसायी, या फिर खनिज व्यवसायी हों। अगर आपका ट्रक दस टन से अधिक का भार लादकर छतरपुर सीमा में प्रवेश कर रहा हो या फिर छतरपुर सीमा से बाहर निकल रहा हो। सभी को इस बात का ध्यान रखना पडेगा कि मध्यप्रदेश ग्रामीण सडक विकास प्राधिकरण परियोजना के द्वारा निर्मित मागोर्ं पर से आपका वाहन तो नहीं गुजरेगा। अगर गूजरना आवश्यक हुआ तो अपने वाहन में लदे माल को दस टन से कम का माल कर निकालना पडेगा। अगर ऐसा नहीं किया जाता है तो इन मागोर्ं पर प्रशासनिक अमले के भ्रमण करने वाले अधिकारी को यह अधिकार होगा कि वह उस ट्रक को जब्त कर उस पर जुर्माना ठोक सकता है और वहीं पर उस ट्रक का भार दस टन का करवाकर उस वाहन को जाने की अनुमति देगा या फिर उस ट्रक को न्यायालय में पेश कर न्यायालय के आदेश के उ्वंघन के तहत चालान पेश कर सकता है। हालांकि इस व्यवस्था से खनिज माफियाओं को जोर का झटका धीरे से लगा है। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी राहुल जैन ने दंड प्रक्रिया संहिता १९७३ की धारा १३३ (१) के अंतर्गत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए मध्यप्रदेश ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण परियोजना के द्वारा निर्मित मार्गों पर १० टन से अधिक भार लादकर भारी वाहनों के माध्यम से खनिज का परिवहन प्रतिबंधित कर दिया है। जिन मार्गों पर भारी वाहनों को प्रतिबंधित किया गया है जिला दंडाधिकारी ने बताया कि छतरपुर जिले के अंतर्गत ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण द्वारा निर्मित की गई ग्रामीण क्षेत्र की सार्वजनिक मार्गों व सड़कों पर क्षेत्र में स्थित खदानों से खनिज परिवहन, १० पहिया और १६ पहिया ट्रालों के माध्यम से करने के कारण आवेदक महाप्रबंधक मप्र ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण क्रियान्वयन इकाई छतरपुर के द्वारा निर्मित सार्वजनिक मार्गों पर गहरे गड्ढे हो गये हैं। जिसके कारण निर्मित सार्वजनिक लोक पथों पर निजी और सार्वजनिक वाहनों का निकलना दूभर हो गया है और प्रतिदिन दुर्घटनायें होने की सूचना प्राप्त हो रही है।((रवि गुप्ता ) )

Top

मुखयमंत्री के आने से पूर्व पंचायत सचिव की करेंट

अशोकनगर-जिले की चंदेरी तहसील में मुखयमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आगमन के पूर्व तैयारियों में लगे पंचायत सचिव की करंट लगने से मौत हो गई। प्राप्त जानकारी अनुसार चन्देरी में मुखयमंत्री शिवराज सिंह चौहान जिला स्तरीय पंच परमेश्वर योजना का शुभारंभ करने दोपहर के समय क्षेत्र में पधार रहे थे तभी कार्यक्रम स्थल पर चंदेरी विकासखण्ड की गोदन पंचायत के सचिव राजन सिंह यादव लोहे की नसैनी से बैनर आदि लगाने के कार्य में लगे हुये थे इसी दौरान अचानक लोहे की नसैनी बिजली के तार से टकरा गई और पंचम नगर कालोनी निवासी पंचायत सचिव राजन ंिसंह यादव उम्र ३२ वर्ष को बिजली का करंट लगने से मौत हो गई।(अशोक शर्मा )

Top

भ्रष्टाचारियों को बखशा नहीं जायेगा - मुखयमंत्र

अशोकनगर -मुखयमंत्री श्री शिवराज सिंह ने कहा है कि भ्रष्ट अधिकारी एवं कर्मचारियों के विरूद्ध सखत कार्रवाई की जायेगी । भ्रष्ट कर्मियों के यहां लोकायुक्त एवं ईओडब्ल्यू के छापे डाले जायेंगें । उन्होंने कहा कि बेइमानी का पैसा गाय के मांस खाने के समान है । प्रदेश में भ्रष्टाचार किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जायेगा । श्री सिंह अशोकनगर जिले के चंदेरी कस्बे में आयोजित जिला स्तरीय पंच परमेश्र्वर योजना के शुभारंभ एवं अन्त्योदय मेले को संबोधित कर रहे थे । उन्होंने इस दौरान विभिन्न योजनाओं के १६,३२६ हितग्राहियों को ७ करोड़ ३१ लाख ६३ हजार रूपये की सहायता प्रदान की । कार्यक्रम में नगरीय प्रशासन एवं विकास राज्य मंत्री तथा जिले के प्रभारी श्री मनोहर ऊंटवाल , विधायक सर्वश्री राव राजकुमार सिंह, राव देशराज सिंह, लड्डू राम कोरी, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री मलकीत सिंह संधु,नगर पालिका अध्यक्ष श्री गोपाल कोली एवं जनपद पंचायत अध्यक्ष श्रीमती अंगूरी बाई, संभागायुक्त श्री एस बी सिंह, आई जी श्री यू सी षड ंगी, जिला कलेक्टर डा अशोक भार्गव, पुलिस अधीक्षक श्री दीपक वर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधि, अधिकारी गण तथा बड ी संखया में ग्रामीणजन उपस्थित थे । मुखयमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अधिकारी एवं कर्मचारी पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा के साथ कार्य करें । भ्रष्ट अधिकारियों एवं कर्मचारियों के विरूद्ध लोकाआयुक्त एवं ईओडब्ल्यू द्वारा कार्यवाही की जायेगी । उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने विशेष कानून तैयार कर स्वीकृति हेतु केन्द्र सरकार को भेजा गया । इस कानून में यह भी प्रावधान रखा गया है कि आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने वाले शासकीय कर्मियों की संपत्ति राजसात कर उनसे स्कूल एवं आंगनवाड़ी केन्द्र संचालित किये जायेंगे । श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश के छात्रों को अध्ययन में किसी प्रकार की परेशानी एवं आर्थिक दिक्कत न आये इसके लिये ५० करोड रूपये का शिक्षा कोष बनाया जायेगा । उन्होंने कहा कि आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के छात्र-छात्राओं को विदेशों में शिक्षा हेतु १५ लाख रूपये की सहायता प्रदान की जायेगी । मुखयमंत्री ने विभिन्न वर्गो के कल्याण हेतु संचालित योजनाओं की विस्तार से जानकारी देते हुये कहा कि छात्राओं के समान छात्रों (भांजों) को भी साइकिलें प्राप्त हो इसके लिये इस वर्ष से छात्रों के माता पिता के खातों में दो हजार तीन सौ रूपये की राशि भी जमा की गई है । जिससे वह सीधे खुले बाजार से साइकिल खरीद सकें । उन्होंने कहा कि गांव की बेटी योजना का लाभ अब निजी महाविद्यालय में पढ ने वाली छात्राओं को मिलेगा । उन्हें प्रतिवर्ष ५ हजार रूपये की राशि प्रदान की जायेगी । उन्होंने कहा कि गणवेश की राशि चार सौ रूपये भी माता पिता के नाम सीधे जमा की जा रही है । जिससे वे अपनी मनपंसद और अच्छी गुणवत्ता की ड्रेस क्रय कर सकें । मुखयमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश देश का ऐसा एक मात्र राज्य है जहां किसानों को समर्थन मूल्य पर अपना गेहू बेचने पर १०० रूपये प्रति क्विंटल बोनस दिया जा रहा है । इसके लिये उन्होंने किसानों से पंजीयन कराने का भी अनुरोध किया । उन्होंने आगे कहा कि गेहूं उत्पादन के मामले में गत वर्ष मप्र देश में तीसरे स्थान पर रहा है । जबकि इस वर्ष गेहूं की बम्पर पैदावार की संभावना को देखते हुये प्रदेश गेहूं उत्पादन के मामले में देश में अग्रणी राज्य होगा । उन्होंने कहा कि वर्ष २०१२ के अंत तक घरेलू एवं सिंचाई कार्य हेतु बिजली प्रदान के लिये फीडर सेपरेशन कार्य पूर्ण कर लिया जायेगा । मप्र देश का एक मात्र ऐसा प्रदेश है जहां किसानों को एक प्रतिशत ब्याज दर पर कृषि ऋण प्रदान किया जा रहा है । मुखयमंत्री ने पंच परमेश्र्वर योजना की विस्तार से जानकारी देते हुये कहा कि इस योजना के लागू होने से अब ग्रामीण क्षेत्र के बुनियादी सुविधाओं का विस्तार होगा । इसके लिये धन की कोई कमी नहीं होगी । श्री चौहान ने उपस्थित जनसमुदाय से बेटी बचाओ अभियान में पूर्ण सहयोग देने का आह्वान करते हुये कहा कि '' अगर बेटी होगी तो कल होगा '' बेटा-बेटी में किसी प्रकार का भेद न समझें , उन्हें पूर्ण संरक्षण दें । मुखयमंत्री ने जनसमुदाय को बेटी बचाने और गांव के विकास में पूर्ण सहयोग देने का संकल्प ी दिलाया । अंत में जिले के प्रभारी मंत्री एवं जनप्रतिनिधियों ने मुखयमंत्री को स्मृति चिन्ह भेंट किया । प्रारंभ में स्थानीय विधायक राव राजकुमार सिंह ने क्षेत्र के विकास की मांगे रखी तथा अंत में अशोकनगर के विधायक श्री लड्डूराम कोरी ने आभार व्यक्त किया । हितग्राही हुये गद्‌गद इस मौके पर मुखयमंत्री ने हृदय रोग से पीड़ित पांच बच्चों के उपचार के लिये एक-एक लाख रूपये देने की घोषणा की । इस दौरान निःशक्तजनों को कृत्रिम अंग और उपकरण, छः हितग्राहियों को ऑटो रिक्शा, दो कृषक समितियों को ट्रेक्टर,२१६ हितग्राहियों को आवास, ५३२ निराश्रितों को पेंशन, ९१५ विद्यार्थियों को साइकिल, ६९०५ तेंदूपत्ता संग्राहकों को पौने बीस लाख रूपये की बोनस राशि सहित करोड ों रूपये की सहायता पाकर हितग्राही गदगद हुये । मुखयमंत्री ने विकास प्रदर्शनियों का किया अवलोकन मुखयमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने पंच परमेश्र्वर योजना के शुभारंभ एवं खंडस्तरीय अन्त्योदय मेले के आयोजन के अवसर पर विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई विकास प्रदर्शनियों को अवलोकन कर सराहना की । इस दौरान विागीय अधिकारियों द्वारा हितग्राही मूलक योजनाओं पर केन्द्रित साहित्य का भी वितरण किया । कार्यक्रम स्थल पर सामाजिक न्याय, महिला एवं बाल विकास, हस्तशिल्प विकास निगम,उद्यानिकी, कृषि, सर्वशिक्षा अभियान, जनसंपर्क सहित अन्य विभागों द्वारा अपने अपने स्टॉल लगाकर माडल चित्र एवं फलेक्स के माध्यम से प्रदर्शित किया गया । चंदेरी को मिली ढेरों सौगातें चंदेरी नगर विकास के लिये २५ लाख रूपये मिलेंगें । चंदेरी की उपकृषि उपज मंडी को कृषि उपज मंडी का दर्जा । चंदेरी के प्राचीन एवं ऐतिहासिक परमेश्र्वर तालाब का सौंदर्यीकरण होगा । चंदेरी महाविद्यालय में विज्ञान एवं कामर्स विषय की कक्षायें संचालित होंगी । ईसागढ़ में अगले सत्र से महाविद्यालय खुलेगा । नई सराय तहसील बनेगी । चंदेरी में ५० सीट का अनुसूचित जाति कन्या पोस्ट मेट्रिक छात्रावास स्वीकृत । सहरिया विकास अभिकरण का कार्यालय अशोकनगर में खुलेगा । मुखयमंत्री ने कहा कि अशोकनगर जिले के सर्वांगीण विकास में कोई कसर नहीं रहेगी । मृतक ग्राम पंचायत सचिव के परिजनों के तीन लाख रूपये की राहत मुखयमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज चंदेरी में विद्युत करंट लगने से मृतक श्री राजेन्द्र यादव के परिजनों का तीन लाख रूपये की सहायता देने तथा मृतक की पत्नी को योग्यतानुसार शासकीय नौकरी देने की घोषणा की । वे मृतक के घर गये और उनके परिजनों को ढांढस बंधाया । मुखयमंत्री श्री चौहान ने ग्राम पंचायत गोधन के सचिव राजेन्द्र यादव की दुर्घटना में मृत्यु पर गहन दुःख व्यक्त किया । उन्होंने कहा कि दुख की इस घड ी में सरकार उनके परिजनों के साथ है । उन्होंने मुखयमंत्री स्वेच्छानुदान से दो लाख रूपये तथा एक लाख रूपये दुर्घटना में मृत्यु होने पर राहत सहित तीन लाख रूपये की देने की घोषणा की (अशोक शर्मा )

Top

शिवमामा लाबारिश जीवित नवजात भांजियां

छतरपुर- मध्यप्रदेश का बुन्देलखण्ड क्षेत्र एक ऐसा क्षेत्र है जहां पर आज भी बेटियों को जन्म देने से पूर्व ही उन्हे बोझ की तरह पाला जाता है और निजी दाईयों से प्रसव कराकर उन्हे जीवित अवस्था में सुनसान जगहों, मंदिरों की चौखटों पर लावारिश हालत में छोड दिया जाता है। अगर यह कहें कि बुन्देलखण्ड के पिछडे जिलों के पिछडे क्षेत्रों में आज भी महिला बाल विकास की बेटी बचाओ योजना के लाभ से कहीं ना कहीं गरीब परिवार की महिलायें लाभांवित होने से वंचित है या फिर रसूकदारों की अय्‌याशी का परिणाम है कि लाबारिश नवजात जन्म लेते है उनमें से अधिकतर नवजात का लिंग महिला ही होता है। बुन्देलखण्ड में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जो प्रदेश की बेटियों को अपनी भांजी के रूप में उनका लालन पालन करने का जिम्मा सरकार के माध्यम से उठाये है और इसके बाबजूद भी शिवमामा की नवजात भांजियां लाबारिश हालत में मिले तो इससे यही आंकलन लगाया जा सकता है कि कहीं ना कहीं बेटी बचाओ योजना के क्रियान्वयन में कमी है।मकर संक्रांति के एक दिन पहले बुन्देलखण्ड के जिले टीकमगढ में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जतारा में अंत्योदय मेले के दौरान बेटी बचाओ अभियान के तहत सभी को संकल्प दिला रहे थे कि मां की कोख को कत्लखाना नहीं बनने देंगे, प्रदेश में बेटी बचाने के लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे, बेटियों को समाज में सम्मान मिले और उनके स्वाभिमान की रक्षा हो इसके लिए किसी प्रकार की कमी नहीं छोडी जाएगी इत्यादि। उसी समय छतरपुर जिला मुख्यालय पर भैंसासुर मुक्तिधाम (शमशानघाट) में माता की मडिया के अंदर तीन दिन का एक नवजात मासूम जीवित अवस्था में पुलिस द्वारा बरामद किया गया है। जिसे तत्काल जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। इसके पूर्व बडामलेहरा में नवजात जीवित बच्ची मिली थी जिसे जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया और उसे इंजीनियर ने उसे गोद लिया था। बुन्देलखण्ड के अशिक्षित और पिछडे क्षेत्रों में आज भी गरीब परिवारों में बेटियों को बोझ समझा जाता है। ऐसे परिवारों के सदस्यों का मानना है कि बेटियों को पालना सरल है परन्तु उनके यौवन को सुरक्षित रख पाना आज भी कठिन है( रवि गुप्ता बिग न्यूज़ २४ )

Top

जिपं की गोद में प्राचार्य ?

मध्यप्रदेश के छतरपुर जिला पंचायत में स्कूल शिक्षा विभाग के एक प्राचार्य को जिला पंचायत की गोद में खेल खेलने का ऐसा शौक लगा है कि वह अपने जादू से सीईओ जिला पंचायत को अपने वश में कर मनमर्जी का आदेश जारी करवाता रहता है। विगत कई वषोर्ं से अटैच इस प्राचार्य ने खेले खेल में कई लोगों को ऐसा फंसाया कि स्वयं वेदाग और कर्मचारी जेल में है। अगर जिला पंचायत में हुये कृत्यों और घोटालों की जांच लोकायुक्त द्वारा गम्भीरता से कराई जाती है तो सामने आये जिला पंचायत के कृत्यों मे शामिल होने के सबूत मिल सकते है। मिली जानकारी के अनुसार श्री लखनलाल असाटी प्राचार्य शासकीय हाईस्कूल पारवा में पदांकित है और वे जिला पंचायत में बतौर मीडिया प्रभारी जिला पंचायत के रूप में अटैच हुये। इस पर सूचना के अधिकार के तहत जानकारी मांगी गई तो सूचना के अधिकार के तहत चलाई गई नोटशाीट पर साफ और स्पष्ट शब्दों में जिला पंचायत स्थापना द्वारा लेख किया गया कि श्री लखन लाल असाटी को जिला पंचायत में बतौर मीडिया प्रभारी तो क्या ऐसा कोई भी आदेश जारी नहीं किया गया जिससे यह साबित हो सके कि श्री असाटी जिला पंचायत में अटैच है। इस नोटशीट के लेख होते ही सीईओ जिला पंचायत के होश उड गये और उन्होने संबंधीजन को जानकारी ना देने का मन बना लिया और संबंधित के पास खबर पहुंचा दी कि वे कलेक्टर के यहां पर अपील कर दें। सीईओ जिला पंचायत ने अपने आपको बचाने के लिये श्री असाटी को आदेश क्रमांक ७७४३ दिनांक ८ दिसम्बर २०११ को सामाजिक आर्थिक एवं जाति गणना के प्रचार प्रसार प्रभारी बनाकर जारी कर दिया। जब इसकी भी शिकायत जनशिकायत में की गई तो जिला पंचायत सीईओ ने एक दूसरा आदेश क्रमांक १५४ दिनांक ९ जनवरी २०१२ को जारी कर दिया जिसमें श्री असाटी को प्राचार्य ना लिखकर मीडिया प्रभारी जिला पंचायत का पद लिखकर खजुराहो साहसिक खेल उत्सव में प्रसार प्रचार का प्रभारी बना दिया। हालांकि इस संबंध में श्री लखन लाल असाटी से मीडिया ने चर्चा की तो कहा कि हम प्राचार्य जरूर है परन्तु अपनी सर्विस लाइफ में किसी भी बच्चों को नहीं पढाया और ना ही संस्था में रहका अपना जीवन गंदे बच्चों के साथ व्यतीत करना चाहता हूं इस कारण हम अपनी सेटिंग से जिला पंचायत में विभिन्न पदों पर विभिन्न आदेशों के तहत अटैच रहकर अपनी पत्री का बीमा ऐजेन्ट का व्यवसाय करता हूं। अगर हमें जिला पंचायत से हटाया गया तो हम नौकरी छोडकर पत्रकारिता करूंगा और जिला पंचायत की सभी कमजोरियों को उजागर कर सभी के झीथडे उडा दूंगा। इस बात को सीईओ जिला पंचायत भी जानतीं है। अपनी आदत से अधिकारियों को ब्लैकमेलिंग के स्वरूप को दर्शाकर जिला पंचायत की गोद में जो खेल खेला जा रहा है उसकी चर्चाये चहुंओर गलियारों में सुनाई देने लगीं है।स्कूल शिक्षा विभाग के विशेषज्ञों का कहना है कि स्कूल शिक्षा विभाग के आदेशानुसार किसी भी प्राचार्य तो क्या किसी भी शिक्षक का अटैचमेन्ट नहीं किया जा सकता है। बताया कि शिक्षा विभाग के अधिकारी/ कर्मचारी के अटैचमेन्ट के संबंध में शासन के आदेश तात्कालीन राज्य शिक्षा केन्द्र आयुक्त श्री आरएस जुलानिया एवं तात्कालीन आयुक्त लोकशिक्षण श्री एसएन मिश्रा के संयुक्त हसताक्षर से जारी राशिके आदेश क्रमांक/ राशिके/ मानिट/ ४४०/ २००७ भोपाल दिनांक २८/११/२००७ में समस्त आहरण संवितरण अधिकारियों को आदेशित किया गया है कि किसी भी कर्मचारी/शिक्षक अपनी पदस्थापना स्थल पर रहकर कार्य नहीं कर रहा हो उसको अनुपस्थित माना जाये और उसकी अनुपस्थिति के लिये वेतन आहरण/वेतन भुगतान नहीं किया जाये। इसी आदेश की कंडिका तीन में यह भी उ्वेख किया गया है कि इस आदेश की अवलेहना की दशा में आहरण एवं संवितरण अधिकारी व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार होंगे तथा आदेश के उ्वंघन में भुगतान की गई राशि को शासकीय धन राशि का दुरूपयोग मानते हुये संबंधित आहरण वितरण अधिकारी को आपराधिक प्रकरण तथा विभागीय कार्रवाही के लिये उत्तरदायी माना जायेगा साथ ही आदेश के उ्वंधन में वितरित की गई धन राशि की वसूली भी दोषी आहरण संवितरण अधिकारी से की जा सकेगी। इस आदेश को तात्कालीन जिला शिक्षा अधिकारी छतरपुर के पृक्र/१३२४/स्था/आसंजन-निरस्ती/२००७ छतरपुर दिनांक ०१/१२/२००७ के द्वारा समस्त आहरण संवितरण अधिकारियों को पृष्ठांकित प्रति प्रेषित की गई है। यह आदेश आज दिनांक तक प्रभावी है।(रवि गुप्ता छतरपुर)

Top

भाजपा में गुटवाजी चरम पर

होशंगाबाद/स्थानीय कामाख्या गार्डन में भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष रामपालसिंह का जन्मोत्सव पर २ बजे मीड़िया को ामंत्रित किया गया। तीन बजे जिले के प्रभारी मंत्री सहित दर्जनों नेता ों ने ामद दे दी लेकिन भाजपा की गुटवाजी की चर्मोत्क़ृष्टता तब दिखी जब सोहागपुर विधायक ौर नगरपालिका ध्यक्ष श्रीमति माया नारोलिया को कार्यक्रम पर न तो बुलाया गया ौर न ही बैनर पर उनका फोटो ही था इससे नगर के इन नेता ों ने कार्यक्रम से दूरी बनाये रखी जो कस्मात श्री सिंह के साथ कार्यक्रम स्थल पर पहुॅचे जिससे नेक भाजपाईयों के चेहरे लटक गये। इधर कस्मात विन्ध्य युवा मंच बुदनी ने कामाख्या गार्डन में भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष रामपालसिंह के जन्मोत्सव को लेकर जमकर तैयारी की ौर जिले भर से जनप्रतिनिधि एवं भाजपाईयों को बुलाया गया। मंच ने सुबह ही मीड़िया को सूचित किया कि २ बजे रामपालसिंह जी ापके साथ दालबाफले खायेंगे, ाप उनके जन्मदिवस पर वश्य ाये। जब २ बजे मीड़ियाकर्मी पहुॅचे तब पाण्डाल में २५३० कार्यकर्ता थे। जिले के प्रभारी मंत्री ब्रजेन्द्रप्रतापसिंह, वननिगम के ध्यक्ष गुरूप्रसाद शर्मा, जिला पंचायत ध्यक्ष योजनगंधा, विधायक गिरिजाशंकर शर्मा सहित नेक नेता ों ने मंच पर ाकर कब्जा कर लिया किन्तु कार्यक्रम में रामपालसिंह जी नदारत रहे। कार्यक्रम में लगे बैनर को देखकर नेक भाजपाईयों को पनेआका ों का फोटो न दिखने पर वे नाराज हो जाते दिखे वही मीड़िया इसे चुटकीया लेकर सुनता रहा। शाम को ४ बजे तक रामपालसिंह जी की कोई सूचना नहीं मिली, लेकिन मंच से उनके होशंगाबाद नगर में ाने का ाश्र्वासन मिलता रहा कि वे नगर में है कुछ ही पलों में ा जायेंगे, लेकिन जब ५ बज गये ौर वे नहीं ाये तब एकएक कर कार्यकर्ता ों ौर मीड़ियाकर्मी उठकर चले गये। शाम ६ बजे के लगभग रामपालसिंह जी कार्यक्रम स्थल पर पहुॅचे तब उनके साथ नगरपालिका ध्यक्ष श्रीमति माया नारोलिया एवं सोहागपुर विधायक विजयपालसिंह थे। इससे होशंगाबाद विधायक गुप के लोगों को सॉप सूघं गया ौर उनके चेहरे की खुशिया काफूर हो गयी। कई लोग दालबाफले का ानन्द लिये नाराज लौटे वहीं पूर्व से उपस्थित जनप्रतिनधि भी बिना भोजन का स्वाद लिये चलते बने, ाखिर में कुछ लोगों के साथ मिलकर रामपालसिंह जी ने भोजन का स्वाद चखकर वे भी निकल लिये। जिस विन्ध्य युवा मंच बुदनी ने ायोजन किया उसे इस हेतु जिले के कालोनाईजरों, राशन दुकान संचालकों, ठेकेदारों से जमकर सहयोग किया तभी इतना ालीशान जन्मोत्सव मनाया जा सका।(आत्माराम यादव )

Top

ए दोस्ती हम नहीं छोड़ेगे

मडि यादो एक बंदर एक पिल्ले से इतना मिहरवान है कि वह पिल्ले के साथ वह सब करता है जो एक मां अपने बच्चे से करती है। पिल्ला भी अब बंदर से अपनी मां से भी अधिक प्यार करने लगा है। प्रत्यक्षदद्गर्ाीयों की माने तो बंदर को देखते ही पिल्ला अपनी मां का साथ छोड बंदर से अठखेलियां करने चला जाता है जो ग्रामीणों में ऐक आद्गचर्य बना हुआ है। भरत विद्गवकर्मा ने बताया पुलिस लाईन के पास ऐक पिल्ले को रोज सुबह ऐक बदरिया घंटों साथ में रखती है यहां तक वह अपना दूध तक पिल्ले को पिलाती है पिल्ला भी अब बदंरिया को अपनी मां ही समझने लगा है। मदन गुप्ता ने बताया यदि बंदर के सामने पिल्ले को कोई पकड ता है या नुकसान पहुचाने की कोद्गिाद्गा करता है तो बंदर आनी जान की परवाह किए बिना नुकसान पहुचाने बाले के उपर टूट पड ता है जिस से सभी बंदर से डरते है। यह सिनसिला ऐक सप्ताह से चल रहा है जिसे देखने ग्रामीणों की भीड एक्त्र हो जाती है।(यूसुफ पठान बिग न्यूज़ २४ )

Top

सांई मंदिर में उमड़ा भक्तों का सैलाब

हटा देव श्री रामगोपाल जी मंदिर के पास स्थित सांई बाबा मंदिर में आज प्रातः से सांई भक्तो की भीड उमड ी रही। पं. ब्रजेद्गा दुबे के द्वारा मंत्रोपचार के साथ सांई बाबा का अभिषेक कराया गया। अभिषेक के बाद बाबा का पूजन एवं महा आरती की गई जिसमें भक्तों ने आरती की। दोपहर में सांई बाबा की पालकी मंदिर से प्रारंभ होकर नगर के मुखयमार्गो से निकाली गई, जो रतन बजरिया, बड ा बाजार, मंदिर मस्जिद चौराहा, तीन बत्ती तिगड्‌डा, पेट्रोल पम्प, चंडी जी मंदिर होती हुई पुनः मंदिर पहुंची। पालकी यात्रा के अभिनंदन, पूजन, आरती के लिए नगर वासियों ने पलक पांवड े बिछाकर स्वागत किया। घर घर बाबा की पालकी की आरती पूजन हुआ। रास्ते में नगरवासियों को प्रसाद का वितरण किया गया। नगर में जगह जगह लोगों ने बाबा की पालकी के साथ चल रहे श्रद्धालुओं को प्रसाद, अल्पाहार की व्यवस्था की गई। पालकी में सभी सांई भक्तों का सहयोग रहा(संजय जैन बिग न्यूज़ २४ )

Top

त्योहारों पर महगाई की मार

मडि यादो मकर संक्रांति के अवसर पर गुरूवार को हाट बाजार में महगाई का असर देखा गया खरीददारी करने बजार में खरीदारों की बड ी भीड रही पर दुकानदारों के अनुसार बिक्री उम्मीद से कम रही। परम्परा के अनुसार इस त्योहार पर लोग पकवान बनाते है जिसमें गुड, तेल, द्गाक्कर की जरूरत होती है लेकिन महगाई के चलते ग्रामीणों द्वारा परम्परा निभाने ही खरीद की। किराना बिक्रेता मदन गुप्ता ने बताया अब बिक्री पहले की तुलना में बहुत कम रह गई है श्री गुप्ता का कहना है गांवों अधिकांद्गा मजदूर तबके के ही लोग रहते है जो महगाई के चलते खरीददारी करने में परेद्गाानी महसूस करते है। हरीराम आदिवासी ने बताया त्योंहारो पर बच्चों की खातिर खरीदारी करने पड ती है क्यों की महगाई के चलते हैसियत नही है कि पकवान तैयार कर सके पर बच्चे नही मानते इस लिय थोड ा थोड ा कर के खरीद कर लेते है। भगवानदास आदिवासी ने बताया एक जमाना था जब संक्राती पर्व पर बनाऐ गए पकवान महीनों खाते थे पर महगाई ने कमर तोड दी है अब तो बस परम्परा निभाने और बच्चों की जिंद के चलते पकवान बनाते है । खूब बिकते थे गड़ियागुलले मकर संक्राती पर्व पर जम कर गडि यागुल्ले की बिक्री होती थी कल्लु जैन ने बताया जो खरीददार पहले १०किलो की खरीद करता था वह एक किलो में ही काम चला लेता है। जीवनलाल पटैल का कहना है परम्परा के अनुसार सादी के बाद पड ने वाली पहली संक्राति पर लड का पक्ष लड की के घर पीतल के बर्तन में गडि यागुल्ला, मिठाई लड की के लिए कपड े वगैरह ले कर जाता है। जो लड की पक्ष के रिस्तेदारो में बितरण होते है। ऐसी परम्परा है। इसी का निर्वाहन करने महगाई के बावजूद खरीद करना पडती है। हलाकी अब कही कही परम्परा भी समाप्त हो रही है९युसुफ़ पठान बिग न्यूज़ २४ )

Top

प्रिंट मीडिआ की आज भी वही भूमिका है

नौगॉव (छतरपुर ) स्थानीय सर्किट हाउस में नव निर्वाचित बुन्देलखण्ड प्रेस क्लब नोगॉव के अध्यक्ष संतोष कुमार गगेले ने अपने तत्काली अध्यक्ष श्री अनूत तिवारी की बिदाई पार्टी एवं सम्मान भोज का आयोजन किया जिसके मुखय अतिथि महाराजपुर बिधान सभा क्षेत्र के बिधायक श्री मानवेन्द्र सिंह भंवर राजा रहे तथा बिद्गोष अतिथि अधिबक्ता संघ के अध्यक्ष श्री सूरज देव मिश्र बापू महाविालय नौगॉव के प्रार्चाय श्री एल०एन० रावत थैं । बिदाई एवं सम्मान समारोह में श्री अनूप तिवारी का प्रेस क्लब के संरक्षक संपादक श्री इकवाल मामू ने द्यद्गााल श्रीफल से सम्मान किया । मुखय अतिथि श्री मानवेन्द्र सिंह ने बिदाई समारोह में अपने बिचार रखते हुये कहा कि प्रिंट मीडिआ की आज भी वही भूमिका है जो आजादी के समय थी, इसलिए कोई भी समाचार प्रकाद्गिात करने के पूर्व प्रत्येक पत्रकार को समाचार की सचाई का पता लगाना आवाद्गयक है यदि आधारहीन समाचार प्रकाद्गिात कर किसी के चरित्र हनन किया जाता है तो यह दुर्भाय पूर्ण है । पत्रकारिता को विज्ञापन से बचाकर सही एवं निष्पक्ष बनाये रखना प्रत्येक संपादक की भी जुम्मेदारी होती है । पत्रकारिता एक मिद्गान के रूप में है इसका दुरूप्पयोग नही होना चाहिये । कार्यक्रम के बिद्गिाष्ट अतिथ अधिबक्ता संघ के अध्यक्ष श्री सूरज देव मिश्रा ने कहा कि बर्तमान समय में कुछ पत्रकार समाचारों की अपेक्षा विज्ञापन एवं व्यापार पर ज्याद समय देते है इसलिए पत्रकार अपनी लेखनी का सही उपयोग नही कर रहे है यदि सरकार एवं द्यद्गाासन की योजनाओं का जन जन तक पहुॅचाने में जो कार्य पत्रकार कर सकते है वही अन्य कोई नही करता है ऐसे समय में जनता एवं सरकार के बीच पत्रकार को सही समाज सेवा करना चाहिये जिससे सरकार की नीति जन जन तक पहुॅचे और आम जनता सरकार की योजनाओं का पूरा लाभ उठा सके । उन्होने ईमानदार व कमैठ पत्रकारिता केलिए कार्य करने बालों की सराहना भी की । इसीप्रकार बापू महाविद्यालय के प्राचार्य श्री एल०एन० रावत ने कहा कि आज के कुछ पत्रकार आधार हीन समाचारों केलिए अपनी लोकप्रियता हासिल करने केलिए समाचार की सच्चाई तक नही पहुूॅचते पाते है यदि समाचार की गहराई तक जाकर सही समाचार जनता केलिए दिया जायें तो समाचार समाज में परिवर्तन लाने की ताकत है लेकिन आधारहीन समाचार प्रकाद्गिात हो जाने के बाद उसकी लोकप्रियता घटती है साथ ही पत्राकर एवं समाचार पत्र की विद्गवसनीयता पर ऑच आती है ऐसे समय में पत्रकार का उतावलेपन में कोई समाचार नही लिखना चाहिए । बिदाई पार्टी एवं सम्मान समारोह में नव निर्वाचित अध्यक्ष संतोष कुमार गंगेले ने उपस्थित पत्रकारों एव जनप्रतिनिधिओं समाजसेवी, व्यापारियों एवं कर्मचारियों को बिद्गवास दिलाया कि उनके पदाधिकारीओं से आम जनता एवं प्रद्गाासन को कोई परेद्गाानी नही होगी, बुन्देलखण्ड प्रेस क्लब के सदस्यों का हमेद्गाा प्रयास रहेगा कि सही समाचार ही जनता के सामने आयेगें जनता का भी दायित्व बनता है कि वह अपने क्षेत्र की घटनाओं एवं समस्रूाओं की सही जानकारी हमारे पत्रकारों तक साक्ष्य सहित समाचार भेजे । तत्कालीन अध्यक्ष श्री अनूप तिवारी ने अपने कार्यकाल में हुये कार्यो का विवरण देते हुये सभी पत्रकारों का आभार व्यक्त किया । कार्यक्रम में सभी पत्रकारों को सम्मानित कर सम्मान भोज दिया गया । समापन समारोह के बाद उपाध्यक्ष श्री सतीश साहू ने सभी का आभार व्यक्त किया ( संतोष कुमार गगेले)

Top

तटों के कटाव से नगर को खतरा

१२ करोड़ खर्च के बाद नहीं रूका कटाव होशंगाबाद । प्रदेश की मुख्य धारा व पुण्य प्रदायिनी मां रेवा में आज भी शहर का गंदा व निस्तार का पानी मिल रहा है जिससे पुण्य प्रदायिनी नर्मदा मैली होकर श्रापित हो रही है। नर्मदा के तटों पर हो रहा कटाव रोकने १२ करोड़ की योजना आयी किन्तु राशि खर्च होने के बाद भी कटाव नहीं रूक सका। होशंगाबाद का दुर्भाग्य है कि यहां प्रसिद्घ सेठानी घाट पर प्रतिवर्ष लाखों श्रृद्घालू स्नान के लिये आते है लेकिन उन्हें नर्मदा का शुद्घ जल में स्नान का अवसर प्राप्त नहीं हो पा रहा है । सेठानी घाट से ऊपर कोरी घाट स्थित नाले से समूचे नगर के निस्तार का गंदा पानी नर्मदा में मिलकर मां नर्मदा की पवित्रता को खंडित कर श्रापित कर रहा है। पूर्व में लाखों रूपये खर्च करने के बाद भी इस नाले के गंदे पानी से नर्मदा को निजात नहीं मिल पाई है । स्थानीय राजनेताओं की नेतृत्व क्षमता पर प्रश्र्र लगाते इस नाले ने अपने रूख बदलने के नाम पर लाखों रूपये का घोटाला किया है । स्नान को आनेवाले लाखों श्रद्घालुओं के साथ क्रूरतम खिलवाड़ करने वाले ऐसे तथाकथित अधिकारियों जिन्होंने नाले के गंदे अवसिष्ठ जल से निजात दिलाने की कोशिश की उन कोशिशों पर पानी फिर गया है और इस गंदे नाले के जल को नर्मदा में न मिलने के नाम पर लाखों की योजनाओं पर काम करने वाले दोषी अधिकारियों के खिलाफ अब तक कोई कार्यवाही नहीं की जा सकी है ।वर्ष १९९२ में नगर सुधीन न्यास ने भूमि कटाव रोकने और नर्मदा के सौंदर्यीकरण के लिये १२ करोड्‌़ रूपये की योजना बनाई थीजिसक तहत तवा और नर्मदा नदी के किनारे पिचिन निर्माण कराया गया । किन्तु मरम्मत ओर रखरखाब के अभाव में यह अनेक स्थानों से क्षतिग्रस्त हो रही है और १२ करोड़ रूपये बेकार हो गया। हालात यह है कि बांद्राभान पर अब तक सैकड़ों एकड़ भूमि इन कटावों की भेंट चढ़ चुकी है । नदी किनारे पर २० से ५० फीट तक गहरे गढढे हो रहे है । कुछ स्थानों पर तो ये कटाव बांद्राभान संगम पहुंचने वाले मार्ग के करीब तक पहुंच गये है । इसी तरह शहर के सबसे प्राचीन और प्रसिद्घ जगदीश मंदिर के पीछे का हिस्सा भूमि कटाव से खासा प्रभावित हो रहा है । अगर समय रते नर्मदा ओर तवा नदी में हो रहे भूमि रक्षण पर काबू पाने ठोस उपाय नहीं किये गये तो नर्मदापुर कहलाते वाला यह शहर अपनी पहचान खो देगा । करोड्रों के फिल्टर प्लांट की मशीने गायब, जमीन पर भी कब्जा पूर्व मुख्यमंत्री अर्जूनसिंह के समय ज्ञानसिंह मस्ते एवं राधेबाबा की पहल पर वर्ष १९८६ में कोरीघाट स्थित नाले के पानी को बंद करने के लिये करोड्रों रूपये खर्च कर लेडि्रयाबाजार में बसंत टाकीज के सामने फिल्टर प्लान्टेशन लगाया जहॉ नगर के निस्तार का गंदा पानी आता और फिल्टर होकर वहॉ ८ एकड के खेत में बने तालाबों में पहुॅचकर साफ किया जाकर नर्मदा में मिलाया जाता । किन्तु पिछले १५ वर्र्षो से वह फिल्टर प्लांट बंद होने के बाद मशीनें गायब हो गयी और तालाब के लये आरक्षित भूमि पर बंगलादेश-ईरान के मुश्रिमों ने कब्जा कर उक्त करोड्रों रूपये की जमीन भी हथिया ली और प्रशासन मूक बना रहा तथा नर्मदा में मिलने वाले गंदे पानी के नाले का मलवा फिर नर्मदा में मिलने लगा जिसपर अब तक रोक नहीं लग सकी है। होशंगाबाद का दुर्भाग्य है कि यहां प्रसिद्घ सेठानी घाट पर प्रतिवर्ष लाखों श्रृद्घालू स्नान के लिये आते है लेकिन उन्हें नर्मदा का शुद्घ जल में स्नान का अवसर प्राप्त नहीं हो पा रहा है । सेठानी घाट से ऊपर कोरी घाट स्थित नाले से समूचे नगर के निस्तार का गंदा पानी नर्मदा में मिलकर मां नर्मदा की पवित्रता को खंडित कर श्रापित कर रहा है। पूर्व में लाखों रूपये खर्च करने के बाद भी इस नाले के गंदे पानी से नर्मदा को निजात नहीं मिल पाई है । स्थानीय राजनेताओं की नेतृत्व क्षमता पर प्रश्र्र लगाते इस नाले ने अपने रूख बदलने के नाम पर लाखों रूपये का घोटाला किया है । स्नान को आनेवाले लाखों श्रद्घालुओं के साथ क्रूरतम खिलवाड़ करने वाले ऐसे तथाकथित अधिकारियों जिन्होंने नाले के गंदे अवसिष्ठ जल से निजात दिलाने की कोशिश की उन कोशिशों पर पानी फिर गया है और इस गंदे नाले के जल को नर्मदा में न मिलने के नाम पर लाखों की योजनाओं पर काम करने वाले दोषी अधिकारियों के खिलाफ अब तक कोई कार्यवाही नहीं की जा सकी है । सन्‌ १९६३ की महा- प्रलंकारी बाढ़ के मंजर से लाखों लोग प्रभावित हुए तब जिला प्रशासन ने अस्थाई मिटटी की पिचिन बनाई लेकिन दस वर्ष बाद वर्ष १९७३ में नर्मदा के जल के इस पिचिन को निगलते हुए नगर का रास्ता देखा जिसे स्थानीय जिला चिकित्सालय परिसर सहित समूचा नगर भयंकर बाढ़ की चपेट में आ गया था और इससे लाखों रूपये की धनहानि व जनहानि हुई थी । इस बाढ़ के बाद फैली बीमारी ने भी कई लोगों को काल के गाल में समा दिया इसके बाद वर्ष १९९९ की बाढ़ के मंजर भी किसी से छिपे नहीं है लेकिन बांद्राभान से कलेक्ट्रेट परिसर तक बनने वाली पिचिन का काम पूरा किये बिना बंद करा दिया गया जिस पर कभी किसी ने प्रश्र्र नहीं किया? नगर सीमा को निगल रहा है नर्मदा का कटाव सााल दर साल नर्मदा का कटाव नगर होशंगाबाद की ओर बढ़ रहा है । बाढ़ का पानी नगर की सीमाओं को तेजी से निगल रहा है और अब तक किनारों में ४० फीट तक बेशकीमती जमीन को निगल चुका है । राज्य की जीवन रेखा नर्मदा अपना दो तिहाई रास्ता मध्यप्रदेश में तय करती है । तकरीबन एक दर्जन जिलों को पानी देने वाली नर्मदा में गंदनी मिलती है । होशंगाबाद में नर्मदा की स्थिति सबसे ज्यादा खतरनाक है । नदी के बीचों बीच मिटटी का भराव हो जाने से इसके बीचों बीच टीले उभर आये है । नदी के पानी को किनारे पर धकेलकर ऐतिहासिक घाटों ओर मंदिरों लिये खतरा पैदा करने लगे है । ये टीले नर्मदा की कोख से नही जन्में है बल्कि बरसाती पानी के साथ मिटटी और बारहमासी नालों से बहकर आई गंदगी के कारण बने है । यहीं गंदगी इसके कटाव के लिये जिम्मेदार है । प्रतिभूति कागज कारखाना के अविशष्ट रासायनिकों के जहर से मरते है जीव नगर में स्थित प्रतिभूति कागज कारखानें में प्रयोग में आने वाला खतरनाक रासायनिक मिल से निकलनेके बाद खोजनपुर डोंगरवाड़ा नाले में होता हुआ नर्मदा में मिल रहा है जिससे इस जहरीली अवशिष्ट से जलीय जीवों पर संकट तो छाया ही हुआ है वही ंपर नाले द्वारा नर्मदा तक पहुॅचने के पूर्व ही अनेक जानवार गाय-बैल,भैस आदि भी इसको पीकर मरते है जिससे इस नाले के आसपास के सैकड़ों किसानजिनकी भूमि एवं खेत उस नाले से जुडे़े है वे अपने जानवरों को भूलकर भी इस नाले के भटकने नहीं देते है। पूरे समय निगरानी रखने के बावजूद कभी कभार जानवर इस अवशिष्ट प्रवाहित नाले का पानी पीकर असमय मौत के शिकार हुये है लेकिन गरीब लोग प्रबन्धन से पंगा न लेने के भय से खामोशी से इस त्रासदी को झेलने बो विवश है। ( आत्माराम यादव)

Top

फर्जी चिकित्सों का फायदा ही फायदा

होशंगाबाद। जिला मुख्यालय होशंगाबाद में एक दर्जन के लगभग प्रायवेट हास्पिटल, एक सरकारी अस्पताल, ५ क्लीनिक, २ फ्रेक्चर अस्पताल, ५ पैथालॅाजी सेन्टर एवं १४ झोलाझाप डाक्टरों के रहते मरीजों को किसी भी तरह की शिकायत चाहे मौसम के बदलने के साथ शरीर में बुखार ताप हो या चक्कर आने जैसी घटना हो, निजी नर्सिग होम या चिकित्सक की शरण में पहुॅचने पर उसे ५-६ तरह की जांच कराने के लिए डाक्टरों द्वारा एक जांच सेंटर का नाम सुझाया जाकर परामर्श शुल्क वसूली उपरांत २ सौ रूपये से १००० रूपये तक की दवा लिखना एक दिनचर्या बनकर रह गया है। चिकित्सक के परामर्श अनुसार मरीज सभी तरह की जॉच कराकर जब जॉच रिपोर्ट ठीक होने पर डाक्टर को दिखाता है तब अधिंकाशं डाक्टर मरीज को थकावट होने की बात कह कर कुछ दिन आराम करने और विटामिन मिनरल की टेवलेट लेने की सलाह देकर अपनी विद्वता दिखाते है, यह स्थिति रोज किसी न किसी मरीज के साथ घटती है। जरा जरा सी बात पर जॉच के नाम पर अब डाक्टर पैथालांजी सेंटर में जांच कराने के लिए मरीज को भेज रहे है। जांच में सब कुछ ठीक निकलने पर मरीज अपने को ठगा सा महसूस करता है किन्तु स्वास्थ्य के नाम हुई इस ठगी के खिलाफ वह सिवाय लुटने के नाम पर कुछ नहीं कर पा रहा है। डाक्टर सुनील मंत्री के अनुसार खून-पेशाब आदि की जांच करवा लेने से बीमारी की सही जानकारी मिल जाती है। खून में हीमोग्लोबिन की जांच करवाना हो या ब्लड यूरिया वशुगर की। इस तरह की जांच करवाने के लिए सरकारी अस्पताल में जो शुल्क लगता है। उसी के लिए प्रायवेट जांच सेंटर में लगभग दोगुनी या तिगुनी राशि वसूली जाती है। जांच करने के लिए जिले में विभिन्न पैथालॉजी सेंटर के रेट अलग-अलग है। भर्रासाही, मशीनों में खराबी व अन्य दिक्कतों के रहते मरीजों को सरकारी अस्पतालों से विश्चास नहीं रहा है इसलिये सरकारी अस्पताल में भी डाक्टर से सलाह लेने के लिए पहुचने वाले मरीजों को ये डाक्टर प्रायवेट पैथालॉजी जांच सेंटरों में ही पहुचातें है क्योंकि ये अधिकतर चिकित्सकों के या उनके रिश्तेदारों के है जहॉ अधिक शुल्क ली जाती है जिसमें डाक्टरों का कमीशन भी शामिल होता है लेकिन मरीज इसलिये शिकायत नहीं करता क्योंकि उसे इसकी जानकारी नहीं होती । यदि जानकारी भी हो तो वह चिकित्सक से पंगा नहीं लेना चाहता है। चिकित्सकों,रिश्तेदारों के है पैथालॉजी सेंटर जिले में अधिकांश पैथालॉजी सेंटर या तो चिकित्सक के स्वयं के है या उनके रिश्तेदारों द्वारा संचालित है जिसमें मोटी रकम मिलती है। एक पैथालॉजी सेंटर के संचालक नाम न छापने की शर्त पर बताते है कि कई बार कु छ डाक्टर ही बिना आवश्यकता के मरीज को भेज देते है क्योकि वहां से डाक्टर के आर्थिक हित जुड़े रहते है। कई बार एक पैथालॉजी सेंटर से करवाई गई जांच की रिपोर्ट ठीक नही आने पर डाक्टर मरीज को दूसरे पैथालॉजी से जांच करवाने के लिए भेजते है। यहॉ अनेक पैथालॉजी सेंटर है जिनका निरीक्षण किसी शासकीय एजेन्सी द्वारा नहीं किया जा रहा है। इन सेंटरों पर तेयार की जाने वाली जांच रिपोर्ट पर हस्ताक्षर कराने के लिए पैथालॉजी में एम.डी.या डी.सी.पी.किए डाक्टर के पास ले जाया जाता है। एसोसिएशन आफ भोपाल पैथालाजिस्ट के अनुसार प्रायवेट पैथालॉजी सेंटर रिपोर्ट की गुणवत्ता के आधार पर अपने शुल्क निर्धारित करते है। इनके श्ुाल्क पर कंट्रेाल करने के लिए कोई योजना नही बनाई गई है। सामान्य फ्रेक्चर पर भी भोपाल भेजे जाते है मरीज फे्रक्चर आस्पिटल के स्पेशलिस्ट डा.राजेश शर्मा भोपाल में निवास कर होशंगाबाद में नर्मदा अस्पताल फ्रेक्चर अस्पताल चला रहे है और हफ्ते में दो बार आते है,यदि वे नहीं आ पाये तो मरीज को भोपाल स्वयं की एम्बुलेंस फ्री देकर बुला लेते है और सामान्य हाथ-पैर के फ्रेक्चर में भी आपरेशन द्वारा हडिडयों को सेट करने में २० से ५० हजार रूपये जमा कराते है जो एक गरीब के लिये मुश्किल ही नहीं अपितु कर्ज में डूबने जैसा है। उक्त डाक्टर की ख्याति एवं नाम के पीछे भागने वाले मरीज और लोग मोटी रकम देने के बाद भी सही उपचार नहीं करा पाते है। प्रायवेट फ्रेक्चर चिकित्सालय में आलम यह है कि १०० मरीजों में से ६० मरीजों की हड्डिया सहीं नहीं जोड़ी जाती और उन्हें नामी चिकित्सकों के हाथों लुटने को विवश होने के बाद दूसरी जगह इलाज कराना होता है। आपरेशन से प्रसव कराने में कमाये करोड़ों रेवा नर्सिग होम के चिकित्सक आर.के.श्रीवास्तव १५ साल पहले जिला चिकित्सालय में आये तब उन्होंने यहॉ के लोगों द्वारा डिलेवरी के समय लोगों द्वारा प्रसूता एवं बच्चे के लिये सर्वस्य न्यौछावर करने वाले लोगों की प्रकृति को आंकलित कर जिला चिकित्सालय से नौकरी त्याग कर स्वयं की प्रायवेट रेवा नर्सिग होम का शुभारंभ एक किराये के मकान में किया। आज वे उनके यहॉ आने वाली प्रसूताओं का आपरेशन कर १० से लेकर ५० हजार रूपये तक डिलेवरी में कमाकर करोड़पति बन गये जब सामान्य डिलेवरी द्वारा बच्चे के जन्म से डाक्टर को १ हजार रूपये मिलते है किन्तु आपरेशन से स्वयं के मेडीकल स्टोर से हजारों रूपये की दवायें बेचने एवं आपरेशन में मोटी रकम मिलती हो तो कौन साामन्य डिलेवरी कराये। यही परिपाटी अपनाकर डा.श्रीवास्तव करोड़पति बन अब कालोनाईजरों के काम में अपने भाई को लगा दिया है। जिले में २६६ फर्जी चिकित्सक होशंगाबाद जिला अपराधियों को भी खुली छूट देता है, इसका ताजा उदाहरण यहॉ पदस्थ २६६ फर्जी चिकित्सक है जो जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी की नाक नीचे फल-फूल रहे है किन्तु भले ही उनकी लापरवाही से मरीजों की मौत हो जाये किन्तु उनपर कार्यवाही कराने के लिये कोई तैयार नहीं, इसके पीछे माना जाता है कि प्रत्येक चिकित्सक से ब्लाक स्तर पर मोटी रकम वसूली जाती है जो लाखों में है। नहीं तो क्या कारण है कि होशंगाबाद में १०,सोहागपुर में ६,बाबई में ३९, सिवनीमालवा में ७०,पिपरिया में २५, पचमढ़ी में २,इटारसी में १५, सुखतवा केसला ब्लाक में ४७, डोलरिया में २९ एवं बनखेड़ी में २३ कुल मिलाकर जिले में २६६ फर्जी चिकित्सक मरीजों के जीवन के साथ खिलवाड़ कर लाखों रूपये कमा रहे है किन्तु जनता के प्रति न तो मुख्य चिकित्सा अधिकारी स्वयं को जबावदेह एवं उत्तरदायी मानते है और न ही इन फर्जी चिकित्सकों पर सॅख्ती बरतना चाहते है, आखिर क्यों बरते जब वे फर्जी चिकित्सक मोटी रकम दे रहे हो तो और मरीज मरने के बाद भी खामोश हो तो कौन होगा जो इस संवेदनशील मुद्दे को हल करने की सोचें ? संभागीय मुख्यालय पर मरीजों की खुलेआम लूट पर डाक्टरों के लिये न कोई कानून का भय है और वे किसी कायदे को मानते है क्योंकि सभी ने फायदे में जीने का सबब जो पा लिया है ( आत्माराम यादव)

Top

मामूली विवाद पर एक की ह्त्या एक गंभीर

दमोह जिले के हटा चंडीजी वार्ड में दो युवको ने अपने ही दो साथी रहे मित्रो पर चाकुऊ से हमला कर दिया !घायल हुए दो युवको में एक ने अस्पताल जाते हुए दम तोड़ दिया जबकी एक गंभीर घायल को जिला अस्पताल में दाखिल कराया गया है ! पुलिस ने सुबह चार के खिलाफ मामला कायम कर हत्यारों की तलाश शुरू कर दी है ! -हटा के चंडी जी वार्ड में रहने वाले दुर्गेश नामदेओ और महेंद्र बुंदेला जब अपने घर मोटर साइकिल से जा रहे थे तभी पुराने मित्र रहे ललित साहू और ब्रजेश पटेल ने मामूली विवाद पर से इन्हें रोका और ताबड़ तोड़ चाकुओ से हमला कर दिया !महेंद्र बुन्देला ने जिला अस्पताल जाते वख्त दम तोड़ दिया जबकी दुर्गेश को गंभीर हालत में इलाज के लिए जबलपुर भेज दिया गया है !घायल बताता है की मामूली विवाद हुआ था जिसलिए दोनों ने रास्ता रोक हमला कर दिया ! दुर्गेश की हालत बिगड़ते ही उसे जबलपुर रिफर किया गया है जबकी महेंद्र बुन्देला ने इलाज़ के पहले ही दम तोड़ दिया !पुलिस ने मामला कायम किया है और फरार आरोपी ललित साहू और ब्रजेश पटेल की तलाश शुरू कर दी है !हालांकी सुबह पुलिस ने इस मामले में दो और आरोपियों को नामज़द कर लिया है जिनके नाम विपत सिंह और हरिओम दुबे शामिल है ! इस पूरे सनसनी खेज मामले में जहा मामूली विवाद पर ह्त्या होना बताया जा रहा है वही पुलिस और परिजनों ने घायल के बियान से अलग दो और आरोपी इस मामले में जोड़ दिए है जिससे मामला काफी पचीदा हो गया है !अब देखने लायक है की असल मुजरिमों की पहचान कर कब तक फरार आरोपी पुलिस गिरफ्त में आते है! दमोह से महेंद्र दुबे

Top

उत्सव में दिखाई देंगी शिव सरकार की योजनायें

छतरपुर मध्यप्रदेश के छतरपुर जिला मुख्यालय पर आयोजित होने वाले गणतंत्र दिवस २६ जनवरी २०१२ का समारोह शिव सरकार की जनहित कल्याणकारी योजनाओं पर आधारित आयोजित किया जा रहा है। छतरपुर जिला मुखयालय पर बाबूराम चतुर्वेदी स्टेडियम में मनाया जाने वाला देश का उत्सव अपने आप में अद्वितीय उत्सव होगा और इस उत्सव में बच्चों द्वारा किये जाने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम और चल समारोह में विभागों द्वारा सजाई जाने वाली शिव सरकार द्वारा चलाई गई जनहित कल्याणकारी योजनाओं का जीवंत स्वरूप दिखाई देगा। यह सब कुछ छतरपुर में पदस्थ कलेक्टर राहुल जैन के प्रयास से संभव हो पा रहा है। कलेक्टर ने गणतंत्र दिवस कार्यक्रम में आयोजित किये जाने वाले कार्यक्रम और विभिन्न विभागों द्वारा सजाई जाने वाली झांकियों की समीझा की और उसे और अधिक सुसज्जित बनाने के लिये सुझाव दिये। हालांकि २६ जनवरी के कार्यक्रम में अगर महावट नहीं गिरी तो यह कार्यक्रम अपने आप में अलग तरीके से उत्साह पूर्वक मनाया जायेगा। हालांकि कलेक्टर ने इसके भी प्रबंध कराके रखे है कि महावट या पानी गिरता है तो दर्शकों को कोई भी किसी भी प्रकार की परेशानियों का सामना ना करना पडे। यहां तक कि इस कार्यक्रम में बेटी बचाओ अभियान, बच्चों की शिक्षा और व्यायाम, स्वास्थ्य, आगनवाडी, पंचायतीराज, कृषि, उद्यानिकी, पर सर्वाधिक जोर दिया है। बच्चों के व्यायाम और देश भक्ति गीतों पर चुनिन्दा सांस्कृतिक कार्यक्रम रखे गये है। यह पहला अवसर होगा जब कलेक्टर ने बच्चों की प्रभात फेरियों के लिये शहर के चारों तरफ मुख्य चौराहों को चिंहित किया है। इन चिंहित स्थानों से आसपास के स्कूलों के बच्चे देश भक्ति नारों एवं गीतों के साथ हांथ में तिरंगा लिये कदम से कदम मिलाकर कार्यक्रम स्थल तक जायेंगे। कलेक्टर ने सभी अधिकारियों से यह भी आग्रह किया गया कि प्लास्टिक के बैनर एवं झण्डे, कागज एवं कपड़े के झण्डे इधर-उधर न पाये जायें।( रवि गुप्ता बिग न्यूज़ २४ )

Top

चापलूसों के वेतन आहरण पर लगी रोक

छतरपुर- मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले में पदस्थ डायरेक्ट आईएएस राहुल जैन जिले की बिगडी प्रशासनिक व्यस्थाओं को सुधारने के लिये नई नई खोज करते रहते है और कामजोर और चापलूस अधिकारियों की नाक में नकेल डालने का एक नया तरीका ढूंढ निकाला है। जिले के कार्यालय प्रमुखों के लिये एक फरमान जारी किया है कि अगर जिले के जिन विभागों के अधिकारी क्षेत्र भ्रमण से जुड़े हुए हैं वे अपनी भ्रमण एवं निरीक्षण की टूर डायरी हर माह जिला मुख्यालय पर कलेक्टर कार्यालय में अपनी टूर डायरी नहीं भेजता है तो उसका कोषालय द्वारा वेतन आहरण नहीं हो सकेगा। कलेक्टर ने जिला कोषालय अधिकारी श्रीमती संतोष शर्मा को इस हेतु सभी क्षेत्र भ्रमण से जुड़े हुए अधिकारियों के वेतन देयकों में टूर डायरी प्रस्तुत करने की टीप अंकित कराने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर के इस फरमान से चापलूस और कामजोर अधिकारियों ने कलेक्टर के फरमान को समाप्त करवाने के लिये अपने अपने ठेकेदार सत्ताधारी नेताओं एवं मंत्रियों को फोन लगाकर गुहार लगा दी है। सत्ताधारी नेताओं के ठेके पर चल रहे विभाग और कागजी आंकडों में दर्शाई जा रहीं धरातल की जनहित कल्याणकारी योजनाओं में अब पलीता लगाना संभव नहीं हो सकेगा।कलेक्टर राहुल जैन ने स्कूलों में बच्चों को गणवेश एवं साईकिल वितरण की राशि बालकों के बैंक खातों में शत-प्रतिशत पहुंचाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिले के अन्य विभागों के सहयोग से परिवार कल्याण कार्यकम के तहत नसबंदी प्रकरणों का लक्ष्य शीघ्रता से पूरा किया जाये। उन्होंने कहा कि महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा आंगनबाड़ियों में बच्चों का नियमित वजन लेने, पोषण आहार दिलाने, उपस्थिति बढ़ाने आदि के संबंध में कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। उन्होंने उपसंचालक सामाजिक न्याय विभाग को स्पर्श कार्डों का वितरण कराने, विकलांग छात्रवृत्तियां स्वीकृत करने आदि के संबंध में निर्देश दिए। उन्होंने जिले में उर्वरकों की उपलब्धता की भी समीक्षा की। उन्होंने लोक निर्माण विभाग द्वारा निर्मित करायी जा रही विभिन्न सड़कों की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि विभिन्न विभागों द्वारा पूर्ण किए गए कार्यों के उपयोगिता प्रमाण पत्र शीघ्र भेजे जायें। उन्होंने श्रम विभाग को छात्रवृत्ति वितरण कराने के संबंध में निर्देश दिए। उन्होंने परिवहन विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि ८ जनवरी से छतरपुर शहर में ट्रकों की पार्किंग पर रोक रहेगी।( रवि गुप्ता बिग न्यूज़ २४ )

Top

दवा के नाम पर सरेआम बिक रही है मौत

प्रतिबंधित दवाओं पर रोक नहीं लग सकी होशंगाबाद- होशंगाबाद हरदा जिले के तमाम मेड़िकल स्टोरों पर ड्रग इंस्पेक्टर की मिलीभगत एवं वसूली के रहते नशीली दवाओं का कारोबार धड़्वे से चल रहा है और पुलिस लाचार बनी है तथा युवा पीढ़ी इस कारोबार के शिकंजे में बुरी तरह फॅसी है। नकली दवाओं के कारोबार के साथ ही अर्न्तराष्ट्रीय कम्पनियों की दुनिया भर में प्रतिबंधित दवायें यहॉ बाजार में खुलेआम मिल रही है और लोग पेैसा देकर अपने लिये मौत चुनने के लिये विवश है। इस पूरे मामले में न तो सरकार को लोगों की चिंता है और न ही प्रशासन कोई कदम उठाये हुये है। जो ड्रग इंस्पेक्टर यहॉ पर है वह भी खामोश है और इस सम्बन्ध में बात करने पर फोन रिसीव करने को कोई तैयार नहीं । होशंगाबाद-हरदा जिले के मेडिकल स्टोरों पर सरेआम प्रतिबंधित दवायें जिनमें ऐनालजिन, सिसाप्राइड, फैनफॉरमिन, विवनओंडोक्लोर, लाईनसट्रेलान, सेरिवासटेटिन, पाईपराजीन, फिनाइलप्रोपंनोलामीन, फिनाईलबूटाजोन, नाइट्रोफूराजोन, ड्रॉपरिडॉल, निमेसुलाईट आदि शामिल है बिना किसी डाक्टर की पर्ची के प्राप्त की जा सकती है । इस सम्बन्ध में होशंगााबाद-हरदा जिले के प्रभारी ड्रग इस्पेक्टर हेमन्त श्रीवास्तव से जबाव चाहा तो उन्होंने बाद में बात करते है कहकर मोबाईल काट दिया तथा दोबारा जबाव नहीं दिया। सिविल सर्जन रवि शर्मा जी का कहना रहा कि मामला ड्रग विभाग से सम्बन्धित है उन्हें जानकारी देकर प्रतिबंधित दवाओं की बिक्री पर रोक लगाने को कहा जायेगा। विभाग प्रमुख सुधीर जैसानी का मोबाईल आउट आफ कन्ट्रोल बताने से उनसे चर्चा नहीं हो सकी। ड्रग एवं औषधि विभाग के इंसपेक्टर शिवराज पाठक ने भी बात सुनने के बाद जरूरी काम से व्यस्त हॅू बाद में जबाव दूगा कहकर इस गंभीर विषय पर उत्तर देने से कन्नी काट ली। पुलिस अधीक्षक इन्द्रप्रकाश अरजरिया ने चर्चा में बताया कि चॅूकि हर काम के लिये अलग-अलग विभाग है, यह काम स्वास्थ्य विभाग से सम्बन्धित है यदि किन्हीं मामलों में कार्यवाही को वे पुलिस से मदद मॉगे तो उन्हें मदद की जावेगी। नागरिकों की जिन्दगी से खिलवाड़ कर रहे इन दोनों जिले के सभी मेडीकल दुकानदारों व डाक्टरों पर पुलिस विभाग जानकारी न होने पर कोई रोक नहीं लगा सकता है जबकि इसकी रिपोर्ट सौंपने के लिये स्वास्थ्य विभाग ने जो ड्रग इंस्पेक्टर आदि को नियुक्त कर रखा है वे अब तक जनता के पक्ष में कोई रिपोर्ट प्रस्तुत नहीं कर सके है। नगर की दवा दुकानों पर इन दवाओं का चलन इसलिये भी ज्यादा है क्योंकि मरीज का शुभचिंतक चिकित्सक अपनी फीस लेने के बाद इन दवाओं की बिक्री पर ५० प्रतिशत तक के कमीशन खाने में शामिल होते है। जिस तरह डाक्टरों द्वारा इन प्रतिबंधित दवाओं को धड्वे से लिखा जा रहा है और केमिस्टों द्वारा बेची जा रही है वह इंसानियत का खून करने जैसा है किन्तु कोई ध्यान नहीं दे रहा है और किसी को इंसानियत से कोई लेना देना नहीं है। मानव शरीर को घातक और जानलेवा है ये दवायें यहॉ जिस तरह से असुरिक्षत एवं मानव शरीर को घातक परिणाम देने वाली दवाओं का कारोबार जोरों से चल रहा है उसमें उसके लगातार चलते रहने का कारण यह भी है कि लोग दवा खाकर मरते है किन्तु उनकी कभी जॉच-पड़ताल नहीं होती और लोग इस बात से अनभिज्ञ रहते है। जबकि यदि ऐसे मामलों को सुर्खिया बनाया जाये तो ऐसी दवाओं को मरीजों को लिखने वाले चिकित्सक एवं उसका कारोबार करने वाले केमिस्टों को सजा दिलाये जाने के लिये मजबूर किया जा सकता है जिससे इस पर पाबंदी लग सकेगी। जिला चिकित्सालय हो अथवा किसी भी प्रायवेट इलाज कराने वाला मरीज इन दवाओं का ५ से २० प्रतिशत तक साइड इफेक्ट या उसके जहर का शिकार होता है। जनता के स्वास्थ्य के साथ हो रहे खिलवाड़ पर किसी का ध्यान नहीं है। अनेक दवायें है जो जोखिमपूर्ण साइड इफैक्ट का कारण बन रही है जिसके तहत बाल झड़ने,मितली,उल्टी-दस्त आने घबराहट,चिड़चिड़ापन सहित शरीर पर ददोरे पड़ने जैसे गंभीर दुस्परिणाम देखने को मिल रहे है। जिसमें महिलाओं के लिये इस्तेमाल होने वाली क्विनऐक्रीन,बच्चों के लिये निमेसुलाइड है। चॅूकि निमेसुलाइट को बाजार में लाने की अपेक्षा पैरासीटामाल नामक दवा को सुरक्षित बतलाया जाकर बेचा जा रहा है। अब पैरासीटामॉल के काम्बिनेशन में डोलामाइड, ऐमसुलाइड, निमसेट प्ला, नोबल प्लस और नोफ्लेम को बेचा जा रहा है। जबकि निमेसुलाइट के के साथ अन्य दवा का काम्बिनेशन स्वास्थ्य के साथ क्रूरतम मजाक है जिसपर किसी का ध्यान नहीं है।ऐसे ही बच्चों को एकाग्रता,याददाश्त बढ़ाने,ताकतवर टानिक आदि के नाम पर चल रहे गोरखधंधं के नाम पर जो बेचा जा रहा है उससे मात्र दवा के सेवन से स्नायु तंत्र उत्तेजित होते है । जिससे बच्चों को चक्कर आने व नींद में परेशानी आदि झेलने को विवश होना पड़ता है। गर्भवती महिलाओं व १८ वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को मितली और उल्टी रोकने के लिये मैटोक्लोप्रमाइड तथा सर्दी खॉसी के लिये फिनाइलप्रोपैनोलामीन नामक प्रतिबंधित दवा दी जाती है जो गंभीर घातक परिणाम देती है। ड्रग कन्ट्रोलर जनरल आफॅ इण्डिया के अधिकारीगण भी चुप्पी साधकर लोगों के जीवन के साथ खु्वमखु्वा खिलवाड़ कर रहे है( आत्माराम यादव )

Top

बीडी कालौनी की शासकीय जमीन पर कब्जा

छतरपुर- मध्यप्रदेश के छतरपुर जिला मुख्यालय से लगी देरी रोड पर बनी बीड़ी श्रमिक कॉलोनी में शासकीय जमीन पर भाजपा नेता आरडी प्रजापति द्वारा अवैध कब्जा करने का आरोप लगाते हुए शिकायत कलेक्टर से की गई है। इससे आम रास्ता और नाली बंद होने की गंभीर समस्या होने की बात कही गई है। एसपी को भी आवेदन देकर पुलिस बल मौके पर भेजने की मांग की गई है। बीड़ी श्रमिक कॉलोनी के पंच छ्वी अनुरागी, प्रेम लाल रजक, मूलचंद, चंद्रभान, श्याम लाल, खुरखुर, फरीदा, काशाीराम, सरजू अनीता सहित करीब आधा सैकड़ा श्रमिकों ने शनिवार को कलेक्टर राहुल जैन और एसपी पीएस विष्ट को आवेदन दिया। कलेक्टर को दिये गये शिकायती आवेदनों में शिकायतकर्ताओं ंने बताया कि जिला पंचायत सदस्य आरडी प्रजापति द्वारा फर्जी ढंग से बीड़ी श्रमिकों के क्वार्टर एलाट करा लिए हैं। इन क्वार्टर के आसपास २०० गुणा २०० के बड़े शासकीय भू-भाग पर इनके द्वारा अवैध ढंग से कब्जा किया जा रहा है। जेसीबी से खुदाई चल रही है और वहां पिलर बनवाए जा रहे हैं। यह अवैध निर्माण धड़्वे से चल रहा है। इस अवैध निर्माण से आम रास्ता बंद हो गए हैं और नालियां चोक हो गई हैं। बीड़ी श्रमिकों की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए तहसीलदार को अवैध निर्माण और अतिन्नᆬमण की जांच कर जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा है। तहसीलदार ने इस आदेश पर आरआई और नजूल अधिकारियों को मौके पर भेजकर जांच कराई है जांच रिपोर्ट प्रस्तुत होना अभी बाकि है। उधर कलेक्टर के साथ ही पंच छ्वी अनुरागी और अन्य श्रमिकों ने एसपी को भी शिकायती आवेदन देकर मौके पर पुलिस बल भेजकर अतिन्नᆬमण हटवाने की मांग की है। एसपी से मांग की है कि अवैध निर्माण रोकने के लिए पुलिस बल की जरूरत होगी ऐसे में मौके पर पुलिस बल भेजा जाए। इस संबंध में जिला पंचायत सदस्य एवं भाजपा नेता आरडी प्रजापति का कहना है कि उनके नाम से नहीं बल्कि उनके रिश्तेदारों के नाम से मकान हैं। उन मकानों में उनके रिश्तेदार रह रहे हैं। लेकिन कुछ आवारा तत्व जबरन परेशान करते हैं। शौचालय न होने से उनके रिश्तेदार वहां पर शौचालय का निर्माण कर रहे हैं, लेकिन प्लाटिंग करने का मंसूबा रखने वाले कुछ लोग वहां पर शौचालय का निर्माण तक नहीं होने दे रहे हैं। बीड़ी श्रमिक कॉलोनी के कई मकानों पर कई गुंडा तत्व के लोग कब्जा किए हैं लेकिन प्रशासन उन्हें खाली नहीं करा पा रहा है(रवि गुप्ता बिग न्यूज़ २४ )

Top

परामार्श केन्द्र की महती भूमिका

उमरिया :- बुढापे में १२ वर्षो से पति पत्री अलग अलग रहकर विभिन्न चिन्ताओ से झूझते रहे । पत्री बिटटी बाई यादव ६० वर्ष तथा ७० वर्षीय पति जगदीष यादव हालमुकाम पिटौरा जिला बिलासपुर (छ०ग०) ने अपनी ब्याहता पत्री को छोडकर एक विधवा के प्रेम प्रसंग में पडकर अपना वैवाहित दाम्पत्य जीवन अपने ही हाथ बिगाडा। जगदीष यादव एस ई सी एल में सिक्यूरटी के पद पर पदस्थ था, १२ वर्ष पूर्व सेवा निवृत्त होने के पष्चात भरा पूरा परिवार को छोडकर विधवा के प्रेम जाल में फंसकर घर से बाहर रहा। सेवा निवृत्त के पष्चात मिलने वाली धनराषि पूरी खर्च करनें के पष्चात पैत्रिक सम्पत्ति बेचने के उददेष्य से जब वह अपने गांव गया तो घर में ताला लगाकर पत्री एवं बेटे को घर से बाहर कर दिया और सम्पत्ति का सौदा किया। पत्री बिटटी बाई निवासी महरोई ने परिवार परामर्ज्ज्द्म केन्द्र हरिजन थाना उमरिया में आवेदन देकर मामला सुलझानें का आवेदन दिया। परिवार परामर्ज्ज्द्म केन्द्र के अध्यक्ष एवं पुलिस अधीक्षक श्री मनोहर सिंह ने आवेदिका की द्घज्ज्द्मकायत पर पति जगदीष यादव को तलब किया । इस दौरान अनुविभागीय अधिकारी पुलिस श्री ए आर भार्वे , प्रभारी परिवार परामर्ष केन्द्र की सेवा प्रदाता (काउंसलर) सैय्यद षबनम ने पति पत्री को समझाईष देकर आपस में राजीनामा करने का सुझाव दिया जिससे दोनों सहमत हुए।जगदीष यादव ने अपनी ब्याहता पत्री को अपनीं पेंषन से प्रतिमाह ७०० रूपये देनें तथा मकान में उसके द्वारा लगाये गये तालें की चाभी परामर्ष केन्द्र में ही पत्री एवं बच्चें को दिया तथा साथ में रहने का वायदा भी किया । जगदीष ने अपने द्वारा की गई गलती के बारे में पुलिस अधीक्षक मनोहर सिंह मरावी के समक्ष मांफी मांगी। एक टूटे हुए परिवार को जोडनें में परिवार परामर्ष केन्द्र की महती भूमिका रहीं(सुरेन्द्र त्रिपाठी बिग न्यूज़ २४ )

Top

जॉच के मुद्दों को लेकर होगा जनसंवाद

दो जिलों के सर्वदलीय जनप्रतिनिधियों को किया आमंत्रित होशंगाबाद। होशंगाबाद-हरदा जिले के स्थानीय नागरिकों को जबरिया टोलटेक्स देने, होशंगाबाद में रेल्वे फाटक बंद होने के पश्चात नगर को दो भागों में विभक्त उपरांत कोई विकल्प से पूर्व रेल्वे फाटक खोलने एवं जिले के किसानों के नाम पर ऋणमुक्ति में हुये करोड़ों रूपये के हेरफेर जैसी बुनियादी समस्याओं के प्रति नेताओं की जबावदेही निश्चित कर जनता के दर्द को समझ उन्हें समस्याओं से मुक्त किये जाने हेतु दोनों जिलों के सांसदों,विधायकों, पार्टी अध्यक्षों को जनसंवाद के लिये नागरिक अधिकार जनसमस्या निराकरण समिति द्वारा १२ जनवरी को विवेकानंद जयंती के अवसर पर निमंत्रित किया गया है। होशंगाबाद जिले में इतवारा बाजार उपभोक्ता भण्डार के सामने आयोजित इस अनूॅठे जनसंवाद में संस्था का प्रयास होगा कि समस्याओं के त्वरित निराकरण हेतु सभी दलीय नेताओं को भेदभाव त्यागकर इसमें अपनी हिस्सेदारी सुनिश्चित करना है। दोनों जिले के स्थानीय लोगों को निजी वाहनों के लिये टोलटेक्स देने को विवश होना पड़ रहा है तथा टोलटेक्स ठेकेदार ने डोलरिया एवं धर्मकुण्डी में अतिरिक्त नाके लगाकर वसूली की जा रही है। हरदा जिले में २७ करोड्र ऋणराहत-ऋणमुक्ति में २६ लोगों के खिलाफ अपराध दर्ज हो गया है जबकि होशंगाबाद जिले में १९५२६ किसानों को ४८८६.२१ लाख रूपये ऋणमुक्ति एवं ३२६९ लाख रूपये ऋणराहत की जॉच किसानों के राजस्व रिकार्ड से कराये जाने की मॉग की है जबकि बैंँक स्तर पर लीपापोती कर इस हेतु ६९ दोषी बैंक कर्मचारियों ९१ समिति प्रबन्धकों पर कार्यवाही होना बतलाया गया किन्तु आर्थिक अनियमितता पर किसानों के साथ किये गये छलावे पर राशि का उलट समायोजन कर गड़बड़ी की गयी है। इस मद में हुये घोटाले एवं भ्रष्टाचार की सच्चाई सामने लाने हेतु संस्था शुरू से प्रयासरत रही है। होशंगाबाद नगर रेल्वे फाटक के बंद होने के बाद दो भागों में बॅट गया जिसमें गवालटोली, आदमगढ,बंगालीकालोनी, नर्मदाकालो